बिहार चुनाव

<p>बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) ले लिया। उन्होंने वीआरएस के लिए आवेदन दिया था जिसको तुरंत ही स्वीकृति मिल गई। यह कदम उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कहने पर अपनी राजनीतिक पारी शुरू करने के लिए उठाया है।</p>

बिहार के DGP गुप्तेश्वर पांडेय ने पुलिस सेवा को कहा अलविदा, VRS लेने के बाद अब शुरू करेंगे राजनीतिक पारी

बिहार के पुलिस महानिदेशक गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने मंगलवार को स्वैच्छिक सेवानिवृत्ति (VRS) ले लिया। उन्होंने वीआरएस के लिए आवेदन दिया था जिसको तुरंत ही स्वीकृति मिल गई। यह कदम उन्होंने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के कहने पर अपनी राजनीतिक पारी शुरू करने के लिए उठाया है। 

undefined
<p><strong>पटना (Biha) ।</strong> बिहार की कई हस्तियों ने जहां ज्ञान विज्ञान से दुनिया में एक अलग मुकाम बनाया वहीं कई नाम ऐसे भी रहें जो अपराध और ठगी की वजह से चर्चित हुए। इन्हीं में एक शातिर ठग भी शामिल था। ठग के कारनामे भी ऐसे-वैसे नहीं। उसने ताजमहल, लालकिला, राष्ट्रपति भवन और संसद भवन तक बेच दिया। उसने एक दो नहीं पांच बार ताजमहल और लालकिला बेच दिया। लोगों ने खरीदे भी और बाद में उसकी सच्चाई सामने आई। वो एक ऐसा ठग था जो देश की बड़ी-बड़ी जेलों से 8 बार भागने में कामयाब रहा। आखिरी बार निकला तो फिर पुलिस भी उसे नहीं पकड़ पाई। वो शख्स बुद्धि से कितना शातिर होगा, कारनामों अंदाजा लगाया जा सकता है।</p>
world largest conman Natwarlal of Bihar sold Taj Mahal-Lal Qila and Parliament House many times ASA
undefined
undefined
undefined
<p><br />
भोला पासवान शास्त्री का जन्म 21 सितंबर 1914 को पूर्णियां के बैरगच्छी में हुआ था। वे एक बेहद ईमानदार और देशभक्त स्वतंत्रता सेनानी थे। बीएचयू से शास्त्री की डिग्री हासिल करने के बाद वह राजनीति में सक्रिय थे।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>
Example of simplicity in politics: Bhola Paswan Shastri was CM of Bihar 3 times, even today family members work hard asa
undefined
undefined
undefined
This temple is amazing in Bihar, dogs were involved in aarti for 20 years ASA
<p>&nbsp;</p>

<p>एमएससी करने के तुरंत बाद तथागत अवतार तुलसी का लक्ष्य नेट (National Eligibility Test)&nbsp;क्वालीफाई करने का था। यहां जूनियर फेलोशिप एंड लेक्चररशिप के लिए न्यूनतम उम्र सीमा 19 वर्ष थी। लेकिन, उनकी उम्र 12 वर्ष ही थी। हालांकि थोड़ी दिक्कत के बाद मानव संसाधन विकास मंत्रालय के तरफ से परीक्षा में बैठने की इजाजत मिल गई।&nbsp;&nbsp;लेकिन ये इजाजत National Physical Laboratory (NPL). के इंटरव्यू कमेटी की पॉजिटिव रिकमेन्डेशन पर अधारित थी।&nbsp;&nbsp;इसके चलते उन्होंने दिसम्बर 2000 में परीक्षा दी, जिसका परिणाम मई 2001 में निकला और इस तरह पहली बार कोई 12 साल का लड़का राष्ट्रीय स्तर की परीक्षा पास की थी और छा गया।</p>
He became an IIT professor at an early age; But Tathagata Avatar Tulsi was fired ASA
undefined
undefined
Tennis player: fond of running Harley Davidson, how much do you know Ranjita Ranjan, wife of Pappu Yadav ASA
undefined
undefined
Lalu Yadav controlling Bihar elections 2020 from jail revelation of RJD leader gone viral
undefined
Harivansh had no shoes to wear till 10th, PM Modi to murud; Tales of his simplicity have been shared ASA
<p>एनडीए के दूसरे दल भी महाराष्ट्र सरकार की आलोचना कर रहे हैं। इस बीच सुशांत केस में पहले से मुखर रहे चिराग पासवान ने कंगना मामले में भी एक्ट्रेस को पूरा सपोर्ट देने का ऐलान किया है। जमुई से एलजेपी के सांसद चिराग और कंगना का रिश्ता काफी पुराना है। इससे पहले भी उद्धव से सीधे मुक़ाबला कर रही कंगना को देशभक्त बताते हुए एलजेपी चीफ ने सपोर्ट में दो ट्वीट किए थे।&nbsp;</p>
<p>narendra modi</p>
<p><strong>पटना (Bihar)&nbsp;। </strong>पिछले 3 साल से दिल्ली की तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद बिहार के बाहुबली पूर्व सांसद मोहम्मद&nbsp;शहाबुद्दीन (Mohammad habuddin) पैरोल पर बाहर आ सकता है। शहाबुद्दीन ने यह अर्जी अपने पिता शेख मोहमद हसीबुल्लाह (Mohammad hasallah)&nbsp;के इंतकाल के बाद अंतिम क्रिया कर्म के मद्देनजर एक बेटे का फर्ज निभाने के लिए दी है। फिलहाल तिहाड़ जेल के डीजी के पास शहाबुद्दीन की यह अपील लंबित है। इस अर्जी में शहाबुद्दीन ने दो सप्ताह के लिए पेरोल पर बाहर जाने की इजाजत मांगी है। बता दें कि चार बार सांसद और दो बार विधायक बना यह बाहुबली इस समय तेजाब कांड में उम्र कैद की सजा काट रहा है। लेकिन, उसके खौफनाक अपराधों की वजह से सीवान के लोग उसे आज भी याद करते हैं, क्योंकि एक समय ऐसा भी था जब वह लालू-राबड़ी राज के दौरान सीवान में भारत के संविधान और कानून से ऊपर हो गया था।&nbsp;</p>
Shahabuddin can come out on parole, this is the story of his crimes ASA
undefined
Bihar Election 2020: Prabhunath Singh was the Bahubali of Bihar who bombed the opponent after losing the election ASA
<p><strong>कैमूर (Bihar) । </strong>बिहार के एक लाल की यूपी में अलग पहचान बन गई है। पीएम नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी |(Varanasi) में उसे लोग हेलमेट मैन के नाम से पुकारते हैं। दरअसल वह लोगों को फ्री में हेलमेट बांटते हैं। साथ ही एक्सीडेंटल बीमा भी करते हैं। बता दें कि यह सब वह अपने दोस्त की एक्सीडेंट में हेलमेट न लगाने से हुए मौत के बाद कर रहे हैं। इतना ही नहीं प्राइवेट नौकरी (Private job)&nbsp;&nbsp;छोड़कर उन्होंने गरीब बच्चों को फ्री में बुक भी देने का काम शुरू किया है।<br />
<strong>(बिहार में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं। चुनावी हलचल के बीच हम अपने पाठकों को 'बिहार के लाल' सीरीज में कई हस्तियों से रूबरू करा रहे हैं। इस सीरीज में राजनीति से अलग उन हस्तियों के संघर्ष और उपलब्धि के बारे में बताया जा रहा है जिन्होंने न सिर्फ बिहार बल्कि देश दुनिया में भारत का नाम रोशन किया।)</strong></p>
After the death of a friend, Raghavendra is distributing helmets to people in Varanasi for free asa
<p><strong>गया (Bihar) । </strong>गया की धरती से अब नए 'माउंटेन मैन' (mountains) हो गए हैं। जिनका नाम लौंगी भुइया (&nbsp;Longi Bhuiya) हैं, जो पहाड़ चीरकर रास्ता बनाने वाले दशरथ मांझी (&nbsp;Dashrath Manjhi) के नक्शे कदम पर ही चलकर 30 साल में अकेले 5 किमी जमीन खोदकर नहर बना दिए। जिनकी इस समय हर जगह चर्चा है। अब तो उनके फैन पूर्व सीएम जीतन राम मांझी (Jeetan Ram Manjhi) के बाद&nbsp;महिंद्रा ग्रुप के चेयरमैन आनंद महिंद्रा Anand Mahindra) भी हो गए हैं। पहले ट्टीट कर तारीफ किए और अब उन्हें एक&nbsp;ट्रैक्टर गिफ्ट किए हैं। आइये जानते हैं, बिहार के इस लाल की पूरी कहानी।</p>
Anand Mahindra presented a tractor to Longi Bhuiyan of Bihar, dug 5 km canal asa
undefined
undefined
do you know glamor of Lovely Anand's rallies in bihar against Lalu Yadav in 1995
undefined
Poster on Lalu family targeting daughter Misa with Tejashwi Tej and wife rabari devi
undefined

Bihar Assembly Elections 2020 (बिहार विधानसभा चुनाव 2020): The Indian state of Bihar is supposed to hold the Bihar Legislative Assembly elections that will be held in the month of October 2020 to elect 243 members of the Bihar Legislative Assembly. Asianet News Hindi brings the latest news updates about Bihar assembly election 2020. Stay up to the minute with the election dates, Polling schedule, Candidates list, Opinion, Exit polls, Bihar election results and much more online only in Hindi. जानिए चुनाव की तारीखों के बारे में, मतदान का कार्यक्रम, उम्मीदवारों की सूची, राय, एग्जिट पोल, बिहार चुनाव के नतीजे और बहुत कुछ ऑनलाइन केवल एशियानेट न्यूज हिंदी पर।