कोरोना से जंग में सुपर एक्टिव हैं यूपी के CM योगी आदित्यनाथ , इन 10 कामों की विरोधी भी करेंगे तारीफ

First Published 3, Apr 2020, 10:28 AM

लखनऊ(Uttar Pradesh ). पूरे देश में इस समय कोरोना संकट चल रहा है। बहुत से लोगों की जाने भी जा चुकी हैं। यूपी में भी कोरोना वायरस से तीन मौतें हो चुकी हैं। लेकिन इन सबके बीच यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ द्वारा कोरोना से चल रही इस जंग में सुपर मैनेजमेंट की हर तरफ तारीफ़ हो रही हो। CM योगी ने गरीबों की मदद करने के साथ ही लापरवाहों पर कार्रवाई करने में भी कोई कसर नहीं छोड़ी है। ऐसे में इस जंग में सुपर एक्टिव योगी के शानदार मैनेजमेंट व त्वरित निर्णय से काफी कुछ ठीक होता देखा जा रहा है। 
 

टीम 11- CM योगी ने कोरोना के मामलों में तेजी से कार्रवाई के लिए टीम-11 बनाई है। इस टीम में सूबे के कई विभागों के तेज-तर्रार व जिम्मेदार अफसरों को शामिल किया गया है। कोरोना से चल रही इस लड़ाई में योगी की टीम-11 पूरे प्रदेश के हालात पर नजर रखते हुए आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने से लेकर जरूरत के हिसाब से दोषियों को दंड भी दे रही है।

टीम 11- CM योगी ने कोरोना के मामलों में तेजी से कार्रवाई के लिए टीम-11 बनाई है। इस टीम में सूबे के कई विभागों के तेज-तर्रार व जिम्मेदार अफसरों को शामिल किया गया है। कोरोना से चल रही इस लड़ाई में योगी की टीम-11 पूरे प्रदेश के हालात पर नजर रखते हुए आवश्यक सुविधाएं मुहैया कराने से लेकर जरूरत के हिसाब से दोषियों को दंड भी दे रही है।

सक्रियता- इस पूरे मामले में CM योगी खुद ही एक्टिव हैं। वह लगातार बैठकें कर रहे हैं। जिले के अधिकारियों  वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए समीक्षा के साथ ही आवश्यक दिशानिर्देश दे रहे हैं। CM की एक एक्टिविटी से जिले के अधिकारी भी सतर्क हैं। ऐसे में कोरोना से बचाव में कोई भी लापरवाही नहीं बरती जा रही है।

सक्रियता- इस पूरे मामले में CM योगी खुद ही एक्टिव हैं। वह लगातार बैठकें कर रहे हैं। जिले के अधिकारियों वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिए समीक्षा के साथ ही आवश्यक दिशानिर्देश दे रहे हैं। CM की एक एक्टिविटी से जिले के अधिकारी भी सतर्क हैं। ऐसे में कोरोना से बचाव में कोई भी लापरवाही नहीं बरती जा रही है।

कार्रवाई- CM योगी इस पूरे मामले को लेकर संजीदा हैं। नोएडा में कोरोना पीड़ितों की तेजी से बढ़ती संख्या के बाद उन्होंने वहां का खुद ही दौरा किया था। वहां की बदइंतजामी देखकर  CM ने जिलाधिकारी बीएन सिंह को फटकार लगाई थी। यही नहीं उनकी लापरवाहियों के चलते उन्हें वहां से हटा भी दिया गया और तेज-तर्रार IAS अफसर सुहास एलवाई को वहां की कमान सौंपी गई।

कार्रवाई- CM योगी इस पूरे मामले को लेकर संजीदा हैं। नोएडा में कोरोना पीड़ितों की तेजी से बढ़ती संख्या के बाद उन्होंने वहां का खुद ही दौरा किया था। वहां की बदइंतजामी देखकर CM ने जिलाधिकारी बीएन सिंह को फटकार लगाई थी। यही नहीं उनकी लापरवाहियों के चलते उन्हें वहां से हटा भी दिया गया और तेज-तर्रार IAS अफसर सुहास एलवाई को वहां की कमान सौंपी गई।

कड़ाई- CM लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त भी हैं। उन्होंने सूबे की पुलिस को आदेश दिया  लॉकडाउन का उल्लंघन करे और समझाने पर न माने उसके साथ सख्ती से पेश आया जाए। सीएम ने कोरोना के संदिग्धों के खिलाफ हिस्ट्री छिपाने के लिए भी कार्रवाई करने कका आदेश दिया है। कई शहरों में लोगों पर कार्रवाई हो भी चुकी है।

कड़ाई- CM लॉकडाउन का उल्लंघन करने वालों के खिलाफ सख्त भी हैं। उन्होंने सूबे की पुलिस को आदेश दिया लॉकडाउन का उल्लंघन करे और समझाने पर न माने उसके साथ सख्ती से पेश आया जाए। सीएम ने कोरोना के संदिग्धों के खिलाफ हिस्ट्री छिपाने के लिए भी कार्रवाई करने कका आदेश दिया है। कई शहरों में लोगों पर कार्रवाई हो भी चुकी है।

मैनेजमेंट- CM योगी आदित्यनाथ का कोरोना से चल रही जंग में कमाल का मैनेजमेंट है। उनकी इस व्यूहरचना का ही कमाल है कि यूपी में कोरोना के मामले इतनी तेजी से नहीं फैल सके। उन्होंने वक्फ ऑफिस, हज हाउस को जहां तुरंत फैसला लेते हुए अस्पताल बना दिया वहीं बाहर अपने घर लौटने वाले लोगों को क्वारंटाइन करने के लिए प्राथमिक स्कूलों को क्वारंटाइन वार्ड। ऐसे में आसानी से संक्रमितों को गांव में संक्रमण फैलाने से रोका जा रहा है।

मैनेजमेंट- CM योगी आदित्यनाथ का कोरोना से चल रही जंग में कमाल का मैनेजमेंट है। उनकी इस व्यूहरचना का ही कमाल है कि यूपी में कोरोना के मामले इतनी तेजी से नहीं फैल सके। उन्होंने वक्फ ऑफिस, हज हाउस को जहां तुरंत फैसला लेते हुए अस्पताल बना दिया वहीं बाहर अपने घर लौटने वाले लोगों को क्वारंटाइन करने के लिए प्राथमिक स्कूलों को क्वारंटाइन वार्ड। ऐसे में आसानी से संक्रमितों को गांव में संक्रमण फैलाने से रोका जा रहा है।

स्वास्थ्य सेवाओं का सही उपयोग- CM  योगी के बेहतर मैनेजमेंट की ही कमाल है कि यूपी अभी तक तीसरे स्टेज में पहुंचने से बचा हुआ है। दिल्ली से करीब होने के बाद भी नोएडा व दूसरे शहरों में कोरोना से आने वाली तबाही को रोका जा सका है। 108 और 102 एम्बुलेंस की सक्रियता से बीमार लोगों के सही वक्त पर अस्पताल पहुंचाकर उनके बेहतर इलाज का प्रबंध किया जा रहा है।

स्वास्थ्य सेवाओं का सही उपयोग- CM योगी के बेहतर मैनेजमेंट की ही कमाल है कि यूपी अभी तक तीसरे स्टेज में पहुंचने से बचा हुआ है। दिल्ली से करीब होने के बाद भी नोएडा व दूसरे शहरों में कोरोना से आने वाली तबाही को रोका जा सका है। 108 और 102 एम्बुलेंस की सक्रियता से बीमार लोगों के सही वक्त पर अस्पताल पहुंचाकर उनके बेहतर इलाज का प्रबंध किया जा रहा है।

मदद- सीएम योगी ने रोजी रोटी के सिलसिले में दूसरे प्रांतों  रह रहे लोगों के लिए मसीहा बन कर सामने आए। मजदूरों व कामगारों को जब दिल्ली से बाहर करते हुए जब दिल्ली सरकार ने सीमा पर छोड़ दिया तो CM योगी ने बिना एक पल के देर किया फैसला लिया और यूपी के नागरिकों को बसों से उनके गंतव्यों पर भेजा गया। सीएम ने उनके लिए उनके जनपद में बस स्टाप पर खाने-पीने की व्यस्व्था भी कराई।

मदद- सीएम योगी ने रोजी रोटी के सिलसिले में दूसरे प्रांतों रह रहे लोगों के लिए मसीहा बन कर सामने आए। मजदूरों व कामगारों को जब दिल्ली से बाहर करते हुए जब दिल्ली सरकार ने सीमा पर छोड़ दिया तो CM योगी ने बिना एक पल के देर किया फैसला लिया और यूपी के नागरिकों को बसों से उनके गंतव्यों पर भेजा गया। सीएम ने उनके लिए उनके जनपद में बस स्टाप पर खाने-पीने की व्यस्व्था भी कराई।

गरीबों को दिया अनाज- CM योगी ने लॉकडाउन में परेशानी उठा रहे तकरीबन 35 हजार दिहाड़ी मजदूरों को भी राहत पहुंचाई। CM ने त्वरित निर्णय लेते हुए सभी मजदूरों के खाते में 1 हजार रूपए भेजवाया। यही नहीं उन्होंने सभी गरीबों को तीन महीने का राशन मुफ्त देने का भी आदेश दिया। उसका वितरण भी शुरू हो गया है।

गरीबों को दिया अनाज- CM योगी ने लॉकडाउन में परेशानी उठा रहे तकरीबन 35 हजार दिहाड़ी मजदूरों को भी राहत पहुंचाई। CM ने त्वरित निर्णय लेते हुए सभी मजदूरों के खाते में 1 हजार रूपए भेजवाया। यही नहीं उन्होंने सभी गरीबों को तीन महीने का राशन मुफ्त देने का भी आदेश दिया। उसका वितरण भी शुरू हो गया है।

पुलिस का सही उपयोग- CM ने कोरोना से इस जंग में सरकारी मशीनरी का काफी अच्छा इस्तेमाल किया है। यूपी पुलिस जहां एक ओर लोगों को सख्ती से लॉकडाउन का पालन करा रही है वहीं पुलिस ही गरीबों व जरूरतमंदों को खाना भी पहुंचा रही है। पुलिस का शानदार प्रयोग कर लोगों की तकलीफों को काम करने का सराहनीय प्रयास किया गया है।

पुलिस का सही उपयोग- CM ने कोरोना से इस जंग में सरकारी मशीनरी का काफी अच्छा इस्तेमाल किया है। यूपी पुलिस जहां एक ओर लोगों को सख्ती से लॉकडाउन का पालन करा रही है वहीं पुलिस ही गरीबों व जरूरतमंदों को खाना भी पहुंचा रही है। पुलिस का शानदार प्रयोग कर लोगों की तकलीफों को काम करने का सराहनीय प्रयास किया गया है।

लोगों को घर से न निकलने के लिए इंतजाम - लॉकडाउन में लोगों को घर से न निकलने देने और उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए भी बेहतर व्यस्था की गयी है। CM ने इसमें यूपी पुलिस की आपातकालीन सेवा डायल 112 का उपयोग किया है। पुलिस कर्मी लोगों द्वारा मंगाने पर उनके जरूरत का सामान उनके घर पहुंचा रहे हैं।

लोगों को घर से न निकलने के लिए इंतजाम - लॉकडाउन में लोगों को घर से न निकलने देने और उनकी जरूरतों को पूरा करने के लिए भी बेहतर व्यस्था की गयी है। CM ने इसमें यूपी पुलिस की आपातकालीन सेवा डायल 112 का उपयोग किया है। पुलिस कर्मी लोगों द्वारा मंगाने पर उनके जरूरत का सामान उनके घर पहुंचा रहे हैं।

loader