महिला को निर्वस्त्र कर दी मौत, क्रूरता देखिए..इन 2 मासूम को बेड के बॉक्स में जिंदा डाल दिया, तड़पकर मर गए

First Published 15, Feb 2020, 12:17 PM IST

अमरोहा (Uttar Pradesh). यूपी के अमरोहा में पुलिस ट्रिपल मर्डर केस के खुलासे के काफी करीब पहुंच गई है। बता दें, डिडौली कोतवाली क्षेत्र के सैंतली गांव में 13 फरवरी को विवाहिता साइमा का शव निर्वस्त्र हालत में बेड पर पड़ा मिला था। जबकि 2 बच्चों का शव डबलबेड के बॉक्स में मिला था। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट ने पुलिस को केस सॉल्व करने के काफी करीब ला दिया है।

सैंतली गांव में आसिफ पत्नी साइमा और 2 बच्चों के साथ रहता था। आसिफ का छोटा भाई आकिब भी उसी के साथ रहता है। 13 फरवरी की सुबह साइमा का शव निर्वस्त्र हालत में बेड पर पड़ा मिला था।

सैंतली गांव में आसिफ पत्नी साइमा और 2 बच्चों के साथ रहता था। आसिफ का छोटा भाई आकिब भी उसी के साथ रहता है। 13 फरवरी की सुबह साइमा का शव निर्वस्त्र हालत में बेड पर पड़ा मिला था।

साइमा के गले पर चोट के निशान भी थे। जबकि बेटी नजमुल हुदा और बेटे हैदर का शव डबल बेड के बॉक्स में बंद था।

साइमा के गले पर चोट के निशान भी थे। जबकि बेटी नजमुल हुदा और बेटे हैदर का शव डबल बेड के बॉक्स में बंद था।

शव मिलने के बाद आसिफ ने पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए आरोप लगाया था कि पत्नी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। इस वजह से उसने बच्चों की हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली।

शव मिलने के बाद आसिफ ने पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कराते हुए आरोप लगाया था कि पत्नी की मानसिक स्थिति ठीक नहीं थी। इस वजह से उसने बच्चों की हत्या करने के बाद आत्महत्या कर ली।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, साइमा ने आत्महत्या नहीं की थी। नाड़े से गला कसकर उसकी हत्या की गई। जबकि दोनों बच्चों की मौत डबलबेड में दम घुटने से हुई। हालांकि, डॉक्टरों ने बच्चों का विसरा सुरक्षित रख लिया है।

पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक, साइमा ने आत्महत्या नहीं की थी। नाड़े से गला कसकर उसकी हत्या की गई। जबकि दोनों बच्चों की मौत डबलबेड में दम घुटने से हुई। हालांकि, डॉक्टरों ने बच्चों का विसरा सुरक्षित रख लिया है।

अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने बताया, घर में कुल 5 सदस्य मौजूद थे। जिसमें महिला और 2 बच्चों समेत तीन लोगों की हत्या हुई। बाकी बचा म​हिला का पति और उसका छोटा भाई। ये दोनों गांव में ही परचुन की दुकान चलाते हैं।

अपर पुलिस अधीक्षक अजय प्रताप सिंह ने बताया, घर में कुल 5 सदस्य मौजूद थे। जिसमें महिला और 2 बच्चों समेत तीन लोगों की हत्या हुई। बाकी बचा म​हिला का पति और उसका छोटा भाई। ये दोनों गांव में ही परचुन की दुकान चलाते हैं।

मृतका के पति ने पत्नी पर बच्चों की हत्या कर आत्महत्या का आरोप लगाया था, जोकि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के ​अनुसार गलत साबित हुआ। पुलिस इस केस को सॉल्व करने के बहुत करीब है। जल्द ही इसका खुलासा हो जाएगा। मौके पर महिला की चूड़ियां टूटी पड़ी थी जिससे लगता है उसका और हत्यारोपी के बीच संघर्ष भी हुआ था।

मृतका के पति ने पत्नी पर बच्चों की हत्या कर आत्महत्या का आरोप लगाया था, जोकि पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के ​अनुसार गलत साबित हुआ। पुलिस इस केस को सॉल्व करने के बहुत करीब है। जल्द ही इसका खुलासा हो जाएगा। मौके पर महिला की चूड़ियां टूटी पड़ी थी जिससे लगता है उसका और हत्यारोपी के बीच संघर्ष भी हुआ था।

loader