Asianet News HindiAsianet News Hindi

अय्याश टीचर: लड़कियों को भेजता  अश्लील मैसेज, होटल मिलने बुलाता..इस हैवान को CM भी कर चुके सम्मानित

राजस्थान (Rajasthan) के जयपुर (jaipur) में एक अय्याश टीचर का सनसनीखेज मामला सामने आया है। आरोपी टीचर निखिल जोस सेंट जेवियर स्कूल (St. Xavier's School) में पढ़ाता था। उसने इंस्टाग्राम के जरिए स्कूल की पास आउट छात्रा को अश्लील मैसेज किए, उन्हें शराब पार्टी और स्कूल के बाहर मिलने के लिए बुलाया। आरोपी को स्कूल प्रबंधन ने सस्पेंड कर दिया।

Jaipur St Xaviers School NCC teacher Nikhil Jose used to send obscene messages to girls students Arrested in police
Author
Jaipur, First Published Oct 11, 2021, 3:38 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

जयपुर। राजस्थान की राजधानी जयपुर में एक नामी स्कूल के टीचर की अय्याशी पकड़ी गई है। आरोपी पास आउट छात्राओं को अश्लील मैसेज भेजता था और उन्हें होटल में शराब पार्टी के लिए बुलाता था। शुरुआत में लड़कियों ने इग्नोर किया, लेकिन आरोपी अश्लीलता बढ़ी तो एकजुट होकर सोशल मीडिया और कैम्पेन चला दिया। फिलहाल, पुलिस ने आरोपी को पकड़ लिया था। उसके मोबाइल में स्क्रीन शॉट मिले हैं। मामला अशोक नगर थाने इलाके में सी स्कीम स्थित एक बड़े स्कूल का है। पुलिस के अनुसार, आरोपी टीचर की इंस्टाग्राम आईडी से पासआउट छात्राओं को अश्लील मैसेज भेजने का मामला सामने आया है। इस पर तुरंत कार्रवाई करते हुए मैसेज भेजने वाले एनसीसी टीचर को देर रात गिरफ्त में ले लिया। उससे पूछताछ की जा रही है। आरोपित टीचर का नाम निखिल है और वह रामनगर सोडाला का रहने वाला है। 

आरोपी के मोबाइल से भेजे गए अश्लील मैसेज
पुलिस ने उसके मोबाइल को लेकर जांच के लिए भेजा तो सामने आया उसके मोबाइल में ही वह इंस्टा आईडी बनी थी, जिसके द्वारा अश्लील मैसेज भेजे गए और वायरल हुए।

राजस्थान DSP ने लेडी कांस्टेबल के साथ बनाए थे 50 अश्लील वीडियो, महिला के बच्चे के साथ भी सारी हदें पार

आरोपी बोला- उसे नहीं पता था अश्लील मैसेज के बारे में
अशोक नगर थाना अधिकारी सुरेंद्र कुमार ने आईटी एक्ट की धारा में मुकदमा दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया। आरोपी का कहना है कि उसे रात को ही पता चला कि उसके आईडी से पासआउट छात्राओं को अश्लील मैसेज भेजे जा रहे हैं। उसे इस मामले में कोई जानकारी नहीं है।

पुलिस ने कहा- आईडी हैक नहीं हुई
मामला तब खुला जब चैट के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। हालांकि पुलिस का कहना है कि अब तक कि जांच में आईडी हैक होने की बात सामने नहीं आई। आरोपी ही मैसेज करता था। लड़कियों का कहना है शुरुआत में उन्होंने मामले की शिकायत स्कूल प्रबंधन से थी।

MP में मंदिर पर लड़की ने पार की सारी हदें, 'सेकेंड हैंड जवानी'..दिखाते हुए करने लगी कुछ ऐसी हरकतें..

रात 10 बजे के बाद मैसेज किये जाते थे
मामले में यह भी सामने आया कि आरोपी 6 महीने से लड़कियों को अश्लील मैसेज भेज रहा था। रात में 10 बजे के बाद मैसेज किये जाते थे। आरोपी टीचर ने लड़कियों के मोबाइल नम्बर व्हाट्सएप ग्रुप से लिये थे। ये ग्रुप ऑनलाइन पढ़ाई के लिए बनाया गया था। आरोपी लड़कियों को स्कूल से बाहर मिलने और होमवर्क के बहाने बुलाता था। स्कूल की टीचर से सेटिंग कराने के लिए बोलता था। इससे छात्राएं परेशान होने लगी थीं।

बाल आयोग का नोटिस, 7 दिन में जवाब मांगा है 
मामले में बाल आयोग ने संज्ञान लिया है। इस संबंध में राज्य बाल अधिकार संरक्षण आयोग के सचिव महेंद्र प्रताप सिंह ने स्कूल प्रबंधन को नोटिस दिया है और कहा है कि मामला गंभीर है। स्कूल से पूछा है कि अब तक क्या कार्रवाई की गई। 7 दिन के अंदर जांच रिपोर्ट भेजें। वहीं, स्कूल प्रबंधन ने जांच के लिए तीन सदस्यीय जांच कमेटी गठित की है। 

स्विमिंग पूल में DSP और महिला कांस्टेबल ने किया गलत काम, बच्चे के सामने बिना कपड़े की सारी हदें पार

आरोपी को CM सम्मानित कर चुके
मामले में यह भी सामने आया है कि आरोपी को मुख्यमंत्री अशोक गहलोत सम्मानित कर चुके हैं। इस संबंध में एक पत्र वायरल हुआ है। ये मार्च 2019 का है। मुख्यमंत्री ने उसके कामों की प्रशंसा की और उसके उज्ज्वल भविष्य की कामना की है। आरोपी की CM के साथ फोटो भी सामने आई है।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios