Asianet News Hindi

कोरोना के बढ़ते केस पर सीएम अरविंद केजरीवाल गंभीर, कल बुलाई आपात बैठक

मुख्यमंत्री ने बिना मास्क लगाए सार्वजनिक स्थनों पर जाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। जिला स्तर पर गठित टीमें ऐसे लोगों पर नजर रख रही हैं और बिना मास्क के पाए जाने पर उन पर आवश्यक कार्रवाई कर रही हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर दिल्ली में 80 हजार से अधिक टेस्ट प्रतिदिन किए जा रहे हैं, ताकि कोरोना के फैलाव पर शीध्र काबू किया जा सके। 

CM Arvind Kejriwal serious on Corona's growing case, convened emergency meeting tomorrow asa
Author
Delhi, First Published Apr 1, 2021, 6:56 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp


नई दिल्ली। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल दिल्ली में पिछले कुछ दिनों से बढ़ते कोरोना के केस को लेकर बेहद गंभीर हैं और इस पर खुद नजर बनाए हुए हैं। उन्होंने 2 अप्रैल को अपने सरकारी आवाज शाम 4 बजे आपात मीटिंग बुलाई है। इसमें स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, स्वास्थ्य विभाग समेत अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद रहेंगे। बताया जा रहा है कि इस बैठक में दिल्ली में बढ़ते कोरोना केस की रोकथाम के लिए एक्शन प्लान, वैक्सीनेशन की मौजूदा स्थिति, कंटेनमेंट जोन, अस्पतालों के बेड़ प्रबंधन और सिरो सर्वे के साथ वर्तमान में कोरोना केस की मैपिंग आदि की सीएम अरविंद केजरीवाल समीक्षा करेंगे। संबंधित विभागीय अधिकारियों को कोरोना से निपटने के लिए विस्तृत प्लान के साथ बैठक में उपस्थित होने का निर्देश दिया गया है।

सीएम कर रहे मानीटरिंग
सीएम अरविंद केजरीवाल खुद दिल्ली में बढ़ रहे कोरोना केस पर कड़ी नजर रखे हुए हैं और अधिकारियों से प्रतिदिन की अपडेट ले रहे हैं। दिल्ली निवासियों को कोरोना की वजह से दिक्कतों का सामना न करना पड़े, इसके लिए सीएम अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर स्वास्थ्य विभाग सक्रिय हो गया है। पिछले कुछ दिनों में विभाग ने कई महत्वपूर्ण कदम उठाए हैं।
 
सीएम के आदेश के बाद दिखा असर
मुख्यमंत्री के आदेश के बाद दिल्ली के 33 बड़े अस्पतालों में 25-25 फीसद आईसीयू और सामान्य बेड बढ़ा दिए गए हैं। इन 33 अस्पतालों में 30 मार्च तक कोविड-19 के 1705 समान्य बेड थे, जो अब बढ़ कर 2547 हो गए हैं। इस तरह 842 कोविड के समान्य बेड बढ़ा दिए गए हैं। इसी तरह, कोविड मरीजों के लिए 30 मार्च तक 608 आईसीयू बेड थे, जिसमें 230 बेड की वृद्धि की गई है और अब दिल्ली में कोविड के लिए 838 आईसीयू बेड हो गए हैं।

संक्रमितों के 30 संपर्कियों को किया जा रहा ट्रेस
सीएम अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर जिला स्तर पर सर्विलांस टीमें नजर बनाए हुई हैं। कोरोना से संक्रमित मरीजों के संपर्क में आने वाले लोगों की पहचान की जा रही है। संक्रमितों के संपर्क में आए कम से कम 30 लोगों को ट्रेस किया जा रहा है। जांच कर उन्हें आइसोलेट किया जा रहा है, ताकि उनके जरिए दूसरें लोगों में कोरोना के संक्रमण को रोका जा सके। 

80 हजार टेस्ट हो रहे रोज 
मुख्यमंत्री ने बिना मास्क लगाए सार्वजनिक स्थनों पर जाने वाले लोगों के खिलाफ कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं। जिला स्तर पर गठित टीमें ऐसे लोगों पर नजर रख रही हैं और बिना मास्क के पाए जाने पर उन पर आवश्यक कार्रवाई कर रही हैं। सीएम अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर दिल्ली में 80 हजार से अधिक टेस्ट प्रतिदिन किए जा रहे हैं, ताकि कोरोना के फैलाव पर शीध्र काबू किया जा सके। 

600 के करीब है वैक्सीनेशन सेंटर
केजरीवाल सरकार अधिक से अधिक लोगों का वैक्सीनेशन कराने को लेकर बेहद गंभीर है। सीएम अरविंद केजरीवाल के निर्देश पर दिल्ली में वैक्सीनेशन सेंटर को बढ़ाकर 600 के आस-पास कर दिया गया है। आज से दिल्ली में 45 वर्ष से अधिक उम्र वाले लोगों के लिए वैक्सीनेशन अभियान शुरू कर दिया गया है, जो वैक्सीनेशन के लिए पंजीकरण नहीं करा पाए हैं, दिल्ली सरकार ने उन्हें भी वैक्सीन लगवाने के लिए सहूलियतें प्रदान कर दी है। ऐसे लोग दोपहर 3 बजे से रात 9 बजे के बीच किसी भी वैक्सीनेशन सेंटर पर जाकर वैक्सीन लगवा सकते हैं।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios