Asianet News Hindi

गांधी आश्रम से कल दांडी मार्च को रवाना करेंगे PM Modi, 80 ट्रैक्टरों के साथ कांग्रेस करेगी किसान सत्याग्रह

बता दें कि महात्मा गांधी ने अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से 12 मार्च 1930 को 78 सत्याग्राहियो के साथ दांडी के लिए निकले थे। अंग्रेजों के नमक कानून के विरोध में गांधी जी ने दांडी मार्च निकाला था। गांधी जी ने 6 अप्रैल 1930 को नमक बनाकर अंग्रेजों के कानून को तोड़ दिया था। इसके बाद सभी को गिरफ्तार कर लिया गया था।
 

PM Modi go to Gujarat to attend 'Amrit Mahotsav' of independence, Congress will do Kisan Satyagraha ASA
Author
Gandhi Ashram, First Published Mar 11, 2021, 4:06 PM IST
  • Facebook
  • Twitter
  • Whatsapp

गुजरात। आजादी के 75 वर्ष पूरे होने के उपलक्ष्‍य में केंद्र सरकार ने आजादी अमृत महोत्‍सव मनाने का एलान किया है। 12 मार्च को दांडी मार्च को हरी झंडी दिखाकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इसकी शुरुआत करेंगे। बता दें कि युवा पीढ़ी को 1857 से 1947 के बीच चले स्‍वतंत्रता संग्राम की जानकारी देने, आजादी के 75 वर्ष में देश के विकास तथा आजादी के 100 पूरे होने तक विश्‍वगुरु भारत की तस्‍वीर दिखाने के लिए अमृत महोत्‍सव का आयोजन किया गया है। वहीं, कांग्रेस भी 80 ट्रैक्टर के सहारे किसान सत्याग्रह करेगी। 

जानिए बड़ी बातें
-अमृत महोत्सव के लिए गांधी आश्रम, दांडी पुल समेल आसपास के इलाके को सजाया गया है।
-मार्च में 81 पदयात्री शामिल होंगे, जो पदयात्री 386 किलोमीटर की यात्रा कर 5 अप्रैल को दांडी पहुंचेंगे।
-दांडी मार्च के दौरान स्वतंत्रता संग्राम और गांधी जी से जुड़े स्थलों जैसे- पोरबंदर, राजकोट, वडोदरा, दांडी, मांडवी और बारडोली में भी कई कार्यक्रम होंगे। 
-75 जगहों पर 12 मार्च को राष्ट्रप्रेम और जनचेतना से संबंधित कार्यक्रम आयोजित किए जाएंगे।
-दांडी मार्च को रवाना करने के बाद पीएम मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री विजय रुपाणी भी पैदल मार्च करेंगे।
-स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप ने आश्रम की सुरक्षा का जिम्मा उठा लिया है।
-गुजरात राज्य की सुरक्षा एजेंसिया भी सुरक्षा को लेकर सतर्क हैं।
-गांधी आश्रम को 12 मार्च तक के लिए आम लोगों के लिए बंद कर दिया गया है। 

कांग्रेस करेगी किसान सत्याग्रह
12 मार्च को गुजरात कांग्रेस अहमदाबाद के साबरमती गांधी आश्रम से कोचरब आश्रम तक पैदल मार्च निकालेगी। साथ ही कांग्रेस 80 ट्रैक्टरों के साथ किसान सत्याग्रह भी शुरु करेगी। बता दें कि महात्मा गांधी ने अहमदाबाद के साबरमती आश्रम से 12 मार्च 1930 को 78 सत्याग्राहियो के साथ दांडी के लिए निकले थे। अंग्रेजों के नमक कानून के विरोध में गांधी जी ने दांडी मार्च निकाला था। गांधी जी ने 6 अप्रैल 1930 को नमक बनाकर अंग्रेजों के कानून को तोड़ दिया था। इसके बाद सभी को गिरफ्तार कर लिया गया था।

Follow Us:
Download App:
  • android
  • ios