अमेरिका  

(Search results - 1182)
  • <p>Nithyananda Paramashivam,Jagatguru Maha Sannidhanam Bhagavan, Nithyananda, SHRIKAILASA Nation</p>

    NationalJan 22, 2021, 11:11 AM IST

    जगतगुरु श्री नित्यानंद परमशिवम ने जो बाइडेन को पत्र लिखकर दी बधाई कहा- अमेरिका निभा रहा जिम्मेदार नेतृत्व

     जो बाइडेन ने अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति और कमला हैरिस ने 49वें उप-राष्ट्रपति पद की शपथ ले ली है। श्रीकैलाश नेशन के संस्थापक जगतगुरु महा सन्निधानम् भगवान श्री नित्यानंद परमशिवम ने पत्र लिखकर जो बाइडने और कमला हैरिस को बधाई दी।

  • undefined
    Video Icon

    WorldJan 21, 2021, 2:14 PM IST

    कुर्सी पर बैठते ही बाइडेन ने पलटे ट्रंप के कई फैसले

    अमेरिका के राष्‍ट्रपति जो बाइडेन सत्‍ता संभालते ही ऐक्‍शन में आ गए हैं। बाइडेन ने एक के बाद कई कार्यकारी आदेशों पर हस्‍ताक्षर करके अपने पूर्ववर्ती डोनाल्‍ड ट्रंप के कई फैसलों को पलट दिया है। इसी बीच बाइडेन ने प्रवासियों को राहत देने वाले एक कार्यकारी आदेश पर भी हस्‍ताक्षर किया है। इस आदेश से 1ण्1 करोड़ ऐसे प्रवासियों को फायदा होगा जिनके पास कोई कानूनी दस्‍तावेज नहीं है। इसमें करीब 5 लाख लोग भारतीय हैं।

  • <p>Sensex jumps, Nifty</p>

    NationalJan 21, 2021, 10:10 AM IST

    बाइडेन के शपथ लेने के बाद भारतीय शेयर बाजार में जबरदस्त उछाल, पहली बार सेंसेक्स 50 हजार के पार

    अमेरिका में राष्ट्रपति जो बाइडेन के शपथ लेने के बाद भारत में शेयर बाजार ने बड़ी छलांग लगाई है। बाजार खुला तो सेंसेक्स 50,096.57 पर और निफ्टी 14730 पर खुला। यह एक ऐतिहासिक उछाल है। बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज के सेंसेक्स ने पहली बार 50 हजार का आंकड़ा पार किया है। 

  • undefined

    NationalJan 20, 2021, 11:32 PM IST

    अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बने बाइडेन, पीएम मोदी ने दी बधाई; जानिए क्या बोले राहुल गांधी

    जो बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बन गए हैं। उन्होंने बुधवार को राष्ट्रपति पद की शपथ ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राष्ट्रपति के रूप में पद ग्रहण करने पर जो बाइडेन को बधाई दी। पीएम मोदी ने कहा, अमेरिका के राष्ट्रपति के तौर पर पद ग्रहण करने पर जो बाइडेन को मेरी हार्दिक बधाई। मैं भारत और अमेरिका की रणनीतिक साझेदारी को मजबूत करने के लिए उनके साथ काम करने का इच्छुक हूं। 

  • <p>lady gaga</p>

<p>lady gaga</p>
    Video Icon

    WorldJan 20, 2021, 11:23 PM IST

    अमेरिका: शपथ ग्रहण में इस पॉप स्टार ने गाया राष्ट्रगान, कैमरे में कैद हुआ छू लेने वाला पल, देखें Video

    वीडियो डेस्क। जो बाइ़डेन अमेरिका के 46 वें राष्ट्रपति बन गए हैं। वे अमेरिकी इतिहास में अब तक के सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति हैं। वहीं कमला हैरिस ने उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेकर इतिहास रच दिया है वे पहली महिला उपराष्ट्रपति बनीं हैं। कैपीटल हील्स में हुए शपथ ग्रहण समारोह के बाद कई प्रस्तुति भी की गईं। जहां लेडी गागा ने अपनी सुरीली आवाज में शपथ ग्रहण के बाद राष्ट्रगान गाया। 
     

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 11:12 PM IST

    मैं हर अमेरिकी का राष्ट्रपति.....जानिए शपथ लेने के बाद क्या बोले अमेरिका के नए राष्ट्रपति बाइडेन

    जो बाइडेन ने बुधवार को अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति के तौर पर शपथ ली। इसके बाद उन्होंने अपनी इनॉगरल स्पीच में लोकतंत्र, कोरोना से लेकर कैपिटल हिंसा तक का जिक्र किया। बाइडेन ने कहा, आज का दिन अमेरिका का दिन है। यह लोकतंत्र का दिन है। यह उम्मीदों का दिन है। आज हम किसी उम्मीदवार का जश्न मनाने नहीं जुटे हैं। हम लोकतंत्र के लिए यहां इकट्ठा हुए हैं। 

  • <p>white house</p>
    Video Icon

    WorldJan 20, 2021, 8:05 PM IST

    अमेरिका की नई सुबह: ट्रंप के जाने और जो बाइडेन के आने से पहले कुछ ऐसा दिखा व्हाइट हाउस का नजारा, देखें Video

    वीडियो डेस्क। दिन बुधवार, तारीख 20 जनवरी 2021। ये वो दिन है जब अमेरिका को उसका अगल यानि कि 46 वां राष्ट्रपति मिलने वाला है। अमेरिका के समय के अनुसार जो बाइडन दोपहर 12 बजे राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। वहीं उनके शपथ लेने से पहले ही डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस छोड़ दिया वे जो बाइडेन के शपथ ग्रहण समारोह का हिस्सा नहीं बनेंगे। 

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 6:53 PM IST

    अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बने बाइडेन, कमला हैरिस ने पहली महिला उपराष्ट्रपति के तौर पर ली शपथ

    अमेरिका में आज नए जो बाइडेन राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। इसी के साथ डोनाल्ड ट्रम्प का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति हैं। वहीं, कमला हैरिस उपराष्ट्रपति पद की शपथ लेंगी। वे अमेरिकी इतिहास में पहली महिला उपराष्ट्रपति हैं। इसके अलावा वे पहली भारतीय-अफ्रीकी मूल की अश्वेत महिला हैं, जो इस पद पर काबिज होंगी। 

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 6:22 PM IST

    बम से हमला हो या आगजनी, US प्रेसिडेंट की कार का कोई बाल बांका नहीं कर सकता, जानें खासियत

    दुनिया के सबसे ताकतवर देश का प्रेसिडेंट होना कई मायने में खासियत रखता है। अमेरिका अपने प्रेसिडेंट की सिक्योरिटी इतनी टाइट रखता है कि परिंदा भी पर नहीं मार पाए। अगर आप उनकी गाड़ी की करें, तो अभी अमेरिका के राष्ट्रपति जिस मजबूत और लग्जरी गाड़ी का इस्तेमाल करते हैं वो है द बीस्ट। इसे राष्ट्रपति की आफिशियल कार का दर्जा मिला हुआ है। यह एक आर्म्ड लिमोसीन यानी हथियारों से सुसज्जित एक लंबी कार है। इसे 24 सितंबर, 2018 को अमेरिकी राष्ट्रपति के काफिले में शामिल किया गया था। कहते हैं कि ये डीजल गाड़ी है। इसमें बड़े साइज के फ्यूल फिलर डोर हैं। 
     

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 5:26 PM IST

    इसे उड़ता 'व्हाइट हाउस' कहते हैं, न्यूक्लियर बम भी इसका कुछ नहीं बिगाड़ सकता, जानें 11 फैक्ट

    अमेरिका को दुनिया का सबसे पॉवरफुल देश यूं ही नहीं कहते!  उसे पता है कि हुकूमत करने किस तरह पेश आना पड़ता है। अब अमेरिका के राष्ट्रपति के विमान के बारे में ही जान लीजिए! यूएस प्रेसिडेंट जिस एयरक्राफ्ट से यात्रा करते हैं, वो 5 स्टार होटलों से भी ज्यादा लग्जरी है। वहीं, सिक्योरिटी ऐसी कि न्यूक्लियर बम भी उसका कुछ न बिगाड़ पाएं। 1990 के बाद से अमेरिकी राष्ट्रपति के बेड़े में दो विशेष एयरक्राफ्ट शामिल किए। ये दोनों विमान उच्च अनुकूलित (Highly customized) एयरक्राफ्ट बोइंग 747-200B सीरिज का हिस्सा हैं। इनके सीरियल नंबर हैं-28000 और 29000। इन पर अमेरिकी वायु सेना का पदनाम VC-25A लिखा होता है। लेकिन याद रहे कि जब इन विमानों में प्रेसिडेंट सफर करते हैं, तभी इनका रेडियो कॉल साइन यानी कोड 'एयरफोर्स वन' होता है। अगर उपराष्ट्रपति सफर कर रहे हों, तो एयरफोर्स टू कहते हैं। इनका निर्माण वायुसेना कराती है। वहीं इनका रखरखाव भी करती है। आइए जानते हैं कुछ अन्य खासियत...
     

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 4:37 PM IST

    आज अमेरिका में 150 साल पुराना रिकॉर्ड टूटेगा, जानिए इस बार कितना बदला है राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह

    अमेरिका में आज नए जो बाइडेन राष्ट्रपति पद की शपथ लेंगे। इसी के साथ डोनाल्ड ट्रम्प का कार्यकाल खत्म हो जाएगा। बाइडेन अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति हैं। कोरोना वायरस और ट्रम्प के चुनाव नतीजों को ना मानने से इस बार शपथ ग्रहण में तमाम ऐसी चीजें हैं, जो पहली बार हो रही हैं।

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 2:46 PM IST

    बचपन में ठीक से बोल नहीं पाते, एक्सीडेंट में पत्नी-बेटी और ब्रेन कैंसर से बेटे को खोया, पढ़ें 10 किस्से

    कहते हैं कि हर कामयाबी के पीछे बड़ा संघर्ष छुपा होता है। कोई भी मुकाम सरलता से नहीं मिलता। अमेरिका के 46वें राष्ट्रपति बने जो बाइडेन भी इसी का उदाहरण हैं। दुनिया के सबसे पुराने लोकतंत्र अमेरिका के सबसे उम्रदराज प्रेसिडेंट बाइडेन संघर्ष की जीती-जागती मिसाल हैं। बचपन से उन्हें जिंदगी में कई कड़ी परीक्षा देनी पड़ीं। एक बीमारी के चलते वे ठीक से बोल नहीं पाते थे। अस्थमा उन्हें परेशान करता था। सबकुछ जैसे-तैसे चल रहा था कि एक हादसे में पत्नी और बेटे को गंवा दिया। लेकिन कहते हैं कि जो टूटता नहीं है, वो ही इतिहास रचता है। बाइडेन ने यह कर दिखाया। पढ़िए बाइडेन की प्रेरक कहानी और देखिए कुछ पुराने फोटोज....

  • undefined

    Other StatesJan 20, 2021, 2:09 PM IST

    गजब: शहर-स्टेशन क्या गुजरात में सीएम ने बदल दिया इस मशहूर फल का नाम, अमेरिका में बिकता है यह फ्रूट

    बताते चले कि कुछ सालों से गुजरात के कच्छ समेत कई इलाकों में किसान ड्रैगन फ्रूट की खेती कर रहे हैं। इसलिए लाल और गुलाबी रंग के दिखने वाले इस फल को कमलम कहा जाएगा। वहीं मजेदार बात ये भी है कि गुजरात के बीजेपी दफ्तर का नाम भी 'श्री कमलम' है।
     

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 1:23 PM IST

    9/11 अटैक के बाद खोली गई थी दुनिया की सबसे खतरनाक जेल, इसे धरती पर नरक माना जाता है

    दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमेरिका ने 20 जनवरी, 2002 को कैरेबियाई देश क्यूबा के ग्वांतनामो में एक जेल खोली थी। क्यूबा में यूएस नेवल बेस पर मौजूद ये सैन्य जेल दुनिया दुनिया की सबसे महंगी और सबसे खतरनाक जेल मानी जाती है। इस जेल में दुनियाभर के खूंखार आतंकवादियों को कैद रखा जाता है। इसे बंद करने की कई बार कोशिशें हुईं, लेकिन नाकाम रहीं। यहां ऐसे कैदियों को लाकर रखा जाता है, जिन पर जेनेवा सम्मेलन के नियम या अमेरिकी कानून लागू नहीं होता। इस जेल में अलग-अलग देशों के अब भी कई कैदी बंद हैं। यहां हर कैदी पर सालाना 5 करोड़ रुपए खर्च होता है। लेकिन कैदियों को टॉर्चर भी इतना किया जाता है कि उनकी आपबीती सुनकर सारी दुनिया दंग रह गई थी। 2002 में इस जेल से छूटे अफगानिस्तान के तीन कैदियों ने जेल की खौफनाक सच्चाई बताई थी। जानिए इस जेल के बारे में...

  • undefined

    WorldJan 20, 2021, 11:31 AM IST

    बच्चों को लॉन में खेलने से रोकने पर 13 साल की उम्र में कमला हैरिस ने कर दिया था आंदोलन

    दुनिया के सबसे ताकतवर देश अमेरिका की उपराष्ट्रपति बनीं कमला हैरिस टीन एज से ही दिलेर रही हैं। 56 वर्षीय कमला हैरिस अमेरिका के ऑकलैंड में 20 अक्टूबर, 1964 को जन्मी थीं। उनकी मां डॉ. श्यामला गोपालन हैरिस चेन्नई में जन्मी थीं। वे एक अमेरिकन बॉयोमेडिकल साइंटिस्ट थीं। इनका 11 फरवरी, 2009 को निधन हो गया था। कमला हैरिस शुरू से ही सामाजिक और आर्थिक बदलाव की पक्षधर रही हैं। उनसे जुड़े कई किस्से हैं। जब वे 13 साल की थीं, उस वक्त ऑकलैंड के मॉन्ट्रियल अपार्टमेंट में रहती थीं। यहां सोसायटी ने बच्चों को लॉन में खेलने से रोक दिया। इस पर कमला ने बच्चों को इकट्टा किया और सोसायटी के खिलाफ आंदोलन कर दिया। बाद में सोसायटी को बच्चों के आगे झुकना पड़ा।