Agriculture Bills  

(Search results - 20)
  • undefined

    NationalSep 27, 2020, 8:51 AM IST

    'मन की बात' में पीएम मोदी ने लोगों से की अपील बोले- 'जब तक दवा नहीं आ जाती तब तक बरतें सावधानी'

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) रविवार सुबह 11 बजे ‘मन की बात’ (Mann Ki Baat) कार्यक्रम के जरिए देश को संबोधित किया। प्रधानमंत्री मोदी के मासिक रेडियो कार्यक्रम की यह 69वीं कड़ी है। इससे पहले पीएम ने 30 अगस्त को ‘मन की बात’ कार्यक्रम के जरिए देशवासियों को संबोधित किया था। 

  • <p>ಮಹಾರಾಷ್ಟ್ರ ಸರ್ಕಾರ ನನ್ನ ಹೇಳೀಕೆ ಇಟ್ಟುಕೊಂಡು ಗುಂಪುನ ಕಟ್ಟಿಸಿಕೊಂಡು ದಾಳಿ ಮಾಡುವ ಯತ್ನ ಮಾಡುತ್ತಿದೆ ಎಂದು &nbsp;ಕಂಗನಾ ಸಂದರ್ಶನವೊಂದರಲ್ಲಿ ಹೇಳಿದ್ದಾರೆ.</p>

    Coronavirus Fact CheckSep 26, 2020, 7:07 PM IST

    क्या कांग्रेस ने किसानों से झूठ बुलवाकर मोदी सरकार के खिलाफ विडियो बनवाया? जाने क्या है सच....

    केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि बिलों को लेकर देशभर के कई किसान संगठन और विपक्षी दल विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी को लेकर मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी लगातार किसानों से विडियो कॉल के माध्यम से बात कर रहे हैं। ऐसे में एक विडियो खूब वायरल हो रहा है। इस विडियों में यह दावा किया जा रहा है कि ये कांग्रेस द्वारा किसानों के माध्यम से बनाया गया फर्जी विडियो है। विडियो में साफ तौर पर देखा जा सकता है कि जो व्यक्ति  विडियो बना रहा है , वो किसानों से निर्देश दे रहा है कि उनके मुताबिक बोलो। हालांकि कांग्रेस की तरफ से इस विडियो को लेकर अब तक कोई प्रतिक्रिया सामने नहीं आई है। लेकिन विडियो जमकर वायरल हो रहा है। 

  • undefined

    NationalSep 25, 2020, 2:05 PM IST

    कृषि बिलों पर पंजाब सरकार का पलटवार, राज्य में केंद्र के कानून की काट में ला सकती है नया बिल

    केंद्र सरकार द्वारा लाए गए कृषि बिलों (Agriculture bills) के खिलाफ शुक्रवार को भारत के सभी किसान संगठनों ने भारत बंद बुलाया है। बिलों को लेकर हरियाणा और पंजाब के इलाकों में किसानों की ओर से आक्रामक प्रदर्शन हो रहे है।मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस (Congress) समेत सभी विपक्षी दल भारत बंद को समर्थन कर रहे हैं। इसी बीच पंजाब की अमरिंदर सरकार केंद्र सरकार के इस कानून की काट में  एक नया कानून ला सकती है। ताकि इन बिलों को लेकर मंडियों में जो बदलाव किए गए हैं, वो राज्य में लागू ना हो पाएं।

  • Priyanka rahul

    NationalSep 25, 2020, 1:26 PM IST

    कृषि बिलों पर राहुल-प्रियंका का मोदी सरकार पर हमला, कहा- किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बनाएगा कानून

    कृषि बिलों के खिलाफ देशभर के कई किसान संगठन और विपक्ष विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। शुक्रवार को किसानों की ओर से बुलाए गए भारत बंद को कांग्रेस ने समर्थन दिया है। इसी बीच कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी और महासचिव प्रियंका गांधी ने फिर से मोदी सरकार पर निशाना साधा है।  राहुल गांधी ने कहा कि नया कृषि कानून किसानों को पूंजीपतियों का गुलाम बना देगा। 

  • <p><strong>ফিট থাকতে প্রধানমন্ত্রীর পরামর্শ দিয়েছেন। আসে সেখানে তিনি পরিবারের সঙ্গে সময় কাটানোর ওপর জোর দিয়েছেন। পাশাপাশি বলেছেন শরীর চর্চার জন্য মাত্র আধাঘণ্টা ব্যয় করতে। পাশাপাশি প্রধানমন্ত্রী নরেন্দ্র মোদী মানসিক প্রশান্তিই সুস্থ থাকার মূল উপাদান।&nbsp;</strong><br />
&nbsp;</p>

    NationalSep 25, 2020, 12:14 PM IST

    आजादी के दशकों बाद तक किसानों के नाम पर कांग्रेस ने सिर्फ खोखले वादे किए- पीएम मोदी

    कृषि बिलों को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को एक बार फिर कांग्रेस पार्टी पर निशाना साधा है। भाजपा के एक कार्यक्रम को वर्चुअली संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि आजादी के बाद अनेक दशकों तक कांग्रेस द्वारा किसान और श्रमिक के नाम पर खूब नारे लगाए गए, बड़े-बड़े घोषणा पत्र लिखे गए, लेकिन समय की कसौटी ने​ सिद्ध कर दिया है कि वो सारी बातें कितनी खोखली थीं,। देश अब इन बातों को भली भांति जानता है इसलिए किसानों को इनसे भ्रमित होने से बचना चाहिए। हमारी सरकार ने किसान हित में इन बिलों को संसद से पारित करवाया है। 

  • Narendra Singh Tomar

    NationalSep 24, 2020, 5:08 PM IST

    कृषि बिलों में MSP नहीं है तो कांग्रेस ने 50 सालों में क्यों लागू नहीं किया? - कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर

    कृषि बिलों को लेकर देशभर में कई किसान संगठन और विपक्षी दल विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच गुरूवार को केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर  (Narendra singh tomar) ने कांग्रेस पर किसानों को भ्रमित करने के आरोप में हमला बोला है। कृषि मंत्री ने कहा कि यदि कांग्रेस को लगता है कि इन बिलों में न्यूनतम समर्थन मूल्य (MSP) नहीं है तो उन्होंने 50 साल सत्ता में रहते हुए इसपर कानून बनाना आवश्यक क्यों नहीं समझा। कांग्रेस समेत तमाम विपक्षी दल इन बिलों में एमएसपी की गारंटी की बेवजह मांग कर रहे हैं क्योंकि इन बिलों में एमएसपी को हटाया ही नहीं गया है। MSP भारत सरकार का प्रशासकीय निर्णय है, जो आने वाले समय में भी लागू रहेगा।

  • undefined

    NationalSep 24, 2020, 11:52 AM IST

    कृषि बिलों पर कृषि मंत्री तोमर ने कहा ये बिल किसान हितैषी, कांग्रेस के झूठ से बचें किसान

    किसानों से जुड़े बिलों को लेकर विपक्ष समेत देशभर के कई किसान संगठन विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इसी बीच केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने गुरूवार को न्यूज एजेंसी एएनआई से बातचीत में कहा कि ये कृषि बिल किसान हितैषी हैं और इससे उनकी आय में इससे इजाफा होगा। यह बिल किसानों को मंडियों के बाहर किसी भी स्थान से किसी भी स्थान पर अपनी मर्जी के भाव पर अपना उत्पाद बेचने की स्वतंत्रता देते है।  उन्होंने कहा कि कांग्रेस समेत कुछ  विपक्षी राजनीतिक पार्टियां अपने निजी स्वार्थ के लिए देश में किसानों के बीच झूठ फैलाने का काम कर रही हैं। 

  • undefined

    NationalSep 23, 2020, 7:55 PM IST

    मोदी सरकार ने कृषि बिल किसानों के हित में लागू किए, कांग्रेस बेवजह कर रही विरोध- केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी

    कृषि बिलों को लेकर चल रहे विवाद के बीच केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने बुधवार को इन बिलों को किसानों के हित में बताया है। उन्होंने कहा कि ये बिल किसानों को उनकी फसल को स्वतंत्र रूप से कहीं भी बेचने की अनुमति देता है, उनकी भूमि को सुरक्षित करता है। ये बिल व्यापारियों को फसल बेचने के तीन दिन के भीतर किसानों को भुगतान करने के लिए भी बाध्य करता है। स्मृति ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने छह वर्षों के कार्यकाल में पीएम के रूप में राष्ट्र हित में काम किया है, न कि राजनीतिक लाभ के लिए। 2014 और 2019 में, मोदी जी ने भारत को बिचौलियों से मुक्त कराने का वादा किया था तो अब विपक्ष इन विधेयकों का विरोध क्यों कर रहा है।

  • undefined

    NationalSep 23, 2020, 1:57 PM IST

    विपक्ष ने कृषि बिलों के विरोध में संसद परिसर में निकाला मार्च, आज राष्ट्रपति कोविंद से मिलेगा विपक्षी दल

    विपक्षी दलों के सांसदों ने बुधवार को कृषि बिलों के विरोध में संसद परिसर में प्रदर्शन कर मार्च निकाला। मार्च के दौरान सभी विपक्षी सांसदों ने किसान बचाओ, मजदूर बचाओ के पोस्टर हाथों में  लिए नारे लगाए। इससे पहले, विपक्ष ने लगातार तीसरे दिन संसद के उच्च सदन राज्यसभा और निचले सदन लोकसभा की कार्यवाही का बहिष्कार किया था।

  • undefined

    Other StatesSep 23, 2020, 1:30 PM IST

    पति ने छोड़ी मल्टीनेशनल कंपनी, पत्नी ने एयरहोस्टेस की जॉब...दोनों लंदन छोड़कर गांव में कर रहे खेती-किसानी

    पोरबंदर, गुजरात. इस समय किसान बिल (agriculture bills) को लेकर राजनीतिक हंगामा चल रहा है। सरकार इसे किसानों की आमदनी बढ़ाने वाला बता रही है, तो विपक्ष इसके नुकसान बता रहा है। भारत कृषि प्रधान देश है। किसान अर्थव्यवस्था (Economy) की रीढ़ हैं। ऐसे में किसानों के जीवन में अच्छा बदलाव जरूरी है। हम आपको एक ऐसे युवा किसान दम्पती से मिलवा रहे हैं, जो लंदन की लग्जरी लाइफ और ऊंची नौकरी छोड़कर अपने गांव लौट आए। अब वे गांव में खेती-किसानी और पशुपालन कर रहे हैं। गांव की अपनी जिंदगी से वे न सिर्फ खुश हैं, तंदुरुस्त हैं, बल्कि पहले से ज्यादा कमा रहे हैं। यह हैं रामदे और भारती खुटी। ये पोरबंदर जिले के बेरण गांव में रहते हैं। इनका तर्क है कि लंदन में लग्जरी लाइफ (Luxury life) होते हुए भी सुकून नहीं था। गांव में खेती-किसानी (Farming) करते हुए उन्हें आनंद मिल रहा है। वहीं, पैसा भी नौकरी से ज्यादा कमा रहे हैं।

  • <p><br />
<strong>সর্বদল বৈঠক বাতিল করায় ক্ষুব্ধ বিরোধীরা সরকারের মনোভাব নিয়েই প্রশ্ন তুলেছেন।</strong><br />
&nbsp;</p>

    NationalSep 22, 2020, 4:00 PM IST

    लोकसभा की कार्यवाही को अध्यक्ष ओम बिरला ने 2 घंटे के लिए किया स्थगित, विपक्ष ने फिर की नारेबाजी

    लोकसभा अध्यक्ष ओम बिरला ने मंगलवार को लोकसभा की कार्यवाही  को 2 घंटे के लिए स्थगित कर दिया। विपक्षी पार्टियों के सांसदों द्वारा लगातार सदन में नारेबाजी और हंगामा करने पर लोकसभा अध्यक्ष ने यह फैसला लिया। रविवार को भी राज्यसभा की कार्यवाही को 2 बार आधे - आधे घंटे के लिए स्थगित कर दिया गया था। इससे पहले कांग्रेस समेत सभी विपक्षी दलों ने मंगलवार सुबह कहा था कि कृषि से जुड़े बिलों पर यदि सरकार ने पुनर्विचार नहीं किया तो वे सभी मिलकर संसद सत्र का बहिष्कार करेंगे। 

  • undefined

    NationalSep 22, 2020, 11:26 AM IST

    कृषि से जुड़े बिलों पर पुनर्विचार कर नया बिल लाए सरकार,नहीं तो करेंगे सत्र का बहिष्कार: गुलाम नबी आजाद

    कांग्रेस के वरिष्ठ नेता गुलाम नबी आजाद ने मंगलवार को कहा कि यदि सरकार हमारी मांगों को नहीं मानती है तो वे संसद सत्र का बहिष्कार करेंगे। आजाद ने कहा कि सरकार को कृषि से जुड़े बिलों पर पुनर्विचार कर संसद में एक नया बिल लाना चाहिए जिसमें पूंजीपति, किसानों से न्यूनतम समर्थन मूल्य( MSP)से नीचे फसल नहीं खरीद पाएं और फूड कार्पोरेशन ऑफ इंडिया (FCI)जैसी सरकारी एजेंसी किसानों से फसल एमएसपी से नीचे ही खरीदने को बाध्य हों।

  • undefined

    NationalSep 22, 2020, 10:51 AM IST

    राज्यसभा सभापति नायडू सांसदों के निलंबन से खुश नहीं, कहा- उनके आचरण पर हुई कार्रवाई

    राज्यसभा सभापति एम. वेंकैया नायडू ने मंगलवार को संसद के उच्च सदन में कहा कि वे विपक्षी दलों के सांसदों के निलंबन को लेकर बिल्कुल खुश नहीं हैं। रविवार को कृषि बिलों की वोटिंग के दौरान विपक्षी सांसदों ने उपसभापति हरिवंश नारायण के साथ अनुचित व्यवहार किया। नायडू ने कहा कि सदस्यों के उपसभापति के साथ अनुचित आचरण करने पर ही यह कार्रवाई की गई है। हमने किसी भी सदस्य के साथ कुछ गलत नहीं किया।

  • <p>बॉलीवुड की स्वर कोकिला कही जाने वाली सिंगर लता मंगेशकर ने राम मंदिर के भूमि पूजन को लेकर खुशी जाहिर करते हुए लिखा, 'नमस्कार, कई राजाओं का ,कई पीढ़ियों का और समस्त विश्वके राम भक्तोंका सदियों से अधूरा सपना आज साकार होता दिख रहा है। कई सालों के वनवास के बाद आज अयोध्या में प्रभु श्रीराम के मंदिर का पुनर्निर्माण हो रहा है, शिलन्यास हो रहा है।' इसके साथ ही लता मंगेशकर ने राम नाम भजन का एक वीडियो भी शेयर किया है।&nbsp;</p>

    NationalSep 21, 2020, 1:55 PM IST

    कृषि विधेयकों पर अभिनेता अनुपम खेर ने किया सरकार का समर्थन, कहा - बदल गए किसानों के दिन

    कृषि से जुड़े विधेयकों को लेकर अब बॉलीवुड अभिनेता अनुपम खेर भी सरकार के समर्थन में आ गए हैं। अनुपम ने सोमवार को उनकी एक फिल्म का वीडियो ट्वीट करते हुए लिखा कि पहले फूड इंस्पेक्टर किसानों को शोषण करते थे। अब इन विधेयकों से किसानों को ही फायदा मिलेगा जो उन्हें सालों से नहीं मिला था। अब किसानों के दिन बदल गए हैं।

  • undefined

    HaryanaSep 20, 2020, 8:14 PM IST

    हरियाणा के किसानों की मोदी सरकार को चेतावनी: कहा-बिल वापस लो नहीं तो 25 सितंबर को देख लेना क्या होगा

    राज्यसभा में आज  रविवार को कृषि बिल पास हो गया। विपक्ष से लेकर किसान लगातार इसका विरोध कर रहे हैं। हरियाणा के किसानों ने केंद्र सरकार को चेतावनी दी है कि अगर यह अध्यादेश वापस नहीं लिया तो आने वाली 25 सितंबर को देख लेना क्या होगा।