Asia Book Of Records  

(Search results - 4)
  • Interested in currency collection of various countries, named in Asia Book of Records kpa

    HatkeJan 11, 2021, 11:38 AM IST

    एक होता है पैसा खर्च करने का शौक, इस इंजीनियर को है नोट जमा करने का जुनून, बना दिया रिकॉर्ड

    चेन्नई, तमिलनाडु. कहते हैं कि शौक बड़ी चीज है। दुनिया में कई लोगों को चीजें कलेक्शन का शौक होता है। कोई पुरानी चीजें जमा करता है, किसी को पुरानी फिल्मों की सीडी-कैसेट्स आदि इकट्ठा करने का शौक होता है। लेकिन हर कोई चाहता है कि उसका यह शौक रिकॉर्ड बने। लेकिन इसके लिए कितना समय लगेगा कोई नहीं जानता। अब चेन्नई के रहने वाले 34 वर्षीय साफ्टवेयर इंजीनियर अन्नामलाई राजेंद्रन को ही देखिए! करीब 10 साल पहले इन्हें अचानक विभिन्न देशों की करेंसी यानी नोट और सिक्के जमा करने का शौक चढ़ा। अब इनका यह शौक एशिया बुक ऑफ रिकार्ड्स में दर्ज हो चुका है।
     

  • 10 year old girl made 33 dishes in 1 hour made a record from Punjabi to South Indian kpl

    NationalDec 16, 2020, 2:33 PM IST

    10 साल की बच्ची ने 1 घंटे में बनाए 33 पकवान, पंजाबी से लेकर साउथ इंडियन तक डिश तैयार कर बनाया रिकॉर्ड

    10 साल की बच्ची सानवी एम. प्रंजीत ने कॉर्न पकौड़ा,फ्राईड राइस,उत्तपम और चिकन रोस्ट सहित 33 स्वादिष्ट डिशों को एक घंटे से भी कम समय में बनाकर रिकॉर्ड बुक में अपना नाम दर्ज किया। 

  • 5 year old Pranvi Gupta makes record by reciting names of 195 countries with their capitals kph

    RelationshipNov 17, 2020, 12:32 PM IST

    क्या आपको याद हैं 195 देशों के नाम? मोबाइल से सीख मात्र 4 मिनट में तोते की तरह बोल देती है 5 साल की बच्ची

    लाइफस्टाइल डेस्क: पहले के ज़माने में बच्चे मात्र स्कूल तक ही शिक्षा ग्रहण कर पाते थे।  लेकिन आज के समय में बच्चे बड़ों से ज्यादा एडवांस हो चुके हैं। बड़ों को चाहे स्मार्टफोन चलाना आए ना आए, छोटे-छोटे बच्चे आराम से स्क्रीन स्लाइड करते नजर आ जाएंगे। शायद यही वजह है कि बच्चे अब काफी टैलेंटेड भी हो चुके हैं। मोबाइल पर ही वो काफी कुछ सीख जाते हैं। दुबई में रहने वाली भारतीय मूल की 5 साल की बच्ची ने मोबाइल से सीखकर वर्ल्ड रिकॉर्ड ही बना डाला। इस बच्ची ने मोबाइल पर 195 देश और उनकी राजधानी के नाम याद कर लिए हैं। ये सारे नाम बच्ची मात्र 4 मिनट 23 सेकंड में फर्राटे से बोल देती है। बच्ची के टैलेंट की काफी चर्चा हो रही है। 

  • RK Srivastava teaches engineering to poor children in Bihar with just 1 rupee ASA

    Bihar ElectionSep 23, 2020, 2:38 PM IST

    सुपर 30 के आनंद कुमार जैसा काम, बिहार में सिर्फ 1 रुपया लेकर गरीब बच्चों को इंजीनियर बनाते हैं ये

    पटना (Bihar) । बिहार देशभर में अनूठे एकेडमिक्स की वजह से भी चर्चित है। आनंद कुमार ( Anand Kumar) ने गरीब बच्चों को आईआईटी (IIT) जैसे संस्थानों में भेजकर ऐसी लकीर खींच दी है कि पूरी दुनिया उनके काम को सलाम करती है। एक मैथमेटिक्स गुरु आरके श्रीवास्तव (RK Srivastava) भी गज़ब तरीके से बच्चों को पढ़ाते हैं। आरके चुटकले और कबाड़ों के जरिए से खेल-खेल में बच्चों को गणित की मुश्किल पढ़ाई करवाते हैं। कबाड़ को जुगाड़ से खिलौने बनाकर प्रैक्टिकल में यूज करते हैं। वो सामाजिक सरोकार से गणित को जोड़कर, सवाल हल करना बताते हैं। आरके 52 तरीके से पाइथागोरस प्रमेय (Pythagoras theorem) को सिद्ध कर दुनिया को हैरान कर चुके हैं।