Bajaj Group  

(Search results - 4)
  • finance ministry big decision no new government scheme till 31 march 2021 kpt

    BusinessJun 5, 2020, 5:07 PM IST

    कोरोना का असर: मार्च 2021 तक नहीं आएगी कोई सरकारी स्कीम, सरकार ने की घोषणा

    सभी मंत्रालयों से भी कह दिया गया है कि इस संबंध में वह कोई नया प्रपोजल न भेजें। इससे पहले भी खबरें आ रही थीं कि फाइनेंस मिनिस्ट्री ने सभी मंत्रालयों को कह दिया है कि वह कोई नई स्कीम से जुड़ा आवेदन ना भेजें।

  • mukesh ambani adani lead share bazaar markets the bull run tata bajaj group down kpt

    BusinessJun 5, 2020, 2:51 PM IST

    लॉकडाउन में हर रोज लोग होते रहे कंगाल, दोनों हाथ से दौलत बटोरते रहे मुकेश अंबानी; टाटा-बजाज पिछड़े

    मुंबई: कोरोना वायरस के चुनौतीपूर्ण काल में जियो प्लेटफॉर्म के लिए एक के एक बाद बड़ी डील हासिल करने वाले मुकेश अंबानी के समूह के शेयरों में जोरदार तेजी देखने को मिली है। मार्च तिमाही के निचले स्तरों से कंपनी ने जबरदस्त वापसी की है। मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल अंबानी की कंपनियों के शेयरों ने भी 24 मार्च के बाद 32 फीसदी तक की छलांग लगाई है। यह बीएसई सेंसेक्स की 33 फीसदी तक वृद्धि जितनी है। अनिल अंबानी की कंपनियों को आमतौर पर कमजोर शेयर के रूप में देखा जाता है।
     

  • deep dive with abhinav khare rahul bajajs atmosphere of fear statment is his political preference

    NationalDec 3, 2019, 7:21 PM IST

    Deep Dive with Anubhav Khare: उद्योगपतियों का पक्षपाती रवैया राजनीतिक

    हास्यस्पद बात तब हुई थी जब शाह ने कहा कि, जब बजाज एक खुले मंच पर उनके सामने बेबाकी से अपने विचारों रख सकते हैं तो इसे पता चलता है कि भय का कोई माहौल नहीं है फिर बजाज ने अपनी सीट से इस पर ताली बजाई!

  • Rahul bajaj criticize BJP government in front of Amit shah

    BusinessDec 1, 2019, 7:36 PM IST

    मोदी सरकार की आलोचना करने वाला कारोबारी इतने अरब की संपत्ति का है मालिक, ये हैं उनकी खास बातें

    नई दिल्ली. बजाज ग्रुप के चेयरमैन राहुल बजाज इन दिनों सरकार की आलोचना पर जोरदार घमासान मच गया है। 93 वर्ष पूराने बजाज कंपनी के मुखिया राहुल बजाज के दादा जमनालाल बजाज ने बजाज कंपनी की स्थापना की थी। उन्होने हाल ही में एक कार्यक्रम में देश के गृहमंत्री अमित शाह के सामने कहा था कि सरकार की आलोचना करने की किसी के पास हिम्मत नहीं है। ऐसे में हर तरफ डर का माहौल है। इसमें कारोबारी जगत के हमारे कुछ मित्र भी शामिल हैं। इस कार्यक्रम में वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण और रेल मंत्री पीयूष गोयल भी उपस्थित थे।