Bhagvad Geeta  

(Search results - 2)
  • Deep Dive with Abhinav Khare, a common man understanding of bhagvad geeta

    NationalOct 8, 2019, 7:03 PM IST

    Deep Dive with Abhinav Khare: गीता, अधर्म का नाश करने के लिए भगवान हर बार जन्म लेंगे

    जब-जब धर्म का नाश होता है, तब मैं अधर्म और अधर्मियों को खत्म करने के लिए खुद पैदा होता हूं। ये रूप जो तुम देख रहे हो वो मेरी माया है। तुम सब लोग डरो नहीं इसलिए मैं इस रूप में खड़ा हूं। मैं धर्म की रक्षा के लिए, अधर्मियों का नाथ करने के लिए, धर्म को स्थापित करने के लिए हमेशा धरती पर जन्म लूंगा। 

  • Deep Dive with Abhinav Khare: Tracking chapter 3 karma yog in Bhagvad Geeta

    NationalOct 4, 2019, 7:13 PM IST

    Deep Dive with Abhinav Khare: भगवत गीता, कर्म इस तरह करो कि वह यज्ञ बन जाए

    अर्जुन उलझन में हैं। वह समझ नहीं पा रहे हैं कि जो श्रीकृष्ण ज्ञान के मार्ग की वकालत करते हैं, वही उन्हें कर्म के लिए मजबूर कर रहे हैं। श्रीकृष्ण फिर अर्जुन को दो मार्ग बताते हैं:  पहला ज्ञान का मार्ग (ज्ञान) और दूसरा क्रिया का मार्ग (कर्म)। श्रीकृष्ण के अनुसार, हमारा सही कर्म पूजा का दूसरा रूप है और केवल सही कर्म करने से ही हम स्वतंत्रता पा सकते हैं।