Budget 2021 Expectation  

(Search results - 37)
  • undefined
    Video Icon

    NationalFeb 2, 2021, 5:07 PM IST

    ये 10 बातें टैक्स देने वालों के लिए जानना है बहुत जरूरी

    बजट में वेतनभोगियों (Salaried Persons) को कोई राहत नहीं दी गई बल्कि भविष्य निधि (Provident Fund यानी PF) में सालाना 2.5 लाख रुपये से ज्यादा की रकम जमा करने पर मिलने वाला ब्याज टैक्सेबल हो जाएगा। तो आईए उन बारीक बिंदुओं की पड़ताल करते हैं जिनकी जानकारी हर टैक्सपेयर को होनी चाहिए।

  • undefined

    NationalFeb 1, 2021, 7:37 PM IST

    Budget: जानें मिडिल क्लास को बजट में किन 5 चीजों में मिली राहत और किनसे हुआ आहत

    बजट में मिडिल क्लास की बात करें तो सोना-चांदी के आयात पर कस्टम ड्यूटी घटने और इनकम टैक्स में बढ़ोतरी न होने से जहां उसे राहत मिली है, वहीं इनकम टैक्स में छूट की उम्मीद लगाए बैठा मिडिल क्लास स्लैब न बढ़ने से मायूस भी हुआ है। इस पैकेज में हम बता रहे हैं मिडिल क्लास के लिए बजट में क्या अच्छा और क्या बुरा रहा। 

  • undefined

    RajasthanFeb 1, 2021, 7:37 PM IST

    बजट: '5 राज्यों के लिए खास है ये बजट' जानिए राजस्थान के नेताओं को क्यों रास नहीं आया यह बजट

    राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि मोदी सरकार के इस बजट का पूरा फोकस सिर्फ चुनावी राज्यों पर रहा। यह केंद्रीय बजट से ज्यादा ‘पांच चुनावी राज्य बजट’ प्रतीत हो रहा है। बजट में बुरे दौर से गुजर रही अर्थव्यवस्था के लिए कोई नीति नहीं है। 

  • undefined
    Video Icon

    NationalFeb 1, 2021, 6:59 PM IST

    एग्रीकल्चर को एग्रीटेक करने वाला बजट, एक्सपर्ट ने कहा- किसानों के लिए जबर्दस्त सौगात


    वीडियो डेस्क। देश का आम बजट वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को आम बजट पेश किया। वित्त मंत्री ने कहा कि इन्फ्रास्ट्रक्चर पर बड़ा खर्च और हेल्थकेयर सेक्टर पर जोर देना इस बजट की 2 अहम बातें रहीं। बजट भाषण में 30 बार खेती-किसानी का जिक्र वित्त मंत्री के भाषण में 15 बार किसानों और 15 बार एग्रीकल्चर का जिक्र आया। जब उन्होंने किसानों की आय दोगुनी करने के सरकार के वादे और साल दर साल मिनिमम सपोर्ट प्राइज के तहत किसानों को बढ़ते पेमेंट का जिक्र किया तो विपक्ष ने हंगामा भी किया। कोरोना वायरस से प्रभावित भारतीय अर्थव्यवस्था के लिए केंद्रीय बजट पेश करते हुए, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने किसानों के लिए कई उपायों की घोषणा की और कहा कि इस साल के बजट में किसानों की आय को दोगुना करने का लक्ष्य रखा गया है। आखिर किसानों को सरकार ने क्या दिया और क्या किया ये बता रहे हैं हमारे एक्सपर्ट और वरिष्ठ अर्थशास्त्री प्रदीप कंबलेकर जो मध्य प्रदेश के पीएचडी सीसीआई के चेयरमैंन है।

  • <p>BUDGET 2021</p>
    Video Icon

    NationalFeb 1, 2021, 6:56 PM IST

    बजट 2021: सीतारमण ने पढ़ी रविंद्रनाथ नाथ टैगौर की कविता, महामारी से भारत की लड़ाई का किया जिक्र

    वीडियो डेस्क। कोरोनाकाल में देश की अर्थव्यवस्था को तगड़ा झटका लगा। बजट से उद्योगों को उम्मीद है उन्हें संजीवनी हासिल होगी। केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को वित्त वर्ष 2021-22 का आम बजट पेश किया। बजट का हर वर्ग को बेसब्री से इंतजार रहता है।

  • undefined

    NationalFeb 1, 2021, 6:39 PM IST

    बजट 2021: हुई महंगी बहुत ही शराब कि 'थोड़ी-थोड़ी' करके हर साल 600 करोड़ लीटर पीते जाते हैं भारतीय

    नई दिल्ली.  बजट में सबको थोड़ा-बहुत मिलता है, लेकिन 'शराब' एक ऐसी चीज है, जिस पर टैक्स या सेस बढ़ता ही रहता है। इसका एक फायदा और एक नुकसान है। फायदा सरकार को अधिक पैसा मिलता है। नुकसान नकली-सस्ती और अवैध शराब की खपत बढ़ जाती है। यह अलग बात है कि शराबियों का बजट कितना भी बिगड़े, वे विरोध नहीं करते। खैर, केंद्रीय वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने साल 2021 के बजट में अल्कोहल पर 100 प्रतिशत कृषि सेस लगाया है। यानी शराबियों से टैक्स वसूलकर किसानों के खाते में जाएगा। यह अच्छी बात है, लेकिन यह भी एक सच है कि देश में कुल 28 राज्य और 8 केंद्र शासित प्रदेश हैं। इनमें से बिहार, गुजरात, मिजोरम, मणिपुर, लक्षद्वीप और नगालैंड में शराब बंदी है। बाकी जो राज्य बचते हैं, वहां हर साल 600 लीटर शराब पी ली जाती है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, देश का एक तिहाई पुरुष शराब पीता है। जिन प्रदेशों में शराबंदी है, वहां अवैध शराब बिकती है। जहां महंगी है, वहां भी। हाल में मप्र में नकली शराब पीने से 20 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। आगे पढ़ते हैं शराब से जुड़े कुछ फैक्ट्स....

  • undefined

    Madhya PradeshFeb 1, 2021, 6:39 PM IST

    बजट पर जानिए मध्यप्रदेश के नेताओं ने क्या कहा, कमलनाथ से लेकर सिंधिया-शिवराज ने कुछ यूं दिया रिएक्शन

    बीजेपी सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया ने निर्मला सीतारमण के बजट की तारीफ करते हुए ट्वीट किया। तो वहीं मुख्यमंत्री कमलनाथ ने मोदी सरकार के बजट को निराशाजनक बताया। देश के पूर्व केंद्रीय वित्त मंत्री पी. चिदंबरम ने कहा कि यह बजट भूखे हाथी को एक मुट्ठी घास देना जैसा है।

  • <p>BUDGET 2021</p>
    Video Icon

    NationalFeb 1, 2021, 6:26 PM IST

    बजट 2021: आम आदमी और महिलाओं को क्या मिला ?

    वीडियो डेस्क।  वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने 1 फरवरी को आम बजट पेश किया। कोरोना काल में निराश हुए लोगों को इस बजट से काफी उम्मीदें थीं। वित्तमंत्री ने ईशारा भी दिया था कि ये सदी का सबसे अच्छा बजट  होगा। आइये समझते हैं कि इस बजट से किसे फायदा हुआ है और किसे नुकसान। 

  • undefined

    NationalFeb 1, 2021, 5:44 PM IST

    IPO लाकर LIC की हिस्सेदारी बेचेगी सरकार, आखिर क्या है आईपीओ और क्यों पड़ी इसे लाने की जरूरत?

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को 2020-21 का बजट पेश किया। इस दौरान वित्त मंत्री ने इंश्योरेंस और बैकिंग सेक्टर के लिए बड़ी घोषणाएं कीं। इंश्योरेंस सेक्टर में जहां FDI को 49% से बढ़ाकर 74% किया गया, वहीं IDBI के साथ-साथ दो बैंक और एक पब्लिक सेक्टर कंपनी में विनिवेश (Disinvestment) होगा। इसके साथ ही सरकार पब्लिक सेक्टर की सबसे बड़ी बीमा कंपनी LIC की हिस्सेदारी बेचेगी और इसके लिए IPO लाया जाएगा।

  • undefined
    Video Icon

    NationalFeb 1, 2021, 5:30 PM IST

    आसान शब्दों में एक आम आदमी इस बजट को कैसे समझे? 7 मिनट के वीडियो में एक्सपर्ट ने बारीकी से समझाया

    वीडियो डेस्क। देश का आम बजट वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को आम बजट पेश किया। बजट को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि कई लोग सोच रहे थे कि हम आम आदमी पर टैक्स का बोझ डालेंगे, लेकिन ट्रांसपेरेंट बजट पर फोकस किया। वहीं वित्त मंत्री ने कहा कि इन्फ्रास्ट्रक्चर पर बड़ा खर्च और हेल्थकेयर सेक्टर पर जोर देना इस बजट की 2 अहम बातें रहीं। इस बार संसद 11 बजे वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण का बजट भाषण शुरू हुआ, जोकि दोपहर 12 बजकर 50 मिनट तक चला। इस तरह से वे दो घंटे से भी कम समय तक बोलीं। ऐसे में हमारे एक्सपर्ट वरिष्ठ अर्थशास्त्री डॉक्टर अमरजीत सिंह खालसा से सिर्फ 7 मिनट में समझें इस पूरे बजट को।

  • <p>BUDGET 2021</p>
    Video Icon

    NationalFeb 1, 2021, 5:28 PM IST

    बजट 2021: बेरोजगारों और युवाओं के लिए वित्तमंत्री ने क्या दिया?

    वीडियो डेस्क। केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) आज देश का आम बजट (Budget 2021) पेश किया। उन्होंने एजुकेशन सेक्टर को लेकर हायर एजुकेशन कमीशन बनाने की घोषणा की। 15 हजार सरकारी स्कूल, 100 नए सैनिक स्कूल के साथ वित्त मंत्री ने लेह में सेंट्रल यूनिवर्सिटी की घोषणा की।

  • <p>BUDGET 2021</p>
    Video Icon

    NationalFeb 1, 2021, 4:55 PM IST

    बजट 2021: रेलवे और मेट्रो को क्या मिला? 2030 तक है ये प्लान

    वीडियो डेस्क। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने वित्त वर्ष 2021-22 का बजट पेश किया है। यह मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का तीसरा बजट है। 

  • undefined
    Video Icon

    NationalFeb 1, 2021, 4:42 PM IST

    डिजिटल ट्रांजैक्शन देख खुश हुए 'सरकार', सस्ते-महंगे पर एक्सपर्ट का डीप एनालसिस

    वीडियो डेस्क। देश की वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने सोमवार को आम बजट पेश किया। सरकार ने पेट्रोल पर 2.5 रुपए और डीजल पर रुपए एग्री सेस का प्रस्ताव रखा है। यह फरवरी से लागू हो जाएगा। हर बार की तरह इस बार भी कुछ चीजें सस्ती हुई हैंतो कुछ महंगी। लेकिन ऐसी बहुत सारी चीजें नहीं हैंजिन पर असर पड़ा हो। जैसा बहुत पहले हुआ करता था। सोना-चांदीबर्तनलेदर के सामान सस्ते होंगेजबकि मोबाइलसोलर इनवर्टर और गाड़ियां महंगी होंगी। कुछ ऑटो पार्ट्स पर 7.5% इंपोर्ट ड्यूटी बढ़ाकर 15% कर दी हैइससे गाड़ियां महंगी होंगी। सोलर इनवर्टर महंगा होगाक्योंकि इस पर इंपोर्ट ड्यूटी 15% बढ़ाई गई है। मोबाइल फोन के चार्जर और हेडफोन पर इंपोर्ट ड्यूटी 2.5% बढ़ाई है। इससे ये चीजें भी महंगी होंगी। सोने-चांदी पर इंपोर्ट ड्यूटी 7.5% कम की गई है। इससे ज्वैलरी सस्ती होगी। स्टील प्रोडक्ट पर इंपोर्ट ड्यूटी 7.5% कम कर दी गई है। तांबे पर इंपोर्ट ड्यूटी 2.5% घटाई गई है। चुनिंदा लेदर को कस्टम ड्यूटी से हटा दिया गया है। इससे लेदर के प्रोडक्ट सस्ते होंगें।

  • undefined

    NationalFeb 1, 2021, 4:40 PM IST

    Budget 2021 : आखिर क्या है E-NAM, इससे कैसे जुड़ें किसान, वित्त मंत्री ने इस स्कीम के तहत यूं दिया ई-नाम

    नई दिल्ली। वित्त वर्ष 2021-22 के लिए केंद्रीय मंत्री निर्मला सीतारमण (Nirmala Sitharaman) ने सोमवार को बजट पेश किया। इस दौरान सरकार ने किसानों की आय दोगुनी करने की दिशा में काम करने की बात कही। इसके साथ ही कृषि क्षेत्र के क्रेडिट टारगेट को 15 लाख करोड़ रुपए से बढ़ाकर 16 लाख करोड़ रुपए कर दिया गया। इसके अलावा निर्मला सीतारमण ने किसानों के लिए E-Nam का जिक्र किया और इसके लिए 1 हजार नई मंडियां शुरू करने की घोषणा भी की। आखिर क्या E-Nam स्कीम, ये कैसे काम करती है और किसानों को इसका क्या फायदा होगा? जानते हैं इन सभी चीजों के बारे में। 
     

  • undefined

    NationalFeb 1, 2021, 4:26 PM IST

    बजट 2021: दुनिया में भारतीय महिलाओं के पास है सबसे ज्यादा गोल्ड, जानिए किस देश ने कितना 'दबा' कर रखा है

    नई दिल्ली. केंद्रीय बजट-2021 में सोने-चांदी पर इम्पोर्ट डयूटी 7.5% कम की गई है। इससे ज्वैलरी सस्ती होगी। यानी महिलाओं के लिए यह खुशखबरी है। आपको पता है कि सोना एक मात्र ऐसी धातु है, जो पूरी दुनिया की समृद्धि का प्रतीक माना जाता है। जिसके पास जितना सोना, वो उतना धन्नासेठ। वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के अनुसार दुनिया में जब से सोने का खनन शुरू हुआ है, तब से 2 लाख टन से ज्यादा सोना निकाला जा चुका है। एक बात और 2 साल पहली रिपोर्ट की बात करें, तो अकेले भारतीय महिलाओं के पास 21 हजार टन सोना है। इतना सोना सबसे ज्यादा गोल्ड रिजर्व वाले दुनिया के टॉप 5 देशों के बैंकों को मिला दिया जाए, तो भी उससे ज्यादा है। हाल में उत्तरप्रदेश के जनपद सोनभद्र की सोन पहाड़ी में और हरदी क्षेत्र में बड़ी मात्रा में सोने का भंडार मिला है। आइए जानते हैं सोना कितना 'सोना'...