China Army  

(Search results - 50)
  • undefined
    Video Icon

    NationalFeb 8, 2021, 1:35 PM IST

    ड्रैगन की हर शातिर चाल पर कुछ यूं नजर रखेगा भारत

    पिछले साल गलवान घाटी पर चीन के रवैये और घाटी में हुई हिंसा के बाद भारत औऱ चीन के बीच रिश्तों में तनाव बरकरार है। वहीं सीमा विवाद को लेकर कई दौर की बैठक हो चुकी है लेकिन अभी तक कोई भी नतीजा नहीं निकला है। चीन की सेना 3,488 किमी के वास्तविक नियंत्रण रेखा से पीछे हटने का कोई संकेत नहीं दे रहा है। लेकिन भारत ने अब चीन और उसके सैनिकों पर निगरानी रखने के लिए सख्त कदम उठाए हैं। भारत अब ड्रोन्स, सेंसर्स, टोही विमान और इलेक्ट्रॉािनिक युद्ध के औजारों के जरिए चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) की हरकतों पहले से ज्यादा पैनी नजर रखेगा।

  • undefined
    Video Icon

    NationalNov 28, 2020, 12:46 PM IST

    भारत ने अमेरिका से लिए दो खतरनाक ड्रोन, मुश्किल में आएगा ड्रैगन

    पूर्वी लद्दाख में वास्तविक नियंत्रण रेखा (एलएसी) पर चीन से जारी विवाद के बीच भारत और अमेरिका के बीच घनिष्ठता बढ़ रही है। हिंद महासागर क्षेत्र में निगरानी के लिए नौसेना ने एक अमेरिकी कंपनी से लीज पर दो प्रीडेटर ड्रोन लिए हैं। इन ड्रोन की तैनाती पूर्वी लद्दाख में एलएसी पर की जा सकती है। इन अमेरिकी ड्रोन को नौसेना ने चीन से विवाद को देखते हुए रक्षा मंत्रालय द्वारा मंजूर आपातकालीन खरीद शक्ति के तहत शामिल किया है।

  • undefined
    Video Icon

    NationalNov 20, 2020, 6:17 PM IST

    चीन ने फिर चली भारत के पीठ पीछे एक शातिर चाल

    भारत और चीन के बीच तनाव एक बार फिर बढ़ने की आशंका है। सूत्रों के मुताबिक, चीन ने सिक्किम में भारतीय सीमा के करीब एक गांव बसा लिया है। यह गांव पड़ोसी देश भूटान के इलाके में दो किलोमीटर अंदर है और डोकलाम के उस पॉइंट से बेहद करीब है, जहां 2017 के दौरान भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने आ गई थीं और दोनों दोनों देशों के बीच तनाव बढ़ गया था। यह खुलासा उस वक्त हुआ, जब चीन के एक वरिष्ठ पत्रकार ने ट्वीट के माध्यम से अपने देश के 'विकास' के बारे में जानकारी दी थी। हालांकि, विवाद बढ़ने पर चीन के पत्रकार ने अपने ट्वीट डिलीट कर दिए।

  • undefined
    Video Icon

    NationalNov 18, 2020, 9:21 AM IST

    Chinese Army की लद्दाख में Indian Army कर रही मदद!

    नमस्कार हमारा नाम है इंटरनेशनल खबरी। आज हम बात करेंगे कि तमाम लड़ाईयों और झड़प के बावजूद किस तरह से भारतीय सेना लद्दाख में चीनी सेना की मदद कर रही है। जी हां, यह सुनने में काफी अजीब लग रहा होगा लेकिन भारतीय सेना वहां मानवता की एक ऐसी मिसाल पेश कर रही है जिसे पूरी दुनिया को देखना चाहिए और सीखना चाहिए। आए दिन चीनी सेना से हमारी झड़प होती है, उनकी सेना हमारी सीमा में घुसी आती है उसके बावजूद सेना का ऐसा करना वाकई तारीफ के काबिल है।

  • undefined
    Video Icon

    WorldNov 3, 2020, 6:54 PM IST

    नेपाल जिस चीन को मानता था दोस्त, वही दे रहा है धोखा

    भारत और चीन के बीच पूर्वी लद्दाख के गलवान घाटी में हिंसक झड़प के बाद ड्रैगन ने नेपाल की 150 हेक्‍टेयर जमीन पर कब्‍जा कर लिया है। चीन ने पांच मोर्चों पर इस साल मई महीने में नेपाल की जमीन पर कब्‍जा करना शुरू किया। नेपाल के नेताओं ने बताया कि नेपाली जमीन पर कब्‍जे के लिए चीन ने सीमा पर अपनी सेना PLA को तैनात करना शुरू कर दिया था। ब्रिटेन के अखबार द डेली टेलीग्राफ से बातचीत में नेपाली नेताओं ने बताया कि नेपाल के उत्‍तरी-पश्चिमी जिले हुमला में चीनी सेना ने लिमी घाटी और हिल्‍सा को पार किया और पत्‍थर के बने पिलर को हटा दिया।

  • undefined

    NationalSep 18, 2020, 9:45 AM IST

    LAC पर इस बार सर्दियों में भी डटे रहेंगे 40 हजार अतिरिक्त भारतीय जवान, पूरा हो गया है इंतजाम

    लद्दाख. पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीन के बीच हुई हिंसक झड़प के बाद दोनों देशों के बीच तनाव बरकरार है। इस तनाव को कम करने के लिए दोनों देशों की सैन्य स्तर की अफसर बैठक कइयों बार हुई। लेकिन, इसका कोई निष्कर्ष नहीं निकला। हाल ही में एलएसी (LAC) में एक बार फिर से चीन की तरफ से घुसपैठ की कोशिश की गई। हालांकि, भारतीय जवानों ने उनकी इस कोशिश को नाकाम कर दिया था। ऐसे में इस बार एलएसी पर सर्दियों में भी जवानों की तैनाती की जाएगी। इसके लिए सारी तैयारियां हो चुकी हैं। बताया जा रहा है कि 40 हजार सैनिकों के ठहरने का पूरा इंतजाम कर दिया गया है।   

  • undefined

    NationalSep 5, 2020, 9:40 AM IST

    अरुणाचल: कांग्रेसी विधायक का दावा- चीनी सेना ने 5 लोगों को अगवा किया; पीएमओ से की कार्रवाई की मांग

    भारत और चीन के बीच लद्दाख में सीमा विवाद को लेकर तनाव बना हुआ है। इसी बीच अरुणाचल प्रदेश से एक चौंकाने वाला दावा किया जा रहा है। यहां 5 लोगों को चीनी सेना द्वारा अगवा करने का मामला सामने आया है। यह दावा कांग्रेसी विधायक ने किया है। 

  • <p><br />
India China Border, India China Army, Indian Army, China Army</p>

    NationalAug 14, 2020, 6:31 PM IST

    एलओसी पर टकराव के बीच भारत-चीन की सेनाएं करेंगी युद्धाभ्यास, 15 से 26 सितंबर तक रूस में होगी एक्सरसाइज

    भारत-चीन-पाकिस्तान टकराव के बीच खबर है कि भारतीय सेना सितंबर के महीने में रूस में होने वाली मल्टीनेशनल एक्सरसाइज कवकाज 2020 में हिस्सा लेने जा रही है। इस युद्धाभ्यास में रूस ने चीन और पाकिस्तान को भी बुलाया गया है। 

  • undefined
    Video Icon

    WorldAug 3, 2020, 5:41 PM IST

    क्या चीन की सैन्य लैब में तैयार हुआ था कोरोना? चीन से भागी वैज्ञानिक ने किया बड़ा खुलासा

    चीन प्रशासित हॉन्ग कॉन्ग से भागकर अमेरिका पहुंची हॉन्ग कॉन्ग स्कूल ऑफ पब्लिक हेल्थ की सीनियर वायरोलॉजिस्ट डॉ ली मेंग यान ने दावा किया है कि कोरोना वायरस को चीन के मिलिट्री लैब में बनाया गया था। उन्होंने इस खतरनाक वायरस के चीन के वेट मार्केट से उत्पत्ति संबंधी धारणाओं को भी खारिज कर दिया। उनके दावों से चीन ने साफ इनकार किया है। ताइवानी समाचार एजेंसी ल्यूड प्रेस के साथ एक लाइव-स्ट्रीम साक्षात्कार के दौरान डॉ ली मेंग यान ने कहा कि जब यह महामारी फैलनी शुरू हुई तब मैंने स्पष्ट रूप से मूल्यांकन किया था कि यह वायरस चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की एक सैन्य प्रयोगशाला से आया था।

  • undefined
    Video Icon

    NationalJul 24, 2020, 7:24 PM IST

    मोदी सरकार ने बदल दिए नियम, अब पानी मांगता फिरेगा चीन

    लद्दाख में सैनिकों पर हमले के बाद भारत चीन के खिलाफ एक के बाद एक कड़े फैसले ले रहा है। ताजा फैसले के तहत केंद्र सरकार ने सरकारी खरीद में चाइनीज कंपनियों की एंट्री बैन कर दी है। मतलब, केंद्र और राज्य सरकार की तरफ से किसी भी तरह की सरकारी खरीद में चाइनीज कंपनियां बोली में शामिल नहीं हो सकती हैं। केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए जनरल फाइनैंशल रूल्स 2017 में संशोधन किया है जो उन देशों के बोलीदाताओं पर लागू होता है जिनकी सीमा भारत से सटती है। इसका सीधा असर चीन, पाकिस्तान, बांग्लादेश, भूटान, नेपाल जैसे देशों पर होगा। 

  • undefined
    Video Icon

    NationalJul 15, 2020, 2:18 PM IST

    कमांडर स्तर की बैठक में भारत की इन बातों को मानने के लिए राजी हुआ चीन

    पैंगोंग सो और देपसांग समेत पूर्वी लद्दाख में गतिरोध वाले सभी स्थानों से समयबद्ध तरीके से सैनिकों को पीछे हटाने की प्रक्रिया की रूपरेखा को अंतिम रूप देने के लिए भारतीय और चीनी सेना के कमांडरों के बीच मंगलवार को करीब 14 घंटे तक मैराथन बातचीत हुई। अधिकारियों ने बताया कि लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की चौथे चरण की वार्ता में पूर्वी लद्दाख में एलएसी के पास पीछे के सैन्य प्रतिष्ठानों से बड़ी संख्या में सैनिकों और हथियारों को हटाने के कदमों पर ध्यान केन्द्रित किया गया। पैंगोंग सो और देपसांग समेत पूर्वी लद्दाख में गतिरोध वाले सभी स्थानों से समयबद्ध तरीके से सैनिकों को पीछे हटाने की प्रक्रिया की रूपरेखा को अंतिम रूप देने के लिए भारतीय और चीनी सेना के कमांडरों के बीच मंगलवार को करीब 14 घंटे तक मैराथन बातचीत हुई। अधिकारियों ने बताया कि लेफ्टिनेंट जनरल स्तर की चौथे चरण की वार्ता में पूर्वी लद्दाख में एलएसी के पास पीछे के सैन्य प्रतिष्ठानों से बड़ी संख्या में सैनिकों और हथियारों को हटाने के कदमों पर ध्यान केन्द्रित किया गया। 

  • undefined
    Video Icon

    NationalJul 12, 2020, 12:18 PM IST

    EXCLUSIVE: चीनी हैकर्स ने भारतीय साइबर स्पेस को गलवान हिंसा के बाद बनाया निशाना

    एक विशेष साक्षात्कार में, साइबर वॉरफेयर के पूर्व ब्रिटिश इंटेलिजेंस हेड और सायफर्मा के संस्थापक और सीईओ, कुमार रितेश ने गलवान घाटी की हिंसा के बाद से चीनी हैकर्स की तरफ से बढ़ी आक्रामकता का खुलासा किया है.
    सायफर्मा ने हमारे साथ जो डेटा साझा किया है उसमें साफ है कि किस तरह से चीनी हैकर्स भारत में कई बिजनेस घरानों, सरकारी एजेंसियों को निशाना बना रहे हैं जिससे उनकी छवि खराब की जा सके.

  • undefined
    Video Icon

    NationalJul 9, 2020, 3:27 PM IST

    अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया आए साथ, चीन की जालसाज़ी का पर्दाफाश

    चीन अब बेनकाब हो गया है। अपने तमाम पड़ोसी देशों के लिए किसी न किसी वजह से परेशानी पैदा कर रहे चीन को लेकर विश्व बिरादरी का सब्र जवाब देने लगा है। बुधवार को अमेरिका, जापान और ऑस्ट्रेलिया के रक्षा मंत्रालयों की तरफ से जारी एक संयुक्त बयान में हिंद महासागर क्षेत्र में पैदा हो रहे खतरों को देखते हुए साझा रणनीति बनाने का संकेत दिया गया है। एक दिन पहले भारत और अमेरिका के विदेश मंत्रालयों की तरफ से जारी बयान में भी चीन को लेकर परोक्ष तौर पर रणनीतिक संकेत दिया गया था। बयान में हिंद-प्रशांत क्षेत्र को लेकर रणनीति का संकेत भी था।

  • undefined
    Video Icon

    NationalJul 7, 2020, 12:41 PM IST

    भारत के हक में अमेरिका ने कही ऐसी बात कि छूट जाएंगे चीन के पसीने

    भारत और चीन के बीच संघर्ष की नौबत आने पर अमेरिका भारत के साथ खड़ा होगा। यह बात व्हाइट हाउस के चीफ आफ स्टाफ मार्क मीडोज ने दक्षिण चीन सागर में अमेरिकी उपस्थिति को मजबूत करने के लिए दो एयरक्राफ्ट कैरियर की तैनाती के बाद कही। उन्होंने कहा कहा अमेरिकी सेना अपने रिश्तों को निभाने के लिए मजबूती से डटी हुई है। यह चाहे भारत-चीन का मामला हो या दुनिया में कहीं और किसी संघर्ष का मामला हो। उन्होंने कहा कि हमारा संदेश साफ है।

  • undefined
    Video Icon

    NationalJul 6, 2020, 4:06 PM IST

    एलएसी पर वायुसेना देगी चीन को मुंहतोड़ जवाब, अमेरिका से आ रहे हैं ये खास ड्रोन

    पूर्वी लद्दाख में चीनी पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (पीएलए) के साथ लंबे समय से जारी गतिरोध के बीत भारत ने कम ऊंचाई पर अधिक देर तक उड़ान भरने वाले अमेरिकी सशस्त्र प्रीडेटर-बी ड्रोन खरीदने में रुचि दिखाई है। यह ड्रोन ना सिर्फ खुफिया जानकारी इक्ट्ठा करता है, बल्कि लक्ष्य का पता लगाकर उसे मिसाइल और लेजर गाइडेड बम से नष्ट कर देता है। फिलहाल भारत पूर्वी लद्दाख में इज़राइली हेरोन ड्रोन का इस्तेमामल करता है, जो कि निहत्था है।