Chinese App  

(Search results - 28)
  • US lift ban from 9 chinese apps including Tiktok, camscanner, Biden administration will review DHA

    WorldJun 10, 2021, 4:47 PM IST

    अमेरिका में TikTok, CamScanner सहित 9 चाइनीज ऐप्स पर लगा बैन हटा, रद्द हुआ ट्रंप का आदेश

    टिकटाॅक सहित 9 चाइनीज ऐप्स पर अमेरिका में बीते 5 जनवरी को बैन लगा दिया गया था। तत्कालीन राष्ट्रपति ट्रंप ने चीनी ऐप्स को अमेरिकी नागरिकों और अमेरिका के लिए खतरा बताया था।

  • Pakistan Telecommunication Authority blocks Chinese app TikTok KPP

    WorldOct 9, 2020, 5:49 PM IST

    भारत के बाद अब पाकिस्तान ने लगाया TikTok पर बैन, प्रतिबंध के पीछे बताई ये वजह

    भारत और अमेरिका के बाद अब पाकिस्तान ने  चाइनीज एप टिक-टॉक ( TikTok) पर बैन लगा दिया है। पाकिस्तान के टेलीकम्युनिकेशन प्राधिकरण पिछले दिनों टिकटॉक को अनैतिक, अभद्र और अश्लील सामग्री की शिकायत को लेकर चेतावनी दी थी। 

  • India Ban PUBG and other 117 App China Speaks On Dangal Film And Rabindranath Tagore KPP

    WorldSep 4, 2020, 1:04 PM IST

    ऐप बैन के बाद चीन की अकल आई ठिकाने; कहा, भारत को खतरा नहीं मानते, हमारे रिश्ते 1000 साल पुराने

    भारत सरकार ने चीन को कड़ा संदेश देते हुए 118 और चीनी ऐप को बैन कर दिया। दोनों देशों में चल रहे विवाद के बीच भारत सरकार द्वारा उठाए जा रहे कदमों से चीन परेशान है। ऐसे में चीन ने अब भारत से रिश्तों की दुहाई दी है। इतना ही नहीं चीन को मुश्किल वक्त में गुरुदेव रबिंद्रनाथ टैगौर, योग और आमिर खान की दंगल फिल्म याद आ रही है। 

  • PUBG Mobile banned in India along with 118 other mobile apps kpn

    NationalSep 2, 2020, 5:42 PM IST

    मोदी ने चीन को दिया बड़ा झटका, PUBG मोबाइल सहित 118 ऐप बैन कर दिए गए, देखें पूरी लिस्ट

    भारत ने चीन को एक बार फिर से बड़ा झटका दिया है। सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने पबजी मोबाइल सहित 118 अन्य मोबाइल ऐप पर रोक लगा दी है। इससे पहले भी भारत में दो बार चीन के ऐप प्रतिबंधित किए गए थे। 118 एप में PUBG के अलावा CamCard, Baidu, Cut Cut, VooV, Tencent Weiyun, Rise of Kingdoms, Zakzak आदि शामिल हैं।

  • Selfreliant India,Two engineers of IIT Bombay built  Made in India document scanner app kpa

    MaharashtraAug 31, 2020, 10:28 AM IST

    चीनी ऐप पर बैन होने के बाद दो दोस्तों ने तैयार किया आपके बड़े काम का यह देसी स्कैनर ऐप

    मुंबई. जरूरी कागजों(डॉक्यूमेंट्स) को सहेजकर रखना बड़ा पेंचीदा काम होता है। अकसर हम मोबाइल के जरिये कागजात की फोटो खींचकर सेव कर लेते हैं। लेकिन इनकी क्वालिटी इतनी खराब हो जाती है कि उन्हें पढ़ पाना मुश्किल होता है। गूगल प्ले स्टोर पर कई डॉक्यूमेंट्स स्कैनर ऐप मौजूद हैं। हालांकि वे फ्री नहीं हैं। चीनी ऐप फ्री थे, लेकिन भारत सरकार ने उन पर बैन लगा दिया। ऐस में लोगों को बड़ी समस्या हो रही थी। इसी समस्या के समाधान के रूप में सामने आया है एआई यानी  Artifical Intelligence पर आधारित रीडिंग असिस्टेंट और डॉक्यूमेंट स्कैनर ऐप। इसे बनाया है आईआईटी बॉम्बे में सिविल इंजीनियरिंग डिपार्टमेंट में बीटेक अंतिम वर्ष के दो छात्रों रोहित कुमार चौधरी और कविन अग्रवाल ने। इस ऐप को फ्री में डाउनलोड किया जा सकता है। पढ़िए इसके बारे में...

  • After PM Modi s strict policies China is ready to talk and resolve issues with india aha
    Video Icon

    NationalAug 18, 2020, 12:20 PM IST

    पीएम मोदी की रणनीति से झुका चीन, बातचीत से मतभेद सुलझाने को तैयार

    चीन ने कहा कि वह आपसी राजनीतिक भरोसा बढ़ाने, अपने मतभेदों को उचित तरीके से सुलझाने और द्विपक्षीय संबंधों की रक्षा के लिए भारत के साथ मिलकर काम करने को तैयार है। चीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने नियमित संवाददाता सम्मेलन में यह टिप्पणी की। पश्चिमी मीडिया के एक पत्रकार ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के उस बयान पर चीन की प्रतिक्रिया मांगी, जिसमें उन्होंने कहा था कि भारतीय सैनिकों ने देश की संप्रभुता को चुनौती देने वालों को मुंहतोड़ जवाब दिया।

  • second digital strike on china, India banned 47 chinese app KPZ
    Video Icon

    HaryanaJul 27, 2020, 1:35 PM IST

    भारत ने बैन किए चीन के 106 ऐप, PUBG समेत 250 ऐप भी रडार पर

    वीडियो डेस्क। भारत सरकार ने चीन को एक और झटका दिया है। सरकार ने चीन पर दूसरी डिजिटल स्ट्राइक की है। भारत ने 47 और चाइनीज ऐप्स को बैन किया है। इससे पहले भी चीन के 59 ऐप भारत में बैन हो चुके हैं। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, 47 प्रतिबंधित चाइनीज ऐप्स, पहले से प्रतिबंधित ऐप्स के क्लोन के रूप में काम कर रहे थे। 

  • Amid tensions between india and china donald trump s america backs india
    Video Icon

    NationalJul 7, 2020, 12:41 PM IST

    भारत के हक में अमेरिका ने कही ऐसी बात कि छूट जाएंगे चीन के पसीने

    भारत और चीन के बीच संघर्ष की नौबत आने पर अमेरिका भारत के साथ खड़ा होगा। यह बात व्हाइट हाउस के चीफ आफ स्टाफ मार्क मीडोज ने दक्षिण चीन सागर में अमेरिकी उपस्थिति को मजबूत करने के लिए दो एयरक्राफ्ट कैरियर की तैनाती के बाद कही। उन्होंने कहा कहा अमेरिकी सेना अपने रिश्तों को निभाने के लिए मजबूती से डटी हुई है। यह चाहे भारत-चीन का मामला हो या दुनिया में कहीं और किसी संघर्ष का मामला हो। उन्होंने कहा कि हमारा संदेश साफ है।

  • Calls for TikTok to be banned in Australia over Chinese spying fears KPP

    WorldJul 6, 2020, 12:53 PM IST

    चीन को फिर झटका देने की तैयारी, भारत के बाद इस देश के रडार पर टिकटॉक, लग सकता है बैन

    पूर्वी लद्दाख में सीमा को लेकर चल रहे विवाद के बीच भारत के बाद एक और देश चीन को झटका देने की तैयारी में है। भारत के बाद अब ऑस्ट्रेलिया में भी Tik Tok बैन करने की मांग उठ रही है। जनता की मांग को देखते हुए संसदीय कमेटी बैन पर विचार कर रही है।

  • explainer how much rupees on TikTok live video many creators became millionaires in india

    BusinessJul 2, 2020, 6:12 PM IST

    एक लाइव पर कितने हजार रुपये देता था TikTok? इस तरह देखते ही देखते आस-पास के कई लोग बन गए 'करोड़पति'

    बिजनेस डेस्क। भारत सरकार ने हाल ही में सुरक्षा कारणों का हवाला देते हुए चीनी लिंक वाले 59 ऐप को प्रतिबंधित कर दिया। इसमें बाइटडांस की टिकटॉक और हेलो ऐप भी शामिल हैं। इन दोनों ऐप का भारत में तगड़ा यूजर बेस है और कंपनी को इसके जरिए कारोबार में काफी फायदा भी मिलता रहा है। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स ने माना है कि इस बैन से अगले कुछ महीनों में बाइटडांस को 45 हजार करोड़ रुपये का नुकसान उठाना पड़ सकता है। जाहिर सी बात है कि ऐप पर सक्रिय क्रिएटर्स को भी नुकसान उठाना पड़ेगा। 
     

  • tik tok app is ban in china also KPZ
    Video Icon

    WorldJul 2, 2020, 4:35 PM IST

    चीन में कोई भी नगारिक TiK TOK यूज नहीं कर सकता, पहले से ही बैन है ऐप

    वीडियो डेस्क। भारत में 59 चीनी ऐप को हमेशा के लिए बाय बाय कह दिया है। सरकार ने चीनी ऐप Tic tok सहित 59 ऐप बैन कर दिए हैं। यूजर्स की प्रिवेशी और डेटा की सिक्यॉरिटी के चलते भारत सरकार की ओर से ये फैसला लिया गया है। टिक टॉक के भारत में सबसे से ज्यादा यूजर्स थे। लेकिन क्या आपको पता है जिस ऐप को भारतीय धड़ल्ले से यूज कर रहे थे वही ऐप चीन में पहले से ही बैन है। चीन का कोई भी नागरिक टिक टॉक यूज नहीं कर सकता है। टिकटॉक के विकल्प के तौर पर चीन के यूजर्स Douyin नाम के ऐप का इस्तेमाल करते हैं। 

  • Anand Mahindra gives befitting reply to 'Global Times' editor on app ban
    Video Icon

    VideoJul 1, 2020, 6:59 PM IST

    जब चीन ने उठाया भारत पर सवाल तो आनंद महिंद्रा ने दिया मुंहतोड़ जवाब

    भारत द्वारा 59 चीनी मोबाइल एप्स पर पाबंदी लगाने के बाद बौखला गया है चीन। चीन के सरकारी अखबार ग्लोबल टाइम्स के प्रधान संपादक हू शिजिन ने मंगलवार को लिखा कि चीन के लोग अगर भारतीय उत्पादों का बहिष्कार करना चाहें तो वे ऐसे ज्यादा उत्पाद खोज नहीं पाएंगे।शिजिन ने लिखा, ‘भारतीय दोस्तो, आपको राष्ट्रवाद से अधिक महत्वपूर्ण बातों के बारे में सोचने की जरूरत है। इसके जवाब में महिंद्रा ग्रुप्स के डायरेक्टर आनंद महिंद्रा ने लिखा मैं समझता हूं कि यह तंज भारतीय कंपनियाें काे मिला अब तक का सबसे प्रभावी और प्रेरक नारा है। हमें उकसाने के लिए धन्यवाद। हम जल्द ही इसका देंगे जवाब।

  • Great Khali question on closing the Chinese app said what will be the benefit kpl

    Other SportJul 1, 2020, 6:10 PM IST

    59 चीनी ऐप बैन को लेकर सरकार पर भड़के द ग्रेट खली, पूछा ऐसा सवाल

    भारत के मशहूर पहलवान दिलीप सिंह राणा उर्फ़ खली ने चाइनीज एप्स को बैन करने पर सवाल उठाया है। उन्होंने कहा कि ऐसा करके हम क्या हासिल कर लेंगे। एक वीडियो के माध्यम से खली ने कहा कि ऐसे तो गूगल पर भी हमारा डाटा शेयर हो रहा है , क्या कभी अमेरिका के साथ अनबन होने के बाद हम गूगल ट्विटर अदि पर भी बन लगा देंगे। खली ने कहा है कि ऐसा करके हमारा कोई फायदा नहीं होने वाला है।

  • China bans Indian websites and channels
    Video Icon

    VideoJul 1, 2020, 4:57 PM IST

    डर गया ड्रैगन; सच छिपाने के लिए चीन ने भारत के खिलाफ उठाया ये कदम

    चीन ने किया भारत के टीवी चैनलों और न्यूज वेबसाइट्स को ब्लॉक। भारत द्वारा चीन के 59 मोबाइल एप्स पर पाबंदी लगाने के बाद शी जिनपिंग सरकार ने उठाया यह कदम। हालांकि वीपीएन के जरिए भारतीय न्यूज वेबसाइट्स खोली जा सकती हैं। इसके अलावा आईपी टीवी के जरिए भी भारतीय टीवी चैनलों का एक्सेस किया जा पाएगा। माना जा रहा है कि चीन ने ऐसा इसलिए किया ताकि चीन की सच्चाई उनके लोगों के सामने ना आ जाए।

  • TMC MP Nusrat Jahan made controversial statement on Chinese app TikTok Ban kpn

    NationalJul 1, 2020, 3:59 PM IST

    Tik Tok बैन पर क्यों भड़कीं TMC सांसद नुसरत जहां ? बताया क्या होगी सबसे बड़ी मुश्किल

    कोलकाता. तृणमूल कांग्रेस के सांसद नुसरत जहां कोलकाता में इस्कॉन रथ यात्रा समारोह में शामिल हुई। लेकिन इस दौरान उन्होंने भारत में टिक टॉक ऐप को बैन करने को लेकर जो बयान दिया, उससे उनकी आलोचना शुरू हो गई हई। नुसरत जहां ने कहा कि टिकटॉक एक मनोरंजक एप है। जो भी फैसला लिया गया वह गुस्से और आवेग में लिया गया। इसके पीछे क्या रणनीति है? आखिर उन लोगों का क्या होगा जो इस प्रतिबंध के चलते बेरोजगार हो गए हैं? लोग उसी तरह संघर्ष करेंगे जैसा नोटबंदी के बाद कर रहे थे? नुसरत ने कहा कि अगर ये राष्ट्रीय सुरक्षा के लिए है तो मुझे इस प्रतिबंध से कोई दिक्कत नहीं है, लेकिन आखिर इन सवालों के जवाब कौन देगा?