Cm Yogi Adityanath  

(Search results - 290)
  • Uttar Pradesh3, Aug 2020, 1:24 PM

    राम मंदिर भूमि पूजन: मेहमानों को भेजे गए हैं इस तरह के कार्ड, इकबाल इंसारी को भी मिला न्योता, कही ये बातें

    अयोध्या ( Uttar Pradesh) । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को राम मंदिर का शिलान्यास करेंगे। इस कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए करीब 200 लोगों को आमंत्रण पत्र भेजा गया है। सूत्रों के मुताबिक हर कार्ड पर कोडिंग की गई है। साथ ही संबंधित मेहमान की सूची प्रधानमंत्री कार्यालय को भी उपलब्ध कराई गई है। लेकिन, इस बीच सबसे बड़ी खबर ये है कि लंबे समय तक चले मंदिर के भूमि विवाद के केस में मुस्लिम पक्षकार रहे इकबाल अंसारी को भी भूमि पूजन के लिए निमंत्रण पत्र भेजा गया है। जिन्होंने इस निमंत्रण को स्‍वीकार करते हुए अयोध्या में पीएम मोदी के स्वागत के लिए विशेष तैयारियां कर रखी हैं। उन्‍होंने कहा कि वह पीएम मोदी को रामचरित मानस भेंट करना चाहते हैं।

  • Video Icon

    Madhya Pradesh3, Aug 2020, 11:14 AM

  • <p><strong>अयोध्या (Uttar Pradesh) । </strong>करीब 500 साल के लंबे इंतजार के बाद सोमवार यानी 3 अगस्त से अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास का कार्यक्रम शुरू है। तीन दिन तक चलने वाले इस कार्यक्रम की शुरुआत गौर-गणेश पूजन के साथ हुई है। सुबह 8 बजे से 21 पुरोहित गौरी-गणेश का आह्वान कर शिलान्यास कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे। वहीं, पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। इस कार्यक्रम को यूपी सरकार भव्य बनाने जा रही है। आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक बार फिर समारोह की तैयारियों का जायजा लेने अयोध्या पहुंचे। मुख्यमंत्री यहां करीब चार घंटे रहेंगे। बता दें कि योगी रविवार को ही अयोध्या जाने वाले थे, लेकिन कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण के निधन होने से उन्होंने अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए थे। इससे पहले सीएम ने 25 जुलाई को अयोध्या का दौरा किया था।</p>

    Uttar Pradesh3, Aug 2020, 10:15 AM

    500 साल का इंतजार खत्म,अयोध्या में अनुष्ठान शुरू,5 को शिलान्यास करेंगेPM मोदी,रामलला की नगरी 4घंटे रहेंगे योगी

    अयोध्या (Uttar Pradesh) । करीब 500 साल के लंबे इंतजार के बाद सोमवार यानी 3 अगस्त से अयोध्या में राम मंदिर शिलान्यास का कार्यक्रम शुरू है। तीन दिन तक चलने वाले इस कार्यक्रम की शुरुआत गौर-गणेश पूजन के साथ हुई है। सुबह 8 बजे से 21 पुरोहित गौरी-गणेश का आह्वान कर शिलान्यास कार्यक्रम की शुरुआत करेंगे। वहीं, पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। इस कार्यक्रम को यूपी सरकार भव्य बनाने जा रही है। आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ एक बार फिर समारोह की तैयारियों का जायजा लेने अयोध्या पहुंचे। मुख्यमंत्री यहां करीब चार घंटे रहेंगे। बता दें कि योगी रविवार को ही अयोध्या जाने वाले थे, लेकिन कैबिनेट मंत्री कमल रानी वरुण के निधन होने से उन्होंने अपने सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए थे। इससे पहले सीएम ने 25 जुलाई को अयोध्या का दौरा किया था।

  • Video Icon

    Uttar Pradesh2, Aug 2020, 9:08 PM

    अयोध्या राम दरबार में फूल बेचने वाला यह परिवार मुफलिसी में जी रहा, भूखे मरने तक की आ गई नौबत

    कहते हैं मुफलिसी एक ऐसा अभिशाप है जिससे इंसान का हौसला, साहस और अपेक्षाएं दम तोड़ देती हैं।  लेकिन मुश्किल हालातों में भी डटकर मुकाबला करना ही बहादुरी कहलाती है।

  • Video Icon

    Uttar Pradesh2, Aug 2020, 7:01 PM

    हनुमान गढ़ी के महंत Raju Das से बातचीत, कहा- अयोध्या का हिंदू-मुसलमान कंधे से कंधा मिलाकर चलता है लेकिन..

    शियानेट न्यूज हिंदी से खास बातचीत में  हनुमान गढ़ी के महंत राजू दा ने बताया, राम जन्मभूमि निर्माण ट्रस्ट में अपर मुख्य सचिव अवनीश कुमार अवस्थी समेत 2 आईएएस अफसरों को शामिल किया गया, ताकि इस पूरी प्रक्रिया में पारदर्शिता बनी रहे। 

  • Video Icon

    Uttar Pradesh2, Aug 2020, 5:54 PM

    दुर्दशा का शिकार है Ayodhya में मौजूद धार्मिक स्थल सीताकुंड, राजा दशरथ ने बनवाया था

    अयोध्या में भव्य राम मंदिर की नींव पड़ने जा रही है। 5 अगस्त को खुद प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी राम मंदिर का भूमि पूजन करने के लिए अयोध्या आ रहे हैं। पीएम मोदी के आगमन को लेकर अयोध्या में उत्साह है। अयोध्या में कई ऐसे स्थान भी हैं जिनका पौराणिक उल्लेख और महत्व है लेकिन वह अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहे हैं। 

  • <p><strong>वाराणसी (Uttar Pradesh) । </strong>अयोध्या में पांच अगस्त को रामलला के मंदिर के भूमि का पूजन होगा। इसे लेकर तैयारियां अंतिम दौर में हैं। वहीं, वाराणसी से दो भाई प्रोफेसर विनय पांडेय और प्रोफेसर रामचंद्र पांडेय 151 से अधिक पवित्र नदियों का जल लेकर अयोध्या जा रहे हैं। ये पेशे से प्रोफेसर हैं। इनका दावा है कि वे पवित्र नदियों का पानी 51 साल से एकत्र कर रहे हैं। बता दें कि नींव में लगने वाली चार चीजें काशी (वाराणसी) से मंगाई गई हैं, जिसे बाबा विश्वनाथ को चढ़ाने के बाद अयोध्या ले जाया जा रहा है। इनमें सोने के शेषनाग भी शामिल हैं। जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं।</p>

    Uttar Pradesh2, Aug 2020, 3:58 PM

    51 साल में 151 पवित्र नदियों का जल एकत्र किए यह 2 भाई, राम मंदिर की नींव में पड़ेंगी सोने-चांदी की ये 4 चीजेें

    वाराणसी (Uttar Pradesh) । अयोध्या में पांच अगस्त को रामलला के मंदिर के भूमि का पूजन होगा। इसे लेकर तैयारियां अंतिम दौर में हैं। वहीं, वाराणसी से दो भाई प्रोफेसर विनय पांडेय और प्रोफेसर रामचंद्र पांडेय 151 से अधिक पवित्र नदियों का जल लेकर अयोध्या जा रहे हैं। ये पेशे से प्रोफेसर हैं। इनका दावा है कि वे पवित्र नदियों का पानी 51 साल से एकत्र कर रहे हैं। बता दें कि नींव में लगने वाली चार चीजें काशी (वाराणसी) से मंगाई गई हैं, जिसे बाबा विश्वनाथ को चढ़ाने के बाद अयोध्या ले जाया जा रहा है। इनमें सोने के शेषनाग भी शामिल हैं। जिनके बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं।

  • <p><strong>अयोध्या (Uttar Pradesh) । </strong>अयोध्या में पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आ रहे हैं। वो राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। इस कार्यक्रम को देखते हुए पूरे जिले को अभेद्य किले में तब्दील कर दिया गया है। चप्पे-चप्पे पर निगरानी की जा रही है। इतना ही नहीं भूमि पूजन वाले दिन एक साथ पांच लोग इकट्ठे नहीं होंगे। एक दिन पहले ही अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएगी। यानी जितने भी आमंत्रित मेहमान होंगे वे चार अगस्त को ही अयोध्या पहुंच जाएंगे।</p>

    Uttar Pradesh2, Aug 2020, 10:17 AM

    ऐसी होगी रामलला नगरी की सुरक्षा, 4 को ही आएंगे मेहमान, एक दिन पहले से सील रहेंगी सीमाएं

    अयोध्या (Uttar Pradesh) । अयोध्या में पांच अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के आ रहे हैं। वो राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। इस कार्यक्रम को देखते हुए पूरे जिले को अभेद्य किले में तब्दील कर दिया गया है। चप्पे-चप्पे पर निगरानी की जा रही है। इतना ही नहीं भूमि पूजन वाले दिन एक साथ पांच लोग इकट्ठे नहीं होंगे। एक दिन पहले ही अयोध्या की सीमाएं सील कर दी जाएगी। यानी जितने भी आमंत्रित मेहमान होंगे वे चार अगस्त को ही अयोध्या पहुंच जाएंगे।

  • <p><strong>अयोध्‍या (Uttar Pradesh) । </strong>राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर तैयारियां अंतिम दौर में है। राम लला की नगरी में इस समय उत्साह का माहौल है। पीएम नरेंद्र मोदी के साथ मंच पर पांच कौन-कौन रहेंगे इसकी भी लिस्ट तैयार हो गई है। इतना ही नहीं कार्यक्रम में शामिल होने वाले करीब 200 लोगों की भी लिस्ट पीएमओ को भेज दिया गया है। वहीं, आज तैयारियों की समीक्षा यूपी सरकार के मुख्य सचिव ने की। साथ ही उन स्थानों का भी निरीक्षण किया, जहां पीएम नरेंद्र मोदी जाने वाले हैं। </p>

    Uttar Pradesh31, Jul 2020, 7:28 PM

    अयोध्या में 5 अगस्त को आएंगे मोदी, करेंगे राम मंदिर का शिलान्यास, मंच पर PM के साथ होंगे ये 5 गणमान्‍य

    अयोध्‍या (Uttar Pradesh) । राम मंदिर भूमि पूजन को लेकर तैयारियां अंतिम दौर में है। राम लला की नगरी में इस समय उत्साह का माहौल है। पीएम नरेंद्र मोदी के साथ मंच पर पांच कौन-कौन रहेंगे इसकी भी लिस्ट तैयार हो गई है। इतना ही नहीं कार्यक्रम में शामिल होने वाले करीब 200 लोगों की भी लिस्ट पीएमओ को भेज दिया गया है। वहीं, आज तैयारियों की समीक्षा यूपी सरकार के मुख्य सचिव ने की। साथ ही उन स्थानों का भी निरीक्षण किया, जहां पीएम नरेंद्र मोदी जाने वाले हैं। 

  • Uttar Pradesh31, Jul 2020, 4:40 PM

    यूपी में नया ट्रैफिक रूल्स लागू, ड्राइविंग करते टाइम मोबाइल से बात करने पर देना होगा 10 हजार जुर्माना

    शासनादेश के मुताबिक, अब बिना हेलमेट अब 1000 रुपए जुर्माना होगा। वहीं, बिना सीट बेल्ट कार चलाने पर 1000 और बिना लाइसेंस होने अथवा 14 साल से कम उम्र के बच्चे के बिना वैध लाइसेंस गाड़ी चलाते पकड़े जाने पर 5000 रुपए जुर्माना लगाया जाएगा। इसके अलावा पार्किंग का उल्लंघन करने पर पहली बार में 500 रुपए और दूसरी बार में 1500 रुपए जुर्माना देना पड़ेगा।

  • Uttar Pradesh31, Jul 2020, 10:10 AM

    अयोध्या में त्रेता युगः घरों की दीवारें भी सुना रहीं रामकथा, भूमि पूजन से पहले यूं दिख रही है रामलला की नगरी

    अयोध्या ( Uttar Pradesh) । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। जिसका हर किसी रामभक्त को इंतजार है। वहीं, राम मंदिर निर्माण के शुभारंभ से पहले रामलला की नजरी अयोध्या को सजाने का काम चल रहा है। साकेत डिग्री कॉलेज से राम जन्मभूमि तक के घरों पर रामकथा के चित्र बनाए जा रहे हैं। जिन्हें देखने पर ऐसा लग रहा है कि मानों वे रामकथा सुना रहीं हो। इस समय सभी काम करीब-करीब पूरे हो चुके हैं। अयोध्या में इस समय त्रेता युग जैसी तस्वीरें हर ओर नजर आ रहीं हैं। यूपी सीएम योगी आदित्यनाथ भी भूमि पूजन को यादगार बनाने में कोई कसर नहीं छोड़ना चाहते हैं। इसके लिए उन्होंने 3 से 5 अगस्त तक दीपोत्सव मनाने की बात भी कही है। अयोध्या में इसे लेकर भी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। जिसकी आज हम आपको तस्वीरें दिखा रहे हैं। 

  • Uttar Pradesh31, Jul 2020, 8:25 AM

    पीएम मोदी का वाराणसी में कार्यालय हुआ सील, ये है वजह

    हॉटस्पॉट जोन में अब पीएम मोदी का संसदीय कार्यालय भी आ गया है, जो वाराणसी के भेलुपर थाना क्षेत्र के जवाहर नगर एक्सटेंशन में स्थित है। दरअसल संसदीय कार्यालय के पास ही एक कोरोना मरीज आया, जिसके बाद से 50 मीटर के दायरे में एरिया को सील कर दिया गया है।

  • Uttar Pradesh30, Jul 2020, 1:49 PM

    रामलला के दर्शन को अयोध्या आए तो देखें ये 10 पौराणिक स्थान, यह है मान्यता, चाहकर भी नहीं हटा पाएंगे नजर

    अयोध्या (Uttar Pradesh) । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पांच अगस्त को अयोध्या में रामलला के भव्य मंदिर का निर्माण की नींव रखेंगे। इसकी तैयारियां अंतिम दौर में है। हर कोई पांच अगस्त का इंतजार कर रहा है। रामभक्त न जाने कब से इस पल की आस लगाए बैठे हुए हैं। बता दें कि आगामी सालों में ये मंदिर भारत के पर्यटक स्थलों में शुमार हो जाएगा। लेकिन, आपको बता दें कि रामनगरी अयोध्या में आकर्षण का केंद्र सिर्फ राममंदिर ही नहीं बल्कि 10 बेमिसाल जगह भी हैं। जहां कि पौराणिक मान्यता भी काफी रूचिकर है। जिनके बारे में बताने के साथ-साथ हम आपको वहां की तस्वीर भी दिखा रहे हैं। 

  • Uttar Pradesh30, Jul 2020, 10:34 AM

    PM मोदी 5 अगस्त को करेंगे राम मंदिर निर्माण का शुभारंभ, राम लला को पहनाई जाएगी ये पोशाक, यह है खासियत

    अयोध्या (Uttar Pradesh) । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अयोध्या में पांच अगस्त को राम मंदिर निर्माण के लिए भूमि पूजन करेंगे। जिसकी तैयारियां जोरों पर चल रही हैं। राम लला की मूर्ति को भगवा बॉर्डर वाले हरे रंग की पोशाक पहनाए जाने की संभावना है। ये पोशाक नवरत्न युक्त होंगे, जिसे चार पीढ़ियों से राम लला के कपड़े सिल रहे बाबू लाल टेलर्स के द्वारा तैयार किया जा रहा है। इस वस्त्र की खासियत के बारे में आज हम आपको बताने जा रहे हैं। 

  • Uttar Pradesh29, Jul 2020, 8:08 PM

    राफेल को भारत लाने वाला यूपी का है ये जांबाज, बेटे को टीवी पर देख पिता ने कही यह बात

    मैनपुरी (Uttar Pradesh) । राफेल आज  फ्रांस से भारत आ लाया गया। इस विमान को लेकर आने वालों में यूपी के मैनपुरी के स्क्वाड्रन लीडर दीपक चौहान भी शामिल है। अंबाला पहुंचने पर टीवी में दीपक को देखकर परिवार के लोगों का तो सीना गर्व से मानों और चौड़ृा हो गया। वहीं लोग दीपक के परिवार वालों को बधाई देते रहे। पिता ने कहा कहा कि ने राफेल उड़ाकर देश के साथ ही मैनपुरी का नाम रोशन किया।