Corona Death Toll India  

(Search results - 107)
  • undefined

    Fake CheckerJul 12, 2020, 12:41 PM IST

    Fact Check: हेमा मालिनी, रणबीर कपूर, करण जौहर को हुआ कोरोना, अफवाहों से हटकर ये है इन दावों का सच

    फैक्ट चेक डेस्क. Hema Malini Corona postive Fact Check: बॉलीवुड मेगास्टार अमिताभ बच्चन (Amitabh Bacchan Covid Positive) की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। उनके इकलौते बेटे अभिषेक बच्चन  भी कोविड संक्रमित (Abhishek Bacchan Covid Positive) पाए गए हैं। वहीं बाकी परिवार की रिपोर्ट नेगेटिव आई है। बॉलीवुड सहित पूरे देश में महानायक (Megastar Amitabh bacchan) और जूनियर बच्चन (Junior Bacchan) के स्वस्थ होने की कामनाएं की जा रही हैं। अनुपम खेर भी परिवार सहित कोरोना संक्रमित पाए गए हैं। इस बीच सोशल मीडिया ये खबर चल पड़ी थी कि एक्ट्रेस हेमा मालिनी (Hema Malini Corona Positive) की तबीयत ठीक नहीं है। इसके अलावा शनिवार को ही सोशल मीडिया पर एक यूजर ने दावा कर दिया था कि रणबीर कपूर (Ranbir Kapoor), नीतू कपूर (Neetu Kapoor) और करण जौहर (Karan Johar Corona Positive) कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं।

     

    फैक्ट चेक (Fact Check News in Hindi) में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

  • <p>पहली बार में उनका प्री में भी नहीं हुआ था पर उन्होंने हार नहीं मानी और पहले साल की गलतियों से सीखते हुये दूसरे साल तैयारी की। नयी स्ट्रेटजी बनायी, सफल लोगों से टिप्स लिये पर किया अपने मन का। दूसरी बार की कोशिश में उपासना&nbsp;ने साल 2017 में 119वीं रैंक पाकर अपने आईएएस बनने के सपने को पूरा किया। कड़ी मेहनत और सिर्फ अपने दम पर एक पत्रकार की बेटी ने&nbsp;अपने सपने को हकीकत में बदला।</p>

<p>&nbsp;</p>

<p><strong>(Demo Pic)</strong></p>

    CareersJul 7, 2020, 12:08 PM IST

    जान जोखिम में डाल बच्चों को देनी होंगी परीक्षाएं; यूनिवर्सिटी एग्जाम के लिए UGC ने जारी की नई गाइडलाइंस

    यूजीसी की नई गाइडलाइंस (UGC New Guidelines) के अनुसार, फाइनल ईयर के एग्जाम किसी हाल में रद्द नहीं किए जाएंगे। हालांकि अब इसके आयोजन का समय बदल दिया गया है। इसके तहत यूनिवर्सिटीज के फाइनल ईयर के एग्जाम सितंबर के अंत तक कराए जा सकेंगे।

  • undefined

    Fake CheckerJul 3, 2020, 12:49 PM IST

    Fact Check: लॉकडाउन में सरकार हर नागरिक को घर बैठे दे रही है 2000 रु? फार्म हुआ वायरल, जानें सच

    फैक्ट चेक डेस्क. Government Giving 2000 Rupee Each Citizen Fact Check: इंस्टैंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वॉट्सऐप (WhatsApp) पर एक मैसेज वायरल हो रहा है कि हर नागरिक के पास 2000 रुपये आने वाले हैं। यह रिलीफ फंड सरकार की ओर से फ्री में भेजा जा रहा है। एक फॉर्म इसके साथ काफी शेयर किया जा रहा है और लिंक क्लिक करके भरवाने की बात कही जा रही है। लोग मैसेज को धड़ाधड़ फॉरवर्ड कर रहे हैं। इसके साथ लोग फॉर्म भरने और दो हजार मुफ्त पाने को काफी एक्साइटेड दिख रहे हैं।

     

    फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

  • undefined

    Fake CheckerJul 2, 2020, 3:32 PM IST

    FACT CHECK: कुरुक्षेत्र की खुदाई में निकला 80 फीट का कंकाल, लोगो ने कहा भीम, जानें वायरल फोटो का सच

    सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें एक बड़ा-सा कंकाल देखा जा सकता है। तस्वीर में कंकाल के साथ कुछ लोगों को उसकी पड़ताल करते देखा जा सकता है। पोस्ट में दावा किया गया है कि यह कंकाल हरियाणा के कुरुक्षेत्र में हुई खुदाई में निकला है। फेसबुक पर ये पोस्ट काफी वायरल हो रही है।

  • undefined

    Fake CheckerJun 30, 2020, 9:06 PM IST

    Fact Check: समुद्र में फेंके जा रहे कोरोना संक्रमित शव? 25 लाख बार देखा गया ये वायरल वीडियो, जानें सच

    फ़ेसबुक पर पोस्ट किए गए इस वीडियो को 25 लाख से ज़्यादा बाद देखा और 34 हजार से ज़्यादा बाद शेयर किया जा चुका है।

  • undefined

    Fake CheckerJun 30, 2020, 5:09 PM IST

    FACT CHECK: कशायम काढ़ा से हो सकता है कोरोना वायरस का इलाज रेसिपी वायरल? जानें क्या है सच?

    फैक चेक. kashayam kadha cure covid 19 Fact Check: देश में तेजी से बढ़ते कोरोना केसेज के साथ, हर रोज ऐसे दावे भी सामने आ रहे हैं कि घरेलू नुस्खों या आयुर्वेद के जरिये कोरोना का इलाज किया जा सकता है। भारत में 29 जून की शाम तक कोरोना के करीब 5 लाख 48 हजार केस दर्ज हुए हैं और 16 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। इसी बीच फेसबुक पर दावा किया जा रहा है कि कशायम नाम का काढ़ा पीने से कोविड-19 बीमारी का इलाज किया जा सकता है। इसकी पूरी एक रेसिपी सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म फेसबुक, ट्विटर और इंस्टा पर वायरल हो रही है। 

     

    फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

  • undefined

    Fake CheckerJun 18, 2020, 5:12 PM IST

    ‘O’ पॉजिटिव ब्लड ग्रुप वालों को नहीं होगा कोरोना वायरस, जानें इस वायरल दावे का सच

    सोशल मीडिया पर एक वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि कोरोना वायरस ओ पॉजिटिव (O +) ब्लड ग्रुप वाले लोगों को प्रभावित नहीं करता है। फेसबुक पर सबसे ज्यादा लोग इसे शेयर कर रहे हैं। ओ ब्लड ग्रुप बहुत रेयर होता है। ऐसे में इसको लेकर कोरोना संक्रमित न होने का दावा लोगों को पैनिक करने वाला है।

  • undefined

    Fake CheckerJun 8, 2020, 2:01 PM IST

    स्टेशन पर दम तोड़ गई मां का पल्ला खींचने वाले बच्चे की किंग खान ने की मदद, क्या यही है वो बालक?

    मुंबई.  कुछ दिनों पहले बिहार के मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें प्लेटफॉर्म पर रखे मां के शव के साथ एक बच्चा खेलता नजर आ रहा था। बेहद मार्मिक इस वीडियो को देख कई लोगों ने दुख व्यक्त किया था। इसके कुछ दिनों बाद ही बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान (Shahrukh Khan) ने पीड़ित परिवार की मदद करने को कहा था। उन्होंने उस बच्चे की मदद को हाथ बढ़ाया जिसके बाद सोशल मीडिया पर काफी वाहवाही मिली। लोग सैल्यूट करने लगे। इस बीच किंग खान के साथ एक बच्चे (Shahrukh Khan Image Viral) की तस्वीर वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि यह वही बच्चा है जिसका वीडियो कुछ दिन पहले वायरल हुआ था। शाहरुख ने इस बच्चे की मदद की है।

     

    पर सवाल ये है कि क्या वाकई ये वहीं पीड़ित बच्चा है, तो किंग खान से कब मिला कैसे मिला ? फैक्ट चेकिंग में हम आपको शाहरुख खान के साथ बच्चे की वायरल फोटो (Fact Check Shahrukh Khan Image with A Boy Viral) का सच बताने जा रहे हैं- 

  • <p>sslc</p>

    Fake CheckerJun 7, 2020, 12:14 PM IST

    UP Board Result: स्टूडेंट के पास आया FAKE कॉल 5 हजार दो पास करवा दूंगा, मचा हड़कंप तो प्रसाशन ने खोली पोल

     एक छात्रा के अभिभावक के पास फोन आया कि आपकी बेटी एग्जाम में फेल हो गई। इस तरह की जानकारी मिलने के बाद अभिभावक काफी परेशान हो गए।

  • undefined

    Fake CheckerJun 5, 2020, 2:13 PM IST

    Fact Check: वायरस नहीं बैक्टीरिया है कोविड-19, ऐस्प्रिन से हो जाएगा तुरंत ठीक, जानें इस दावे का सच

    अफवाह से जुड़ा यह पोस्ट फेसबुक पर शेयर किया जा रहा है। ट्विटर पर भी लोग कोरोना वायरस को बैक्टिरिया बताकर  ऐस्प्रिन से इलाज का दावा कर रहे हैं। 

  • undefined

    Fake CheckerJun 4, 2020, 11:25 AM IST

    जल्दी चलो मंत्री जी गरीबों को बांट रहे हैं करारे नोट, FAKE NEWS पर भरोसा कर बंगले के बाहर लग गया हुजूम

    लॉकडाउन में काम धंधे ठप्प पड़े हैं। लोग भूखे मरने को मजबूर हैं ऐसे में जब पैसे बंटने की खबर मिली तो लोग मंत्री के बंगले की ओर दौड़ पड़े। देखते ही देखते भीड़ जमा हो गई। पुलिस के मुताबिक सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना भूल करीब 300 लोग बेलबाग थाना क्षेत्र में ब्यौहारबाग स्थित पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया के बंगले के बाहर पैसों के इंतजार में बैठे थे।

  • undefined

    Fake CheckerJun 2, 2020, 6:05 PM IST

    FACT CHECK: क्या दिल्ली के अस्पताल में लगे लाशों के ढेर; मरीजों में खौफ, जानें वायरल वीडियो का सच

    नई दिल्ली.  कोरोना का कहर जारी है और देश में कोरोना संक्रमित मामले लगातार बढ़ रहे हैं आंकड़ा दो लाख छूने को है और इस बीच लॉकडाउन में ढील दे दी गई है। सोशल मीडिया पर दिल्ली के अस्पताल में लाशों के ढेर का दावा करने वाला एक वीडिचयो तहलका मचाए हुए है। वीडियो में कई लोग ये शिकायत करते हुए दिख रहे थे कि अस्पताल के बेड पर लाशों को रखा हुआ है और मरीज़ नीचे ज़मीन पर पड़े हुए और आस-पास कोई डॉक्टर भी नहीं है। लोग इसे दिल्ली के किसी अस्पताल का बता रहे हैं।

     

    फैक्ट चेकिंग में आइए जानते हैं कि वायरल हो रहे दावे- 'ये दिल्ली के हालात है! लाशें इतनी ज्यादा है कि पांच पांच दिन संस्कार नहीं हो पा रहा!' का आखिर सच क्या है?

  • undefined

    Fake CheckerMay 30, 2020, 7:40 PM IST

    अम्फान की तबाही के कारण मुसलमानों ने पानी में अदा की नमाज़, लोगों ने किया सैल्यूट पर सच कुछ और

    वीडियो भयानक रूप से वायरल है लोग इस पर भरोसा कर इसे शेयर कर रहे हैं। हमने इस वीडियो की सत्यता जानने की कोशिश की। क्या वाकई ये वीडियो भारत का है या माजरा कुछ और है। 

  • undefined

    Fake CheckerMay 29, 2020, 7:04 PM IST

    FACT CHECK: कार के अंदर रखी सैनिटाइजर की बोतल ने पकड़ी आग, गर्मी में घातक है रखना, जानें सच

    सोशल मीडिया पर कई पोस्ट में यह दावा किया जा रहा है कि सैनिटाइटर की बोतल से आपकी कार में आग लग सकती है।

  • <p>सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इसमें एक स्कूल में क्वारंटीन किए गए युवक द्वारा टेबल पर रखे भोजन को लात मारकर गिरा दिया जाता है। खाना बनाने वाली महिला को भला-बुरा कहते हुए टेबल पर लात मारकर उसे गिराया जाता है। 21 मई को एक ट्विटर यूजर श्रीकांत ने इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा कि “शिराज अहमद और भुजौली कुर्द ने दलित महिलाओं द्वारा एक क्वारंटाइन सेंटर में बनाए गए भोजन को खाने से इंकार करते हैं। यही नही दोनों भला-बुरा कहते हुए खाने को लात मारकर गिरा देते हैं। इस वीडियो को 1,800 से अधिक बार रीट्वीट किया गया और 5 लाख बार देखा गया। वायरल होने के बाद हमने इस वीडियो की जांच पड़ताल करके सच्चाई जानने की कोशिश की।<br />
&nbsp;</p>

    Fake CheckerMay 28, 2020, 5:08 PM IST

    UP के मुस्लिम युवक ने दलित के हाथों बने भोजन को खाने से किया इनकार, दावा सच्चा है या फर्जी

    सोशल मीडिया पर एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है। इसमें एक स्कूल में क्वारंटीन किए गए युवक द्वारा टेबल पर रखे भोजन को लात मारकर गिरा दिया जाता है। खाना बनाने वाली महिला को भला-बुरा कहते हुए टेबल पर लात मारकर उसे गिराया जाता है। 21 मई को एक ट्विटर यूजर श्रीकांत ने इस वीडियो को पोस्ट करते हुए लिखा कि “शिराज अहमद और भुजौली कुर्द ने दलित महिलाओं द्वारा एक क्वारंटाइन सेंटर में बनाए गए भोजन को खाने से इंकार करते हैं। यही नही दोनों भला-बुरा कहते हुए खाने को लात मारकर गिरा देते हैं। इस वीडियो को 1,800 से अधिक बार रीट्वीट किया गया और 5 लाख बार देखा गया। वायरल होने के बाद हमने इस वीडियो की जांच पड़ताल करके सच्चाई जानने की कोशिश की।