Corona Patients  

(Search results - 193)
  • undefined

    NationalJun 9, 2021, 8:27 PM IST

    कोरोना को मात देने में गेमचेंजर रेमेडी बनेगा मोनोक्लोनल एंटीबाडी काॅकटेल, दिल्ली में 12घंटे में ठीक हुआ पेशेंट

    Monoclonal antibody cocktail ट्रीटमेंट से मिल रही सफलता से मेडिकल फ्रेटरनिटी में काफी उत्साह है क्योंकि कोरोना को मारने में यह सबसे सफल रेमेडी साबित हो रहा है। 

  • undefined

    Health CapsuleJun 1, 2021, 4:58 PM IST

    कोरोना मरीजों में ऑक्सीजन लेवल कम होने के 3 संकेत, एक्सपर्ट ने बताया ये होने पर तुरंत ले जाए हॉस्पिटल

    हेल्थ डेस्क। कोरोना की दूसरी लहर का असर कम नहीं हुआ है। राज्यों में अनलॉक की स्थिति बन रही है।  कोरोना वायरस के अधिकतर मरीजों की मौत सांस की कमी से हुई  है। पिछले महीने कोरोना के मरीजों में ऑक्सीजन लेवल कम होने के अधिक मामले देखे गए। यही वजह थी कि मरीजों को अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की भारी कमी का सामना करना पड़ा। मध्य प्रदेश की राज्यधानी भोपाल की डॉकटर अंजु गुप्ता के मुताबिक ऑक्सीजन लेवल की निगरानी करना और समय पर इलाज कराने से मरीज की जान को बचाया जा सकता है।कोरोने के मामले में हमेशा ऑक्सीजन लेवल कम होना जैसी परेशानी नहीं होती है। इसमें हल्का बुखार, खांसी और गंध और स्वाद की कमी जैसे लक्षण भी शामिल हो सकते हैं। हालांकि, जिन लोगों को सांस लेने में कठिनाई होती है या किसी भी समय सांस फूलने का अनुभव होता है, उन्हें अस्पताल ले जाना चाहिए और चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।

     

  • undefined
    Video Icon

    RajasthanMay 23, 2021, 5:41 PM IST

    हॉस्पिटल वर्कर्स ने मरीजों का बढ़ाया आत्मविश्वास, गाना गाते हुए ऐसे बढा रहे हौसला, देखें Video

    वीडियो डेस्क।  कोरोना (Corona) की दूसरी लहर और भी खतरनाक साबित हो रही है।  हालात ये हैं कि हर राज्‍य में कोरोना का ग्राफ तेजी से आगे बढ़ रहा है।  कोरोना के नए मामले हर दिन नए रिकॉर्ड बना रहे हैं। इन सबके बीच एक अस्‍पताल का वीडियो वायरल (Video Viral) हो रहा है जो कोरोना की इस संकट की घड़ी में उम्‍मीद और हौसले को बढ़ाने वाला है। राजस्थान के झालावाड़ में हेल्थ वर्कर्स का एक वीडियो सामने आया है। जिसमें कोरोना मरीजों का दौरा करने गए डॉक्टर मरीजों को प्रोत्साहित करने के लिए नाचते हुए दिखाई देते हैं।  कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बीच हेल्थ वर्कर्स दिन-रात लोगों की सेवा में लगे हैं। मरीजों का आत्मविश्वास हर तरह से बढ़ाने की कोशिश कर रहे हैं। 
     

  • <p>corona patients</p>
    Video Icon

    Other StatesMay 11, 2021, 12:59 PM IST

    सिर्फ 5 मिनट की देरी... और उखड़ती चली गईं 11 मरीजों की सांसें, दर्दनाक है Video

    वीडियो डेस्क। देश में ऑक्सीजन की किल्लत को दूर करने के लिए किए जा रहे प्रयासों के बीच तिरुपति से एक चौंकाने वाली खबर आई है। यहां के रुइया अस्पताल में सोमवार देर रात ऑक्सीजन की कमी से 11 मरीजों की मौत हो गई। कलेक्टर एम. हरिनारायण ने इसकी पुष्टि की है। 

  • undefined

    Madhya PradeshMay 10, 2021, 7:00 PM IST

    जिंदगी बचाने वाले अस्पताल में चंद रुपयों की लालच में लगता रहा ‘मौत का इंजेक्शन’

    यह सांसों के सौदागर कोई और नहीं जबलपुर का जाना-माना उद्योगपति सरबजीत सिंह मोखा है। जो कि विहिप नेता और सिटी अस्पताल संचालक है। लेकिन वह पैसे की खातिर इतना गिर गया कि जो उस पर आंख बंद करके यकीन करते उनको ही उसने नकली इंजेक्शन लगवाकर मौत की नींद सुला दिया। पुलिस ने उसके खिलाफ FIR दर्ज कर ली है। 

  • <p>Symptoms and prevention of black fungus in corona patients</p>

    TrendingMay 10, 2021, 1:19 PM IST

    कोरोना मरीजों के लिए ब्लैक फंगस हो सकता है घातक, लक्षण से लेकर बचाव तक जानें सबकुछ

    कोरोना महामारी की दूसरी लहर में ब्लैग फंगस इन्फेक्शन को लेकर लोगों के मन में कई सवाल हैं। जानकारी के अभाव में लोग डर भी रहे हैं कि ठीक होने के बाद ब्लैक फंगस के शिकार हो जाएंगे। आंखों की रोशनी चली जाएगी ? ऐसे में केंद्र ने इस बीमारी को लेकर एक गाइडलाइन जारी की है। ब्लैग फंगस के सबसे ज्यादा वे लोग शिकार बनते हैं जिनमें रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होती है। अगर सही तरीके से देखभाल नहीं की गई तो ये घातक साबित हो सकता है। ये आमतौर पर  साइनस या फेफड़ों को संक्रमित करता है।

  • <p><strong>कानपुर (Uttar Pradesh) ।</strong> कोरोना की दूसरी लहर में एक आईपीएस और उनकी आईएएस&nbsp;बहन दोहरी जिम्मेदारी निभा रहे&nbsp;हैं। सिविल सेवा में आने से पहले डॉक्टर रह चुके भाई-बहन इस समय कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने के लिए अपने पुराने पेशे में भी लौट आए हैं। जी हां, आईपीएस अनिल कुमार कानपुर में एडीसीपी ट्रैफिक हैं। उनकी बहन डॉ मंजू आईएएस हैं, जो राजस्थान के उदयपुर में डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट ऑफिसर हैं। दोनों भाई-बहन सिविल सेवा में आने से पहले एमबीबीएस की पढ़ाई कर डॉक्टर रह चुके हैं। जिनके बारे में हम आपको बता रहे हैं।&nbsp;</p>

    Uttar PradeshMay 9, 2021, 4:17 PM IST

    ऐसे अफसरों को दिल से सैल्यूट: IAS-IPS भाई-बहन बने डॉक्टर, दिन रात कोरोना मरीजों का कर रहे इलाज

    कानपुर (Uttar Pradesh) । कोरोना की दूसरी लहर में एक आईपीएस और उनकी आईएएस बहन दोहरी जिम्मेदारी निभा रहे हैं। सिविल सेवा में आने से पहले डॉक्टर रह चुके भाई-बहन इस समय कोरोना के खिलाफ जंग लड़ने के लिए अपने पुराने पेशे में भी लौट आए हैं। जी हां, आईपीएस अनिल कुमार कानपुर में एडीसीपी ट्रैफिक हैं। उनकी बहन डॉ मंजू आईएएस हैं, जो राजस्थान के उदयपुर में डिस्ट्रिक्ट डेवलपमेंट ऑफिसर हैं। दोनों भाई-बहन सिविल सेवा में आने से पहले एमबीबीएस की पढ़ाई कर डॉक्टर रह चुके हैं। जिनके बारे में हम आपको बता रहे हैं। 

  • <p>coronavirus</p>
    Video Icon

    Uttar PradeshMay 8, 2021, 6:23 PM IST

    सिर्फ इलाज नहीं मरीजों के लिए वो सबकुछ भी कर रहे डॉक्टर, ये खुशी आपको सुकून देगी

    वीडियो डेस्क। कोरोना में जरूरत है हिम्मत और हौसले की। और एक ऐसा ही वीडियो सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रहा है। वीडियो गाजियाबाद के श्रेया हॉस्पिटल का है जहां डॉक्टरों ने कोरोना मरीज का जन्मदिन मनाया। डॉक्टरों को जैसे ही पता चला की मरीज का बर्थ डे उन्होंने केक काटकर सेलीब्रेट किया। ये वीडियो खूब वायरल हो रहा है और तारीफ हो रही है। 
     

  • undefined

    NationalMay 8, 2021, 3:37 PM IST

    GOOD NEWS: कोरोना को हराने DRDO की दवा को इमरजेंसी अप्रूवल मिला, नहीं गिरने देती ऑक्सीजन लेवल

    कोरोना की दूसरी लहर से जूझ रहे भारत के लिए एक अच्छी खबर है। कोरोना संक्रमण में बेहद 'कारगर' साबित होने जा रही DRDO द्वारा ईजाद की गई दवा 2-DG को DCGI ने इमरजेंसी अप्रूवल दे दिया है।  DRDO ने दावा किया है इस दवा के सेवन से ऑक्सीजन लेवल नहीं गिर पाता। इसके अलावा बाकी रोगियों की तुलना में इस दवा को लेने वाले मरीज की रिपोर्ट भी जल्द निगेटिव आ जाती है। बता दें कि मई, 2020 में इस दवा के फेज-2 ट्रायल्स को मंजूरी मिली थी, जो सफल रहा। 

  • undefined

    MaharashtraMay 8, 2021, 12:12 PM IST

    देश को गर्व है इन पर: लेडी डॉक्टर ने मरीजों के लिए तोड़ दी अपनी शादी, कहा-बेबसी और दर्द देखा नहीं जाता

    नागपुर (महाराष्ट्र). कोरोना वायरस की दूसरी लहर इस कदर बेकाबू हो गई है कि लोग अपने घरों में कैद हो गए हैं। लेकिन डॉक्टर और नर्स अपना घर-परिवार भूलकर मरीजों को बचाने में दिन रात ड्यूटी कर रहे हैं। इसी बीच नागपुर की एक महिला डॉक्टर ने कर्त्तव्य और फर्ज की अनूठी मिसाल पेश की है। उन्होंने दूसरों की जिदंगी की खातिर अपनी शादी तक तोड़ दी। लड़के वाले कोरोनाकाल में शादी करने के लिए अड़े हुए थे। जबकि डॉक्टर का कहना था कि अभी विवाह को टाला जा सकता है। जब वह नहीं माने तो डॉक्टर ने उस लड़के से शादी करने से ही मना कर दिया। कहा- इस वक्त हमारी शादी से ज्यादा जरूरी मरीजों का इलाज है। मुझसे मरीजों को दर्द और उनकी बेबसी नहीं देखी जाती है। पढ़िए कैसे जान हथेली पर रख बखूबी निभा रहे ड्यूटी का फर्ज...

  • <p>mp news</p>
    Video Icon

    Madhya PradeshMay 7, 2021, 7:10 PM IST

    ये मरीजों की जिंदगी से खिलवाड़ नहीं तो क्या है?, कोरोना में रोंगटे खड़े कर देगा ये Video

    वीडियो डेस्क। एक तरफ कोरोना से त्राहिमाम करता देश और दूसरी तरफ मध्यप्रदेश की ऐसी तस्वीर। जहां पेड़ों के नीचे झोलाछाप डॉक्टर मरीजों का इलाज कर रहे हैं। तस्वीरें एमपी के आगर मालवा की हैं जो हालात और स्वास्थ्य सुविधाओं की हकीकत बयां कर रही हैं। 

  • undefined

    Uttar PradeshMay 5, 2021, 10:50 AM IST

    ऑक्सीजन की कमी पर हाईकोर्ट शख्त- कहा-इस तरह कोरोना मरीजों की मौत किसी नरसंहार से कम नहीं

    इलाहाबाद हाईकोर्ट ने राज्य निर्वाचन आयोग से मतगणना के दौरान कोविड निर्देशों के उल्लंघन पर कहा कि अगर आयोग को सीसीटीवी फुटेज देखकर यह पता लगता है कि कोविड प्रोटोकॉल और दिशा-निर्देशों का स्पष्ट उल्लंघन किया गया है, तो यह उस संबंध में एक कार्य योजना भी अलगी तारीख तक पेश की जाए। 

  • <p>up news</p>
    Video Icon

    Uttar PradeshMay 4, 2021, 1:16 PM IST

    यूपी में कोरोना मरीजों के साथ धोखा, रोंगटे खड़े कर देगा अस्पताल का ये वीडियो

    वीडियो डेस्क। एक तरफ कोरोना से हाहाकार मचा हुआ है। अस्पताल में बेड खाली नहीं है। ऑक्सीजन और दवाओं के लिए परेशान हो रहे हैं। इन सबके बीच भी मरीजों को बचाने की जद्दोजहज बरकरार है। डॉक्टर्स हर मुमकिन कोशिश कर रहे हैं कि वे लोगों की जान बचा सकें। लेकिन वहीं यूपी का एक वीडियो अस्पतालों की लापरवाही की पोल खोल रहा है। जहां डॉक्टर ने महिला को मृत घोषित कर बॉडी परिजनों को दे दी। इतना ही नहीं डॉक्टर ने डैथ सर्टिफिकेट बनाकर भी दे दिया। लेकिन घर पर महिला की सांसें चल रही थीं। देखिए ये वीडियो। 

  • undefined

    NationalMay 2, 2021, 1:58 PM IST

    आंध्र प्रदेश के सरकारी अस्पताल में 14 कोरोना मरीजों की मौत, प्रशासन ने ऑक्सीजन की कमी को बताया अफवाह

    आंध्र प्रदेश के एक सरकार अस्पताल में शनिवार को 14 कोरोना मरीजो की मौत का मामला सामने आया है। कहा जा रहा है कि ऑक्सीजन की कमी के कारण ये मौतें हुईं। हालांकि प्रशासन ने इसे अफवाह बताते हुए कहा कि शनिवार को कुल 15 मौतें हुईं, जो सभी उम्रदराज थे। वे पहले से गंभीर बीमारियों से जूझ रहे थे।

  • undefined

    Madhya PradeshMay 2, 2021, 1:05 PM IST

    कोरोना रिश्तों को निगल रहा: चीखती रही पत्नी..कोई नहीं आया पति का शव उठाने, फिर पुलिस ने दिखाई इंसानियत

    डीआईजी इरशाद वली ने मानवता कि मिसाल पेश करने वाले चारों पुलिसकर्मियों की जमकर तारीफ की। साथ ही सभी को इनाम देने की घोषणा भी की है। अफसर ने कहा कि चारों इस काम के लिए अधिकृत नहीं थे, ना ही बड़े अधिकारी का आदेश था, फिर भी उन्होंने ऐसा काम किया है, जो पुलिस विभाग के लिए गर्व करने वाली बात है।