Corona Warriors Story  

(Search results - 5)
  • Corona positive story of Pooja who defeated the infection kpn

    NationalJun 30, 2021, 7:07 AM IST

    मेरा 6 महीने का बच्चा है, डर रही थी संक्रमित हुई तो क्या होगा? जानें 7 दिन में कैसे कोरोना को दी मात

    कोरोना की दूसरी लहर बीत चुकी है। तीसरी लहर के आने का अंदाजा लगाया जा रहा है। ऐसे में Asianet News के विकास कुमार यादव ने पूजा से बात की। पूजा मई महीने में संक्रमित हुई थीं, लेकिन एक हफ्ते में ठीक हो गईं। उन्होंने बताया कि सर्दी-खांसी की शुरू हुई दिक्कत कहां तक पहुंची? 

  • Use of Neem leaf to defeat infection in Corona Winner Story Series kpn

    NationalMay 26, 2021, 6:10 AM IST

    सुबह-सुबह खाएं नीम की पत्तियां, जानें कैसे शुरू में लगा डर, फिर घर बैठे-बैठे कोरोना को दे दी मात

    कोरोना महामारी में संक्रमण को हराने वालों में से एक हैं लालता प्रसाद। इन्होंने माना कि डर की वजह से ये ज्यादा बीमार पड़ गए। अगर शुरू में ही डॉक्टर के पास जाते तो सही सलाह से जल्दी ठीक हो जाते। उन्होंने ये भी बताया कि नीम की पत्ती का इस्तेमाल करना कोरोना को हराने में फायदेमंद हो सकता है।

  • corona warriors story international nurses day 2020 salutes of nurses  KPR

    RajasthanMay 12, 2020, 9:04 PM IST

    4 दिन के बच्चे को मां की तरह पाल रहीं नर्सें, संक्रमित महिला बोली मैं जिंदगीभर आपको नहीं भूल पाऊंगी

    कोरोना वायरस के खौफ में जहां लोग अपने घरों से बाहर नहीं निकल पा रहे हैं। वहीं कोरोना वॉरियर्स बनी नर्सें अपनी जान की परवाह किए बिना परिवार से दूर रहकर 12 से 15 घंटे ड्यूटी कर रही हैं। वो अस्पताल के साथ घर पर बच्चों की सतर्कता से देखभाल की दोहरी जिम्मेदारी निभा रही हैं। ऐसी एक मार्मिक कहानी राजस्थान से सामने आई है।

  • coronavirus status corona warriors story of IAS officer Sagar Doifode kpr

    MaharashtraApr 27, 2020, 6:45 PM IST

    देशभक्ति को सलाम: बेटे के जन्म होने पर भी घर नहीं गया ये IAS अफसर, 2 महीने से पत्नी से नहीं मिले

    पुणे (महाराष्ट्र). कोरोना वायरस से निपटने के लिए लागू हुए लॉकडाउन की वजह से कई लोग अपनों से नहीं मिल पा रहे हैं। खास कर प्रशासनिक अधिकारी और पुलिस के जवान जो अपने परिवार से दूर रह कर दिन रात ड्यूटी कर अपना फर्ज निभा रहे हैं। ऐसी एक भावुक कहानी महाराष्ट्र के आईएएस अफसर की है। जहां वह पिता बनने के 18 दिन बाद भी अपने बेटे और पत्नी से नहीं मिल पाए हैं।

  • Emotional story related Corona Warriors, Story of the courage of BDPO Ritu Lather kpa

    HaryanaApr 9, 2020, 10:42 AM IST

    पेनकिलर खाकर घर से ड्यूटी करने निकलती है यह लेडी ऑफिसर, पैरेंट्स टोकते हैं, तो मुस्करा देती है

    पानीपत, हरियाणा. कोरोना महामारी को रोकने देश के डॉक्टर, हेल्थ वर्कर्स..स्वयंसेवी और निजी-सरकारी कर्मचारी पूरी शिद्दत से ड्यूटी निभा रहे हैं। इस दौरान उन्हें तकलीफों का सामना भी करना पड़ रहा है। कई जगह उन्हें सम्मान मिल रहा, तो कुछ जगहों पर अपमान भी झेलना पड़ रहा है। शारीरिक और मानसिक कठिनाइयों के बावजूद कोरोना वॉरियर्स का हौसला कम नहीं हो रहा। यह कहानी भी इसी से जुड़ी हैं। यह हैं पानीपत की ब्लॉक डेवलपमेंट पंचायत ऑफिसर(BDPO) रितु लाठर। एक एक्सीडेंट के बाद ये बैसाखी के सहारे चल रही हैं। लेकिन आज जब कोरोना से लड़ाई के लिए इनकी सेवाओं की जरूरत है, तो ये मुस्तैदी से अपनी ड्यूटी कर रही हैं। ये पिछले 2 हफ्ते से रोज पेन किलर लेकर ड्यूटी पर निकलती हैं। लाजिमी है कि उनकी तबीयत देखकर परिजन परेशान होते हैं। वे कहते हैं कि रोज ड्यूटी पर जाने की क्या आवश्यकता? इस पर रितु मुस्करा देती हैं। वे कहती हैं कि आज लोगों को उनकी मदद की जरूरत है। अगर वे पब्लिक सर्विस में आई हैं, तो यह उनका फर्ज है कि मुसीबत में लोगों की मदद करें।