Coronavirus Cases  

(Search results - 286)
  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJun 23, 2021, 7:34 PM IST

    तीसरी लहर की वजह बन सकता है कोरोना का डेल्टा प्लस वेरिएंट, डॉक्टर ने बताए इससे बचने के उपाय

    वीडियो डेस्क।  भारत में तीसरी लहर को लेकर दहशत है। एक्सपर्ट्स के अनुसार यहां डेल्टा प्लस वेरिएंट की वजह से तीसरी लहर आएगी। हालांकि, भारत सरकार ने एडवाइजरी जारी कर बताया है कि तीन राज्यों में डेल्टा प्लस वेरिएंट के करीब 40 केस मिले हैं। ऐसा नहीं दिख रहा है कि यह व्यापक स्तर पर फैल सकता है। हालांकि, तीनों राज्यों सहित अन्य राज्यों को भी इससे सचेत रहने और सर्विलांस को मजबूत करने को कहा गया है। ऐसे में हमने मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की सिटी हॉस्पिटल की डॉक्टर अंजु गुप्ता ने बताया कि डेल्टा वेरिएंट से सबसे ज्यादा युवाओं को खतरा है। जानें इससे  कैसे बचें और ये कितना घातक है।  वैक्सीनेशन से ही इसको मात दिया जा सकता है।  देश में तीसरी लहर डेल्टा प्लस वेरिएंट की वजह से आ सकती है। 

     

  • undefined
    Video Icon

    NationalJun 8, 2021, 7:15 PM IST

    सलाह लेनी हो या चाहिए कोई और मदद, हर व्यक्ति को पता होने चाहिए ये 5 हेल्पलाइन नंबर

    वीडियो डेस्क। कोरोना वायरस को बढ़ने से रोकने के लिए देश मे कई राज्यों में कोरोना कर्फ्यू लगा है। सरकार ऐसी तमाम कोशिशें कर रही है जिससे लोगों को कोरोना से जुड़ी जानकारी और सलाह आसानी से मिल सकें।  इसके लिए केंद्र और राज्यों ने कई हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। व्यक्ति इन हेल्पलाइन नंबर से मदद ले सकता है. आइए जानते हैं मदद के लिए 5 जरूरी हेल्पलाइन नंबर।

  • undefined

    Health CapsuleJun 1, 2021, 4:58 PM IST

    कोरोना मरीजों में ऑक्सीजन लेवल कम होने के 3 संकेत, एक्सपर्ट ने बताया ये होने पर तुरंत ले जाए हॉस्पिटल

    हेल्थ डेस्क। कोरोना की दूसरी लहर का असर कम नहीं हुआ है। राज्यों में अनलॉक की स्थिति बन रही है।  कोरोना वायरस के अधिकतर मरीजों की मौत सांस की कमी से हुई  है। पिछले महीने कोरोना के मरीजों में ऑक्सीजन लेवल कम होने के अधिक मामले देखे गए। यही वजह थी कि मरीजों को अस्पतालों में ऑक्सीजन की आपूर्ति की भारी कमी का सामना करना पड़ा। मध्य प्रदेश की राज्यधानी भोपाल की डॉकटर अंजु गुप्ता के मुताबिक ऑक्सीजन लेवल की निगरानी करना और समय पर इलाज कराने से मरीज की जान को बचाया जा सकता है।कोरोने के मामले में हमेशा ऑक्सीजन लेवल कम होना जैसी परेशानी नहीं होती है। इसमें हल्का बुखार, खांसी और गंध और स्वाद की कमी जैसे लक्षण भी शामिल हो सकते हैं। हालांकि, जिन लोगों को सांस लेने में कठिनाई होती है या किसी भी समय सांस फूलने का अनुभव होता है, उन्हें अस्पताल ले जाना चाहिए और चिकित्सा सहायता लेनी चाहिए।

     

  • undefined

    Uttar PradeshJun 1, 2021, 1:19 PM IST

    कोरोना सब उजाड़ गया: एक परिवार के 8 लोगों की मौत, एक साथ हुई 5 लोगों की तेरहवीं..विधवा हुईं 4 बहुएं

    लखनऊ (उत्तर प्रदेश). कोरोना की दूसरी लहर में खतरनाक स्टेज पर पहुंचे वायरस ने कई हंसते-खेलते परिवार तबाह कर दिया। महामारी ने ऐसा तांडव मचाया कि कई बच्चों के सिर से माता-पिता साया तक छिन गया। यूपी की राजधानी लखनऊ से भी एक ऐसी दिल को झकझोर देने वाली तस्वीर सामने आई है। जो शायद कभी आपने कहीं देखी होगी। यहां बीमारी इस कदर कहर बनकर टूटी कि महीनेभर में परिवार के 8 लोगों की मौत हो गई। सोमवार को एक साथ  5 लोगों की तेरहवीं हुई, जिसे देखकर हर किसी का कलेजा फट गया।
     

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleMay 30, 2021, 6:37 PM IST

    कोरोना से बच्चों को बचाने के लिए मजबूत करें उनकी इम्युनिटी, जानें क्या-क्या खिलाएं

    वीडियो डेस्क। कोरोना की दूसरी लहर का अभी असर कम नहीं हुआ है। भले ही अब कोरोना के मामले थमने लगे है। देश में लाखों लोगों को संक्रमण और हजारों मौतों की तस्वीर ने विचलित किया। बच्चों पर इसका ज्यादा प्रभाव नहीं पडने से हमने राहत की सांस ली है। देश के वैज्ञानिक और हेल्थ एक्सपर्ट आगाह  कर रहे हैं कि कोरोना की तीसरी लहर बच्चों के लिए ज्यादा घातक साबित हो सकती है। बच्चों को तीसरी लहर से बचाने के लिए उनकी इम्युनिटी मजबूत करने पर जोर दिया जा रहा है।  आखिर कैसे बच्चों की इम्युनिटी मजबूत होगी? बच्चों को क्या खिलाएं जिसके सेवन से बच्चों की इम्युनिटी मजबूत की जा सकती है। जानें इस वीडियो में।
     

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleMay 17, 2021, 5:00 PM IST

    ब्लैक फंगस के बारे में पूरी जानकारी जो आपके लिए है जरूरी, डॉक्टर ने दिए इससे बचने 3 टिप्स

    वीडियो डेस्क।  कोरोना मरीजों में होनेवाली दूसरी खतरनाक बीमारी म्यूकर मायकोसिस ब्लैक फंगस ने  चिंता बढ़ा दी है। कई कोरोना मरीज इसकी चपेट में आ चुके हैं, कई तो जान भी जा चुकी है।   कोरोना वायरस से ठीक होने के दो-तीन दिन बाद म्यूकोरमाइकोसिस या ब्लैक फंगस के लक्षण दिखाई देते हैं। कोरोना से ठीक होने के दो-तीन दिन बाद पहले ये संक्रमण साइनस में दिखता है और उसके बाद आंख तक जाता है। वहीं अगले 24 घंटे में ये फंगस दिमाग तक हावी हो सकता है।   ब्लैक फंगस  किन लोगों और हालात में इसके होने की संभावना होती है । ये शरीर में कैसे पहुंचता है और इससे क्या असर पड़ सकता है ? ब्लैक फंगस कहां पाया जाता है ? इसके लक्षण क्या है जिससे हम पहचान सकते हैं ? ये इंफेक्शन किन लोगों को होता है क्या इसका कोरोना से कनेक्शन है ? इससे कैसे बचा जा सकता है ? इन सभी सवालों के जवाब  एशियानेट न्यूज हिन्दी  ने जानें  Dr.Ganesh Pillay MD AIIMS, New Delhi से। देखें वीडियो।                                                                  

  • undefined

    Madhya PradeshApr 29, 2021, 2:32 PM IST

    कोरोना से डरिए..इतना नहीं: पत‍ि की मौत तो पत्नी ने लगा ली फांसी..कहती रही उन्हें बचा लो मैं कुछ कर लूंगी

    कोबरा/इंदौर (मध्य प्रदेश). कोरोना अपने चरम पर पहुंच चुका है, जिसकी चपेट में आने से कई हसंते-खेलते परिवार उजड़ रहे हैं। लेकिन महामारी के खिलाफ चल रही यह जंग तनाव में आकर नहीं, बल्कि सावधानी और हिम्मत से जीती जाती है। ना कि परिवार के किसी सदस्य के जाने के बाद आप भी दुनिया छोड़ दो। मध्य प्रदेश के इंदौर से ऐसी ही एक दिल को झकझोर देने वाली खबर सामने आई है। जहां पति की कोरोना की वजह से मौत हो गई। अपने पति के स्वस्थ होने का इंतजार कर रही पत्नी का सब्र का बांध टूट गया और उसने फांसी लगाकर अपनी जान दे दी। आइए जानते हैं यह मार्मिक कहानी..कैसे 18 साल की लव स्टोरी का कोरोना से हुआ दुखद अंत...

  • undefined

    JharkhandApr 29, 2021, 1:20 PM IST

    GOOD NEWS: धोनी के माता-पिता ने जीती कोरोना की जंग, डॉक्टरों ने बताया किस वजह से 7 दिन में हुए ठीक

    धोनी के पिता पान सिंह धोनी और माता देवकी देवी पिछले सप्ताह 21 अप्रैल कोरोना संक्रमित हुए थे। जिसके बाद उन्हें  रांची के प्राइवेट पल्‍स सुपर स्‍पेशलिटी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। अब उन्होंने कोरोना की जंग जीत ली है और मंगलवार देर रात वह हॉस्पिटल से डिस्चार्ज होकर अपने घर लौटकर आ गए।  दोनों की सेहत पूरी तरह से ठीक है। 

  • undefined

    Madhya PradeshApr 26, 2021, 7:53 PM IST

    कोरोना लील गया पूरा परिवार: मां को देखने आईं दोनों बेटियां भी नहीं बचीं, 5 दिन में तीनों की मौत

    19 अप्रैल को मां चल बसी तो 20 अप्रैल को बड़ी बेटी और उसके तीन दिन बाद 23 अप्रैल को छोटी की सासें थम गईं। अब आलम यह है कि जोशी परिवार में अपनी मां और दो बहनों को खो चुका 22 वर्षीय बेटा ही अकेला बचा है। वह भी संक्रमित था, लेकिन हाल ही उसकी दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आई है। 

  • undefined

    Uttar PradeshApr 19, 2021, 5:56 PM IST

    कोरोना से डरो..लेकिन इतना भी नहीं: बच्चे की अर्थी को नहीं मिला कंधा, बेबस पिता ने नाले में किया दफन


    लखनऊ (उत्तर प्रदेश). कोरोना वायरस ऐसा कहर बरपा रहा है कि इस मुश्किल घड़ी में अपने भी साथ छोड़कर दूर भाग रहे हैं। एक ऐसी ही तस्वीर यूपी की राजधानी लखनऊ से सामने आई है, जहां 13 साल के मासूम की कोरोना की वजह से मौत हो गई। पिता बुरी तरह चीख रहा था, कोई तो आ जाओ और मेरे बेटे के शव को चार कांधा दे दो। लेकिन महामारी के डर से  कोई घर  से नहीं निकलर आया। आखिर में बेबस बाप दुखी होकर अकेले ही शव लेकर चल पड़ा।

  • undefined

    Other StatesApr 19, 2021, 4:26 PM IST

    कोरोना के कहर में 3 दिन से पड़ीं लाशें सड़ चुकी, विचलित करने वाली तस्वीरें देखकर अब तो अलर्ट हो जाइए!

    वलसाड (गुजरात). कोरोना वायरस ऐसे दिन दिखा रहा है जो शायद किसी ने अपनी जिंदगी में कभी देखे होंगे। महामारी थमने की बजाय क्रूर होती जा रही है। सबसे बुरे हालात गुजरात के हैं, जहां लोगों की मौत के बाद श्मशान तक नसीब नहीं हो पा रहा है। शव जानवरों की तरह पड़े हैं कोई उनकी देखरेख तक करने वाला नहीं है। लोगों को चिता जलाने के लिए मिन्नतें करनी पड़ रही हैं। ऐसी एक दिल दहला देने वाली तस्वीर राज्य के वलसाड से सामने आई है, जहां अस्पतालों के कमरे में बिखरी लाशें पड़ी हैं। आलम यह हो गया है कि शवों से दुर्गंध आने लगी है। निगम के कर्मचारी बदवू नहीं आए इसलिए उनपर परफ्यूम छिड़क रहे हैं। देखिए तस्वीरें जो सिखाती हैं सभंलना..

  • undefined

    Madhya PradeshApr 19, 2021, 2:58 PM IST

    कोरोना के खौफ में अच्छी खबर: MP में खोले जा रहे 2 हजार बेड के अस्पताल, गरीबों को फ्री में मिलेगा राशन

     सोमवार को मुख्यमंत्री जिले के कलेक्टरों के साथ समीक्षा बैठक कर रहे थे। जिस दौरान सीएम ने कहा कि गरीब लोग चिंता नहीं करें,  बीपीएल कार्ड धारकों अगले तीन महीने का राशन राज्य सरकार मुफ्त में देगी। साथ ही फैसला किया है कि अब आर्मी अस्पतालों की सेवाएं संक्रमण काल के दौरान जनता के लिए खोली जायेंगी।

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleApr 17, 2021, 3:42 PM IST

    VIDEO : हवा के रास्ते फैलता है कोरोना वायरस, डॉक्टर ने बताए इसके कारण

    वीडियो डेस्क। कोरोना महामारी का प्रकोप फिर से फैलता दिख रहा है। साथ ही यह तेजी से अपना रूप भी बदलता जा रहा है और भारत में यह स्थिति और भयावह हो चुकी है।  इस बीच प्रसिद्ध जर्नल द लांसेट ने अपनी एक रिपोर्ट ने दावा किया है कि ज्यादातर ट्रांसमिशन हवा के रास्ते से हो रहा है।  वायरस के सुपरस्प्रेडिंग इवेंट तेजी से SARS-CoV-2 वायरस को आगे ले जाता है. वास्तव में, यह महामारी के शुरुआती वाहक हो सकते हैं। ऐसे ट्रांसमिशन का बूंदों के बजाय हवा (aerosol) के जरिए होना ज्यादा आसान है। क्वारंटीन होटलों में एक-दूसरे से सटे कमरों में रह रहे लोगों के बीच यह ट्रांसमिशन देखा गया, जबकि ये लोग एक-दूसरे के कमरे में नहीं गए। देखिए इस पर मध्य प्रदेश के वरिष्ठ डॉक्टर सव्यसाची गुप्ता ने क्या बताया। 
     

  • undefined

    JharkhandApr 14, 2021, 5:04 PM IST

    इलाज के लिए चीखती रह गई बेटी और पिता की थम गईं सांसे, लेकिन डॉक्टर नहीं आए..देखते रहे स्वास्थ्य मंत्री

    अस्पताल में स्ट्रेचर पर अपने ''पिता को ले चीखती-रोती रही, बार-बार डॉक्टर-डॉक्टर चिल्लाती रह गई, लेकिन कोई डॉक्टर नहीं आया और आखिर मेरे पिता की मौत हो गई''। हैरानी की बात यह है कि इसी दौरान राज्य के स्वास्थ्य मंत्री हॉस्पिटल में निरीक्षण के लिए पहुंचे हुए थे। 

  • undefined

    Madhya PradeshApr 14, 2021, 3:07 PM IST

    कोरोना ने उजाड़ दिया पूरा परिवार, बेटे के बाद माता-पिता की भी मौत, अर्थियां देख दहशत में पूरा इलाका


    बालाघाट (मध्य प्रदेश). कोरोना की दूसरी लहर इस कदर कहर बरपाने लगी है कि कई परिवार पूरी तरह से तबाह होने लगे हैं। मध्य प्रदेश के बालाघाट से ऐसी ही एक बेहद मार्मिक खबर सामने आई है, जहां चार दिन में एक ही घर के तीन लोगों की मौत हो गई। एक ही परिवार की यह अर्थियां देख इलाके में दहशत का माहौल है। लोगों के दिलों में इस तरह खौभ बैठ गया है, उन्हें घर से बाहर निकलने में भी डर लगने लगा है।