Coronavirus Italy  

(Search results - 127)
  • undefined

    Fake CheckerJul 3, 2020, 12:49 PM IST

    Fact Check: लॉकडाउन में सरकार हर नागरिक को घर बैठे दे रही है 2000 रु? फार्म हुआ वायरल, जानें सच

    फैक्ट चेक डेस्क. Government Giving 2000 Rupee Each Citizen Fact Check: इंस्टैंट मैसेजिंग प्लेटफॉर्म वॉट्सऐप (WhatsApp) पर एक मैसेज वायरल हो रहा है कि हर नागरिक के पास 2000 रुपये आने वाले हैं। यह रिलीफ फंड सरकार की ओर से फ्री में भेजा जा रहा है। एक फॉर्म इसके साथ काफी शेयर किया जा रहा है और लिंक क्लिक करके भरवाने की बात कही जा रही है। लोग मैसेज को धड़ाधड़ फॉरवर्ड कर रहे हैं। इसके साथ लोग फॉर्म भरने और दो हजार मुफ्त पाने को काफी एक्साइटेड दिख रहे हैं।

     

    फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

  • undefined

    Fake CheckerJul 2, 2020, 3:32 PM IST

    FACT CHECK: कुरुक्षेत्र की खुदाई में निकला 80 फीट का कंकाल, लोगो ने कहा भीम, जानें वायरल फोटो का सच

    सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हो रही है, जिसमें एक बड़ा-सा कंकाल देखा जा सकता है। तस्वीर में कंकाल के साथ कुछ लोगों को उसकी पड़ताल करते देखा जा सकता है। पोस्ट में दावा किया गया है कि यह कंकाल हरियाणा के कुरुक्षेत्र में हुई खुदाई में निकला है। फेसबुक पर ये पोस्ट काफी वायरल हो रही है।

  • undefined

    Fake CheckerJun 30, 2020, 9:06 PM IST

    Fact Check: समुद्र में फेंके जा रहे कोरोना संक्रमित शव? 25 लाख बार देखा गया ये वायरल वीडियो, जानें सच

    फ़ेसबुक पर पोस्ट किए गए इस वीडियो को 25 लाख से ज़्यादा बाद देखा और 34 हजार से ज़्यादा बाद शेयर किया जा चुका है।

  • undefined

    Fake CheckerJun 30, 2020, 5:09 PM IST

    FACT CHECK: कशायम काढ़ा से हो सकता है कोरोना वायरस का इलाज रेसिपी वायरल? जानें क्या है सच?

    फैक चेक. kashayam kadha cure covid 19 Fact Check: देश में तेजी से बढ़ते कोरोना केसेज के साथ, हर रोज ऐसे दावे भी सामने आ रहे हैं कि घरेलू नुस्खों या आयुर्वेद के जरिये कोरोना का इलाज किया जा सकता है। भारत में 29 जून की शाम तक कोरोना के करीब 5 लाख 48 हजार केस दर्ज हुए हैं और 16 हजार से ज्यादा मौतें हो चुकी हैं। इसी बीच फेसबुक पर दावा किया जा रहा है कि कशायम नाम का काढ़ा पीने से कोविड-19 बीमारी का इलाज किया जा सकता है। इसकी पूरी एक रेसिपी सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म फेसबुक, ट्विटर और इंस्टा पर वायरल हो रही है। 

     

    फैक्ट चेक में आइए जानते हैं कि आखिर सच क्या है? 

  • undefined

    Fake CheckerJun 18, 2020, 5:12 PM IST

    ‘O’ पॉजिटिव ब्लड ग्रुप वालों को नहीं होगा कोरोना वायरस, जानें इस वायरल दावे का सच

    सोशल मीडिया पर एक वायरल पोस्ट में दावा किया जा रहा है कि कोरोना वायरस ओ पॉजिटिव (O +) ब्लड ग्रुप वाले लोगों को प्रभावित नहीं करता है। फेसबुक पर सबसे ज्यादा लोग इसे शेयर कर रहे हैं। ओ ब्लड ग्रुप बहुत रेयर होता है। ऐसे में इसको लेकर कोरोना संक्रमित न होने का दावा लोगों को पैनिक करने वाला है।

  • undefined

    WorldJun 9, 2020, 2:24 PM IST

    अब जड़ से खत्म होगा कोरोना का संक्रमण, गाय की एंटीबॉडी से मरेगा वायरस; इस देश ने खोजा नया इलाज

    वाशिंगटन.  दुनिया में कोरोना का कहर जारी है। संक्रमित मरीजों की आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है। इसके साथ ही मौतों का भी सिलसिला जारी है। कोरोना महामारी के कहर को रोकने के लिए वैज्ञानिकों की फौज दिन रात वैक्सीन बनाने में जुटी हुई है। कई देशों में वैक्सीन का ट्रायल जारी है। इन सब के बीच एक राहत भरी खबर सामने आई है। कोरोना वायरस को खत्म करने के लिए वैज्ञानिकों को एक नया हथियार मिल गया है। ये हथियार मिला है गाय के शरीर में। गाय के शरीर के एंटीबॉडीज का उपयोग कोरोना वायरस को खत्म करने में किया जा सकता है। ये दावा अमेरिका की एक बायोटेक कंपनी ने किया है।

  • undefined

    NationalJun 9, 2020, 11:18 AM IST

    ...तो दिल्ली में मचेगी भयंकर तबाही, शुरू हुआ कोरोना का कम्युनिटी स्प्रेड? जानिए क्या और क्यों है खतरा

    नई दिल्ली. देश और दुनिया में कोरोना का संक्रमण बढ़ता जा रहा है। दिल्ली में अब कोरोना वायरस संक्रमण के कम्युनिटी ट्रांसमिशन की बात कही जा रही है। कम्युनिटी ट्रांसफर की वजह से दुनिया के कई देशों में भयंकर तबाही मची है। जानकारों के मुताबिक भारत में अभी ऐसे हालात पैदा नहीं हुए हैं। इन सब के बीच दिल्ली में कम्युनिटी ट्रांसफर की बात तेजी से चल रही है। जिसको लेकर आज दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया आपदा प्रबंधन अथॉरिटी की बैठक करेंगे। ऐसे में आइए जानते हैं कि कम्युनिटी ट्रांसमिशन क्या है...

  • undefined

    Fake CheckerJun 8, 2020, 2:01 PM IST

    स्टेशन पर दम तोड़ गई मां का पल्ला खींचने वाले बच्चे की किंग खान ने की मदद, क्या यही है वो बालक?

    मुंबई.  कुछ दिनों पहले बिहार के मुजफ्फरपुर रेलवे स्टेशन का एक वीडियो सामने आया था, जिसमें प्लेटफॉर्म पर रखे मां के शव के साथ एक बच्चा खेलता नजर आ रहा था। बेहद मार्मिक इस वीडियो को देख कई लोगों ने दुख व्यक्त किया था। इसके कुछ दिनों बाद ही बॉलीवुड अभिनेता शाहरुख खान (Shahrukh Khan) ने पीड़ित परिवार की मदद करने को कहा था। उन्होंने उस बच्चे की मदद को हाथ बढ़ाया जिसके बाद सोशल मीडिया पर काफी वाहवाही मिली। लोग सैल्यूट करने लगे। इस बीच किंग खान के साथ एक बच्चे (Shahrukh Khan Image Viral) की तस्वीर वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि यह वही बच्चा है जिसका वीडियो कुछ दिन पहले वायरल हुआ था। शाहरुख ने इस बच्चे की मदद की है।

     

    पर सवाल ये है कि क्या वाकई ये वहीं पीड़ित बच्चा है, तो किंग खान से कब मिला कैसे मिला ? फैक्ट चेकिंग में हम आपको शाहरुख खान के साथ बच्चे की वायरल फोटो (Fact Check Shahrukh Khan Image with A Boy Viral) का सच बताने जा रहे हैं- 

  • <p>coronavirus india,coronavirus usa,coronavirus tips,coronavirus vaccine,coronavirus mumbai,coronavirus symptoms,coronavirus italy,coronavirus china,coronavirus update,coronavirus india update,coronavirus america,coronavirus astrology,coronavirus australia,coronavirus agra,<br />
coronavirus assam,coronavirus app,coronavirus ahmedabad,coronavirus active cases in india,<br />
a coronavirus is a kind of common infection,a coronavirus worldometer,a coronavirus cautionary tale from italy,a coronavirus a for everyone,a coronavirus cases going down,a coronavirus bull market for groceries,coronavirus bihar,coronavirus bangalore,coronavirus by country,coronavirus body temperature<br />
&nbsp;</p>

    WorldJun 7, 2020, 8:23 PM IST

    कब और कहां आया सबसे पहला कोरोना...वायरस फैलाने के आरोपों पर चीन ने विस्तार से दी पूरी जानकारी

    नई दिल्ली. कोरोना को लेकर चीन पर लगातार आरोप लगते रहे हैं कि उसने वायरस से जुड़ी जानकारी छिपाई है। चीन पर जानबूझकर पूरी दुनिया में कोरोना फैलाने का आरोप लगा है। इस बीच चीन ने एक श्वेतपत्र जारी किया है। चीन ने कहा कि वह इस मामले में पूरी तरह  से निर्दोष है। श्वेतपत्र में बताया गया कि कोरोना का पहला केस वुहान में 27 दिसंबर को आया था। जबकि निमोनिया और मानव से मानव में संक्रमण फैलने के बारे में 19 जनवरी को पता चला। चीन ने यह भी बताया कि इसे रोकने के लिए तुरन्त कार्रवाई शुरू कर दी गई। 
     

  • <p>sslc</p>

    Fake CheckerJun 7, 2020, 12:14 PM IST

    UP Board Result: स्टूडेंट के पास आया FAKE कॉल 5 हजार दो पास करवा दूंगा, मचा हड़कंप तो प्रसाशन ने खोली पोल

     एक छात्रा के अभिभावक के पास फोन आया कि आपकी बेटी एग्जाम में फेल हो गई। इस तरह की जानकारी मिलने के बाद अभिभावक काफी परेशान हो गए।

  • undefined

    NationalJun 7, 2020, 8:41 AM IST

    100 दिन में खत्म हो जाएगा कोरोना, लेकिन उससे पहले भयंकर महामारी फैलेगी, ज्यादा लोग संक्रमित होंगे

    नई दिल्ली. देश में जारी कोरोना संकट के बीच आम लोगों के लिए राहत भरी खबर सामने आई है। दावा किया जा रहा है कि सितंबर मध्य तक देश से कोरोना का खात्मा हो सकता है। यह दावा स्वास्थ्य महानिदेशालय के उप-महानिदेशक (पब्लिक हेल्थ) डॉ. अनिल कुमार और सहायक उप-महानिदेशक (लेप्रोसी) डॉ. रुपाली रॉय ने मैथ्स के बैली मॉडल के आधार पर अध्ययन करने के बाद किया है। यह स्टडी रिपोर्ट एपिडेमीलॉजी इंटरनेशनल जर्नल में प्रकाशित हुआ है। रिपोर्ट के मुताबिक रविवार 7 जून से मंगलवार 15 सितंबर 2020 तक 100 दिनों में कोरोना वायरस का खात्मा हो जाएगा। हालांकि इससे पहले एम्स के जानकारों ने कहा था कि जून-जुलाई में कोरोना का संक्रमण चरम पर होगा। 
     

  • <p><br />
AIIMS director, AIIMS director Randeep Guleria, corona at AIIMS, corona treatment, corona virus, corona infection, corona death, corona medication, corona vaccine, Randeep Guleria interview</p>

    NationalJun 6, 2020, 4:25 PM IST

    आखिर कब खत्म होगा कोरोना...एम्स के डायरेक्टर ने बताया, जान बचानी है तो क्या करना चाहिए?

    नई दिल्ली. भारत में कोरोना महामारी के बीच एम्स के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने राहत वाली खबर दी है। उन्होंने कहा, अस्पताल और कुछ वॉलंटियर्स ने Hydroxychloroquine पर स्टडी की। इससे पता चला कि कोरोना वायरस (Coronavirus) की प्रिवेंटिव दवा के तौर पर ये कारगर है। जिन लोगों ने दवाई ली उनमें कोरोना के लक्षण कम दिखे। एक न्यूज चैनल से बात करते हुए गुलेरिया ने कहा, 2-3 महीने में कोरोना की कोई न कोई दवा बन जाएगी। बिना लक्षण वाले रोगी को अस्पताल में भर्ती होना जरूरी नहीं है। उनको घर में अलग-थलग रहना चाहिए। 99% मामलों में बिना लक्षण वाले रोगी ऐसे ही ठीक हो जाते हैं। 

  • undefined

    Fake CheckerJun 5, 2020, 2:13 PM IST

    Fact Check: वायरस नहीं बैक्टीरिया है कोविड-19, ऐस्प्रिन से हो जाएगा तुरंत ठीक, जानें इस दावे का सच

    अफवाह से जुड़ा यह पोस्ट फेसबुक पर शेयर किया जा रहा है। ट्विटर पर भी लोग कोरोना वायरस को बैक्टिरिया बताकर  ऐस्प्रिन से इलाज का दावा कर रहे हैं। 

  • undefined

    Fake CheckerJun 4, 2020, 11:25 AM IST

    जल्दी चलो मंत्री जी गरीबों को बांट रहे हैं करारे नोट, FAKE NEWS पर भरोसा कर बंगले के बाहर लग गया हुजूम

    लॉकडाउन में काम धंधे ठप्प पड़े हैं। लोग भूखे मरने को मजबूर हैं ऐसे में जब पैसे बंटने की खबर मिली तो लोग मंत्री के बंगले की ओर दौड़ पड़े। देखते ही देखते भीड़ जमा हो गई। पुलिस के मुताबिक सोशल डिस्टेंसिंग और कोरोना भूल करीब 300 लोग बेलबाग थाना क्षेत्र में ब्यौहारबाग स्थित पूर्व मंत्री लखन घनघोरिया के बंगले के बाहर पैसों के इंतजार में बैठे थे।

  • undefined

    Fake CheckerJun 2, 2020, 6:05 PM IST

    FACT CHECK: क्या दिल्ली के अस्पताल में लगे लाशों के ढेर; मरीजों में खौफ, जानें वायरल वीडियो का सच

    नई दिल्ली.  कोरोना का कहर जारी है और देश में कोरोना संक्रमित मामले लगातार बढ़ रहे हैं आंकड़ा दो लाख छूने को है और इस बीच लॉकडाउन में ढील दे दी गई है। सोशल मीडिया पर दिल्ली के अस्पताल में लाशों के ढेर का दावा करने वाला एक वीडिचयो तहलका मचाए हुए है। वीडियो में कई लोग ये शिकायत करते हुए दिख रहे थे कि अस्पताल के बेड पर लाशों को रखा हुआ है और मरीज़ नीचे ज़मीन पर पड़े हुए और आस-पास कोई डॉक्टर भी नहीं है। लोग इसे दिल्ली के किसी अस्पताल का बता रहे हैं।

     

    फैक्ट चेकिंग में आइए जानते हैं कि वायरल हो रहे दावे- 'ये दिल्ली के हालात है! लाशें इतनी ज्यादा है कि पांच पांच दिन संस्कार नहीं हो पा रहा!' का आखिर सच क्या है?