Coronavirus Vaccine  

(Search results - 298)
  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJul 11, 2021, 10:17 AM IST

    मध्य प्रदेश में स्पूतनिक-v वैक्सीन लगना शुरू, एक्सपर्ट ने बताया डेल्टा वेरिएंट से तेजी से करती है बचाव

    वीडियो डेस्क। कोरोना का कहर कम नहीं हो रहा है।  मध्य प्रदेश में इंदौर के बाद भोपाल में भी स्पूतनिक-v वैक्सीन लगना शुरू हो गई। शुक्रवार से भोपाल के मिसरोद स्थित नोबल अस्पताल में इसकी शुरुआत की गई है। वैक्सीन लगाने के लिए आपको कोविन एप से ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करा कर स्लॉट बुक कराना होगा। इसके बाद तय समय पर अस्पताल पहुंचकर 1145 रुपए जमा करके वैक्सीन की पहली डोज लगवा सकेंगे। वैक्सीन की दूसरी डोज 21 दिन बाद लगवा सकते हैं, इसके लिए भी 1145 रुपए ही देना होगा। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की डॉक्टर अंजु गुप्ता ने बताया कि  स्पूतनिक-v वैक्सीन कोरोना के डेल्टा प्लस वेरिएंट से बचाव में कारगर है। स्पूतनिक-V कोवीशील्ड और कोवैक्सिन से कितना अलग है?

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshJun 21, 2021, 7:52 PM IST

    मध्यप्रदेश में रिकॉर्ड तोड़ वैक्सीनेशन, पुलिस ने गाड़ियां रोककर लोगों को लगवाया टीका

      मध्यप्रदेश में अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर वैक्सीनेशन के महा अभियान के पहले दिन रिकॉर्ड तोड़ टीके लगे। सुबह 9 से शाम 7 बजे तक 10 घंटे में 14.71 लाख डोज लगाए गए। यह 10 लाख के टारगेट से साढ़े 4 लाख ज्यादा है। 

  • undefined

    Madhya PradeshJun 21, 2021, 5:37 PM IST

    MP में वैक्सीनेशन महाअभियान: 'वैक्सीन लगवाओ फ्रिज-TV पाओ', बस में फ्री सफर और भी बहुत कुछ मिल रहा

    भोपाल. मध्य प्रदश में शिवराज सरकार ने  योग दिवस पर कोरोना वायरस को खत्म करने और तीसरी लहर से बचने के लिए आज यानि 21 जून को पूरे राज्य में वैक्सीनेशन महाअभियान शुरू किया है। जिसको सफल बनाने के लिए मंत्री-विधायक और सत्तधारी के तमाम नेता सेंटर जाकर लोगों से वैक्सीन लगावाने की अपील कर रहे हैं। पहले ही दिन प्रदेश के 7 हजार सेंटर पर 10 लाख लोगों को डोज लगाने का लक्षय रखा गया है। खबरों के मुताबिक, शाम 4 बजे जिसमें से 8 लोगों को वैक्सीन लगाई जा चुकी है। इंदौर, भोपाल, ग्वालियर जैसे शहरों में वैक्सीनेशन सफल बनाने के लिए कई ऑफर और इनाम तक दिए जाने का ऐलान किया गया है।

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshJun 18, 2021, 1:32 PM IST

    कोरोना ने भारत और दुर्गा के सिर से छीना माता-पिता का साया, बिखर गया हंसता-खेलता परिवार

     वीडियो डेस्क। कोरोना महामारी कई परिवारों पर मुसीबत का पहाड़ बनकर टूटी है। कई परिवारों पर कोरोना का कहर ऐसा बरपा है कि हंसते-खेलते परिवार बिखर गए है। कई मासूम बच्चे अनाथ हो गया है। बच्चों से माता-पिता का साया छीन कर उन्हें बेसहारा कर दिया है। ऐसे बच्चों में आगर-मालवा जिले के ग्राम पचेटी निवासी भारत एवं दुर्गा भी शामिल है। उनके सिर माता-पिता का साया उठ गया। पूर्व में पिताजी की दुर्घटना से मृत्यु होने तथा कोरोना संक्रमण से एक ही समय में दादा, दादी एवं माता का निधन होने से उनका भरण-पोषण करने वाला कोई नहीं बचा है। ऐसे कठिन समय में  दोनो भाई-बहनों के लिए मुख्यमंत्री कोविड-19 बाल कल्याण योजना सहारा बनी है। योजना में बच्चों को प्रतिमाह पांच-पांच हजार रूपए की आर्थिक सहायता एवं निःशुल्क खाद्यान्न दिया जाएगा। इतना ही नहीं सरकार द्वारा बच्चों को स्कूली शिक्षा एवं उच्च शिक्षा के लिएसहयोग प्रदान किया जाएगा। जिला कलेक्टर अवधेश शर्मा ने महिला बाल विकास विभाग के अधिकारियों को अनाथ बच्चों को योजना का लाभ दिलाने के लिए निर्देशित किया है।
     

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJun 7, 2021, 4:34 PM IST

    पहली वैक्सीन लगवाने के बाद चला प्रेगनेंसी का पता तो क्या दूसरा डोज ले या नहीं, एक्सपर्ट ने दी ये सलाह

    वीडियो डेस्क। कोरोना वायरस की तीसरी लहर की बात कही जा रही है।  दुनिया के सभी प्रमुख स्वास्थ्य संगठन गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य को लेकर चिंता जता रहे हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) की प्रमुख वैज्ञानिक डॉ सौम्या स्वामीनाथन कहती हैं, विश्व स्तर पर देखा गया है कि गर्भवती महिलाओं को तमाम तरह की जटिलताओं का खतरा रहता है।  कई तरह की गंभीर दिक्कतों के चलते समय से पहले बच्चे के जन्म का खतरा भी बढ़ जाता है. कोविड-19 जैसी घातक बीमारी से सुरक्षित रखने के लिए ऐसी महिलाओं का टीकाकरण बहुत जरूरी हो जाता है। ऐसे हमने मध्य प्रदेश राजधानी भोपाल की जेपी हॉस्पिटल की डॉक्टर रचना दुबे से जाना कि गर्भवती महिलाओं को कोरोना से बचने के लिए क्या सावधानी रखना चाहिए और क्या गर्भवती को वैक्सीन लगवानी चाहिए या नहीं। देखिए उन्होंने क्या कहा। 
     

  • undefined
    Video Icon

    Uttar PradeshJun 4, 2021, 9:05 AM IST

    वैक्सीन से डरी बुजुर्ग महिला ड्रम के पीछे छिपी, बोलीं- 'हम टीका ना लगवाई'

    वीडियो डेस्क।  कोरोना की वैक्सीन (Corona Vaccination) को गांव में जागरूकता का आभाव है। उत्तर प्रदेश के इटावा में एक बुजुर्ग महिला वैक्सीन लगवाने के डर से घर में रखे ड्रम के पीछे जा छिपी। इकदिल इलाके में कोरोना का टीका लगवाने से डरे लोगों में टीके के प्रति लोगों को जागरूक करने के लिए सरकार की तरफ से मुहिम चल रही हैं। जिला प्रशासन की टीम हेल्थ वर्कर्स के साथ गांव-गांव घूम कर लोगों को वैक्सीन लगवाने के लिए प्रेरित कर रही है। जब जिला प्रशासन की टीम बुजुर्ग महिला के घर के पास पहुंची तो वह भाग कर घर में चली गई ऐसे में उसे घर में रखा अनाज का ड्रम ही नजर आया. वो ड्रम के पीछे छिप गई। ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। 

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshJun 3, 2021, 4:10 PM IST

    ये कैसा अंधविश्वासः परियों के हाथ का पानी पीने से छू भी नहीं सकेगा वायरस, कैमरे में कैद डराने वाला पल

    वीडियो डेस्क। कोरोना की दूसरी लहर का असर अभी खत्म नहीं हुआ है  इसके बाद भी लोग इसकी गंभीरता को नहीं समझ रहे हैं।  मध्यप्रदेश में राजगढ़ के चाटूखेड़ा में कथित तौर पर परियों के हाथ का पानी पीने की अफवाह को सुनकर हजारों की तादाद में कोरोना गाइडलाइन को दरकिनार कर ग्रामीणों की भीड़ जुट गई। गांव में ये अफवाह फैली इनके हाथ से पानी पीने से किसी को कोरोना वायरस छू भी नहीं सकेगा। गांव में ये अफवाह फैली कि दो महिलाओं के शरीर में देव परियां आ गई हैं जिसके बाद चाटूखेड़ा मंदिर परिसर में भीड़ जमा हो गई। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद कलेक्टर ने भी सख्त कदम उठाते हुए पुलिस को दोषियों के खिलाफ मामला दर्ज करने के आदेश दिए। पुलिस ने भी भीड़ जुटा कर अंधविश्वास फैलाने वाले दो महिलाएं और दो पुरुषों पर मामला दर्ज किया।
     

  • undefined
    Video Icon

    NationalJun 3, 2021, 3:47 PM IST

    यहां अस्पताल का मंजर देख पसीजा जाएगा दिल, परिजन लाशों के ढेर से ढूंढ रहे अपनों के शव

    वीडियो डेस्क। कोरोना का भयावह मंजर सामने आया है।  तमिलनाडु के थेनी के विलाक्कू सरकारी अस्पताल से चौंकाने वाली तस्वीर  सामने आई। यहां कोरोना पीड़ितों के शवों को एक कमरे में ढेर कर दिया गया। अस्पताल के कर्मचारियों ने रिश्तेदारों से कोविड पीड़ितों के शवों के ढेर के बीच परिजनों की तलाश करने को कहा। कोविड -19 पीड़ितों के रिश्तेदारों को नीले बैग में लिपटे शवों के ढेर के बीच अपने परिजनों की तलाश करने के लिए कहा गया था।  कई परिवारों ने दावा किया है कि अस्पताल के कर्मचारियों ने उन्हें मुर्दाघर में प्रवेश करने, तलाशी लेने और उनके रिश्तेदारों के शव लेने के लिए कहा था।  सोशल मीडिया पर घटना की तस्वीरें और वीडियो सामने आईं।  एक संविदा कर्मचारी को बर्खास्त करने की अनुशंसा की गई है, जबकि दो सरकारी अधिकारियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई लंबित रहने के कारण कारण बताओ नोटिस जारी किया गया है। 

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshMay 28, 2021, 2:06 PM IST

    गार्ड ऑफ ऑनर के साथ सुपुर्द ए खाक हुए Mufti Abdul Razzaq, जानें कौन थे भोपाल के मुफ्ती

    वीडियो डेस्क। मध्य प्रदेश की राजधानी में भोपाल में सख्ती से कोविड गाइडलाइन का पालन किया जा रहा है। हालांकि पहले के मुकाबले अब भोपाल में कोरोना के केस कम आ रहे हैं,लेकिन इनकी संख्या ज्यादा ना हो इसके लिए प्रशासन काफी अलर्ट मोड पर है।  राजधानी में मुफ्ती अब्दुल रज्जाक के निधन के बाद पुराने भोपाल को छावनी में तब्दील कर दिया है। मुफ्ती अब्दुल रज्जाक सबसे उम्र दराज मुफ्ती थे भोपाल के मुफ्ती साहब जमीयत उलेमा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष भी थे। इसी के ही साथ सबसे पुराने मदरसा और तर्जुमा वाली बड़ी मस्जिद के संस्थापक भी थे। स्वतंत्रता सेनानी रहे रज्जाक को सियासी, सामाजिक, दीनी और हर वर्ग में समान सम्मान हासिल था।  मुफ्ती अब्दुल रज्जाक, इकबाल मैदान स्थित तर्जुमा वाली बड़ी मस्जिद में रहते थे।  मुफ्ती साहब को गुरुवार को दोपहर भोपाल टॉकीज के पास कब्रिस्तान में दफनाया गया।

  • undefined
    Video Icon

    TechMay 21, 2021, 7:17 PM IST

    Cowin App पर स्लॉट बुक करने में लोगों को आ रही दिक्कत कैसे करें दूर ? टेक गुरु ज्ञान गुप्ता ने दिए सुझाव


    वीडियो डेस्क। कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है।  कोरोना को हराने के लिए सबसे जरूरी है कोरोना की वैक्सीन लगाना है। भारत सरकार ने  CoWin Vaccinator App लॉन्च किया है। जिसके माध्यम से आप वैक्सीन लगवाने के लिए अपना स्लॉट बुक कर सकते हैं।  CoWIN पोर्टल पर वैक्‍सीन का स्‍लॉट बुक करने में परेशानी उठा रहे हैं।  लोगों की दिक्कत है कि उनका स्‍लॉट बुक नहीं हो रहा है। इस ऐप में अभी भी सुधार की जरूरत है क्योंकि कई लोगों को स्लॉट नहीं मिल पा रहा है। आखिर कैसे आसान हो ये प्रॉसेस। oWIN पोर्टल प और क्या अपडेट होना चाहिए। इसके लिए टेक गुरु ज्ञान गुप्ता ने कुछ सुझाव तैयार किए जिसको धरातल पर लाया जाए तो वैक्सीनेशन के लिए स्लॉट  लेने में लोगों की परेशानियां  दूर हो सकती है साथ ही उन्होंने अहम टिप्स दी जिसके जरिए सरलता से आप एप पर स्लॉट ले सकते हैं देखिए वीडियो।

  • undefined

    TrendingMay 11, 2021, 8:15 PM IST

    कोरोना वैक्सीन: इन 6 स्टेप्स के जरिए जानें कोविड-19 वैक्सीन के साइड इफेक्ट्स, सरकार ने बताए

    कोरोना वायरस की दूसरी लहर देशभर के लोगों के लिए काफी खतरनाक साबित हो रही है। इसका लोगों पर बुरा असर देखने के लिए मिला। भारत इस समय वैक्सीन के तीसरे फेस से गुजर रहा है। सरकार ने हाल ही में 18 की उम्र से ज्यादा वाले लोगों को भी वैक्सीन लेने की परमिशन दे दी है। वैक्सीन ड्राइव जहां देशभर में अच्छे से घूमती वहीं कुछ लोग अब भी इसे लगवाने से हिचकिचा रहे हैं। बहुत से लोगों में इसके साइड इफेक्ट्स जैसे बुखार और सिर में दर्द देखे जा रहे हैं। वैक्सीन लगाने से इसमें डरने वाला ऐसा कुछ भी नहीं है, इस बात को बताने के लिए साइड इफेक्ट्स के सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय की ओर से 6 स्टेप्स बताए गए हैं, जिससे इस पर नजर रखा जा सकता है। आइए जानते हैं...

  • undefined

    TrendingMay 2, 2021, 11:52 AM IST

    क्या पीरियड्स के दौरान कोरोना वैक्सीन लगावाने से महिलाओं को होती है बड़ी समस्या, जानें क्या कहते हैं डॉक्टर्स

    ट्रेंडिंग डेस्क : कोरोना वायरस (Coronavirus) तेजी से पूरी दुनिया में फैल रहा है। रोजाना इससे लाखों लोग संक्रमित हो रहे हैं। फिलहाल इससे बचने का एकमात्र साधन वैक्सीनेशन ही लग रहा है। 1 मई से 18 साल से ज्यादा उम्र के लोगों को भी वैक्सीनेशन (COVID-19 vaccine) लगना शुरू हो गया है। लेकिन इसे लेकर लोगों के दिमाग में अब भी कई तरह के सवाल है। खासकर महिलाओं को लेकर भ्रम फैलाया जा रहा है, कि इसको लगवाने से मां बनने में दिक्कत आती है या पीरियड्स के दौरान वैक्सीन लगवाने से कई समस्याएं पैदा होती है, तो चलिए आज आपको बताते हैं, इसे लेकर डॉक्टर्स का क्या कहते हैं..

  • undefined

    RajasthanMay 1, 2021, 2:50 PM IST

    18 प्लस को लग रही वैक्सीन: जानिए वैक्सीनेशन से पहले और बाद में क्या खाएं और किन चीजों से करें परहेज


    मध्य प्रदेश/राजस्थान. देशभर में कोरोना का कहर जारी है, वायरस का असर खत्म करने के लिए आज यानि 1 मई से कई राज्यों में 18 साल से अधिक उम्र वालों के लिए वैक्सीनेशन शुरू हो गया। खासकर, राजस्थान, यूपी और महाराष्ट्र में युवा वैक्सीन का डोज लगवाने के लिए सेंटर पहुंचे हुए हैं। तो कई अपना नंबर आने के लिए बेसब्री से इंतजार कर रहा है। लेकिन क्या आपको पता है कि वैक्सीन लगवाने से पहले और बाद में किन-किन बातों का ख्याल रखना चाहिए। साथ ही डोज से पहले क्या खाना और क्या नहीं खाना चहिए। आइए जानते हैं क्या कहते हैं एक्सपर्ट्स...
     

  • <p>vaccine</p>
    Video Icon

    NationalMay 1, 2021, 6:20 AM IST

    1 मई से वैक्सीनेशन, जानें कैसे पता करें शरीर में काम रही है वैक्सीन या नहीं

    देशभर में 1 मई से 18 साल से अधिक उम्र के लोगों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके लिए 28 अप्रैल से ही रजिस्ट्रेशन शुरू हो गया है। कोरोना को हराने का सबसे प्रभावी तरीका है वैक्सीन। लेकिन महामारी के इस दौर में लोग वैक्सीन लगवाने से घबरा रहे हैं। साथ ही वैक्सीन से होने वाले साइड इफेक्ट को लेकर भी लोगों के मन में डर बैठ गया है। आइये 10 पॉइंट में समझते हैं वैक्सीन की पूरी प्रकिया।

  • undefined

    BollywoodMar 20, 2021, 1:16 PM IST

    ट्वीट करते-करते जोश आ गया और मैं निकल गया...आखिर 85 साल के धर्मेन्द्र को जोश क्यूं आ गया और वो कहां निकल पड़े

    देश में फिर से कोरोना वायरस का खतरा बढ़ता जा रहा है। महाराष्ट्र के बाद अब पंजाब, कर्नाटक, गुजरात, मध्य प्रदेश और दिल्ली में भी कोरोना के केस तेजी से बढ़ रहे हैं। इस वायरस के खिलाफ देश में टीकाकरण अभियान भी चल रहा है। इस बीच 85 साल के धर्मेंद्र ने कोरोना वैक्सीन की पहली डोज ली है। कोरोना का टीका लगवाने के बाद धर्मेंद्र ने अपने फैंस से भी वैक्सीन लगवाने की अपील की है। धर्मेंद्र ने ट्विटर वीडियो शेयर कर लिखा- ट्वीट करते-करते जोश आ गया और मैं निकल गया वैक्सीन लेने। उये कोई दिखावा नहीं है। मैं चाहता हूं कि आप सब भी कोरोना का टीका लगवाएं और खुद को सुरक्षित रखें।