Cryptocurrency  

(Search results - 14)
  • undefined

    BusinessMar 30, 2021, 10:21 AM IST

    यह कंपनी क्रिप्टोकरंसी से देने जा रही पेमेंट की इजाजत, जानें किस नेटवर्क पर शुरू होने वाली है सर्विस

    वीजा इंक (Visa) जल्द ही क्रिप्टोकरेंसी USD कॉइन से अपने पेमेंट नेटवर्क पर ट्रांजैक्शन्स की इजाजत देने जा रही है। USD कॉइन (USDC) एक स्टेबल कॉइन क्रिप्टोकरंसी है, जिसकी कीमत सीधे अमेरिकी डॉलर से जुड़ी रहती है।

  • बिजनेस डेस्क। भारत में क्रिप्टोकरंसी (cryptocurrency) को लेकर अनिश्चितता की स्थिति बनी हुई है। कुछ समय पहले केंद्र सरकार ने यह घोषणा की थी कि वह हर तरह की क्रिप्टोकरंसी पर पाबंदी लगाएगी। इसके अलावा, देश की अपनी डिजिटल करंसी लाने की बात कही गई थी। इस बीच, जानकारी मिली है कि केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) क्रिप्टोकरंसी में कारोबार करने वाली फर्मों और एक्सचेंज के इंटरनेट प्रोटोकॉल (IP) ऐड्रेस को ब्लॉक करने की योजना बना रही है। अगर यह फैसला लिया जाता है, तो आने वाले समय में केंद्र सरकार ऐसे सभी IP ऐड्रेस को ब्लॉक कर देगी, जिनके जरिए भारत में क्रिप्टोकरंसी का ट्रांजैक्शन हो रहा है। जानें इसके बारे में डिटेल्स। (फाइल फोटो)

    BusinessMar 22, 2021, 4:28 PM IST

    केंद्र सरकार Cryptocurrency को बैन करने के साथ एक्सचेंज IP ऐड्रेस को करेगी ब्लॉक, जानें डिटेल्स

    बिजनेस डेस्क। भारत में क्रिप्टोकरंसी (cryptocurrency) को लेकर अनिश्चितता की स्थिति बनी हुई है। कुछ समय पहले केंद्र सरकार ने यह घोषणा की थी कि वह हर तरह की क्रिप्टोकरंसी पर पाबंदी लगाएगी। इसके अलावा, देश की अपनी डिजिटल करंसी लाने की बात कही गई थी। इस बीच, जानकारी मिली है कि केंद्र की मोदी सरकार (Modi government) क्रिप्टोकरंसी में कारोबार करने वाली फर्मों और एक्सचेंज के इंटरनेट प्रोटोकॉल (IP) ऐड्रेस को ब्लॉक करने की योजना बना रही है। अगर यह फैसला लिया जाता है, तो आने वाले समय में केंद्र सरकार ऐसे सभी IP ऐड्रेस को ब्लॉक कर देगी, जिनके जरिए भारत में क्रिप्टोकरंसी का ट्रांजैक्शन हो रहा है। जानें इसके बारे में डिटेल्स।
    (फाइल फोटो)

  • undefined

    BusinessMar 15, 2021, 11:05 AM IST

    भारत में क्रिप्टोकरंसी हमेशा के लिए होगी बैन, सरकार बनाने जा रही है बेहद सख्त कानून

    भारत सरकार सभी तरह की क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) पर प्रतिबंध लगाने का प्रस्ताव लाने जा रही है। बता दें कि भारत में भी बिटकॉइन (Bitcoin) जैसी क्रिप्टोकरंसी में निवेश करने वालों की कमी नहीं है, जिसमें बहुत ज्यादा मुनाफा मिल रहा है। भारत सरकार क्रिप्टोकरंसी पर दुनिया का सबसे सख्त कानून लाने की योजना बना रही है।
     

  • बिजनेस डेस्क। दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की कीमतों में एक बार फिर तेजी आई है। पिछले बुधवार को इसमें 5 फीसदी का इजाफा हुआ और अब बिटकॉइन की कीमत 50,942.58 डॉलर हो गई है। यह पहले के भाव से 2,426.23 डॉलर ज्यादा है। हाल ही में बिटकॉइन की कीमतों में कमी आई थी। बता दें कि 8 फरवरी को इसका भाव 60 हजार डॉलर के करीब था, वहीं 28 फरवरी को यह अपने सबसे निचले स्तर पर आ गया था। (फाइल फोटो)

    BusinessMar 5, 2021, 7:50 AM IST

    Bitcoin में फिर आई तेजी, 50 हजार डॉलर के पार पहुंचा दाम, बढ़ रहा क्रिप्टोकरंसी में निवेश

    बिजनेस डेस्क। दुनिया की सबसे बड़ी क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की कीमतों में एक बार फिर तेजी आई है। पिछले बुधवार को इसमें 5 फीसदी का इजाफा हुआ और अब बिटकॉइन की कीमत 50,942.58 डॉलर हो गई है। यह पहले के भाव से 2,426.23 डॉलर ज्यादा है। हाल ही में बिटकॉइन की कीमतों में कमी आई थी। बता दें कि 8 फरवरी को इसका भाव 60 हजार डॉलर के करीब था, वहीं 28 फरवरी को यह अपने सबसे निचले स्तर पर आ गया था।
    (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। केंद्र सरकार क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) को बैन करने की योजना बना रही है। बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने 2018 में बिटकॉइन पर बैन लगा दिया था। बाद में सुप्रीम कोर्ट ने इस पर से प्रतिबंध खत्म कर दिया। इसके बाद लोगों को इस वर्चुअल करंसी में इन्वेस्टमेंट करने की छूट मिल गई। बिटकॉइन की बढ़ती कीमतों को देखते हुए पूरी दुनिया में इसमें निवेश बढ़ता जा रहा है। भारत में क्रिप्टोकरंसी के रेग्युलेशन के लिए कोई अथॉरिटी नहीं है। इस वजह से लोग अपने रिस्क पर ही इसमें निवेश करते हैं। अब सरकार अपनी वर्चुअल करंसी लाने की योजना पर काम कर रही है। (फाइल फोटो)

    BusinessFeb 15, 2021, 5:23 PM IST

    नया कानून आने के बाद में Bitcoin पर लग सकता है भारी टैक्स, अब पहले की तरह नहीं मिल सकेगा ज्यादा रिटर्न

    बिजनेस डेस्क। केंद्र सरकार क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) को बैन करने की योजना बना रही है। बता दें कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने 2018 में बिटकॉइन पर बैन लगा दिया था। बाद में सुप्रीम कोर्ट ने इस पर से प्रतिबंध खत्म कर दिया। इसके बाद लोगों को इस वर्चुअल करंसी में इन्वेस्टमेंट करने की छूट मिल गई। बिटकॉइन की बढ़ती कीमतों को देखते हुए पूरी दुनिया में इसमें निवेश बढ़ता जा रहा है। भारत में क्रिप्टोकरंसी के रेग्युलेशन के लिए कोई अथॉरिटी नहीं है। इस वजह से लोग अपने रिस्क पर ही इसमें निवेश करते हैं। अब सरकार अपनी वर्चुअल करंसी लाने की योजना पर काम कर रही है।
    (फाइल फोटो)

  • undefined

    BusinessFeb 10, 2021, 10:14 AM IST

    निर्मला सीतारमण ने कहा - सरकार क्रिप्टोकरंसी पर जारी रखेगी पाबंदी, सिर्फ सरकारी ई-करंसी को मिल सकती है छूट

    वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण (Finance Minister Nirmala Sitharaman) ने कहा है कि केंद्र सरकार सभी तरह की क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) पर पाबंदी के फैसले पर अडिग है। उन्होंने कहा कि सिर्फ सरकार की ओर से जारी की गई ई-करंसी (E-Currency) को मंजूरी दी जाएगी।

  • बिजनेस डेस्क। अब जमाना क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) का आ रहा है। यह एक डिजिटल करंसी होती है। अभी तक सबसे ज्यादा चर्चा में बिटकॉइन (Bitcoin) रही है। पिछले कुछ वर्षों के दौरान बिटकॉइन की कीमत बहुत बढ़ी है। इसमें बड़े पैमाने पर पूरी दुनिया में निवेश किया जा रहा है। वहीं, हाल में एक और क्रिप्टोकरंसी डॉजकॉइन (Dogecoin) की धूम मच रही है। पिछले कुछ दिनों से डॉजकॉइन लगातार सुर्खियों में है और इसकी कीमत रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। बता दें कि जब से दुनिया के सबसे अमीर शख्स और इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला (Tesla) के फाउंडर व सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) ने इसके बारे में ट्वीट किया है, इसकी चर्चा ज्यादा होने लगी है। एलन मस्क ने अपने ट्वीट में लिखा था -  ‘हू लेट द डॉज आउट।’ बता दें कि एलन मस्क ने एक हफ्ते के भीतर दूसरी बार इस क्रिप्टोकरंसी के बारे में जिक्र किया है। अब कहा जा रहा है कि डॉजकॉइन का मुकाबला बिटकॉइन से है और यह उसे पीछे छोड़ सकती है। (फाइल फोटो)

    BusinessFeb 9, 2021, 6:55 PM IST

    जानें क्या है Dogecoin, एलन मस्क के ट्वीट के बाद लगातार चर्चा में है यह क्रिप्टोकरंसी

    बिजनेस डेस्क। अब जमाना क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) का आ रहा है। यह एक डिजिटल करंसी होती है। अभी तक सबसे ज्यादा चर्चा में बिटकॉइन (Bitcoin) रही है। पिछले कुछ वर्षों के दौरान बिटकॉइन की कीमत बहुत बढ़ी है। इसमें बड़े पैमाने पर पूरी दुनिया में निवेश किया जा रहा है। वहीं, हाल में एक और क्रिप्टोकरंसी डॉजकॉइन (Dogecoin) की धूम मच रही है। पिछले कुछ दिनों से डॉजकॉइन लगातार सुर्खियों में है और इसकी कीमत रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई है। बता दें कि जब से दुनिया के सबसे अमीर शख्स और इलेक्ट्रिक कार कंपनी टेस्ला (Tesla) के फाउंडर व सीईओ एलन मस्क (Elon Musk) ने इसके बारे में ट्वीट किया है, इसकी चर्चा ज्यादा होने लगी है। एलन मस्क ने अपने ट्वीट में लिखा था -  ‘हू लेट द डॉज आउट।’ बता दें कि एलन मस्क ने एक हफ्ते के भीतर दूसरी बार इस क्रिप्टोकरंसी के बारे में जिक्र किया है। अब कहा जा रहा है कि डॉजकॉइन का मुकाबला बिटकॉइन से है और यह उसे पीछे छोड़ सकती है। (फाइल फोटो)

  • undefined

    BusinessFeb 9, 2021, 2:49 PM IST

    Tesla ने Bitcoin में किया 1.5 अरब डॉलर का निवेश, पेमेंट के लिए मंजूर की जाएगी क्रिप्टोकरंसी

    दुनिया की मशहूर और सबसे बड़ी इलेक्ट्रिक कार निर्माता कंपनी टेस्ला (Tesla) ने क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन में 1.5 अरब डॉलर का निवेश किया है।

  • बिजनेस डेस्क। पिछले सप्ताह क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन (Bitcoin) की कीमतों में भारी तेजी देखने को मिली थी। एक बिटकॉइन की कीमत 42 हजार डॉलर तक पहुंच गई थी। वहीं, अब सिर्फ 2 दिनों में ही इसकी कीमत में 21 फीसदी तक गिरावट आ गई है। इसे देखते हुए इस वर्चुअल करंसी में निवेश करने वालों का भरोसा डगमगाने लगा है। निवेशकों के मन में इस गिरावट से डर बैठ गया है। बता दें कि बिटकॉइन में निवेश को लेकर किसी तरह की कोई रेग्युलेटरी अथॉरिटी नहीं है। इसमें निवेश अपने रिस्क पर करना होता है। बिटकॉइन में आई इतनी तेज गिरावट से इसमें निवेश करने वालों के मन में यह चिंता बैठ गई है कि कहीं उनका पैसा डूब तो नहीं जाएगा। बता दें कि मार्च 2020 के बाद बिटकॉइन की कीमतों में यह सबसे बड़ी गिरावट आई है। (फाइल फोटो)

    BusinessJan 12, 2021, 10:12 AM IST

    बिटकॉइन में इन्वेस्टमेंट से हो सकता है नुकसान, भारी तेजी के बाद 2 दिन में ही कीमत में आई 21 फीसदी की गिरावट

    बिजनेस डेस्क। पिछले सप्ताह क्रिप्टोकरंसी बिटकॉइन (Bitcoin) की कीमतों में भारी तेजी देखने को मिली थी। एक बिटकॉइन की कीमत 42 हजार डॉलर तक पहुंच गई थी। वहीं, अब सिर्फ 2 दिनों में ही इसकी कीमत में 21 फीसदी तक गिरावट आ गई है। इसे देखते हुए इस वर्चुअल करंसी में निवेश करने वालों का भरोसा डगमगाने लगा है। निवेशकों के मन में इस गिरावट से डर बैठ गया है। बता दें कि बिटकॉइन में निवेश को लेकर किसी तरह की कोई रेग्युलेटरी अथॉरिटी नहीं है। इसमें निवेश अपने रिस्क पर करना होता है। बिटकॉइन में आई इतनी तेज गिरावट से इसमें निवेश करने वालों के मन में यह चिंता बैठ गई है कि कहीं उनका पैसा डूब तो नहीं जाएगा। बता दें कि मार्च 2020 के बाद बिटकॉइन की कीमतों में यह सबसे बड़ी गिरावट आई है।
    (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की तरफ दुनियाभर के निवेशकों का झुकाव तेजी से बढ़ता जा रहा है। दरअसल, इसमें बहुत ज्यादा रिटर्न मिल रहा है। इतना ज्यादा रिटर्न गोल्ड या दूसरे किसी भी निवेश में नहीं मिल सकता। पिछले 5 साल में बिटकॉइन में करीब  9213 फीसदी का रिटर्न मिला है। इसका मतलब है कि आज से 5 साल किसी ने बिटकॉइन में अगर 1 लाख रुपए का निवेश किया होगा, तो अब वह राशि करीब 93 लाख रुपए हो गई है। बिटकॉइन में निवेश करने वाले 5 साल में ही करोड़पति बन गए हैं। बता दें कि बिटकॉइन की कीमत लगातार बढ़ती जा रही है। जानें बिटकॉइन में कैसे बढ़ता जा रहा है निवेश और कितना मिल रहा है रिटर्न। (फाइल फोटो)

    BusinessJan 7, 2021, 2:11 PM IST

    Cryptocurrency ने किया मालामाल : 5 साल में 1 लाख Bitcoin हुआ 93 लाख, मिला 9213 फीसदी रिटर्न

    बिजनेस डेस्क। क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की तरफ दुनियाभर के निवेशकों का झुकाव तेजी से बढ़ता जा रहा है। दरअसल, इसमें बहुत ज्यादा रिटर्न मिल रहा है। इतना ज्यादा रिटर्न गोल्ड या दूसरे किसी भी निवेश में नहीं मिल सकता। पिछले 5 साल में बिटकॉइन में करीब  9213 फीसदी का रिटर्न मिला है। इसका मतलब है कि आज से 5 साल किसी ने बिटकॉइन में अगर 1 लाख रुपए का निवेश किया होगा, तो अब वह राशि करीब 93 लाख रुपए हो गई है। बिटकॉइन में निवेश करने वाले 5 साल में ही करोड़पति बन गए हैं। बता दें कि बिटकॉइन की कीमत लगातार बढ़ती जा रही है। जानें बिटकॉइन में कैसे बढ़ता जा रहा है निवेश और कितना मिल रहा है रिटर्न।
    (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। भारतीय यूजर्स के क्रेडिट-डेबिट कार्ड (Credit-Debit Card) का डेटा चोरी होने और उसे डार्क वेब (Dark Web) पर बेचे जाने की खबरें आई हैं। एक साइबर सिक्युरिटी (Cyber Security) रिसर्चर ने यह दावा किया है कि देश के करीब 10 करोड़ डेबिट-क्रेडिट कार्ड धारकों का डेटा डार्क वेब पर बेचा जा रहा है। ज्यादातर डेटा बेंगलुरु स्थित डिजिटल पेमेंट्स गेटवे जसपे (Juspay) के सर्वर से लीक हुआ है। बता दें कि दिसंबर 2020 में भी देश के 70 लाख से ज्यादा यूजर्स के क्रेडिट और डेबिट कार्ड का डेटा चोरी हुआ था। (फाइल फोटो)

    BusinessJan 4, 2021, 1:51 PM IST

    भारत के 10 करोड़ यूजर्स का डेटा हुआ चोरी, डार्क वेब पर बिक रही है डेबिट और क्रेडिट कार्ड की जानकारी

    बिजनेस डेस्क। भारतीय यूजर्स के क्रेडिट-डेबिट कार्ड (Credit-Debit Card) का डेटा चोरी होने और उसे डार्क वेब (Dark Web) पर बेचे जाने की खबरें आई हैं। एक साइबर सिक्युरिटी (Cyber Security) रिसर्चर ने यह दावा किया है कि देश के करीब 10 करोड़ डेबिट-क्रेडिट कार्ड धारकों का डेटा डार्क वेब पर बेचा जा रहा है। ज्यादातर डेटा बेंगलुरु स्थित डिजिटल पेमेंट्स गेटवे जसपे (Juspay) के सर्वर से लीक हुआ है। बता दें कि दिसंबर 2020 में भी देश के 70 लाख से ज्यादा यूजर्स के क्रेडिट और डेबिट कार्ड का डेटा चोरी हुआ था।
    (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। दुनिया में सबसे ज्यादा प्रचलित क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की कीमत में बड़ा उछाल आया है। शनिवार 2 जनवरी को इसकी कीमत में 6 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई और 1 बिटकॉइन की कीमत 30 हजार डॉलर के पार पहुंच गई। बिटकॉइन की कीमत 31 हजार डॉलर के आंकड़े तक पहुंच गई, लेकिन बाजार में गिरावट आने की वजह से बाद में यह 30,800 डॉलर की कीमत पर आ गया। बता दें कि दिसंबर 2020 में बिटकॉइन ने 50 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की थी और इसकी कीमत 20 हजार डॉलर पार कर गई थी। बिटकॉइन में होने वाले भारी मुनाफे को देखते हुए इसमें निवेश बढ़ता जा रहा है।  (फाइल फोटो)

    BusinessJan 3, 2021, 11:22 AM IST

    30 हजार डॉलर पर पहुंची 1 बिटकॉइन की कीमत, भारी मुनाफे को देख तेजी से बढ़ रहा है इसमें निवेश

    बिजनेस डेस्क। दुनिया में सबसे ज्यादा प्रचलित क्रिप्टोकरंसी (Cryptocurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की कीमत में बड़ा उछाल आया है। शनिवार 2 जनवरी को इसकी कीमत में 6 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई और 1 बिटकॉइन की कीमत 30 हजार डॉलर के पार पहुंच गई। बिटकॉइन की कीमत 31 हजार डॉलर के आंकड़े तक पहुंच गई, लेकिन बाजार में गिरावट आने की वजह से बाद में यह 30,800 डॉलर की कीमत पर आ गया। बता दें कि दिसंबर 2020 में बिटकॉइन ने 50 फीसदी की बढ़ोत्तरी दर्ज की थी और इसकी कीमत 20 हजार डॉलर पार कर गई थी। बिटकॉइन में होने वाले भारी मुनाफे को देखते हुए इसमें निवेश बढ़ता जा रहा है। 
    (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। क्रिप्टोकरेंसी (CryptoCurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की तरफ निवेशकों का झुकाव बढ़ता जा रहा है। जो लोग रातोंरात करोड़पति बनना चाहते हैं, उनके लिए इस क्रिप्टोकरंसी में निवेश कारगर साबित हो रहा है। इसकी वजह यह है कि हाल ही में बिटकॉइन ने एक बार फिर सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। इस डिजिटल करंसी ने 26,900 डॉलर का नया ऑलटाइम हाई बनाया है। इससे तत्काल मुनाफे के लिए निवेशक इसकी तरफ रुख कर रहे हैं। क्रिप्टोकरंसी में आई इस तेजी से एक बिटकॉइन की कीमत करीब 19.90 लाख रुपए हो गई है। (फाइल फोटो)

    BusinessDec 28, 2020, 9:06 AM IST

    एक Bitcoin की कीमत पहुंची 20 लाख रुपए के करीब, रातोंरात करोड़पति बना रहा है क्रिप्टोकरंसी में निवेश

    बिजनेस डेस्क। क्रिप्टोकरेंसी (CryptoCurrency) बिटकॉइन (Bitcoin) की तरफ निवेशकों का झुकाव बढ़ता जा रहा है। जो लोग रातोंरात करोड़पति बनना चाहते हैं, उनके लिए इस क्रिप्टोकरंसी में निवेश कारगर साबित हो रहा है। इसकी वजह यह है कि हाल ही में बिटकॉइन ने एक बार फिर सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं। इस डिजिटल करंसी ने 26,900 डॉलर का नया ऑलटाइम हाई बनाया है। इससे तत्काल मुनाफे के लिए निवेशक इसकी तरफ रुख कर रहे हैं। क्रिप्टोकरंसी में आई इस तेजी से एक बिटकॉइन की कीमत करीब 19.90 लाख रुपए हो गई है।
    (फाइल फोटो)

  • undefined

    TechMar 4, 2020, 1:41 PM IST

    क्रिप्टोकरेंसी पर पर सुप्रीम कोर्ट का बड़ा फैसला, अब भारत में होगा Bitcoin का इस्तेमाल

    सुप्रीम कोर्ट ने बुधवार को भारतीय रिजर्व बैंक के 2018 के एक परिपत्र को चुनौती देने वाली याचिकाओं को स्वीकार कर लिया, जिसमें बैंकों और वित्तीय संस्थानों पर क्रिप्टोकरेंसी से संबंधित सेवाएं मुहैया करने पर रोक लगाई गई थी