Death From Corona In Up  

(Search results - 6)
  • <p><b>लखनऊ</b><strong>&nbsp;(Uttar Pradesh) ।</strong> &nbsp;यूपी में कोरोना संक्रमण फैलने की रफ्तार&nbsp;और ज्यादा तेज हो गई है। पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 536 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 20 मरीजों की मौत हुई है। इस तरह कोरोना के केस की संख्या 12616 हो गई है, जबकि मरने वालों की कुल संख्या अब 365 पहुंच गई है। वहीं, अब तक 7609 लोग ठीक हो चुके हैं। दूसरी ओर योगी सरकार ने आज 10 लाख 48 हजार 166 प्रवासी मजदूरों के बैंक अकाउंट में एक-एक हजार रुपए भेज दिया है। यह धनराशि &nbsp;मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर &nbsp;लाभार्थियों को पैसा भेजा है। &nbsp;&nbsp;</p>

    Uttar PradeshJun 13, 2020, 11:57 AM IST

    24 घंटे में 20 लोगों की कोरोना से मौत, CM योगी ने 10 लाख प्रवासी मजदूरों के बैंक खातों में भेजे 1-1 हजार

    लखनऊ (Uttar Pradesh) ।  यूपी में कोरोना संक्रमण फैलने की रफ्तार और ज्यादा तेज हो गई है। पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 536 नए मामले सामने आए हैं, जबकि 20 मरीजों की मौत हुई है। इस तरह कोरोना के केस की संख्या 12616 हो गई है, जबकि मरने वालों की कुल संख्या अब 365 पहुंच गई है। वहीं, अब तक 7609 लोग ठीक हो चुके हैं। दूसरी ओर योगी सरकार ने आज 10 लाख 48 हजार 166 प्रवासी मजदूरों के बैंक अकाउंट में एक-एक हजार रुपए भेज दिया है। यह धनराशि  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने डायरेक्ट बैंक ट्रांसफर  लाभार्थियों को पैसा भेजा है।   

  • undefined

    Uttar PradeshApr 4, 2020, 7:02 PM IST

    यूपी का पहला सैनेटाइजर टनल तैयार, 30 सेकेंड में हो जाएंगे सिर से लेकर पांव तक सैनेटाइज

    अधिकारियों का कहना है कि फल अथवा सब्जी मण्डी में प्रवेश करने वाला प्रत्येक व्यक्ति इस टनल से होकर गुजरेगा। यह सुनिश्चित करने के लिए पुलिस बल की तैनाती की जाएगी, ताकि सैनेटाइजेशन की प्रक्रिया का कड़ाई से पालना किया जा सके। इस टनल में सेंसर लगे हुए हैं, जिनसे फौव्वारे के रूप में सैनेटाइजर निकलता है। बता दें कि यह टनल प्रदेश का पहला है। अधिकारियों की मानें तो इसी तरह भीड़भाड़ वाले इलाके में जल्द ही टनल बनाया जा सकता है। 

  • undefined

    Uttar PradeshApr 4, 2020, 12:43 PM IST

    कोरोना के खिलाफ एक्शन में योगी, 86 लाख खातों में समय से पहले ही डाल दी पेंशन

    लखनऊ (Uttar Pradesh) । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने विभिन्न पेंशन योजनाओं के 86 लाख से अधिक लाभार्थियों के खातों में 871 करोड़ रुपए से अधिक की अग्रिम पेंशन राशि का ऑनलाइन ट्रांसफर किया है। इसमें वृद्धावस्था पेंशन, निराश्रित पेंशन, दिव्यांग पेंशन तथा कुष्ठावस्था पेंशन योजनाओं के 86 लाख 71 हजार 781 लाभार्थियों के खातों में 871.48 करोड़ रुपए की अग्रिम पेंशन राशि का ऑनलाइन ट्रांसफर जाना शामिल है। बता दें कि इस योजना के अन्तर्गत प्रत्येक लाभार्थी के खाते में वित्तीय वर्ष के प्रथम दो माह की एकमुश्त पेंशन अंतरित की गई है। सीएम ने इस दौरान वीडियो कान्फ्रेंसिंग के माध्यम से कुछ जिलों के लाभार्थियों से उनकी कुशलक्षेम पूछी तथा पेंशन के संबंध में जानकारी भी प्राप्त किया। सीएम ने पांच अप्रैल की रात नौ बजे प्रत्येक प्रदेवासियों से नौ मिनट के लिए लाइट बंद कर दीपक, टॉर्च, मोमबत्ती या मोबाइल फ्लैश लाइट जलाने की अपील भी की।  
     

  • undefined

    Uttar PradeshApr 2, 2020, 6:47 PM IST

    कोरोना के संदिग्ध मरीज ने आइसोलेशन वार्ड में किया सुसाइड, लॉक डाउन में दिल्ली से आया था घर


    जिलाधिकारी जसजीत कौर ने मीडिया से कहा कि जिला अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली। उसमें कोरोना वायरस के संक्रमण के लक्षण थे। अभी उसकी रिपोर्ट का इंतजार है। आगे की जांच जारी है। दावा किया कि लापरवाही बरतने के आरोपियों पर कठोर कार्रवाई होगी।  
     

  • undefined

    Uttar PradeshApr 2, 2020, 12:02 PM IST

    शी जिनपिंग हाजिर हों... और कोरोना की महामारी को लेकर UP में चीनी प्रेसिडेंट पर केस, ये हैं गंभीर आरोप

    अधिकारी ने कहा कि यह मुद्दा अंतर्राष्ट्रीय मामले से जुड़ा है। हम इस तरह की शिकायतों के आधार पर आगे नहीं बढ़ सकते हैं। नेपाल के कई प्रवासियों ने भी इस तरह की स्थिति पैदा करने के लिए चीनी राष्ट्रपति के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है।

  • undefined

    Uttar PradeshMar 31, 2020, 8:55 AM IST

    गर्म पानी और स्पेशल डाइट से 10 दिन में ठीक हुए कोरोना के 3 मरीज, जानिए कैसे हुआ उपचार

    ग्रेटर नोएडा (Uttar Pradesh)। देशभर में कोरोना वायरस की दहशत है। डॉक्टर दवा और इलाज नहीं होने की दुहाई दे रहे हैं। सरकार ने भी लॉक डाउन कर दिया है, जिससे लोग अपने ही घरों में कैद नजर आ रहे हैं। लेकिन, राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) इससे इत्तेफाक नहीं रखता। महज 10 दिन में कोरोना के मरीजों को पूरी तरह से स्वस्थ कर दिया। बड़ी बात न कोई खास दवा दी और न ही वेंटिलेटर या अन्य किसी मेडिकल इमरजेंसी की जरूरत पड़ी। जी हां बस गर्म पानी, स्पेशल डाइट और मोटिवेशन ने यह कमाल किया है। बता दें कि इस तरह के उपचार से दो दिन में तीन मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है।