Earthquake In India  

(Search results - 5)
  • undefined

    NationalJan 15, 2021, 10:11 AM IST

    87 साल पहले इन दो देशों में आया था ऐसा भूकंप कि जमीन फट गई थी, देखें 10 डरावनी तस्वीरें

    ये तस्वीरें भूकंप के इतिहास का एक डरावना मंजर हैं। करीब 87 साल पहले 15 जनवरी, 1934 को भारत और नेपाल में 8.7 की तीव्रता वाला भूकंप आया था। इस भूकंप में इमारतें पत्तों की तरह भरभराकर गिर गई थीं। इस आपदा में 11000 से ज्यादा लोगों की मौत हो गई थी। यह भूकंप भारत और नेपाल के इतिहास का सबसे खतरनाक समय माना गया। भूकंप इतना भीषण था कि कई जगहों पर जमीन फट गई थी। गड्ढे बनकर पानी भर गया था। यही नहीं, भूकंप के बाद भीषण अकाल और महामारी फैल गई थी। आइए जानते हैं भूकंप से जुड़े फैक्ट्स...

  • <p>जम्मू-कश्मीर में मंगलवार की रात भूकंप के झटके महसूस किये गये। हालांकि महसूस किये गये भूकंप के झटके मध्यम तीव्रता के ही थे। मिली जानकारी के मुताबिक भूकंप की तीव्रता रेक्टर स्केल (Richter Scale) पैमाने पर 3.6 थी</p>

    NationalNov 8, 2020, 7:47 PM IST

    भूकंप: जम्मू-कश्मीर में फिर महसूस किए गए भूकंप के झटके, 4.0 रही भूकंप की तीव्रता

    केंद्र शासित प्रदेश जम्मू कश्मीर में रविवार शाम करीब 7 बजे भूकंप के झटके महसूस किए गए हैं। न्यूज एजेंसी एएनआई से मिली जानकारी के अनुसार फिलहाल राज्य में किसी नुकसान की खबर नहीं है। नेशनल सेंटर फॉर सीस्मोलॉजी के मुताबिक, राज्य में रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.0 रही। 

  • undefined

    HaryanaJun 19, 2020, 10:40 AM IST

    जब-जब धरती हिली है, कहीं बर्बादी छोड़ गई, तो कहीं दिलों में डर, देखिए विनाशकारी भूकंप की कुछ पुरानी तस्वीरें

    चंडीगढ़. जब-जब धरती हिलती है, लोगों के दिलो-दिमाग को झटका लगता है। उत्तरभारत में शुक्रवार सुबह फिर से भूकंप के झटके महसूस किए गए। दिल्ली-एनसीआर के बाद हरियाणा में 2.3 की तीव्रता का भूकंप आया। ये झटके हरियाणा के रोहतक और आसपास आए। इसका समय सुबह करीब 5.30 बजे था। नेशनल सेंटर फॉर सिस्मोलॉजी के वैज्ञानिकों ने बताया कि भूकंप का केंद्र रोहतक जिले से 15 किलोमीटर दूर था। गुरुवार को मिजोरम में 5.0 तीव्रता के झटके आए थे। दुनिया में अकसर भूकंप आते रहते हैं। लेकिन कुछ अपने पीछे विनाश छोड़ जाते हैं। 26 जनवरी, 2001 में गुजरात के भुज और कच्छ में आया भूकंप हो या अप्रैल 2015 में नेपाल में आया भूकंप..इन्होंने मानों पूरे देश को हिलाकर रख दिया था। आखिरी आंकड़े बताते हैं कि अकेले भुज और कच्छ में ही 12000 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं, नेपाल में अए भूकंप में 9000 से ज्यादा लोग मारे गए थे। भूकंप के दो मुख्य कारण हैं। पहला धरती के अंदर गैस का प्रवाह या भूस्खलन। जिन क्षेत्रों में भूगर्भीय गतिविधियां अधिक होती हैं, वहां के लोगों को भूकंपरोधी घरों का निर्माण कराना चाहिए। आइए दिखाते हैं दुनिया में आए कुछ विनाशकारी भूकंप के बाद की तस्वीरें, मकसद है कि मुसीबतों से डरे नहीं, डटकर खड़े रहें...
     

  • undefined

    NationalJun 14, 2020, 8:51 PM IST

    गुजरात में भूकंप के तेज झटके, 5.5 थी तीव्रता; दहशत में घरों से बाहर निकले लोग

     गुजरात में रविवार रात करीब 8:13 बजे भूकंप के तेज झटके महसूस किए गए हैं। भूकंप की तीव्रता रिक्टर स्केल पर 5.5 मापी गई है। दहशत में लोग घरों सेे बाहर निकल आए। हालांकि, किसी तरह के नुकसान की कोई खबर नहीं है।

  • earthquake in Pakistan kills 4, 76 injured, video viral
    Video Icon

    WorldSep 24, 2019, 6:08 PM IST

    PAK में 10 सेकंड की तबाही, दो फाड़ हुईं सड़कें, समा गईं कारें...वीडियो में दिखा तबाही का मंजर

    इस्लामाबाद. पाकिस्तान के कई हिस्सों में मंगलवार को भूकंप आया, जिसका असर खासकर पीओके, पंजाब और खैबर पख्तूनख्वा के इलाकों में दिखा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक भूकंप से चार लोगों की मौत हो गई, जबकि 76 से ज्यादा लोग घायल हैं। जियो न्यूज के मुताबिक इसमें एक महिला की भी मौत हुई है। यूएसजीएस के अनुसार, 6.3 तीव्रता वाले भूकंप का केंद्र जाटलान (पीओके) था। इस्लामाबाद, रावलपिंडी, मुर्री, झेलम, चारसद्दा, स्वात, खैबर, एबटाबाद, बाजौर, नौशेरा, मनसेरा, बत्तग्राम, तोरघर और कोहितान में झटके महसूस किए गए। शुरुआती रिपोर्ट के अनुसार मीरपुर में भूकंप के कारण लगभग 50 लोग घायल हो गए थे। डिप्टी कमिश्नर एजेके ने कहा कि अस्पतालों में इमरजेंसी लगा दी गई है।