Gandak  

(Search results - 6)
  • undefined

    Bihar12, Aug 2020, 1:58 PM

    वर्षों की मेहनत से बनाया मकान, चंद सेकेंड में बाढ़ की भेंट चढ़ गए सपने; डूब गया सबकुछ

    पेशे से राजमिस्त्री बिंदेश्वरी ने कई वर्षों तक मेहनत कर पक्का मकान बनाया था। वह अपने घर का दूसरा फ्लोर बना रहे थे तभी बाढ़ आ गई। मकान मही नदी के पास था। इस साल नदी की धारा बदली और मकान को अपनी चपेट में ले लिया। पानी की तेज धारा के चलते मकान के नींव के नीचे की मिट्टी कट गई थी। खतरे को देखते हुए घर में रह रहे सभी लोग दूसरी जगह शिफ्ट हो गए थे।

  • <p><strong>पटना (Bihar)&nbsp;।</strong> बिहार एक बार फिर बाढ़ की चपेट में है। इस बार बाढ़ 16 जिलों में है। वहीं, मरने वालों की संख्या 24 तक पहुंच गई है। आपदा प्रबंधन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक, 16 जिलों में 62,000 से ज्यादा लोगों के प्रभावित क्षेत्रों में पानी घुस गया, जिससे बाढ़ पीड़ितों की संख्या 75 लाख से अधिक हो गई। सालों से चली आ रही इस समस्या पर सरकार के तमाम दावों के बावजूद हालात वैसे ही हैं, जैसे हर साल रहते हैं। बात अगर 1979 से अब तक की करें तो बिहार हर साल बाढ़ से जूझ रहा है। बिहार सरकार के जल संसाधन विभाग के मुताबिक राज्य का 68,800 वर्ग किमी हर साल बाढ़ में डूब जाता है। आइए जानते हैं कि बिहार हर साल बाढ़ में क्यों डूब जाता है। साथ ही आज हम आपको सबसे ज्यादा खतरनाक साबित हुए 10 बाढ़ के बारे में बता रहे हैं।&nbsp;</p>

    Bihar12, Aug 2020, 12:52 PM

    बिहार में हर साल आती है है ये तबाही, जानें अब तक की 10 सबसे खौफनाक बाढ़

    पटना (Bihar) । बिहार एक बार फिर बाढ़ की चपेट में है। इस बार बाढ़ 16 जिलों में है। वहीं, मरने वालों की संख्या 24 तक पहुंच गई है। आपदा प्रबंधन विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक, 16 जिलों में 62,000 से ज्यादा लोगों के प्रभावित क्षेत्रों में पानी घुस गया, जिससे बाढ़ पीड़ितों की संख्या 75 लाख से अधिक हो गई। सालों से चली आ रही इस समस्या पर सरकार के तमाम दावों के बावजूद हालात वैसे ही हैं, जैसे हर साल रहते हैं। बात अगर 1979 से अब तक की करें तो बिहार हर साल बाढ़ से जूझ रहा है। बिहार सरकार के जल संसाधन विभाग के मुताबिक राज्य का 68,800 वर्ग किमी हर साल बाढ़ में डूब जाता है। आइए जानते हैं कि बिहार हर साल बाढ़ में क्यों डूब जाता है। साथ ही आज हम आपको सबसे ज्यादा खतरनाक साबित हुए 10 बाढ़ के बारे में बता रहे हैं। 

  • undefined

    Bihar10, Aug 2020, 3:09 PM

    नेपाल-मौसम-कोसी या गंगा, बिहार में हर साल की बाढ़ के लिए आखिर कौन है जिम्मेदार?

    बाढ़ प्रभावित क्षेत्रों से पांच लाख से ज्यादा लोगों को बाहर निकाला गया है। 1342 कम्युनिटी किचन चल रहे हैं और बड़ी संख्या में लोगों को अपना घरबार छोड़कर रिलीफ़ कैंपों में जाना पड़ा। मुश्किल यह है कि कई सालों से बार-बार हो रहा है।

  • <p>बिहार में उफनाती नदियों ने कहर ढा दिया है। बाढ़ से करीब 4 लाख लोग प्रभावित हुए हैं, &nbsp;वहीं करीब एक लाख परिवारों को बाढ़ से घर छोड़ना पड़ा है। बाढ़ की तबाही का सबसे खौफनाक मंजर बैकुंठपुर के चिउतहा में देखने को मिल रहा है जहां पक्की सड़कें बाढ़ में बुरी तरह ध्वस्त हो गयी हैं</p>

    Bihar8, Aug 2020, 9:18 PM

    बिहार में बाढ़ का कहर: लापता भाइयों का तीन दिन बाद मिला शव, नाव से राशन खरीदने गए थे बाजार

    बिहार में उफनाती नदियों ने कहर ढा दिया है। बाढ़ से करीब 4 लाख लोग प्रभावित हुए हैं,  वहीं करीब एक लाख परिवारों को बाढ़ से घर छोड़ना पड़ा है। बाढ़ की तबाही का सबसे खौफनाक मंजर बैकुंठपुर के चिउतहा में देखने को मिल रहा है जहां पक्की सड़कें बाढ़ में बुरी तरह ध्वस्त हो गयी हैं

  • undefined

    Bihar6, Aug 2020, 10:15 AM

    बाढ़ के पानी में डूबने से 26 लोगों की मौत, तेज आंधी के कारण नदी में डूबी नाव, 9 लोगों के मिले शव, 24 लापता

    सहरसा में नाव दुर्घटना में पांच तो दरभंगा में तीन लोगों की डूबने से मौत हो गई, जबकि अलग-अलग घटनाओं में पूर्वी चंपारण में छह, दरभंगा में तीन, छपरा और गोपालगंज में दो-दो, पश्चिम चंपारण, सीतामढ़ी, समस्तीपुर, पूर्णिया व किशनगंज में एक-एक व्यक्ति की मौत डूबने से हो गई। 

  • undefined

    Bihar5, Aug 2020, 1:05 PM

    तेज आंधी के कारण गंडक नदी में डूब गई नाव, 26 लोग लापता, अब तक सात लोगों के मिले शव


    बताते हैं नाव पर ज्यादातर महिलाएं और बच्चे सवार थे। इसी दौरान आंधी आ गई और नाव पलट गई। एसडीआरएफ की टीम मोटर बोट से नदी में लापता लोगों की तलाश कर रही है। लापता लोगों की तलाश में स्थानीय नाविकों की भी मदद ली जा रही है। हादसे में मारे गए लोगों के परिजन को चार-चार लाख रुपए का मुआवजा सरकार देगी।