India America  

(Search results - 38)
  • undefined

    NationalMay 24, 2021, 8:22 AM IST

    विदेशमंत्री जयशंकर 5 दिन के अमेरिकी दौरे पर, कोरोना वैक्सीन की खरीद पर रहेगा फोकस, US के पास है काफी स्टॉक

    कोरोना संकट के बीच भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर 24 से 28 मई तक अपने 5 दिवसीय दौरे पर अमेरिका में रहेंगे। वे न्यूयॉर्क पहुंच गए हैं। इस दौरे पर सबसे ज्यादा फोकस वैक्सीन खरीदी पर होगा। बता दें कि अमेरिका के पास एस्ट्राजेनेका, फाइजर, मार्डन और जॉनसन एंड जॉनसन का करीब 60 मिलियन अतिरिक्त स्टॉक है। अगर अमेरिका इसमें से कुछ हिस्सा देने को राजी हो जाता है, तो कोरोना के खिलाफ भारत को लड़ाई लड़ने में बड़ी कामयाबी मिलेगी।

  • undefined

    NationalApr 20, 2021, 11:46 AM IST

    वैक्सीनेशन से महामारी को जीतेंगे दुनिया के टॉप-2 कोरोना संक्रमित देश भारत और अमेरिका

    भारत में 1 मई से 18+ लोगों को वैक्सीनेशन लगना शुरू होगी। ऐसी उम्मीद है कि वैक्सीनेशन जैसे-जैसे स्पीड पकड़ेगा, कोरोना पर ब्रेक लगने लगेंगे। दुनिया में भारत और अमेरिका टॉप-2 देश हैं, जहां कोरोना महामारी ने सबसे अधिक संक्रमण फैलाया। खैर, अमेरिका में आधे व्यस्कों को वैक्सीन की कम से कम एक डोज लग चुकी है। वैक्सीनेशन ड्राइव के स्पीड पकड़ने का नतीजा है कि यूरोप से लॉकडाउन हटने लगा है। अमेरिका और भारत भी इसी उम्मीद से वैक्सीनेशन को और तेज करने में लगे हैं।

  • undefined
    Video Icon

    WorldNov 6, 2020, 10:18 AM IST

    एक्सपर्ट ने बताया जो बाइडेन बनते हैं अमेरिका के राष्ट्रपति तो भारत को होगा क्या फायदा

    वीडियो डेस्क। अमेरिका के राष्ट्रपति पद के चुनाव (US Elections Result) के लिए मतगणना जारी है। डेमोक्रेट उम्मीदवार जो बाइडेन (Joe Biden) बहुमत के आंकड़े के काफी नजदीक हैं और ट्रंप उनके काफी पीछे चल रहे हैं। बाइडेन 264 वोटों के साथ डोनाल्ड ट्रंप (Donald Trump) से आगे चल रहे हैं जिन्हें सिर्फ 214 इलेक्टोरल वोट मिले हैं। विदेश मामलों के जानकार अभिषेक खरे ने बताया कि अगर जो बाइडेन बनते हैं अमेरिका के राष्ट्रपति तो भारत को क्या फायदा होगा क्या नुकसान होगा। 

    कौन हैं जो बाइडेन?
    जो बाइडन का पूरा नाम जोसेफ रॉबिनेट बाइडन जूनियर है। इनका जन्म साल 1942 में पेन्सिलवेनिया राज्य के स्क्रैंटन में हुआ था। बाइडन ने डेलावेयर यूनिवर्सिटी से पढ़ाई करने के बाद सिरैक्यूजयूनिवर्सिटी से लॉ की पढ़ाई की। वह 1970 में न्यू कैसल काउंटी से पार्षद चुने गए। वे ओबामा के कार्यकाल, 2008 से लेकर 2016 तक दो बार उपराष्ट्रपति रहे। अगर वह इस बार राष्ट्रपति चुनाव जीत जाते हैं तो वह 78 साल की उम्र में अमेरिका के सबसे उम्रदराज राष्ट्रपति होंगे। 

  • undefined

    HatkeNov 4, 2020, 11:58 AM IST

    सर्वे में खुलासा: अमेरिका से बेइंतहा नफरत करते हैं दुनिया के ये देश, 9वें नाम को पढ़कर कोई नहीं कर पाएगा यकीन

    हटके डेस्क: अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव हो रहे हैं। ट्रंप आगे भी देश को कंट्रोल करेंगे या सत्ता बदलेगी, इसे लेकर लोगों में काफी एक्साइटमेंट है। अमेरिका को दुनिया के सबसे शक्तिशाली देशों में गिना जाता है। लेकिन कहते हैं ना कि सिर्फ शक्तिशाली होना ही काफी नहीं होता। हाल ही में पीईडब्ल्यू रिसर्च सेंटर (Pew Research Center) की एक रिसर्च में सामने आया कि दुनिया के कई देश हैं जो अमेरिका से बेइंतहा नफरत करते हैं। इसमें कई देशों का मानना है कि अमेरिका कोई स्पेशल देश नहीं है। आज हम आपको बताने जा रहे हैं इस लिस्ट में शामिल उन देशों के बारे में जो करते हैं अमेरिका से नफरत। साथ ही क्या इस लिस्ट में भारत भी शामिल है... 

  • <p>Mike Pompeo</p>

    WorldOct 31, 2020, 5:17 AM IST

    अमेरिकी विदेश मंत्री ने वियतनाम दौरे के साथ एशिया में चीन विरोधी यात्रा समाप्त की , चीन को दिया सख्त संदेश

    अगले महीने नवंबर में अमेरिका में आम चुनाव होना है। अमेरिकी चुनाव से ठीक पहले अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो अपने वियतनाम दौरे के साथ ही एशिया में चीन विरोधी यात्रा खत्म कर रहे हैं। बता दें कि उन्होंने भारत, श्रीलंका, मालदीव और इंडोनेशिया में भी चीन विरोधी रुख को लेकर ट्रंप प्रशासन की चिंताएं सभी के सामने रखीं हैं। वियतनाम में पोम्पियो ने दक्षिण सागर में चीन के समुद्री दावों को एक बार पूरी तरह से खारिज कर दिया है।

  • <p>हालांकि, रिपोर्ट्स में विश्लेषकों के अनुसार कहा जा रहा है कि आपाधापी की जरूरत नहीं है, क्योंकि अफ्रीका में काम या मदद के लिए दोनों देशों के पास बराबर मौका है, लेकिन इसकी रणनीति क्या होती है ये मायने रखती है। हालांकि, भारत जिस रणनीति से काम कर रहा है, उससे स्पष्ट है कि वो आने वाले समय में अफ्रीकी देशों में अधिक प्रभावशाली होगा।&nbsp;</p>

    WorldOct 31, 2020, 2:29 AM IST

    UNSC एजेंडे पर भारत-अमेरिका मिलकर करेंगे काम, दोनों ने आपसी सहयोग पर जताई सहमति

    इस साल की शुरुआत में ही मेक्सिको और आयरलैंड के साथ भारत को दो साल तक संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद (यूएनएससी) का अस्थायी सदस्य चुने जाने के बाद उसने अमेरिका से व्यापक वार्ता की। भारत ने हाल ही में आयोजित टू प्लस टू वार्ता के तहत लोकतंत्र, बहुलतावाद और नियम आधारित अंतरराष्ट्रीय व्यवस्था के साझा मूल्यों को देखते हुए अमेरिका के साथ मिलकर काम करने पर सहमति जताई।

  • undefined

    WorldOct 30, 2020, 3:28 PM IST

    ट्यूनीशिया का था फ्रांस में हमला करने वाला आतंकी, पकड़े जाने से पहले अल्लाह-हू-अकबर का लगा रहा था नारा

    फ्रांस के नीस शहर में गुरुवार को आतंकी हमले में 3 लोगों की मौत हो गई थी। बताया जा रहा है कि आतंकी ट्यूनीशिया का नागरिक था। वह इटली से फ्रांस पहुंचा था। आरोपी की उम्र 20 साल है। नीस के मेयर क्रिस्टियन एट्रोसी के मुताबिक, आतंकी पकड़े जाने के बाद अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगा रहा था। 

  • undefined

    NationalOct 29, 2020, 7:37 PM IST

    'टू प्लस टू' वार्ता में भारत-अमेरिका के बीच हुए समझौतों पर विदेश मंत्रालय ने दी जानकारी, कहा - सफल रही वार्ता

    लद्दाख में चीन के साथ जारी सीमा विवाद के बीच भारत और अमेरिका के बीच टू प्लस टू' मंत्री स्तरीय बैठक हुई। इस बैठक के दौरान दोनों देशों के विदेश मंत्री और रक्षा मंत्री ने हिंद - प्रशांत क्षेत्र समेत कईं महत्वपूर्ण समझौतों पर हस्ताक्षर किए हैं। इसी को लेकर गुरूवार को भारतीय विदेश मंत्रालय ने विभिन्न समझौतों को लेकर जानकारी दी है। विदेश मंत्रालय प्रवक्ता अनुराग श्रीवास्तव ने एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बताया कि भारत और अमेरिका के बीच हुई टू प्लस टू मंत्री स्तरीय बैठक सफल रही है। 

  • undefined

    NationalOct 27, 2020, 7:59 AM IST

    US विदेश मंत्री पोम्पियो बोले- गलवान में जिन 20 सैनिकों को चीन ने मारा, उन्हें श्रद्धांजलि, हम भारत के साथ

    भारत और अमेरिका के बीच आज दिल्ली के हैदराबाद हाउस में 2+2 बैठक हुई। इसमें रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह, विदेश मंत्री एस. जयशंकर, अमेरिकी विदेश मंत्री माइक पोम्पियो और अमेरिकी रक्षा सचिव मार्क एस्पर शामिल हुए। इस दौरान दोनों देशों के बीच अहम रक्षा समझौते BECA पर हस्ताक्षर हुए।

  • <p><strong>&nbsp;জো বিডনের সঙ্গে বিকর্তে অংশ নেওয়ার জন্য হিকস ট্রাম্পের সঙ্গে ক্লিভল্যান্ডে গিয়েছিলেন। ট্রাম্পের ব্যক্তিগত মেরিন ওয়ান হেলিকপ্টারে তাঁরা ভ্রমণ করেছিলেন।&nbsp;</strong></p>

    WorldOct 22, 2020, 10:07 PM IST

    अमेरिका: डोनाल्ड ट्रंप और जो बिडेन में हुई तीसरी आखिरी बहस, दोनों ने फिर भारतीय-अमेरिकीयों को लुभाया

    रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप और डेमोक्रेटिक पार्टी के उनके प्रतिद्वंद्वी जो बिडेन के बीच गुरूवार कोआखिरी बहस आज टेनेसी के नैशविले में बेलमोंट यूनिवर्सिटी में हुई। बता दें कि पिछले डिबेट में दोनों ही पार्टी के उम्मीदवारों ने भारतीय-अमेरिकी वोटर्स को लुभाने की कोशिस की थी। और यही उन्होंने इस आखिरी डिबेट के दौरान भी किया। दोनों नेताओं के बीच तीसरी और आखिरी बहस को ‘एनबीसी न्यूज’की रिपोर्टर क्रिस्टन वेलकर ने होस्ट किया।

  • <p>हालांकि, रिपोर्ट्स में विश्लेषकों के अनुसार कहा जा रहा है कि आपाधापी की जरूरत नहीं है, क्योंकि अफ्रीका में काम या मदद के लिए दोनों देशों के पास बराबर मौका है, लेकिन इसकी रणनीति क्या होती है ये मायने रखती है। हालांकि, भारत जिस रणनीति से काम कर रहा है, उससे स्पष्ट है कि वो आने वाले समय में अफ्रीकी देशों में अधिक प्रभावशाली होगा।&nbsp;</p>

    WorldOct 21, 2020, 4:36 AM IST

    अमेरिका दौरे से लौटे भारतीय सेना के उप प्रमुख जनरल एसके सैनी, दोनों देश और बढ़ाएंगे आपसी सहयोग

    उप भारतीय सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल एस.के. सैनी मंगलवार को चार दिवसीय अमेरिका दौरा पूरा कर भारत लौट आएं हैं। अमेरिका दौरे से आए उप प्रमुख ने अमेरिकी सैन्य अधिकारियों के साथ कईं बैठकें की। इसके साथ ही उन्होंने दोनों देशों की सेनाओं के बीच तालमेल बेहतर करने और सैन्य सहयोग को बढ़ाने के मुद्दों पर भी चर्चा की। भारत-चीन सीमा विवाद के बीच भारत और अमेरिका के शीर्ष सैन्य अधिकारियों के बीच हुई इन बैठकों को रणनीतिक रूप से काफी अहम माना जा रहा है। सैनी 17 अक्टूबर को अमेरिका गए थे। 

  • <p><strong>বর্তমানে &nbsp;বিশ্বের তাবড় মোবাইল সংস্থাগুলি একের পর এক বাণিজ্য প্রস্তাব ভারতকে দিচ্ছে । স্যামসং ও অ্যাপেলের তরফে ৩৫০ বিলিয়ন ডলার মূল্যের মোবাইল প্রস্তুতির হিসাব দেওয়া হয়েছে। যে প্রস্তাবও ভারতের কাছে গুরুত্বপূর্ণ। কেন্দ্রীয় মন্ত্রী রবিশঙ্কর প্রসাদের দাবি, এর প্রেক্ষিতে ভারতের বাণিজ্যের উন্নতি যেমন হবে, তেমনই বোঝা যাচ্ছে যে বিশ্বের তাবড় সংস্থার মানুষের আস্থা রয়েছে ভারতের ওপর।</strong></p>

    WorldOct 17, 2020, 4:07 AM IST

    अमेरिका से और सैन्य सहयोग बढ़ाएगा भारत, चार दिवसीय अमेरिका दौरे पर जाएंगे उप सेना प्रमुख सैनी

    उप भारतीय सेना प्रमुख लेफ्टिनेंट जनरल एस.के. सैनी शनिवार को अमेरिका के दौरे जाएंगे। सैनी का यह दौरा चार दिन का होगा। सूत्रों के मुताबिक, उनके इस दौरे में भारत और अमेरिका के बीच सैन्य सहयोग को मजबूती देने के मुद्दे पर चर्चा होगी। लेफ्टिनेंट जनरल सैनी अमेरिकी सेना के प्रशांत कमान और हिंद-प्रशांत कमान के सैन्य क्षेत्रों में जाएंगे।

  • <p>हिंद-प्रशांत क्षेत्र में चीन के बढ़ते प्रभाव को घेरने के मकसद से चतुष्कोणीय गठबंधन देश (क्वाड) के विदेश मंत्री छह अक्तूबर को जापान के टोक्यो शहर में कूटनीतिक वार्ता करेंगे। क्वाड देशों में भारत, जापान, अमेरिका और ऑस्ट्रेलिया शामिल हैं</p>

    WorldOct 6, 2020, 10:03 AM IST

    क्वाड बैठक से पहले अमेरिकी विदेश मंत्री पोंपियो से टोक्यो में द्विपक्षीय वार्ता करेंगे भारतीय विदेश मंत्री

    हिंद प्रशांत क्षेत्र (Indo-Pacific region) में चीन के बढ़ते प्रभाव को घेरने के लिए अमेरिका चतुष्कोणीय गठबंधन (QUAD) के तहत अपने साथियों- भारत, जापान और ऑस्ट्रेलिया को साथ लाना चाहता है। इसी को लेकर चारों देशों के विदेश मंत्री मंगलवार 6 अक्टूबर को जापान के टोक्यो शहर में वार्ता करेंगे। इस बैठक में हिंद प्रशांत क्षेत्र में शांति, सुरक्षा, स्थिरता और समृद्धि को बढ़ाने के तरीकों पर बात होगी। भारतीय विदेश मंत्रालय के मुताबिक, इस वार्ता से पहले विदेश मंत्री एस जयशंकर अमेरिका के विदेश मंत्री माइक पोंपियों के साथ एक द्विपक्षीय वार्ता में भाग लेंगे। अमेरिका इस गठबंधन में वियतनाम, साउथ कोरिया और न्यूजीलैंड को भी शामिल करना चाहता है।

  • <p>ಈ&nbsp;ಮೂಲಕ ಅಮೆರಿಕದಲ್ಲಿ ಟಿಕ್‌ಟಾಕ್‌ ಉದ್ಯಮವನ್ನು ಮಾರಾಟ ಮಾಡುವ ಪ್ರಸ್ತಾಪಕ್ಕೆ ಚೀನಾದ ಬೈಟ್‌ ಡ್ಯಾನ್ಸ್‌ ಎಳ್ಳು ನೀರು ಬಿಟ್ಟಿದೆ.&nbsp;</p>

    NationalSep 18, 2020, 7:15 PM IST

    भारत के बाद अमेरिका में भी लगेगा Tiktok और WeChat पर प्रतिबंध, 20 सितंबर से होंगे बंद

    अमेरिकी न्यूज़ एजेंसी एएफपी के मुताबिक, अमेरिका रविवार से TikTok और WeChat एप्लीकेशन पर प्रतिबंध लगाने जा रहा है। एजेंसी के अनुसार इसको लेकर ट्रंप सरकार जल्द आदेश जारी करने वाली है।
     

  • undefined
    Video Icon

    WorldAug 23, 2020, 1:56 PM IST

    करोड़ों लोगों को मौत की नींद सुलाने वाली 6 बीमारियां

    कोरोनावायरस से इस समय पूरी दुनिया में तबाही मची हुई है. दुनिया की सरकारें इसकी वैक्सीन खोजने में लगी हुई हैं ताकि जल्द से जल्द इस पर लगाम लगाई जा सके. लेकिन कोरोनावायरस ही नहीं इससे पहले भी दुनिया ने ऐसी और भी कई महामारियां देखी हैं जिन्होंने पूरी दुनिया का नक्शा ही बदल कर रख दिया. तो आईए जानते हैं आज कुछ ऐसी ही महामारियों के बारे में जिन्होंने दुनिया का नक्शा ही बदल कर रख दिया.