India China Relations  

(Search results - 25)
  • undefined

    NationalFeb 8, 2021, 6:37 PM IST

    चीन के सामने दीवार बनकर भारत की सुरक्षा करता है म्यांमार, जानिए कुछ पुराने किस्से

    1949 में एक फिल्म-पतंगा आई थी। इसका एक गाना था-ओ मेरे पिया गए रंगून, किया है वहां से टेलीफून, तुम्हारी याद सताती है, जिया में आग लगाती है! इस गाने में जिस रंगून शहर का जिक्र किया है, वो कभी म्यांमार की राजधानी हुआ करता था। चूंकि बर्मी भाषा में 'र' को 'य' बोला जाता है, इसलिए अब इसे यांगून कहते हैं। यांगून इस समय बड़ी टेंशन में है। वजह, तख्तापलट। म्यांमार में सैन्य तख्तापलट के बाद यांगून में प्रदर्शनकारियों की संख्या बढ़ती जा रही है। वे देश की शीर्ष नेता आंग सान सू की रिहाई की मांग कर रहे हैं। यहां इंटरनेट बंद हैं। बता दें कि आंग सान सू बर्मा(अब म्यांमार) के राष्ट्रपिता कहे जाने वाले आंग सान की बेटी हैं। आंग सान की 1947 में हत्या कर दी गई थी। म्यांमार में तख्तापलट को लेकर भारत की चिंताएं बाजिव हैं। वजह, इसके पीछे चीन की संदिग्ध भूमिका मानी जा रही है। क्योंकि चीन लोकतांत्रिक व्यवस्था में विश्वास नहीं रखता। चीन और भारत में पहले से ही तनातनी चली आ रही है। दूसरी सबसे बड़ी बात, म्यांमार एक ऐसा देश है, जो भारत और चीन के बीच दीवार का काम करता है। यानी बगैर म्यांमार की सहमति या कब्जा किए बिना चीन सीधे भारत तक नहीं पहुंच सकता। आइए जानते हैं म्यांमार की कहानी...

  • <p>Army Chief Narwane, Army Chief General Manoj Mukund Narwane, Army Chief Press Conference, India China Relations, India Pakistan Relations, China Pakistan Relations</p>

    NationalJan 12, 2021, 12:45 PM IST

    PAK अभी भी आतंकवाद के साथ गलबहियां कर रहा, आर्मी चीफ ने कहा- चीन पाक की नजदीकी बढ़ना खतरा

    आर्मी चीफ ने कहा, "सेना ने सर्दियों को लेकर पूरी तैयारी की है। हमें शांतिपूर्ण समाधान की उम्मीद है, लेकिन हम किसी भी आकस्मिक चुनौती का सामना करने को तैयार हैं। इसके लिए भारत की सभी लॉजिस्टिक तैयारी संपूर्ण है। पूर्वी लद्दाख में हम चौकन्ने हैं।"

  • undefined
    Video Icon

    NationalOct 21, 2020, 11:50 AM IST

    नहीं सुधर रहा ड्रैगन, भारत के खिलाफ आतंकियों को कर रहा है मजबूत

    चीनी सैनिकों की ओर से पीओके यानि कि पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में आतंकवादियों को प्रशिक्षण देने का काम किया जा रहा है। खुफिया सूत्रों से इस बात का खुलासा किया गया है। इस समय पाकिस्तान के लॉन्च पैड पर 250-300 आतंकवादी भारत में घुसपैठ करने के इरादे से बैठे हैं। यह सभी पाकिस्तानी सेना के वर्दी वाले आतंकवादी हैं। सूत्रों की माने तो भारत की लद्दाख में मजबूत पकड़ होने के बाद से बौखलाई चीनी सेना ने अब पाकिस्तान के साथ मिलकर नई साजिश रची है। 

  • <p><strong>এই চুক্তির ফলে ভারতীয় সেনা ও জাপানি ফৌজের মধ্যে রসদ আদানপ্রদান ও একে ওপরের সামরিক পরিকাঠামো ব্যবহারের সুবিধা পাবে।&nbsp;</strong></p>

    NationalSep 22, 2020, 5:14 PM IST

    भारत-चीन सीमा विवाद: दोनों देश बातचीत जारी रखने और उग्रता से बचने लिए हुए तैयार

    सरकारी सूत्रों के अनुसार , मंगलवार को भारत और चीन 4 महीने से चल रहे सीमा विवाद पर बातचीत जारी रखने और किसी भी स्थिति की उग्रता से बचने के लिए सहमत हो गए हैं। इस संबंध में सोमवार को भी दोनों देशों के बीच कॉर्प्स कमांडर स्तर की बातचीत हुई थी जो बेनतीजा निकल गई थी।

  • <p>India China relations, India China dispute, Chinese app<br />
&nbsp;</p>

    NationalSep 2, 2020, 5:42 PM IST

    मोदी ने चीन को दिया बड़ा झटका, PUBG मोबाइल सहित 118 ऐप बैन कर दिए गए, देखें पूरी लिस्ट

    भारत ने चीन को एक बार फिर से बड़ा झटका दिया है। सूचना और प्रौद्योगिकी मंत्रालय ने पबजी मोबाइल सहित 118 अन्य मोबाइल ऐप पर रोक लगा दी है। इससे पहले भी भारत में दो बार चीन के ऐप प्रतिबंधित किए गए थे। 118 एप में PUBG के अलावा CamCard, Baidu, Cut Cut, VooV, Tencent Weiyun, Rise of Kingdoms, Zakzak आदि शामिल हैं।

  • <p>India China dispute, India China relationship, India China border, India border, China border, Finger area, India finger area<br />
&nbsp;</p>

    NationalAug 17, 2020, 5:04 PM IST

    चीन क्यों फिंगर एरिया से पीछे नहीं हट रहा? आज दोनों देशों के प्रमुख नेता और आर्मी अफसर की मीटिंग

    भारत और चीन के बीच पिछले 3 महीने से विवाद जारी है। इस बीच आर्मी लेवल की कई राउंड की बातचीत हुई। लेकिन इसके बाद भी चीन लद्दाख में फिंगर एरिया, देप्सांग और गोगरा से अपने सैनिक पीछे नहीं हटा रहा। अब इस मुद्दे पर देशों के प्रमुख नेताओं और आर्मी अफसरों की मीटिंग होगी। हालांकि मीटिंग में कौन से नेता शामिल होंगे, यह जानकारी नहीं मिल पाई है। 

  • undefined

    NationalAug 9, 2020, 7:48 AM IST

    क्या चीन और भारत दोस्त बन पाएंगे? विदेश मंत्री ने दिया जवाब

    नई दिल्ली. पूर्वी लद्दाख की गलवान घाटी में भारत और चीनी सेना के बीच हुई हिसंक झड़प के बाद से दोनों देशों के बीच लगातार तनाव बना की स्थिति बनी हुई है। इस झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे, जिसके बाद इंडिया में मोदी सरकार ने चीन को सबक सिखाने के लिए उसके टिकटॉक समेत 89 ऐप्स पर बैन लगा दिया। इसके साथ ही अमेरिका ने भी टिकटॉक पर सिक्योरिटी का हवाला देते हुए बैन लगा दिया था। भारत और चीन में अब तक कई दौर की बातचीत हो चुकी है।  

  • <p>India China dispute, India border dispute, China border dispute, India China relations<br />
&nbsp;</p>

    NationalJun 26, 2020, 5:08 PM IST

    लाठी, डंडा और रॉड से जंग जीतना सिखा रहा चीन, अपने सैनिकों को ऐसे बना रहा हैवान

    नई दिल्ली. भारत और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में किसी तरफ से गोली नहीं चली। एलएसी पर हथियारों के इस्तेमाल पर रोक है। इसलिए चीन अपने सैनिकों को लाठी भाले और डंडा रॉड के जरिए युद्ध लड़ने की ट्रेनिंग दे रहा है। बता दें कि 15 जून की रात को पूर्वी लद्दाख में भारत और चीनी सैनिकों के बीच हिंसक झड़प हुई थी, जिसमें भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। चीन के भी 40 जवानों ने दम तोड़ दिया। 
     

  • <p>India China dispute, India border dispute, China border dispute, India China relations<br />
&nbsp;</p>

    NationalJun 26, 2020, 1:49 PM IST

    चीन अपने ही नागरिकों से मजबूर हुआ, अब खुद ही बता सकता है कि हिंसक झड़प में कितने सैनिकों की जान गई

    नई दिल्ली. गलवान घाटी में एलओसी के पास भारत और चीनी सैनिकों के बीच हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए थे। लेकिन इस दौरान चीन के भी करीब 40 जवानों की जान गई थी, लेकिन आज तक चीन इस बात को मानने से इनकार करता रहा है। अब मृतक सैनिकों की संख्या बताने के लिए चीन मजबूर होने लगा है। दरअसल चीन का एक वीडियो वायरल हो रहा है, जिसमें दिखाया गया है कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी के जवानों के परिवार इस बात से नाराज हैं कि भारतीय शहीदों को जैसे सम्मान मिला वैसे चीनी सैनिकों को नहीं मिला। ऐसे में जल्द ही चीन मारे गए सैनिकों की संख्या बता सकता है।
     

  • undefined
    Video Icon

    NationalJun 19, 2020, 4:09 PM IST

    अब जल्द ही अपने घुटने पर होगा चीन, मोदी सरकार ने कर ली है तैयारी

    चीन सुधरने का नाम नहीं ले रहा है. ऐसे में भारत ने हर तरफ से चीन को घेरने की तैयारी कर ली है. सरकार चीन के साथ सीमा विवाद को लेकर तनाव के बीच कई उत्पादों पर सीमा शुल्क बढ़ाने पर विचार कर रही है. इसमें मुख्य रूप से वे उत्पाद हैं, जो पड़ोसी देश चीन से आयात होते हैं. एक सूत्र ने कहा कि हालांकि अब तक इस बारे में कोई अंतिम निर्णय नहीं किया गया है. मुख्य रूप से जोर गैर-जरूरी जिंसों के आयात में कमी लाने पर है. उसने कहा कि मुख्य रूप से चीन से आयातित वस्तुओं पर शुल्क बढ़ाने को लेकर चर्चा जारी है.

  • undefined
    Video Icon

    NationalJun 18, 2020, 6:10 PM IST

    गलवान ही नहीं, इतिहास में पहले भी ये 10 शर्मनाक हरकतें कर चुका है चीन

    भारत और चीन के बीच तनाव हर गुजरते दिन के साथ बढ़ता जा रहा है. गलवान घाटी में दोनों देशों की सेनाओं की बीच हुई हिंसक झड़प में भारत के 20 जवान शहीद हो गए. हालांकि इसमें चीन के भी 43 सैनिकों के मारे जाने की खबर है लेकिन आधिकारिक तौर पर चीन ने इसे अभी तक माना नहीं है. लेकिन, ये पहली बार नहीं है जब चीन ने इस तरह की हरकत की हो। आईए नजर डालते हैं चीन की ऐसी ही 10 हरकतों पर

  • undefined
    Video Icon

    NationalJun 18, 2020, 4:13 PM IST

    अब चीन की बारी, पीएम मोदी ने की आर्थिक चोट पहुंचाने की तैयारी

    सीमा विवाद को लेकर भारत के साथ खूनी संघर्ष का बदला मैदान-ए-जंग में भारत किस तरह लेगा यह भविष्य की बात है लेकिन तत्काल प्रभाव से चीन को आर्थिक रूप से घायल करने की तैयारी हो गई है। बुधवार को सरकारी स्तर पर फैसला हो गया है कि टेलीकॉम मंत्रालय के अधीन काम करने वाली कंपनी बीएसएनएल की 4जी टेक्नोलॉजी की स्थापना में चीन की कंपनियों को दूर रखा जाएगा। उच्च पदस्थ सूत्रों के अनुसार संचार मंत्रालय ने बीएसएनएल को इसका निर्देश दे दिया है। इस दिशा में जारी टेंडर को रिवर्स करने का भी फैसला किया गया है। साफ है कि चीनी कंपनियां अब इससे बाहर की जाएंगी।

  • undefined

    BusinessJun 18, 2020, 3:40 PM IST

    चीनी बैंकों से परेशान अनिल अंबानी के भाई को ड्रैगन पर कभी नहीं रहा भरोसा, डोनाल्ड ट्रंप से कही थी ये बात

    बिजनेस डेस्क। भारत के जाने-माने कारोबारी मुकेश अंबानी के छोटे भाई अनिल अंबानी इस वक्त कर्ज के कई मामलों की वजह से कारोबारी दिक्कतों का सामना कर रहे हैं। उन्होंने कारोबारी डील के तहत चीन के बैंकों से भी भारी भरकम कर्ज ले रखा है। कर्ज की भरपाई के लिए चीनी बैंकों ने अनिल को लंदन की कोर्ट में भी घसीटा है। उधर, छोटे भाई चीन के साथ कारोबारी डील करते रहे, मगर मुकेश अंबानी को पहले से ही कभी उसपर भरोसा नहीं रहा है। 
     

  • undefined
    Video Icon

    NationalJun 17, 2020, 6:53 PM IST

    पाकिस्तान ने तो मुंह की खाई, क्या अब चीन की होगी धुलाई?

    वास्तविक नियंत्रण रेखा यानी कि (LAC) पर किसी भी चीनी आक्रामकता के खिलाफ पूर्ण स्वतंत्रता से निपटने के लिए सरकार ने भारतीय सेना को आपातकालीन शक्ति दी गई है। सोमवार रात हुई हिंसक झड़प के बाद सरकार द्वारा यह निर्णय लिया गया है. गौरतलब है कि कर्नल रैंक के अधिकारी सहित 20 से ज्यादा भारतीय सैनिकों की शहादत हुई, जिसके बाद यह फैसला लिया गया.

  • <p>India-China relations, India-China border, India border, China border, India-China dispute<br />
&nbsp;</p>

    NationalJun 16, 2020, 9:05 PM IST

    15 जून की रात भारत-चीन सीमा पर क्या हुआ? जिसकी वजह से झड़प हुई और भारत के 20 जवान शहीद हो गए

    पूर्वी लद्दाख सीमा पर भारत और चीन के सैनिकों के बीच झपड़ में भारत के कर्नल रैंक के अधिकारी सहित तीन जवान शहीद हो गए। इस घटना पर विदेश मंत्रालय ने स्पष्ट कर दिया है कि चीन ने ऐसा क्यों किया? विदेश मंत्रालय ने बताया कि जहां एक तरफ बातचीत के जरिए विवाद सुलझाने की कोशिश हो रही है, वहां चीन ने ऐसी धोखेबाजी क्यों की?