Irda  

(Search results - 16)
  • undefined

    BusinessMar 27, 2021, 2:56 PM IST

    जालसाजी रोकने के लिए IRDA ने की नई पहल, यूनिक आईडी से बीमा फ्रॉड पर लगेगी रोक

    ऑनलाइन ठगी करने वाले गिरोह नए-नए तरीके अपना कर लोगों को अपना शिकार बनाते हैं। अब वे इन्श्योरेंस पॉलिसी पर बोनस का झांसा देकर उनके साथ ठगी कर रहे हैं।

  • बिजनेस डेस्क। सरल सुरक्षा बीमा (Saral Suraksha Beema) योजना के तहत इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने सभी जनरल और हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को 1 अप्रैल 2021 से स्टैंडर्ड पर्सनल एक्सीडेंट पॉलिसी कस्टमर्स के लिए उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। बता दें कि 'सरल सुरक्षा बीमा' के तहत इन्श्योरेंस कंपनियां 2.5 लाख रुपए से लेकर 1 करोड़ रुपए तक का बीमा देंगी। इस पॉलिसी की शर्तें एक समान होंगी। 18 से लेकर 70 साल तक के लोग इसका लाभ ले सकेंगे। इसमें पॉलसीधारक की मौत होने पर उसका परिवार पूरी बीमा राशि का क्लेम कर सकेगा। (फाइल फोटो)

    BusinessMar 1, 2021, 5:04 PM IST

    सरल सुरक्षा बीमा : जानें कब से खरीद सकेंगे स्टैंडर्ड पर्सनल एक्सीडेंट पॉलिसी

    बिजनेस डेस्क। सरल सुरक्षा बीमा (Saral Suraksha Beema) योजना के तहत इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने सभी जनरल और हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को 1 अप्रैल 2021 से स्टैंडर्ड पर्सनल एक्सीडेंट पॉलिसी कस्टमर्स के लिए उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। बता दें कि 'सरल सुरक्षा बीमा' के तहत इन्श्योरेंस कंपनियां 2.5 लाख रुपए से लेकर 1 करोड़ रुपए तक का बीमा देंगी। इस पॉलिसी की शर्तें एक समान होंगी। 18 से लेकर 70 साल तक के लोग इसका लाभ ले सकेंगे। इसमें पॉलसीधारक की मौत होने पर उसका परिवार पूरी बीमा राशि का क्लेम कर सकेगा।
    (फाइल फोटो)
     

  • undefined

    BusinessJan 30, 2021, 10:35 AM IST

    कोरोना इन्श्योरेंस पॉलिसी के तहत 1.28 करोड़ लोगों को मिली सुरक्षा, जानें क्या कहा IRDA के चेयरमैन ने

    कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic) के दौरान 1 करोड़ से ज्यादा लोगों को कोरोना इनश्योरेंस पॉलिसी के तहत सुरक्षा मिली। इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी (IRDA) के चेयरमैन सुभाष चंद्र खुंटिया (Subhash Chandra Khuntia) ने इस बात की जानकारी दी है।

  • undefined
    Video Icon

    BusinessJan 29, 2021, 3:12 PM IST

    1 अप्रैल से पेंशन लेने वालों को मिलने वाली है खुशखबरी

    एक अप्रैल से बीमा नियामक इरडा ने जीवन बीमा कंपनियों को सरल पेंशन योजना की शुरूआत करने को कहा है। इसके लिए बीमा विनियामक और विकास प्राधिकरण ने जीवन बीमा कंपनियों को निर्देश दिया है। सरल पेंशन प्लान के तहत बीमाकर्ता के नाम से सिर्फ दो एन्युटी (वार्षिकी) का विकल्प रहेगा। इरडा द्वारा जारी दिशा-निर्देश के अनुसार, सरल पेंशन प्लान के तहत मैच्योरिटी लाभ नहीं मिलेगा। हालांकि, इसमें 100 फीसदी खरीद मूल्य की वापसी का विकल्प होगा।

  • बिजनेस डेस्क। कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic) के इस दौर में लोगों को हेल्थ इन्श्योरेंस की अहमियत समझ में आई है। जिन लोगों ने अपना हेल्थ इन्श्योरेंस करा रखा था, कोरोना महामारी से पीड़ित होने पर उन्हें हॉस्पिटलाइजेश के भारी-भरकम खर्चे में राहत मिली। अब कोविड वैक्सीनेशन का खर्च भी हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को उठाना पड़ेगा। यह अलग बात है कि वे इसमें आनाकानी कर रही हैं। वहीं, इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेलवपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) का कहना है कि हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को कोविड वैक्सीनेशन का खर्च भी वहन करना होगा। बहरहाल, हेल्थ इन्श्योरेंस पॉलिसी के और भी फायदे हैं। अगर आपने हेल्थ इन्श्योरेंस पॉलिसी ले रखी है, तो आपको इनकम टैक्स में भी छूट मिल सकती है। (फाइल फोटो)

    BusinessJan 26, 2021, 6:53 PM IST

    Health Insurance पॉलिसी लेकर कर सकते हैं टैक्स में बचत, जानें इसके और भी फायदे

    बिजनेस डेस्क। कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic) के इस दौर में लोगों को हेल्थ इन्श्योरेंस की अहमियत समझ में आई है। जिन लोगों ने अपना हेल्थ इन्श्योरेंस करा रखा था, कोरोना महामारी से पीड़ित होने पर उन्हें हॉस्पिटलाइजेश के भारी-भरकम खर्चे में राहत मिली। अब कोविड वैक्सीनेशन का खर्च भी हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को उठाना पड़ेगा। यह अलग बात है कि वे इसमें आनाकानी कर रही हैं। वहीं, इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेलवपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) का कहना है कि हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को कोविड वैक्सीनेशन का खर्च भी वहन करना होगा। बहरहाल, हेल्थ इन्श्योरेंस पॉलिसी के और भी फायदे हैं। अगर आपने हेल्थ इन्श्योरेंस पॉलिसी ले रखी है, तो आपको इनकम टैक्स में भी छूट मिल सकती है।
    (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic) से सुरक्षा के लिए देशभर में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन का काम शुरू हो गया है। वहीं, हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों (Health Insurance Companies) ने वैक्सीनेशन में आने वाले खर्च को उठाने से साफ मना कर दिया है। जनरल इन्श्योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (GIC) ने कहा है कि इन्श्योरेंस पॉलिसी के तहत सिर्फ हॉस्पिटलाइजेशन के खर्च को ही कवर किया जाएगा। वहीं, इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेलवपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) का कहना है कि हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को इम्युनाइजेशन यानी वैक्सीनेशन के खर्च को भी कवर करना होगा। लेकिन हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों ने रेग्युलेटर के इस आदेश को मानने से इनकार कर दिया है। (फाइल फोटो)

    BusinessJan 23, 2021, 12:26 PM IST

    कोरोना वैक्सीनेशन की भरपाई नहीं कर रही हैं बीमा कंपनियां, रेग्युलेटर के आदेश को मानने के लिए नहीं तैयार

    बिजनेस डेस्क। कोरोना महामारी (Covid-19 Pandemic) से सुरक्षा के लिए देशभर में बड़े पैमाने पर वैक्सीनेशन का काम शुरू हो गया है। वहीं, हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों (Health Insurance Companies) ने वैक्सीनेशन में आने वाले खर्च को उठाने से साफ मना कर दिया है। जनरल इन्श्योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (GIC) ने कहा है कि इन्श्योरेंस पॉलिसी के तहत सिर्फ हॉस्पिटलाइजेशन के खर्च को ही कवर किया जाएगा। वहीं, इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेलवपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) का कहना है कि हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों को इम्युनाइजेशन यानी वैक्सीनेशन के खर्च को भी कवर करना होगा। लेकिन हेल्थ इन्श्योरेंस कंपनियों ने रेग्युलेटर के इस आदेश को मानने से इनकार कर दिया है। (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी लेना हर किसी के लिए अच्छा होता है। इसमें मेच्योरिटी पर रिटर्न तो मिलता ही है, साथ ही किसी आपदा की स्थिति में परिवार को आर्थिक सहायता भी मिलती है। लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें लाइफ कवर मिलता है। इसका मतलब है कि अगर किसी वजह से लाइफ इन्श्योरेंस लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है, तो उसके परिवार को आर्थिक सुरक्षा मिलती है। लाइफ इन्श्योरेंस के कई तरह के प्लान होते हैं। इसके कुछ प्लान ऐसे होते हैं, जिसमें कम प्रीमियम जमा करना होता है। ऐसे प्लान में लाइफ कवर तो मिलता है, पर निवेश की गई राशि पर कोई मुनाफा नहीं मिलता। कुछ ऐसे प्लान होते हैं, जिनमें एक बार ही प्रीमियम की राशि जमा करनी पड़ती है। ये एक खास अवधि के लिए होते हैं। इन्हें टर्म प्लान कहते हैं। साल 2021 से सभी कंपनियां सरल जीवन बीमा (Saral Jeevan Bima) पॉलिसी दे रही हैं। इसे वे लोग भी खरीद सकते हैं, जिनकी आमदनी कम है। जानें इसके बारे में। (फाइल फोटो)

    BusinessJan 17, 2021, 10:59 AM IST

    इनकम है कम तो ले सकते हैं सरल जीवन बीमा पॉलिसी, जानें इसमें कितना मिलता है रिस्क कवर

    बिजनेस डेस्क। लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी लेना हर किसी के लिए अच्छा होता है। इसमें मेच्योरिटी पर रिटर्न तो मिलता ही है, साथ ही किसी आपदा की स्थिति में परिवार को आर्थिक सहायता भी मिलती है। लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी का सबसे बड़ा फायदा यह है कि इसमें लाइफ कवर मिलता है। इसका मतलब है कि अगर किसी वजह से लाइफ इन्श्योरेंस लेने वाले व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है, तो उसके परिवार को आर्थिक सुरक्षा मिलती है। लाइफ इन्श्योरेंस के कई तरह के प्लान होते हैं। इसके कुछ प्लान ऐसे होते हैं, जिसमें कम प्रीमियम जमा करना होता है। ऐसे प्लान में लाइफ कवर तो मिलता है, पर निवेश की गई राशि पर कोई मुनाफा नहीं मिलता। कुछ ऐसे प्लान होते हैं, जिनमें एक बार ही प्रीमियम की राशि जमा करनी पड़ती है। ये एक खास अवधि के लिए होते हैं। इन्हें टर्म प्लान कहते हैं। साल 2021 से सभी कंपनियां सरल जीवन बीमा (Saral Jeevan Bima) पॉलिसी दे रही हैं। इसे वे लोग भी खरीद सकते हैं, जिनकी आमदनी कम है। जानें इसके बारे में। (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। इस पूरे साल में कोरोनावायरस महामारी  (Covid-19 Pandemic) की वजह से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। इस महामारी के चलते हेल्थ इन्श्योरेंस (Health Insurance) लोगों की बड़ी जरूरत बन गया है। इसकी वजह है कोरोना संक्रमण के इलाज का काफी महंगा होना। कोरोना महामारी की वजह से ही देश के हेल्थ इन्श्योरेंस सेक्टर में काफी ग्रोथ देखने को मिला है। हेल्थ इन्श्योरेंस इंडस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक, इस सेगमेंट में 3 गुना बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। वहीं, ज्यादा से ज्यादा लोगों को हेल्थ इन्श्योरेंस का कवर मिले, इसके लिए इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने कई कदम उठाए हैं। इसके साथ ही, इन्श्योरेंस कंपनियों ने भी हेल्थ कवरेज के नियमों को आसान बनाया है। कई कंपनियों ने टेलीमेडिसिन कन्सल्टेशन की सुविधा भी दी है। इंडस्ट्री के एक्सपर्ट्स का मानना है कि आने वाले साल में हेल्थ इन्स्योरेंस के सेगमेंट में और भी ज्यादा ग्रोथ होगी। (फाइल फोटो)

    BusinessDec 23, 2020, 1:28 PM IST

    कोरोना महामारी में हेल्थ इन्श्योरेंस में 3 गुना हुई ग्रोथ, 2021 में मिल सकती हैं और सुविधाएं

    बिजनेस डेस्क। इस पूरे साल में कोरोनावायरस महामारी (Covid-19 Pandemic) की वजह से लोगों को भारी परेशानी का सामना करना पड़ा। इस महामारी के चलते हेल्थ इन्श्योरेंस (Health Insurance) लोगों की बड़ी जरूरत बन गया है। इसकी वजह है कोरोना संक्रमण के इलाज का काफी महंगा होना। कोरोना महामारी की वजह से ही देश के हेल्थ इन्श्योरेंस सेक्टर में काफी ग्रोथ देखने को मिला है। हेल्थ इन्श्योरेंस इंडस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक, इस सेगमेंट में 3 गुना बढ़ोत्तरी दर्ज की गई है। वहीं, ज्यादा से ज्यादा लोगों को हेल्थ इन्श्योरेंस का कवर मिले, इसके लिए इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने कई कदम उठाए हैं। इसके साथ ही, इन्श्योरेंस कंपनियों ने भी हेल्थ कवरेज के नियमों को आसान बनाया है। कई कंपनियों ने टेलीमेडिसिन कन्सल्टेशन की सुविधा भी दी है। इंडस्ट्री के एक्सपर्ट्स का मानना है कि आने वाले साल में हेल्थ इन्स्योरेंस के सेगमेंट में और भी ज्यादा ग्रोथ होगी। (फाइल फोटो)
     

  • बिजनेस डेस्क। कोरोना वायरस महामारी के दौर में लाइफ इन्श्योरेंस को लेकर लोगों में जागरूकता बढ़ी है। अब हर कोई जीवन बीमा पॉलिसी लेना चाहता है। लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी में इन्वेस्टमेंट पर रिटर्न तो मिलता ही है, लेकिन इसका सबसे ज्यादा महत्व इस रूप में है कि पॉलिसी लेने वाले की मृत्यु हो जाने पर उसके परिवार को आर्थिक सुरक्षा मिलती है। इस लिहाज से लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी लेना सभी के लिए जरूरी है। लाइफ इन्श्योरेंस के कई तरह के प्लान होते हैं। इसके कुछ प्लान ऐसे होते हैं, जिसमें एक बार ही प्रीमियम जमा करना होता है। इसे टर्म प्लान कहते हैं। कुछ टर्म प्लान में लाइफ कवरेज के साथ इन्वेस्टमेंट पर रिटर्न भी मिलता है, वहीं सस्ते टर्म प्लान में सिर्फ लाइफ कवरेज मिलती है। आम लोगों के लिए इसकी जरूरत और अहमिहत को देखते हुए इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने सभी बीमा कंपनियों को 1 जनवरी, 2021 से  सभी बीमा कंपनियों को अगले साल 1 जनवरी, 2021 से 'सरल जीवन बीमा' (Saral Jeevan Bima) पॉलिसी लॉन्च करने को कहा है। यह एक स्टैंडर्ड टर्म इन्श्योरेंस पॉलिसी होगी। जानें इसके बारे में। (फाइल फोटो)

    BusinessDec 19, 2020, 12:24 PM IST

    अगले साल 1 जनवरी से लॉन्च होने जा रहा है सरल जीवन बीमा, जानें क्या है यह स्टैंडर्ड टर्म पॉलिसी

    बिजनेस डेस्क। कोरोना वायरस महामारी के दौर में लाइफ इन्श्योरेंस को लेकर लोगों में जागरूकता बढ़ी है। अब हर कोई जीवन बीमा पॉलिसी लेना चाहता है। लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी में इन्वेस्टमेंट पर रिटर्न तो मिलता ही है, लेकिन इसका सबसे ज्यादा महत्व इस रूप में है कि पॉलिसी लेने वाले की मृत्यु हो जाने पर उसके परिवार को आर्थिक सुरक्षा मिलती है। इस लिहाज से लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी लेना सभी के लिए जरूरी है। लाइफ इन्श्योरेंस के कई तरह के प्लान होते हैं। इसके कुछ प्लान ऐसे होते हैं, जिसमें एक बार ही प्रीमियम जमा करना होता है। इसे टर्म प्लान कहते हैं। कुछ टर्म प्लान में लाइफ कवरेज के साथ इन्वेस्टमेंट पर रिटर्न भी मिलता है, वहीं सस्ते टर्म प्लान में सिर्फ लाइफ कवरेज मिलती है। आम लोगों के लिए इसकी जरूरत और अहमिहत को देखते हुए इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने सभी बीमा कंपनियों को 1 जनवरी, 2021 से  सभी बीमा कंपनियों को अगले साल 1 जनवरी, 2021 से 'सरल जीवन बीमा' (Saral Jeevan Bima) पॉलिसी लॉन्च करने को कहा है। यह एक स्टैंडर्ड टर्म इन्श्योरेंस पॉलिसी होगी। जानें इसके बारे में।
    (फाइल फोटो)
     

  • <p><strong>बिजनेस डेस्क।</strong> लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी (Life Insurance Policy) में &nbsp;निवेश करने वाले लोगों की संख्या काफी है। इसमें निवेश करने से सुरक्षा के साथ पॉलिसी के मेच्योर होने पर अच्छा-खासा रिटर्न भी मिलता है। आकस्मिक परिस्थितियों में पॉलिसीधारक की मौत हो जाने पर लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी से परिवार के लोगों को आर्थिक सुरक्षा मिलती है। इसलिए इसमें निवेश जरूरी है। देश में सबसे बड़ी इन्श्योरेंस कंपनी सरकारी क्षेत्र की लाइफ इन्श्योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) है। इसके अलावा, इस क्षेत्र में कई प्राइवेट कंपनियां भी आ गई हैं। अभी हाल ही में इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने सभी बीमा कंपनियों को सरल जीवन बीमा (Saral Jeevan Bima) लॉन्च करने का निर्देश दिया है। इससे लोगों को कई तरह की सुविधा मिलेगी। जानें इसके बारे में।<br />
(फाइल फोटो)<br />
&nbsp;</p>

    BusinessOct 16, 2020, 9:04 AM IST

    कम प्रीमियम पर 25 लाख तक की लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी, जानें कब से मिलने जा रही है यह सुविधा

    बिजनेस डेस्क। लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी (Life Insurance Policy) में निवेश करने वाले लोगों की संख्या काफी है। इसमें निवेश करने से सुरक्षा के साथ पॉलिसी के मेच्योर होने पर अच्छा-खासा रिटर्न भी मिलता है। आकस्मिक परिस्थितियों में पॉलिसीधारक की मौत हो जाने पर लाइफ इन्श्योरेंस पॉलिसी से परिवार के लोगों को आर्थिक सुरक्षा मिलती है। इसलिए इसमें निवेश जरूरी है। देश में सबसे बड़ी इन्श्योरेंस कंपनी सरकारी क्षेत्र की लाइफ इन्श्योरेंस कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया (LIC) है। इसके अलावा, इस क्षेत्र में कई प्राइवेट कंपनियां भी आ गई हैं। अभी हाल ही में इन्श्योरेंस रेग्युलेटरी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी ऑफ इंडिया (IRDAI) ने सभी बीमा कंपनियों को सरल जीवन बीमा (Saral Jeevan Bima) लॉन्च करने का निर्देश दिया है। इससे लोगों को कई तरह की सुविधा मिलेगी। जानें इसके बारे में।
    (फाइल फोटो)
     

  • <p><strong>बिजनेस डेस्क।&nbsp;</strong>1 अगस्त से पैसे और इसके लेन-देन से जुड़े कई नियमों में बदलाव होने जा रहा है। इन बदलावों में बैंक लोन, पीएम किसान योजना, कार और दूसरे व्हीकल्स की खरीद से जुड़े कई रूल बदल जाएंगे। इसका लोगों पर सीधा असर पड़ेगा। फाइनेंशियल सिस्टम से जुड़े नियमों में होने वाले इस बदलाव को जानना जरूरी है। अगर इन पर ध्यान नहीं दिया गया तो नुकसान भी हो सकता है।</p>

    BusinessJul 29, 2020, 10:40 AM IST

    जानें 1 अगस्त से पैसे से जुड़े नियमों में क्या होगा बदलाव, इसका क्या हो सकता है असर

    बिजनेस डेस्क। 1 अगस्त से पैसे और इसके लेन-देन से जुड़े कई नियमों में बदलाव होने जा रहा है। इन बदलावों में बैंक लोन, पीएम किसान योजना, कार और दूसरे व्हीकल्स की खरीद से जुड़े कई रूल बदल जाएंगे। इसका लोगों पर सीधा असर पड़ेगा। फाइनेंशियल सिस्टम से जुड़े नियमों में होने वाले इस बदलाव को जानना जरूरी है। अगर इन पर ध्यान नहीं दिया गया तो नुकसान भी हो सकता है।

  • <p><strong>ऑटो डेस्क। </strong>नई कार और मोटरसाइकिल खरीदने वालों के लिए यह एक जरूरी और अच्छी खबर है। 1 अगस्त से कार और बाइक खरीदने वालों को आज की तुलना में कम कीमत चुकानी पड़ेगी। इसकी वजह यह है कि ऑटो इन्श्योरेंस के नियमों में बदलाव होने जा रहा है। इस बदलाव के बाद 1 अगस्त से कार और टू-व्हीलर्स खरीदने पर कस्टमर्स को उनके इन्श्योरेंस पर कम कीमत चुकानी पड़ेगी।</p>

    AutoJul 28, 2020, 3:27 PM IST

    1 अगस्त से नई कार या टू-व्हीलर खरीदना हो जाएगा सस्ता, जानें क्या है नया नियम

    ऑटो डेस्क। नई कार और मोटरसाइकिल खरीदने वालों के लिए यह एक जरूरी और अच्छी खबर है। 1 अगस्त से कार और बाइक खरीदने वालों को आज की तुलना में कम कीमत चुकानी पड़ेगी। इसकी वजह यह है कि ऑटो इन्श्योरेंस के नियमों में बदलाव होने जा रहा है। इस बदलाव के बाद 1 अगस्त से कार और टू-व्हीलर्स खरीदने पर कस्टमर्स को उनके इन्श्योरेंस पर कम कीमत चुकानी पड़ेगी। 

  • <p>corona india</p>

    BusinessJun 28, 2020, 4:26 PM IST

    बीमा कंपनियों को IRDA का निर्देश, 10 जुलाई तक पेश करें कोरोना कवच; कुछ इस तरह हो सकती है पॉलिसी

    खास पॉलिसी की मेच्योरिटी साढ़े तीन महीने, साढ़े छह महीने और साढ़े नौ महीने रखी जा सकती हैं। पालिसी 50 हजार रुपये से पांच लाख रुपये तक सकती है जो पूरे देश के लिए एक समान होगी। 

  • undefined

    NationalMar 4, 2020, 10:01 PM IST

    कोरोना वायरस के इलाज के लिए पॉलिसी लाए बीमा कंपनी: IRDA

    भारतीय बीमा नियामक एवं विकास प्राधिकरण (इरडा) ने बीमा कंपनियों से ऐसी पॉलिसियां लाने को कहा है जिनमें कोरोना वायरस के इलाज का खर्च भी ‘कवर’ हो। दुनियाभर में कोरोना वायरस से हजारों की संख्या में लोग संक्रमित हुए हैं।

  • undefined

    BusinessNov 24, 2019, 6:32 PM IST

    दिसंबर से लागू हो जाएंगे ये 5 नियम, अनदेखी करने पर भरना पड़ेगा भारी जुर्माना


    बीमा नियमों से लेकर पैन कार्ड तक अगले महिने इनमें कई बदलाव होंगे। नए नियम जैसे फास्टैग को न मानने पर दोगुना चार्ज भरना पड़ेगा। देश में टेलीकॉम दरों में नए बढ़ी हुई दरें लागू होंगे।