Lovely Anand  

(Search results - 15)
  • undefined

    Bihar ElectionNov 10, 2020, 8:24 PM IST

    जेल में बंद आनंद मोहन की पत्नी लवली आनंद हारी, 7वीं बार लड़ रही थी चुनाव

    बीजेपी प्रत्याशी आलोक रंजन झा की बात करें तो उनके ऊपर एक क्रिमिनल केस हैं। वे पीएचडी तक पढ़ाई किए हैं और उनके पास इस समय 4.15 करोड़ रुपए हैं।
     

  • undefined

    Bihar ElectionNov 6, 2020, 2:57 PM IST

    बाहुबली पति की तरह फैसला लेती हैं लवली आनंद,6 बार लड़ चुकी हैं चुनाव, इस बार दिलचस्प है मुकाबला

    बीजेपी प्रत्याशी आलोक रंजन झा की बात करें तो उनके ऊपर एक क्रिमिनल केस हैं। वे पीएचडी तक पढ़ाई किए हैं और उनके पास इस समय 4.15 करोड़ रुपए हैं। वहीं, टिकट न मिलने से नाराज बीजेपी के बागी नेता व पूर्व विधायक किशोर कुमार भी उनके सामने चुनौती के रूप में हैं। दोनों प्रत्याशी अपनी लड़ाई महागठबंधन की प्रत्याशी लवली आनंद से मानते हैं। हालांकि राजनीति के जानकारों का यह भी मानना है कि मुकाबला त्रिकोणीय हो सकता है।

  • undefined

    Bihar ElectionNov 5, 2020, 10:44 AM IST

    वो अंधेरी खौफनाक रात जब पप्पू यादव पर चली 10 हजार राउंड गोलियां, फोर्स नहीं पहुंचती तो हो जाती मौत

    मधेपुरा/पटना। बिहार विधानसभा चुनाव में इस बार भी कई बाहुबली और उनके रिश्तेदार चुनावी अखाड़े में भाग्य आजमा रहे हैं। बिहार ऐसा राज्य है जहां की राजनीति में बाहुबलियों का दखल हमेशा से चर्चा का विषय रहा है। आनंद मोहन और पप्पू यादव दोनों राजनीति में खूब चमके और कहा जाता है कि इनका बैकग्राउंड बाहुबल ही था। दोनों के बीच शुरुआती वर्चस्व की कहानियां भी तमाम दावों के साथ सुनाई जाती हैं। मगर पहली बार जन अधिकार पार्टी के चीफ और पूर्व दिग्गज सांसद पप्पू यादव ने खुलासा किया है कि कभी भी आनंद मोहन के साथ उनकी अदावत नहीं रही। पप्पू यादव ने कहा- "वो स्कूल-कॉलेज के दिन थे जिसमें बाहुबल से कहीं ज्यादा हीरोपंती स्थानीय जाति की राजनीति थी।" 
     

  • undefined

    Bihar ElectionOct 30, 2020, 4:28 PM IST

    शिवहर सीट से चुनाव लड़ रहे बाहुबली आनंद मोहन के बेटे चेतन,461 वोट से मां को हराने वाले शरफुद्दीन से है मुकाबला

    राजनीति के जानकार बताते हैं कि इस सीट पर सर्वाधिक वोटर वैश्य समुदाय के है। इसके बाद राजपूत, मुस्लिम, ब्राह्मण और भूमिहार का ज्यादा प्रभाव है। वहीं, एनडीए और महागठबंधन के प्रत्याशी को लोजपा के विजय कुमार पांडेय न केवल कड़ी टक्कर देते नजर रहे हैं, बल्कि लड़ाई को त्रिकोणात्मक भी बना रहे हैं। 

  • undefined

    Bihar ElectionOct 30, 2020, 1:19 PM IST

    सहरसा से लड़ रही हैं बाहुबली आनंद मोहन की पत्नी लवली, बीजेपी के बागी नेता ने रोचक बना दिया चुनाव

    लवली आनंद ग्रेजुएट हैं। उनके ऊपर इस समय दो क्रिमिनल केस हैं, जबकि 1.23 करोड़ रुपए संपत्ति की मालिक हैं। वो अपने पति आनंद मोहन की तरह जल्दी-जल्दी पार्टियां बदलती रही हैं। अब तक 6 बार चुनाव लड़ चुकी हैं। लेकिन, एक ही बार जीत पाई हैं। वो 1994 में उपचुनाव जीतकर सांसद बनी। इसके बाद बिहार पीपुल्स पार्टी ,कांग्रेस, सपा हम (सेक्युलर) और नीतीश कुमार के भी साथ रहकर चुनाव लड़ चुकी हैं। हालांकि इस बार राजद में शामिल हो गई हैं। कांग्रेस का भी उन्हें समर्थन हैं। 

  • undefined

    Bihar ElectionOct 24, 2020, 11:48 AM IST

    RJD प्रत्याशी ने नीतीश पर लगाए गंभीर आरोप, कहा- पति आनंद मोहन को मारने की रची जा रही साजिश

    आनंद मोहन तीन दिन से आमरण अनशन पर हैं। अब उनकी पत्नी लवली ने बिहार सरकार पति के जान के पीछे पड़ने का आरोप लगाया है। 

  • <p><strong>पटना (Bihar) ।</strong> बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में बाहुबलियों का आज भी वर्चस्व है। प्रमुख दल भी इन्हें या इनके परिवार के सदस्यों को टिकट देने में पीछे नहीं हैं। इनमें सबसे आगे आरजेडी (RJD)&nbsp;&nbsp;है, जिसके मुखिया लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) हैं, जो रांची जेल में बंद हैं। हालांकि उन्हें जमानत पर बाहर लाने की तैयारी चल रही हैं। जिनके बारे में एनडीए भी कहती है कि उनका धनबल और बाहुबलियों से गहरा नाता रहा है। यह अलग बात है कि वो भी इससे अछूते नहीं हैं। कहा तो यहां तक जाता है कि लालू प्रसाद यादव ने उन बाहुबलियों को भी अपना बना लिया, जो कभी उनके खिलाफ आवाज उठाने वालों में शामिल थे। हालांकि इस बार की बात करें तो उनके दल से 7&nbsp;ऐसे बाहुबली नेताओं और उनके बेटे या पत्नियों को टिकट मिलने की खबर है, जो पूरी ताकत से चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें तो कुछ ऐसे भी हैं, जो जेल में है और कुछ जमानत पर बाहर। आज हम इन्हीं बाहुबलियों के बारे में बता रहे हैं।</p>

    Bihar ElectionOct 20, 2020, 4:08 PM IST

    लालू के करीबी बने ये बाहुबली, इन 7 सीटों पर लड़ रहे चुनाव, बेटे और पत्नी को भी मिला है टिकट

    पटना (Bihar) । बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar Assembly Elections) में बाहुबलियों का आज भी वर्चस्व है। प्रमुख दल भी इन्हें या इनके परिवार के सदस्यों को टिकट देने में पीछे नहीं हैं। इनमें सबसे आगे आरजेडी (RJD)  है, जिसके मुखिया लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) हैं, जो रांची जेल में बंद हैं। हालांकि उन्हें जमानत पर बाहर लाने की तैयारी चल रही हैं। जिनके बारे में एनडीए भी कहती है कि उनका धनबल और बाहुबलियों से गहरा नाता रहा है। यह अलग बात है कि वो भी इससे अछूते नहीं हैं। कहा तो यहां तक जाता है कि लालू प्रसाद यादव ने उन बाहुबलियों को भी अपना बना लिया, जो कभी उनके खिलाफ आवाज उठाने वालों में शामिल थे। हालांकि इस बार की बात करें तो उनके दल से 7 ऐसे बाहुबली नेताओं और उनके बेटे या पत्नियों को टिकट मिलने की खबर है, जो पूरी ताकत से चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें तो कुछ ऐसे भी हैं, जो जेल में है और कुछ जमानत पर बाहर। आज हम इन्हीं बाहुबलियों के बारे में बता रहे हैं।

  • <p><strong>पटना (Bihar,) ।</strong> बिहार विधानसभा चुनाव में बाहुबलियों का आज भी वर्चस्व है। प्रमुख दल भी इन्हें या इनके परिवार के सदस्यों को टिकट देने में पीछे नहीं हैं। अब तक 9 ऐसे बाहुबली नेताओं और उनके बेटे या पत्नियों को टिकट मिलने की जानकारी है, जो पूरी ताकत से चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें तो कुछ ऐसे भी हैं, जो जेल में है और कुछ जमानत पर बाहर।</p>

    Bihar ElectionOct 15, 2020, 3:19 PM IST

    इन सीटों से लड़ रहे बाहुबली, कोई जेल में है तो कोई जमानत पर बाहर, बेटा-पत्नी भी आजमा रहे किस्मत

    पटना (Bihar,) । बिहार विधानसभा चुनाव में बाहुबलियों का आज भी वर्चस्व है। प्रमुख दल भी इन्हें या इनके परिवार के सदस्यों को टिकट देने में पीछे नहीं हैं। अब तक 9 ऐसे बाहुबली नेताओं और उनके बेटे या पत्नियों को टिकट मिलने की जानकारी है, जो पूरी ताकत से चुनाव लड़ रहे हैं। इनमें तो कुछ ऐसे भी हैं, जो जेल में है और कुछ जमानत पर बाहर।

  • <p><strong>पटना (Bihar) । </strong>डीएम की हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा पाने वाले पहले बाहुबली नेता आनंद मोहन (Anand Mohan) को बाहर लाने के लिए उनकी पत्नी और पूर्व सांसद लवली आनंद (&nbsp;Lovely Anand) परेशान हैं। वे इसके बार-बार पार्टियां बदल रही हैं। इस समय आरजेडी (RJD ) के साथ पॉलिटिक्स करना शुरू कर दी है। पार्टी ने उन्हें सहरसा से चुनाव मैदान में उतारने का फैसला किया है। खबर है कि लवली आनंद को RJD की ओर से टिकट दिया गया है। बताते चले कि सहरसा में तीसरे चरण में वोटिंग होगी, जिसके लिए 7 नवंबर को मत डाले जाएंगे, जबकि 10 नवंबर को मतगणना होगी। वहीं, कल यह भी खबर सामने आई थी कि आनंद मोहन (Anand Mohan) के बेटे चेतन आनंद (Chetan Anand) को शिवहर से राजद का सिम्बल मिल गया है।<br />
&nbsp;</p>

    Bihar ElectionOct 12, 2020, 8:46 AM IST

    ये है पहला बाहुबली नेता, जिसे मिली थी फांसी की सजा; अब पत्नी सहरसा से लड़ेगी चुनाव, बेटे को लेकर है यह चर्चा

    पटना (Bihar) । डीएम की हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा पाने वाले पहले बाहुबली नेता आनंद मोहन (Anand Mohan) को बाहर लाने के लिए उनकी पत्नी और पूर्व सांसद लवली आनंद ( Lovely Anand) परेशान हैं। वे इसके बार-बार पार्टियां बदल रही हैं। इस समय आरजेडी (RJD ) के साथ पॉलिटिक्स करना शुरू कर दी है। पार्टी ने उन्हें सहरसा से चुनाव मैदान में उतारने का फैसला किया है। खबर है कि लवली आनंद को RJD की ओर से टिकट दिया गया है। बताते चले कि सहरसा में तीसरे चरण में वोटिंग होगी, जिसके लिए 7 नवंबर को मत डाले जाएंगे, जबकि 10 नवंबर को मतगणना होगी। वहीं, कल यह भी खबर सामने आई थी कि आनंद मोहन (Anand Mohan) के बेटे चेतन आनंद (Chetan Anand) को शिवहर से राजद का सिम्बल मिल गया है।
     

  • undefined

    Bihar ElectionOct 6, 2020, 8:08 PM IST

    एक वोट की कीमत : बाहुबली पति जेल में, अपने ही गढ़ में सिर्फ 461 वोटों से किला हार गई थीं लवली आनंद

    शिवहर बाहुबली नेता आनंद मोहन (Anand Mohan) का गढ़ होने की वजह से राज्य की हाई प्रोफाइल सीटों में शुमार है। 2015 के चुनाव में भी यहां के नतीजों पर सबकी नजर थी।

  • <p><strong>पटना (Bihar) । </strong>बिहार की राजनीति में परिवारवाद हावी है। ज्यादातर लोग कुछ ही नेताओं को जानते हैं। लेकिन, ऐसा नहीं हैं, क्योंकि ये लिस्ट बहुत लंबी है। बात अगर इसी बार विधानसभा चुनाव (Assembly elections) की करें तो 15 से ज्यादा ऐसे चेहरे मिल जाएंगे, जिनकी दूसरी पीढ़ी इस बार चुनाव लड़ेगी। हालांकि सबसे दिलचस्प मुकाबला लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav)और राबड़ी देवी (Rabri Devi) की बेटों तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav)&nbsp; और तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को लेकर है, जिनमें एक सीएम फेस के रूप में हैं तो दूसरे के सामने उन्हीं की ही पत्नी चुनाव मैदान में हो सकती है।</p>

    Bihar ElectionOct 5, 2020, 6:20 PM IST

    पापा की उंगली पकड़ चुनावी मैदान में कूदेगी आरजेडी की दूसरी पीढ़ी, दूसरी पार्टियों में भी कतार में लाडले

    पटना (Bihar) । बिहार की राजनीति में परिवारवाद हावी है। ज्यादातर लोग कुछ ही नेताओं को जानते हैं। लेकिन, ऐसा नहीं हैं, क्योंकि ये लिस्ट बहुत लंबी है। बात अगर इसी बार विधानसभा चुनाव (Assembly elections) की करें तो 15 से ज्यादा ऐसे चेहरे मिल जाएंगे, जिनकी दूसरी पीढ़ी इस बार चुनाव लड़ेगी। हालांकि सबसे दिलचस्प मुकाबला लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav)और राबड़ी देवी (Rabri Devi) की बेटों तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav)  और तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को लेकर है, जिनमें एक सीएम फेस के रूप में हैं तो दूसरे के सामने उन्हीं की ही पत्नी चुनाव मैदान में हो सकती है।

  • <p><strong>पटना (Bihar) । </strong>डीएम की हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा पाने वाले पहले बाहुबली नेता आनंद मोहन (Anand Mohan) को बाहर लाने के लिए उनकी पत्नी और पूर्व सांसद लवली आनंद (&nbsp;Lovely Anand) परेशान हैं। वे इसके बार-बार पार्टियां बदल रही हैं। इस समय आरजेडी (RJD ) के साथ पॉलिटिक्स करना शुरू कर दी है। इस बार वो शिवहर विधानसभा सीट (Shivhar Assembly Seat) से चुनाव लड़ सकती हैं। बताते हैं कि एक समय आनंद मोहन घर बड़े नेताओं का आना-जाना शुरू हो गया था। पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर (Former PM Chandrasekhar) तो शुरू में एक समय उन्हें लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) विकल्प के तौर पर देखने लगे थे।&nbsp;</p>

    Bihar ElectionOct 1, 2020, 1:43 PM IST

    लालू की जगह लेना चाहता था ये बाहुबली, पहला नेता जिसे मिली थी फांसी की सजा; अब RJD से पत्नी करेगी पॉलिटिक्स

    पटना (Bihar) । डीएम की हत्या के मामले में उम्रकैद की सजा पाने वाले पहले बाहुबली नेता आनंद मोहन (Anand Mohan) को बाहर लाने के लिए उनकी पत्नी और पूर्व सांसद लवली आनंद ( Lovely Anand) परेशान हैं। वे इसके बार-बार पार्टियां बदल रही हैं। इस समय आरजेडी (RJD ) के साथ पॉलिटिक्स करना शुरू कर दी है। इस बार वो शिवहर विधानसभा सीट (Shivhar Assembly Seat) से चुनाव लड़ सकती हैं। बताते हैं कि एक समय आनंद मोहन घर बड़े नेताओं का आना-जाना शुरू हो गया था। पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर (Former PM Chandrasekhar) तो शुरू में एक समय उन्हें लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) विकल्प के तौर पर देखने लगे थे। 

  • <p><strong>पटना (Bihar) ।</strong> बिहार में कभी बाहुबलियों का ही राज चलता था। लेकिन, आज स्थिति बदल गई है। आज हम आपको पांच ऐसे बाहुबलियों के बारे में बता रहे हैं, जो पहले कानून को खिलौना समझते थे। लेकिन, उसी कानून का डंडा उनपर ऐसा चला कि वो अपराध से तौबा कर लिए और राजनीति का सहारा लेकर जनता के सेवक बन गए। हालांकि इसमें कुछ अपने गुनाहों की सजा अभी जेल की सलाखों के पीछे काट रहे हैं। बता दें कि इनमें कई ऐसे चेहरे भी शामिल हैं, जिनके&nbsp;नाम से लोग डरते थे। मगर, आज उनके परिवार के लोग दुःख दर्द बांटते दिखते हैं।<br />
(फाइल फोटो)</p>

    Bihar ElectionSep 29, 2020, 6:08 PM IST

    बिहार के ये हैं पांच बाहुबली, जिन्होंने अपराध से अब कर ली है तौबा, लोगों की सेवा करना बताते हैं धर्म

    पटना (Bihar) । बिहार में कभी बाहुबलियों का ही राज चलता था। लेकिन, आज स्थिति बदल गई है। आज हम आपको पांच ऐसे बाहुबलियों के बारे में बता रहे हैं, जो पहले कानून को खिलौना समझते थे। लेकिन, उसी कानून का डंडा उनपर ऐसा चला कि वो अपराध से तौबा कर लिए और राजनीति का सहारा लेकर जनता के सेवक बन गए। हालांकि इसमें कुछ अपने गुनाहों की सजा अभी जेल की सलाखों के पीछे काट रहे हैं। बता दें कि इनमें कई ऐसे चेहरे भी शामिल हैं, जिनके नाम से लोग डरते थे। मगर, आज उनके परिवार के लोग दुःख दर्द बांटते दिखते हैं।

  • <p><strong>पटना (Bihar)। &nbsp;</strong>जेल में बंद बाहुबली नेता आनंद मोहन सिंह (Anand Mohan singh)&nbsp;की पत्नी लवली आनंद (Lovely Anand)&nbsp;ने आज राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ज्वॉइन कर ली। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज से मैं पूरे तन-मन-धन से आरजेडी (RJD) की हो गई हूं। नीतीश सरकान ने धोखा दिया है। आनंद मोहन को जेल भेज कर वे सरकार चला रहे हैं। ये धोखेबाज सरकार है। हम मिलकर तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को मुख्यमंत्री बनाएंगे। बताते चले कि लवली आनंद ने पिछले लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के लिए प्रचार किया था और वे अपने पति को जेल से बाहर लाने का लगातार कोशिश कर रही हैं।</p>

    Bihar ElectionSep 28, 2020, 2:45 PM IST

    RJD में शामिल हुईं लवली आनंद, कभी इन्हें सुनने के लिए जुटती थी ऐसी भीड़, परेशान हो गए थे लालू यादव

    पटना (Bihar)।  जेल में बंद बाहुबली नेता आनंद मोहन सिंह (Anand Mohan singh) की पत्नी लवली आनंद (Lovely Anand) ने आज राष्ट्रीय जनता दल (आरजेडी) ज्वॉइन कर ली। इस मौके पर उन्होंने कहा कि आज से मैं पूरे तन-मन-धन से आरजेडी (RJD) की हो गई हूं। नीतीश सरकान ने धोखा दिया है। आनंद मोहन को जेल भेज कर वे सरकार चला रहे हैं। ये धोखेबाज सरकार है। हम मिलकर तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) को मुख्यमंत्री बनाएंगे। बताते चले कि लवली आनंद ने पिछले लोकसभा चुनाव में नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के लिए प्रचार किया था और वे अपने पति को जेल से बाहर लाने का लगातार कोशिश कर रही हैं।

  • undefined

    Bihar ElectionSep 19, 2020, 6:24 PM IST

    लवली आनंद यानी 'भाभीजी', रैलियों में इनके ग्लैमर के आगे फीके पड़ गए थे लालू; परेशान हो गई थी BJP

    पटना। एक जमाने में बिहार की राजनीति में जातीय गोलबंदी का काफी बोलबाला था। मंडल कमीशन की सिफ़ारिशों के लागू होने के साथ राज्य में दलित-पिछड़ों की राजनीति जनता दल के नेताओं- लालू यादव (Lalu Yadav), रामविलास पासवान (Ramvilas Paswan) और नीतीश कुमार (Nitish Kumar) के नेतृत्व में मजबूत हो रही थी। हालांकि जनता दल से विधायक बनकर राजनीति करने वाले आनंद मोहन (Anand Mohan) ने बाद में कास्ट रिज़र्वेशन का विरोध कर सवर्ण नेता के रूप में अपनी मजबूत पहचान बनाई थी। लेकिन वक्त के साथ आनंद मोहन का जादू खत्म हो गया और उनकी राजनीति शिवहर तक सिमट कर रह गई। ताज्जुब होगा, लेकिन एक दौर में उनकी लोकप्रियता ऐसी थी कि उन्हें भावी मुख्यमंत्री समझा जाता था।