Madhya Pradesh Flood  

(Search results - 9)
  • Heavy floods in many states including Madhya Pradesh, Rajasthan, West BengalHeavy floods in many states including Madhya Pradesh, Rajasthan, West Bengal

    NationalAug 5, 2021, 8:59 AM IST

    #FloodInIndia: मप्र, राजस्थान और पश्चिम बंगाल में भारी बारिश ने मचाई तबाही; IMD ने फिर जारी किया Alert

    देश में मानसून की सक्रियता और कुछ राज्यों में भारी बारिश के चलते तबाही के हालात हैं। खासकर इस समय मध्य प्रदेश, राजस्थान और पश्चिम बंगाल में हालात बुरे हैं।

  • Flood warning again in Madhya Pradesh and RajasthanFlood warning again in Madhya Pradesh and Rajasthan

    Madhya PradeshAug 4, 2021, 8:18 AM IST

    बाढ़ से मचा हाहाकार; मप्र में पुल टूटे, खतरे के निशान से ऊपर बह रही चंबल; देखें Videos

    मध्य प्रदेश और राजस्थान में भारी बारिश के चलते बाढ़ आ गई है। दोनों ही राज्यों में हजारों लोग प्रभावित हुए हैं। दोनों ही राज्यों में कई जगह बाढ़ में पुल बह गए।

  • Madhya Pradesh flood, heavy rain alert, see some pictures kpaMadhya Pradesh flood, heavy rain alert, see some pictures kpa

    Madhya PradeshAug 28, 2020, 2:23 PM IST

    मध्य प्रदेश में भारी बारिश ने बेपटरी की जिंदगी, लबालब भरे बांध, कई जगहों पर रास्ते बंद

    भोपाल, मध्य प्रदेश. कई दिनों से रुक-रुककर हो रही बारिश ने मध्य प्रदेश में जिंदगी बेपटरी कर दी है। कई जगहों पर भारी बारिश के चलते पानी भर गया है। नदी-नाले उफान पर हैं। कई बांध लबालब हो जाने से गेट खोलने पड़े हैं। इससे नदियों में बाढ़ आ गई है। खंडवा में नर्मदा घाटी में भारी बारिश के चलते इंदिरा सागर और ओमकारेश्वर बांध से पानी छोड़ने के लिए गेट की संख्या बढ़ा दी गई है। मौसम विभाग ने अनूपपुर, डिंडोरी, शहडोल, सिवनी, नरसिंहपुर, छिंदवाड़ा, मंडला, बालाघाट, छतरपुर और टीकमगढ़ जिलों में बारिश का अलर्ट जारी किया है। भोपाल स्थित मौसम विभाग के वैज्ञानिक एके शुक्ला ने बताया कि बंगाल की खाड़ी में बना कम दवाब का असर मध्य प्रदेश में दिखाई दे रहा है। इससे उत्तरी और पश्चिमी हिस्से में भारी बारिश की संभवना है। देखें कुछ तस्वीरें...

  • rains in Madhya Pradesh, people got upset, opened gates of Bhadbhada Dame KPVrains in Madhya Pradesh, people got upset, opened gates of Bhadbhada Dame KPV
    Video Icon

    Madhya PradeshAug 23, 2020, 6:58 PM IST

    भोपाल में बारिश ने मचाया ऐसा तांडव, खोलने पड़े डेम के गेट, देखें वीडियो

     मध्य प्रदेशके कई जिलों में  जमकर बारिश हो रही है।

  • Monsoon 2020: heavy rain alert, flood-like situation in Madhya Pradesh kpaMonsoon 2020: heavy rain alert, flood-like situation in Madhya Pradesh kpa

    Madhya PradeshAug 22, 2020, 5:25 PM IST

    मध्य प्रदेश में चंद घंटे की भारी बारिश से घबराए लोग, गांव डूबे, बाढ़ की स्थिति को देखते हुए सरकार अलर्ट

    भोपाल, मध्य प्रदेश. शुक्रवार से शुरू हुए तेज बारिश के दौर ने मध्य प्रदेश के ज्यादातर हिस्सों में अफरा-तफरी पैदा कर दी है। रुक-रुककर हो रही बारिश के चलते नदी-नाले उफान पर हैं। घरों में पानी भर गया है। कई गांवों  पर बाढ़ का खतरा मंडराने लगा है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने आपदा की स्थिति को देखते हुए कंट्रोल रूम को 24 घंटे अलर्ट रहने के निर्देश दिए हैं। बंगाल की खाड़ी में बना मजबूत सिस्टम छत्तीसगढ़ के रास्ते मध्य प्रदेश पहुंचते ही भारी बारिश का दौर शुरू हो गया है। मौसम विभाग का कहना है कि 25 अगस्त का भारी बारिश से अलर्ट रहने की जरूरत है। बता दें कि जून के शुरुआत में निसर्ग तूफान के चलते अच्छी बारिश हुई थी। लेकिन जुलाई में सिस्टम कमजोर पड़ने से बारिश थम गई थी। जुलाई में औसत से भी कम बारिश हुई थी। लेकिन 19 अगस्त के बाद सिस्टम फिर मजबूत होना शुरू हुआ और उसने पहले छत्तीसगढ़ और अब मध्य प्रदेश में भारी बारिश करा दी है। भारी बारिश के चलते राज्य की नर्मदा, बेतवा, जामनी, सिंध और धसान जैसी नदियां उफनने लगी हैं।  देखें कुछ तस्वीरें...

  • Monsoon 2020 in India, politics with children in floods .. See some shocking pictures kpaMonsoon 2020 in India, politics with children in floods .. See some shocking pictures kpa

    PunjabJul 22, 2020, 10:03 AM IST

    पॉलिटिक्स की शर्मनाक तस्वीर..प्रदर्शन करने नेताजी ने खुद पहनी लाइफ जैकेट, पर बच्चों की जान खतरे में डाल दी

    बठिंडा, पंजाब. यह राजनीति की एक शर्मनाक तस्वीर है। शहर में जलभराव की स्थिति से प्रशासन को अवगत कराने पूर्व पार्षद विजय कुमार ने गलियों में नाव चलाकर अपना प्रदर्शन किया। लेकिन इस प्रदर्शन को सबसे हटकर बनाने के चक्कर में उन्होंने मासूम बच्चों की जान खतरे में डाल दी। तस्वीर में साफ देखा जा सकता है कि नेताजी ने खुद को पानी में डूबने से बचाने लाइफ जैकेट पहन रखी थी, लेकिन बच्चों की सुरक्षा का कोई इंतजाम नहीं किया। ऐसे में अगर कोई हादसा हो जाता तो इसकी जिम्मेदारी कौन लेता? नेताजी तर्क दे रहे है कि उन्होंने परिजनों की रजामंदी के बाद ही बच्चों को नाव पर बैठाया था। आगे देखिए भारी बारिश और बाढ़ की स्थिति के बाद की तस्वीरें..

  • Dangerous video of flood in Madhya Pradesh goes viral, this video is from of sanwer in IndoreDangerous video of flood in Madhya Pradesh goes viral, this video is from of sanwer in Indore
    Video Icon

    Madhya PradeshSep 3, 2019, 11:54 AM IST

    अफसर खुद देखना चाहते थे कि गांववाले सच बोल रहे या झूठ, अच्छे से आ गया समझ

    यह कोई फिल्मी स्टंट नहीं है। यह मध्य प्रदेश की रियल घटना है। नदियों पर पुल न होने से तमाम गांवों के लोग इसी तरह अपनी जान खतरे में डालते हैं।  मप्र के दो गांव  के लोगों ने प्रशासन से इसकी शिकायत की। अफसरों को लगा शायद झूठ होगी। लेकिन जब खुद असलियत जानने पहुंचे, तब जान की कीमत समझ आई।

  • Flood threat continues in Madhya Pradesh, many diedFlood threat continues in Madhya Pradesh, many died

    Madhya PradeshAug 16, 2019, 4:59 PM IST

    झंडा फहराकर लौट रही थीं दो टीचर, कार सहित बहा ले गई बाढ़

    देश के तमाम राज्यों के साथ ही मध्य प्रदेश में भी लगातार बारिश के चलते नदी-नाले उफान पर हैं। अकेले मध्य प्रदेश में बाढ़ के चलते 32 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है। गुरुवार को स्कूल से फंडावंदन करके लौट रहीं दो टीचर और ड्राइवर कार सहित पानी में बह गए। शुक्रवार को घटनास्थल से करीब 3 किमी दूर तीनों के लाश मिलीं। जानिए पूरा मामला..

  • Flood in country, mother and daughter swept away in   Madhya Pradesh taking selfieFlood in country, mother and daughter swept away in   Madhya Pradesh taking selfie

    Madhya PradeshAug 14, 2019, 12:46 PM IST

    जर्जर पुलिया के ऊपर मां-बेटी की जिंदगी की आखिरी सेल्फी

    मप्र के मंदसौर में भारी बारिश के बीच जर्जर पुलिया के ऊपर सेल्फी लेता एक परिवार हादसे का शिकार हो गया। अचानक तेज बहाव से पुलिया धंसक गई। हादसे में मां-बेटी बाढ़ में बह गए। हालांकि महिला के पति को बचा लिया गया। हादसा मंगलवार को हुआ।