Madhya Pradesh Political Crisis  

(Search results - 5)
  • undefined

    NationalApr 13, 2020, 1:51 PM IST

    SC का फैसला- राज्यपाल के पास है अधिकार, जब सरकार बहुमत में न हो तो फ्लोर टेस्ट का आदेश सही

    सुप्रीम कोर्ट ने पिछले महीने मध्यप्रदेश में हुए सियासी घटनाक्रम को लेकर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान की ओर से दायर याचिका पर फैसला सुनाया है। सर्वोच्च अदालत का कहना है कि मार्च में हुए मामले में राज्यपाल के द्वारा फ्लोर टेस्ट का आदेश देना सही था।
  • undefined

    Madhya PradeshMar 11, 2020, 1:24 PM IST

    एक बार जो कमिटमेंट कर दिया, फिर अपने आपकी भी नहीं सुनते ज्योतिरादित्य सिंधिया, जानिए क्यों...

    भोपाल.  मध्य प्रदेश की राजनीति में 'सियासी गदर' लाने वाले ज्योतिरादित्य सिंधिया के बारे में कहा जाता है कि एक बार वो जो ठान लेते हैं, फिर पीछे नहीं हटते। लंबे समय से कांग्रेस में अपनी उपेक्षा से दु:खी ज्योतिरादित्य सिंधिया शायद 'हवाओं के रुख' का इंतजार कर रहे थे। राज्यसभा इलेक्शन के ठीक पहले उन्होंने अपनी ही सरकार की नींव हिला डाली। ज्योतिरादित्य सिर्फ राजनीति नहीं, अपने व्यक्तिगत मामलों में भी एक बार जो कमिटमेंट कर देते हैं, फिर किसी की नहीं सुनते। यह सलमान खान की फिल्म 'वांटेड' की तरह कोई डायलॉग नहीं है, बल्कि हकीकत है। अपनी लव स्टोरी के दौरान भी ज्योतिरादित्य सिंधिया ने प्रियदर्शिनी से कमिटमेंट किया था। उन्होंने प्रियदर्शिनी को अपनी फैमिली से मिलवाया था, लेकिन इससे पहले ही वे शादी करने का कमिटमेंट कर चुके थे। ज्योतिरादित्य सिंधिया और प्रियदर्शिनी की पहली मुलाकात दिसंबर 1991 को हुई थी। तब सिंधिया अपना ग्रेजुएशन करके यूएस से लौटे थे। उनकी मुलाकात दिल्ली में प्रियदर्शनी से हुई थी। बेशक इनकी अरेंज मैरिज है, लेकिन वे एक-दूसरे से प्यार करने लगे थे। एक इंटरव्यू में ज्योतिरादित्य सिंधिया ने बताया था कि पहली ही मुलाकात में उन्होंने कमिटमेंट कर दिया था कि वे प्रियदर्शिनी से ही शादी करेंगे।

  • undefined

    NationalMar 11, 2020, 10:41 AM IST

    दिल्ली दंगे पर अमित शाह, मैंने ही डोभाल को भेजा, मैं नहीं गया क्योंकि पुलिस मेरे पीछे ही लगी रहती

    होली की छुट्टी के बाद लोकसभा और राज्यसभा की कार्यवाही आज फिर से शुरू हुई। इस दौरान भी विपक्ष का हंगामा जारी रहा, जिसके बाद स्पीकर ने सर्वदलीय बैठक बुलाकर सदन को चलाने के लिए रायशुमारी की। इस दौरान उन्होंने 7 सांसदों को बहाल करने का निर्णय लिया। 

  • undefined

    NationalMar 11, 2020, 8:05 AM IST

    झा ने सिंधिया की एंट्री पर नाराजगी की खबरों को बताया गलत,बोले- मेरी निष्ठा को कोई चुनौती नहीं दे सकता

    मध्यप्रदेश में हुए बड़े उलटफेर के बाद भाजपा ने अपने विधायकों को हरियाणा के गुरुग्राम में शिफ्ट कर दिया है। बताया जा रहा कि कमलनाथ के दावे के बाद बीजेपी ने यह कदम उठाया है। वहीं, कयास लगाया जा रहा कि सिंधिया आज भाजपा की सदस्यता ग्रहण कर सकते हैं। 

  • undefined

    NationalMar 10, 2020, 8:29 AM IST

    कमलनाथ की मीटिंग में सिर्फ 88 विधायक पहुंचे, अपने विधायकों को सुरक्षित करने की कोशिश में लगी दोनों पार्टियां

    मध्यप्रदेश की कमलनाथ सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं। पीएम मोदी और अमित शाह संग हुई 1 घंटे की बैठक के बाद कांग्रेस पार्टी से इस्तीफा दे दिया है। अब यह साफ हो गया है कि सिंधिया भाजपा ज्वाइन करेंगे। जिसके बाद मध्यप्रदेश की सरकार पर खतरा मंडराने लगा है।