Mary Kom  

(Search results - 29)
  • Mary Kom met her fan who cried after her defeat in Tokyo Olympics
    Video Icon

    SportsAug 25, 2021, 2:28 PM IST

    अपनी उस फैन से मिलीं मैरीकॉम जो ओलंपिक में हार के बाद फूट-फूटकर रोने लगी थी

    वीडियो डेस्क। एमसी मैरीकॉम ने अपनी खास फैन से मुलाकात की है। ये वही फैन है जो टोक्यो ओलंपिक में मैरीकॉम के हारने के बाद फूट-फूटकर रोई थी। जापान के टोक्यो शहर में आयोजित ओलंपिक खेलों में कई भारतीयों में मेडल जीते लेकिन 6 बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मैरीकॉम क्वार्टर फाइनल में हार गईं थी। 

  • Tokyo Olympics 2020 : Indian boxer Mary Kom Questions Change Of Ring Dress At Tokyo Olympics dva

    Other SportJul 30, 2021, 10:00 AM IST

    सवालों के घेरे में मैरीकॉम की हार, मैच से पहले आखिर क्यों बदलवाई जर्सी, मुक्केबाज ने मांगा जवाब

    भारत की दिग्गज मुक्केबाज मैरी कॉम ने ट्विटर पर सवाल किया कि उन्हें गुरुवार को कोलंबिया की इंग्रिट वालेंसिया के खिलाफ प्री-क्वार्टर से ठीक एक मिनट पहले अपनी रिंग ड्रेस बदलने के लिए क्यों कहा गया।

  • Tokyo Olympics 2020 : Indian boxer MC Mary Kom's personal and professional life, know interesting facts dva

    Other SportJul 30, 2021, 6:16 AM IST

    38 साल की उम्र और 3 बच्चों के बाद भी बहुत फिट है ये खिलाड़ी, बॉक्सिंग रिंग से लेकर किचन तक जीती है ऐसी लाइफ

    स्पोर्ट्स डेस्क : भारत की सबसे बेहतरीन महिला मुक्केबाज और 6 बार की वर्ल्ड चौंपियन एमसी मैरीकॉम (MC Mary Kom) को टोक्यो ओलंपिक (Tokyo Olympic 2020) में अराजक फैसले की वजह से बाहर होना पड़ा। मैरीकॉम प्री-क्वार्टर फाइनल में कोलंबिया (Columbia) की इंग्रिट वालेंसिया से 2-3 से हार गई। हालांकि, 38 साल की उम्र में भी मैरीकॉम जिस तरह से रिंग में लड़ी वो काबिल-ए-तारीफ है, शायद इसलिए सभी कह रहे कि मैरी को बाहर करने का फैसला सही नहीं था। सभी लोगों के लिए वो इसीलिए प्रेरणा बनीं, क्‍योंकि तमाम मुश्किलों के बावजूद उनके प्रदर्शन का स्‍तर नहीं गिरा और दोहरी शक्ति से वह लड़ती गईं। आइए आज हम आपको बताते हैं, एमसी मैरीकॉम की पर्सनल से लेकर प्रोफेशनल लाइफ के बारे में....

  • Tokyo Olympics 2020: Indian boxing star MC Mary Kom journey ends after loosing to Ingrit Valencia of Colombia dva

    Other SportJul 29, 2021, 4:37 PM IST

    Tokyo Olympics 2020: हार के साथ ही खत्म हुआ भारतीय बॉक्सिंग स्टार एम सी मैरी कॉम का ओलिंपिक का सफर

    टोक्यो ओलंपिक 2020 की महिला मुक्केबाजी के फ्लाईवेट वर्ग के प्रीक्वार्टर फाइनल मुकाबले में भारतीय मुक्केबाज एमसी मैरी कॉम को कोलंबिया की इंग्रिट वालेंसिया से 3-2 से हार का सामना करना पड़ा। इसके साथ ही मैरीकॉम के टोक्यो ओलंपिक 2020 का सफर खत्म हो गया है। 

  • Mary Kom defeats Miguelina Hernandez Garcia in the opening round of women's flyweight pwa

    Other SportJul 25, 2021, 2:23 PM IST

    Tokyo Olympics 2020: बॉक्सिंग में भारत की शानदार शुरुआत, मैरीकॉम ने जीता पहला मुकाबला

    इस जीत के साथ ही मैरीकॉम ने अगले राउंड में जगह बना ली है। देश को मैरीकॉम से गोल्ड की उम्मीद है। 

  • Tokyo Olympic: India Team will lead by Mary Kom and Manpreet Singh holding Tiranga in opening ceremony DHA

    NationalJul 5, 2021, 6:38 PM IST

    Tokyo Olympic: उद्घाटन में भारतीय टीम के साथ तिरंगा लहराते चलेंगे मैरीकॉम और मनप्रीत

    आईओए (IOA) के अध्यक्ष नरिंदर बत्रा ने बताया कि टोक्यो ओलंपिक में 126 एथलीट और 75 अधिकारियों का दल जा रहा है। भारतीय एथलीट 85 इवेंट्स में भाग लेंगे। 

  • Indian women won 10 medals at 2021 Asian Boxing Championships, pooja got gold and mary kom won silver dva

    Other SportMay 31, 2021, 8:21 AM IST

    Asian Boxing Championships: फाइनल में हारीं मैरीकॉम, पूजा ने जीता गोल्ड, सीरीज में महिलाओं ने हासिल की 10 मैडल

    स्पोर्ट्स डेस्क : दुबई में चल रहे एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप 2021 (Asian Boxing Championships 2021) का फाइनल मैच रविवार को खेला गया है। जिसमें भारतीय महिला मुक्केबाजों ने 10 मैडल अपने नाम किए। बॉक्सर पूजा रानी (pooja rani) ने फॉर्म में चल रही मावलुदा मूवलोनोवा को हराकर दूसरी बार गोल्ड मैडल पर कब्जा जमाया। वहीं, दिग्गज मुक्केबाज मैरीकॉम (Mary kom) को सिल्वर से ही संतोष करना पड़ा। भारतीय महिलाओं ने 1 गोल्ड, 3 सिल्वर और 6 ब्रॉन्ज मैडल जीते हैं। आइए आपको बताते हैं, किसने कौन से मैडल जीते..

  • Asian Boxing Championships : Mary Kom and sakshi in Finals, see india's performance in tournament dva

    Other SportMay 28, 2021, 8:57 AM IST

    Asian Boxing Championships: 6 बार की वर्ल्ड चैंपियन मैरी कॉम फाइनल में, साक्षी ने गंवाया गोल्ड

    स्पोर्ट्स डेस्क : 38 साल की महिला बॉक्सर और छह बार की वर्ल्ड चैंपियन एमसी मैरी कॉम ने एक बार फिर दिखा दिया, कि क्यों उन्हें भारत ही नहीं बल्कि दुनिया की सबसे तेज बॉक्सर कहा जाता है। गुरुवार को एशियाई मुक्केबाजी चैंपियनशिप (Asian Boxing Championships) में 51 किलोग्राम की कैटेगिरी में मैरी कॉम (Mary Kom) ने मंगोलिया की लुत्सैखान अल्तांटसेटसेग को 4-1 से हराया और फाइनल में अपनी जगह बना ली है। इसके साथ ही शुक्रवार को 54 किलोग्राम कैटेगिरी में साक्षी ने सिल्वर मैडल जीता। 

  • Mary Kom Love Story: Karung Onkholer the man behind her success, they have 4 kids dva

    Other SportMay 16, 2021, 12:24 PM IST

    बॉक्सिंग के साथ इस तरह रखती हैं 4 बच्चों का ध्यान, अपना करियर छोड़ पति ने हर कदम पर दिया साथ

    स्पोर्ट्स डेस्क : भारत को छह बार विश्‍व चैंपियन बनाने वाली एमसी मैरीकॉम (Mary Kom) आज किसी पहचान की मोहताज नहीं हैं। तमाम बंधनों को तोड़ते हुए वह जिस तरह से आगे बढ़ीं, वो काबिल-ए-तारीफ है। 4 बच्चे होने के बाद भी दुनिया को अपने पंच का दम दिखाया। हाल ही में उन्होंने अपने बेटे प्रिंस सी कॉम के जन्मदिन पर अपने परिवार की कुछ तस्वीरें भी शेयर की है। मैरीकॉम की प्रोफेशनल लाइफ के बारे में तो आप सभी जानते हैं। लेकिन आज हम आपको बताते हैं, उनकी पर्सनल लाइफ के बारे में, कि कैसे बॉक्सिंग के साथ वह 4 बच्चों का ध्यान रखती है और उनके पति ने किस तरह हर कदम पर उनका साथ निभाया है।

  • goodyear india provided sports infrastructure support for mary kom boxing foundation kpt

    Other SportMar 19, 2021, 6:02 PM IST

    मैरी कॉम के बॉक्सिंग फाउंडेशन को गुडइयर इंडिया से मिला सपोर्ट, क्लब में बनाया गया भव्य किचन और डाइनिंग हॉल

    गुडइयर दुनिया की सबसे बड़ी टायर कंपनियों में से एक है जो लगभग 64,000 लोगों को रोजगार देती है।  2019-20 में, कंपनी की CSR पहल के तहत इम्फाल में मैरीकॉम की अकादमी में Kitchen & Dining Hall बनाने में आर्थिक मदद दी।

  • Mary Kom picked as chairperson of AIBA champions and veterans committee KPP

    NationalMar 3, 2021, 3:27 PM IST

    छह बार की विश्व चैंपियन Mary Kom को मिली अब ये अहम जिम्मेदारी, इस समिति की संभालेंगी कमान

     दिग्गज मुक्केबाज मैरी कॉम को बड़ी जिम्मेदारी दी गई है। दरअसल, मैरी कॉम को अंतरराष्ट्रीय मुक्केबाजी संघ (एआईबीए) ने 'चैंपियंस एंड वेटरंस' समिति का अध्यक्ष चुना है। एआईबीए के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स ने यह फैसला किया। 

  • virat kohli asked advice from mary kom on managing roles between caring parents and playing for nation kph

    IPLOct 16, 2020, 3:59 PM IST

    IPL के बीच इस कारण रात भर सो नहीं पा रहे कोहली, 1 बात को सोच-सोचकर उड़ गई है रातों की नींद

    स्पोर्ट्स डेस्क: आईपीएल 2020 में रॉयल चैलेंजर बेंगलुरु की टीम अब जाकर खेल में वापसी करती नजर आ रही है। खराब प्रदर्शन के कारण आरसीबी को काफी आलोचना का सामना करना पड़ा। विराट कोहली को भी इसकी वजह से तनाव हुआ होगा ये जाहिर सी बात है। लेकिन मैच से ज्यादा अभी कोहली को दूसरी चिंता सताए जा रही है। हाल ही में कोहली ने खुलासा किया कि पति से पिता बनने के बारे में सोचकर वो डरे हुए हैं। उन्हें खेल और अपनी जिम्मेदारियों के बीच सामंजस्य बिठाने में दिक्कत होगी, ये सोचकर वो बैचेन है। इसके लिए उन्होंने छह बार की वर्ल्ड चैम्पियन मैरी कॉम से मदद मांगी है। आइये आपको बताते हैं क्या है पूरा मामला... 

  • the pride of india on the International Day of the Girl Child KPP
    Video Icon

    NationalOct 11, 2020, 11:46 AM IST

    लड़कियां घर की ही नहीं देश की भी शान होती हैं.. सुनें पूरे देश को गर्व कराने वालीं इन 6 महिलाओं का संदेश

    आज अंतर्राष्ट्रीय बालिका दिवस (International Day of the Girl Child) है। 11 अक्टूबर 2011 को संयुक्त राष्ट्र महासभा ने गर्ल चाइल्ड डे यानि की शिशु बालिका दिवस को अंतर्राष्ट्रीय दिवस के रूप में मनाने का प्रस्ताव पारित किया था। इस दिवस को मनाने का उद्देश्य लड़कियों को उनके अधिकार के प्रति जागरूक करना और उन्हें समाज में समान दर्जा दिलाना है। आज भारत में तमाम कुरितियों और अंधविश्वासों को पीछे छोड़कर लड़कियां पूरे देश का नाम रोशन कर रही हैं।

  • Mothers day Special Know About Six time world Champion Boxer Marykom kps

    NationalMay 10, 2020, 4:10 PM IST

    मदर्स डेः सपने पूरे करने के लिए छोड़ा घर, जुड़वा बच्चों की मां मैरीकॉम, यूं ही नहीं बनी रोल मॉडल

    नई दिल्‍ली. वैसे तो मां- बेटे के लिए सभी दिन मदर्स-डे से कम नहीं होता है। लेकिन मां की ममता और संघर्ष को सम्मान देने के लिए आज दुनिया भर में मदर्स डे मनाया जाता है। इसी क्रम में आज हम बात करेंगे दुनिया की एक ऐसी शख्सियत की जो सिर्फ खेल जगत के लिए ही प्रेरणा नहीं है, बल्कि दुनिया की हर एक महिला, हर एक पत्‍नी और हर एक मां के लिए भी प्रेरणा है। छह बार की विश्‍व चैंपियन एमसी मैरीकॉम तमाम बंधनों को तोड़ते हुए जिस तरह से आगे बढ़ीं और दुनिया को अपने पंच का दम दिखाया, वो हर उस व्‍यक्ति को करारा जवाब था, जिसने उनके कदमों को रोका, उनके हाथों को बांधा, सिर्फ उनके ही नहीं, उन जैसी तमाम लड़कियों को कई तरह से दबाव बनाकर रोक दिया गया। आइए जानते हैं उनके बारे में....

  • Seeing the player who started boxing, Mary Kom is battling to death in lockdown

    Other SportApr 21, 2020, 6:11 PM IST

    जिस खिलाड़ी को देखकर मैरीकॉम ने शुरू की थी बॉक्सिंग, लॉकडाउन में मौत से जूझ रहा है वह दिग्गज

    साल 1998 में एशियन गेम्स में स्वर्ण पदक जीतकर डिंको सिंह ने सभी को प्रभावित किया था। मैरीकॉम सहित कई मुक्केबाजों ने उनके खेल से प्रेरणा ली और बॉक्सर बनने का फैसला किया। लेकिन समय के साथ इस महान मुक्केबाज के दिन पलट चुके हैं। डिंकों लॉकडाउन के बीच जिंदगी और मौत से जूझ रहे हैं।