Medical Sciences  

(Search results - 11)
  • INI CET 2021 new exam date announced, Candidates can too change Exam City dva

    CareersJun 20, 2021, 11:04 AM IST

    स्टूडेंट कर ले ये तारीख लॉक, अब इस दिन होगी INI CET 2021 की परीक्षा, जानें कब आएंगे एडमिट कार्ड

    सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद INI CET 2021 की परीक्षा की तरीख में बदलाव कर दिया है। अब ये परीक्षा 22 जुलाई 2021 को होगी। जानें कब होगा एडिमिट कार्ड जारी और कैसे बदले एक्जाम सिटी...

  • PM Mod Says 2020 was about health challenges, 2021 will be about health solutions kpv
    Video Icon

    NationalDec 31, 2020, 3:03 PM IST

    कोरोना वैक्सीन की तैयारी आखिरी फेज में, जानें प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

    वीडियो डेस्क। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजकोट में ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (एम्स) की आधारशिला वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए रखी। मोदी ने कहा कि 2020 ने हमें सिखाया कि स्वास्थ्य ही संपदा है। यह पूरा साल चुनौतियों भरा रहा। कोरोना वैक्सीन की तैयारी अब आखिरी फेज में है। मोदी ने कहा कि 2020 को नई हेल्थ फैसिलिटी के साथ विदाई देना चुनौतियों को दर्शाता रहा है। ये साल दुनिया में अभूतपूर्व चुनौतियों को दिखाता है। इस साल साबित हुआ कि स्वास्थ्य से बड़ा कुछ भी नहीं। स्वास्थ्य पर जब चोट होती है तो जीवन ही नहीं, पूरा सामाजिक दायरा उसकी लपेट में आ जाता है। पीएम ने कहा कि  कोरोना वैक्सीन की तैयारी आखिरी फेज मेंच चल रही है। वीडियो में जानें प्रधानमंत्री मोदी के भाषण की 10 बड़ी बातें

     

  • The fight between junior doctors and family after the death of a patient in Rims of Ranchi kpa

    JharkhandOct 27, 2020, 5:31 PM IST

    मरीज की मौत के बाद परिजनों ने पकड़ ली लेडी 'भगवान' की गिरेबां, तो हंगामा खड़ा हो गया

    रांची, झारखंड. यहां रिम्स (Rajendra Institute of Medical Sciences) में मंगलवार को जमकर हंगामा हो गया। सोमवार देर रात एक मरीज की मौत के बाद परिजन भड़क उठे। उन्होंने डॉक्टरों पर लापरवाही का आरोप लगाया। वहीं, जूनियर डॉक्टरों का कहना है कि परिजनों ने उनके साथ बदतमीजी की। यहां तक कि कपड़े तक फाड़ दिए। इसे बाद मंगलवार सुबह जूनियर डॉक्टर इमरजेंसी गेट के बाहर धरने पर बैठ गए। उन्होंने काला बिल्ल लगाकर काम किया। वे मृतक के परिजनों के खिलाफ FIR दर्ज करने का मांग कर रहे थे। पुलिस ने उनका आवेदन ले लिया है। बाद में दोनों पक्षों को समझाकर मामला शांत कराया गया। बरियातू थाने में डॉक्टरों द्वारा दिए गए आवेदन में लिखा गया कि रिम्स में धनबाद तिसरा के मरीज को भर्ती किया गया था। मरीज की हालत गंभीर थी। इसके बारे में परिजनों को बता दिया गया था। मरीज का इलाज अच्छे से किया जा रहा था। लेकिन सोमवार रात करीब 9 बजे उसकी मौत हो गई। इसके बाद परिजनों ने गुस्से में एक महिला डॉक्टर के कपड़े फाड़ दिए। आगे जाने पूरा मामला...
     

  • Shocking pictures of health services in India kpa

    ChhattisgarhSep 25, 2020, 10:06 AM IST

    शर्मनाक तस्वीरें: कोरोना तो बहाना है, हमें तो बस पैसा कमाना है...नहीं, तो कोई जीये-मरे हमें क्या पड़ी

    पेंड्रा, छत्तीसगढ़. कोरोनाकाल (Corona infection) में मेडिकल स्टाफ की जिम्मेदारी काफी बढ़ गई है, लेकिन कुछ स्टाफ अपनी जिम्मेदारियां नहीं समझ रहे। ये घटनाएं यही दिखाती हैं। कोरोना के बहाने मरीजों का शोषण किया जा रहा है। मरीजों की देखभाल तो दूर...बिना पैसे उनका इलाज तक नहीं किया जा रहा है। प्रसव पीड़ा होने पर इस महिला को जिला अस्पताल लाया गया था। लेकिन यहां स्टाफ ने गर्भ में ही बच्चे की मौत होने का बताकर बिलासपुर सिम्स (Chhattisgarh Institute of Medical Sciences)  रेफर कर दिया। वहां कोरोना के बहाने उसे भर्ती करने से मना कर दिया गया। अपनी पत्नी की जान खतरे में देखकर पति घबरा गया और वो उसे  एम्बुलेंस से गौरेला के एक प्राइवेट अस्पताल ले गया। वहां 20000 रुपए खर्च करने पड़े। पढ़िए पूरी खबर...

  • Home Minister Amit Shah has been admitted to AIIMS for post COVID care KPP

    NationalAug 18, 2020, 10:58 AM IST

    अमित शाह एम्स में भर्ती, थकान और शरीर में दर्द की शिकायत थी; अस्पताल से ही कर रहे काम

    केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह दिल्ली एम्स में भर्ती कराए गए हैं। शाह हाल ही में कोरोना को मात देकर घर लौटे थे। उनकी 2 अगस्त को कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी। इसके बाद उन्हें मेदांता अस्पताल में भर्ती कराया गया था। 

  • Kanika Kapoor is free from illness, not from difficulties, now the police will have to answer the idiots asa

    Uttar PradeshApr 6, 2020, 1:07 PM IST

    कनिका कपूर बीमारी से फ्री हुई हैं मुश्किलों से नहीं, अब पुलिस को देना होगा बेवकूफियों का जवाब

    लखनऊ (Uttar Pradesh) । बॉलीवुड सिंगर कनिका कपूर को भले ही अस्पताल से छुट्टी मिल हो। लेकिन, उनकी मुश्किलें अभी कम नहीं हुई है। कोरोना वायरस के संक्रमण का इलाज कराने के बाद अब उन्हें पुलिस के सवाल का जवाब देना होगा। जी हां, लंदन से मुंबई के रास्ते लखनऊ पहुंची कनिका कपूर पर तीन एफआईआर दर्ज है। इन सभी एफआईआर में कनिका कपूर पर सरकार के दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करने और जानबूझकर लोगों की जान खतरे में डालने का आरोप है। खबर है कि 14 दिनों का क्‍वारेंटाइन खत्म होने के बाद कनिका कपूर से लखनऊ पुलिस पूछताछ करेगी। बता दें कि कनिका कपूर 9 मार्च को लंदन से वापस आईं थीं, जिसके बाद 20 मार्च को उन्होंने खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की बात सार्वजनिक की थी। इसके बाद उनपर खुद के कोरोना पॉजिटिव होने की खबर छुपाने और लापरवाही बरतने के आरोप लगने लगे थे और सरोजिनी नगर, हजरतगंज और महानगर थाने में एफआईआर दर्ज है। 

  • Kanika Kapoor returns home, will have to stay in Quarantine for 14 days asa

    Uttar PradeshApr 6, 2020, 10:52 AM IST

    अब अस्पताल से कनिका कपूर की छुट्टी, घर में ही 14 दिन तक क्वारनटीन में रहना होगा

    लखनऊ (Uttar Pradesh)। बालीवुड सिंगर कनिका कपूर के फैंस के लिए एक और अच्छी खबर। कनिका की लगातार दूसरी रिपोर्ट कोरोना नेगेटिव आई है। कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद 20 मार्च को लखनऊ के संजय गांधी पोस्ट ग्रेजुएशन इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस अस्पताल में भर्ती हुईं कनिका कपूर अब पूरी तरह से ठीक हो गई हैं। इसके बाद उन्हें अस्पताल से डिस्चार्ज कर दिया गया है। लेकिन, डॉक्टर्स की सलाह पर कनिका कपूर को अपने घर में 14 दिनों तक क्वारनटीन में रहना पड़ेगा।

  • 3 corona patients cured in 10 days with hot water and special diet, know how treatment was done ASA

    Uttar PradeshMar 31, 2020, 8:55 AM IST

    गर्म पानी और स्पेशल डाइट से 10 दिन में ठीक हुए कोरोना के 3 मरीज, जानिए कैसे हुआ उपचार

    ग्रेटर नोएडा (Uttar Pradesh)। देशभर में कोरोना वायरस की दहशत है। डॉक्टर दवा और इलाज नहीं होने की दुहाई दे रहे हैं। सरकार ने भी लॉक डाउन कर दिया है, जिससे लोग अपने ही घरों में कैद नजर आ रहे हैं। लेकिन, राजकीय आयुर्विज्ञान संस्थान (जिम्स) इससे इत्तेफाक नहीं रखता। महज 10 दिन में कोरोना के मरीजों को पूरी तरह से स्वस्थ कर दिया। बड़ी बात न कोई खास दवा दी और न ही वेंटिलेटर या अन्य किसी मेडिकल इमरजेंसी की जरूरत पड़ी। जी हां बस गर्म पानी, स्पेशल डाइट और मोटिवेशन ने यह कमाल किया है। बता दें कि इस तरह के उपचार से दो दिन में तीन मरीजों को डिस्चार्ज किया गया है।

  • Corona's havoc: AIIMS will not be able to get treatment in OPD from Monday, only emergency and surgery will be available kpm

    NationalMar 21, 2020, 11:33 PM IST

    कोरोना का कहर: सोमवार से एम्स OPD में नहीं करवा पाएंगे इलाज, केवल इंमरजेंसी और सर्जरी की मिलेगी सुविधा

    अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) ने सोमवार से मरीजों के नियमित ओपीडी पंजीकरण (बाहृय रोगी विभाग) को अस्थायी तौर पर बंद रखने का फैसला किया है। संस्थान अपने संसाधनों का उपयोग कोविड-19 के प्रकोप की रोकथाम के लिए करना चाहता है।

  • Fire in Delhi AIIMS, 10 fire brigade controlled the situation kpm

    NationalFeb 1, 2020, 10:48 PM IST

    दिल्ली एम्स में लगी आग, दमकल की 10 गाड़ियों ने आग पर पाया का

    अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) की यहां स्थित एक इमारत में आग लग गई जिसके बाद दस दमकल की गाड़ियों को तुरंत मौके पर भेजा गया है।
     

  • Recruitment for the post of Senior Resident Doctors, know details KPI

    CareersDec 11, 2019, 1:23 PM IST

    सीनियर रेजीडेंट डॉक्टर के पदों के लिए निकली भर्तियां, जानें डिटेल्स

    सरकारी सेवा में जाने की इच्छा रखने वाले मेडिकल डिग्रीधारी कैंडिडेट्स के लिए बेहतरीन मौका सामने आया है। ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेस, जोधपुर में सीनियर रेजीडेंट डॉक्टरों के पद के लिए वैकेंसी निकली है।