Migrant Workers  

(Search results - 99)
  • undefined

    NationalJun 10, 2021, 4:36 PM IST

    अनुराग ठाकुर का केजरीवाल से सवाल- वन नेशन वन राशन कार्ड लागू ना करके प्रवासी मजदूरों का हक क्यों छीन रहे

    अनुराग ठाकुर ने द हिंदू की एक रिपोर्ट भी शेयर की है। इसमें खाद्य सचिव ने केजरीवाल सरकार को पत्र लिखकर वन नेशन वन राशन कार्ड स्कीम लागू करने की मांग की है, ताकि राजधानी में करीब 10 लाख प्रवासी मजदूरों को इसका लाभ मिल सके। 

  • undefined
    Video Icon

    Uttar PradeshApr 25, 2021, 10:30 AM IST

    यूपी लौट रहे प्रवासी मजदूरों को लाठी-डंडो से पीटा, बस में बैठने को लेकर हुआ था विवाद


    वीडियो डेस्क। कोरोना के वजह से लगे  लॉकडाउनके कारण  प्रवासी मजदूरों का हाल बुरा हो गया है।  वीडियो में कुछ लोग एक शख्स को पीटते नजर आ रहे हैं और ये महिला गुहार लगा रही कि कोई तो बचा लो। लेकिन लाठी-डंडो से लैस ये लोग कोई रहम नहीं खाते और उस शख्स को सड़क पर गिराकर मारते हैं। ये मामला मध्य प्रदेश के भिंडजिले के गोरमी इलाके का है। मामला ये था कि जयपुर से यूपी के जालौन के लिए चली बालाजी कंपनी की बस इस इलाके से गुजर रही थी। बस में प्रवासी मजदूर सवार थे जो अपने गांव लौट रहे थे। महुआ चौकी के पास मजदूरों की बस को रोका गया और किसी दूसरी बस के यात्रियों को बस में बैठाया जाने लगा। बस में पहले से बैठे लोगों ने इसका विरोध किया। खास तौर पर महिलाओं की सीटों पर युवकों को बैठाए जाने को लेकरखासी बहस हो गई।गोरमी थाने में 4 मजदूरों की शिकायत पर से पांच आरोपियों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया। 
     

  • <p>Migrant workers</p>
    Video Icon

    Madhya PradeshApr 20, 2021, 2:57 PM IST

    50 सीट की बस में 100 लोग, ड्राइवर की लापरवाही ने ली 3 मजदूरों की जान, दर्दनाक मंजर

    वीडियो डेस्क। एक बार फिर से लॉकडाउन के डर से पलायन करने वाले मजदूरों के हादसों की खबरें आने लगी हैं। दिल्ली में लॉकडाउन के डर से घर लौट रहे प्रवासी मजदूरों से भरी एक बस मध्य प्रदेश के टीकमगढ़ जिले में पलट गई। जिसमें तीन मजदूरों की मौके पर ही मौत हो गई। वहीं कुछ लोग अभी गंभीर रुप से घायल बताए जा रहे हैं। 

  • undefined

    Madhya PradeshApr 20, 2021, 1:18 PM IST

    MP में बड़ा हादसा: मजदूरों से भरी बस पलटी, 3 की मौत और कई नीचे दबे, दहशत में खिड़की से लगाई छलांग

    पुलिस ने किसी तरह से क्रेन की मदद से बस को हटवाकर उसके नीचे से शव निकाले। मृतक बुरी तरह दबे हुए थे, आलम यह था कि उनका चेहरा भी पहचानना मुश्किल हो रहा था।  बस में 52 लोगों को बैठाने की सीट थी, लेकिन उसमें कहीं ज्यादा 100 यात्री सवार थे। 

  • undefined

    NationalApr 19, 2021, 10:27 PM IST

    केजरीवाल की अपील बेअसर, हजारों मजदूर दिल्ली से रवाना, आनंद विहार पहुंचे हजारों मजदूर, बस पकड़ने को अफरातफरी

    दिल्ली में छह दिनों के लाॅकडाउन के ऐलान के बाद प्रवासी मजदूरों में वापस लौटने को लेकर भगदड़ मचा हुआ है। आनंद विहार टर्मिनस सहित यूपी/बिहार आने वाली बसों में जगह नहीं मिल रहे हैं। हजारों की संख्या में लोग आनंद विहार बस स्टेशन पर हैं। 

  • undefined

    NationalApr 14, 2021, 11:21 AM IST

    महाराष्ट्र में ब्रेक द चेन मुहिम: गरीबों को 3 किलो गेहूं, 2 किलो चावल फ्री...ताकि लॉकडाउन में ना हो पलायन

    कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार ने 14 अप्रैल से 1 मई तक के लॉकडाउन का ऐलान किया है। राज्य में सिर्फ जरूरी सेवाएं खुली रहेंगी। लॉकडाउन के ऐलान के बाद से महाराष्ट्र के तमाम शहरों से मजदूरों का पलायन होने लगा है। पलायन को रोकने और गरीबों की मदद के लिए उद्धव सरकार ने 3 किलो गेहूं, 2 किलो चावल फ्री में देने भी ऐलान किया है। 

  • <p>Migrant workers</p>
    Video Icon

    NationalApr 10, 2021, 3:47 PM IST

    ना आस ना उम्मीद, बस खौफ...और घर की तरफ बैरंग लौटते लोग, बहुत कुछ कहती हैं मजदूरों की ये तस्वीर

    वीडियो डेस्क। कोरोना की दूसरी लहर के बीच लोगों का पलायन शुरू हो गया है। कोरोना से सबसे बुरा हाल महाराष्ट्र का है और अब यहां से मजदूरों ने पलायन करना शुरू कर दिया है। मुंबई के एक रेलवे स्टेशन की तस्वीर ने लॉकडाउन के दर्द को बयां किया है। रेलवे स्टेशन पर प्रवासी मजदूरों की भीड़ और ट्रेनों के दरवाजे और खिड़कियों से लटके हुए थे। हालांकि इस बीच रेलवे ने भी ये स्पष्ट किया है कि ट्रेन सेवा बंद नहीं होंगी साथ ही जरूरत पड़ने पर और ट्रेन चलाई जाएंगी। 

  • undefined

    NationalApr 8, 2021, 3:09 PM IST

    लॉकडाउन का डर : दिल्ली और मुंबई से मजदूरों का पलायन शुरू, बोले- अच्छा होगा अब शहर छोड़ दें.....

    भारत में तेजी से कोरोना के मामले बढ़ रहे हैं। कई राज्यों ने कोरोना के संक्रमण को रोकने के लिए वीकेंड लॉकडाउन और नाइट कर्फ्यू का ऐलान भी कर दिया है। ऐसे में प्रवासी मजदूरों को अपने भविष्य को लेकर चिंताएं बढ़ने लगी हैं। 

  • undefined
    Video Icon

    NationalDec 24, 2020, 10:28 AM IST

    गरीबों की मदद के लिए बनाया राइस एटीएम

    नमस्कार मेरा नाम है इंटरनेशनल खबरी और आज हम बात करेंगे रामू डोसापटी के बारे में जिन्होंने खुद के 50 लाख खर्च कर गरीबों के लिए राइस एटीएम बनाया। रामू डोसापटी का राइस एटीएम दिन के 24 घंटे चलता है। गरीब और बेसहारा लोग इसके जरिये जरूरत का राशन कभी भी ले सकते हैं। रामू लोगों को यह सुविधा भी देते हैं कि अगर उनके पास कुछ खाने को नहीं है तो वह एलबी नगर में उनके घर आकर राशन का सामान ले जा सकते हैं। लॉकडाउन के दौरान से ही रामू डोसापटी लोगों को राशन बांट रहे हैं।

  • undefined

    NationalOct 16, 2020, 7:23 PM IST

    दुर्गा पूजा पंडाल में रखी प्रवासी महिला मजदूर की प्रतिमा, लॉकडाउन के संघर्ष की कहानी कर रही बयां

    पश्चिम बंगाल में दुर्गा पूजा के आयोजन की तैयारी शुरू हो गई है। हालांकि, कोरोना के चलते आयोजन हर बार की तरह भव्य नहीं होगा। इसी बीच कोलकाता का एक पंडाल चर्चा में है। दरअसल, एक पंडाल ने पुरानी परंपरा को बदलते हुए अनोखी पहल दिखाई है।

  • undefined

    NationalSep 15, 2020, 12:25 PM IST

    मोदी सरकार के पास प्रवासी मज़दूरों की मौतों और नौकरियां जाने के आंकड़े ही नहीं - राहुल गांधी

    लगातार मोदी सरकार पर हमलावर हो रहे कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहूल गांधी (Rahul Gandhi ) ने आज फिर केंद्र सरकार पर प्रवासी मजदूरों को लेकर निशाना साधा है। लॉकडाउन के दौरान मजदूरों की मौतों पर मोदी सरकार पर तंज कसते हुए राहुल ने ट्वीट किया कि मोदी सरकार को नहीं पता कि लॉकडाउन में कितने मजदूरों की मौतें हुई और कितनी नौकरियां गई।

  • undefined

    Other StatesSep 8, 2020, 2:26 PM IST

    इस पुलिस इंस्पेक्टर को अफसर भी कर रहे सलाम, लोग बोले-आप हमारे भगवान हो, पढ़िए दिल को छूने वाली खबर

     बेंगलुरु. पूरे देश में इस वक्त कोरोना के कहर के चलते स्कूल-कॉलेज बंद हैं। इसके बावजदू भी टीचर बच्चों की ऑनलाइन क्लासेस लगा रहे हैं। लेकिन वही बच्चे इन क्लास को अटेंड कर पा रहे हैं जिनके पास स्मार्टफोन और इंटरनेट है। गरीब परिवार के बच्चे तो इन सबसे काफी दूर हैं। इसी बीच कर्नाटक के एक पुलिस इंस्पेक्टर गरीब छात्रों केके लिए मसीहा बनकर उनकी मदद करने आगे आए। वह उनका भविष्य बिगड़ते नहीं देख सकते थे। जिनकी जिंदादिली की आज हर कोई तारीफ कर रहा है। इतना ही नहीं कई बड़े अफसर तो उनके नेक काम को देखकर उन्हें सलाम कर रहे हैं।

  • undefined
    Video Icon

    BollywoodJul 27, 2020, 1:58 PM IST

    गरीब किसान ने बैल की जगह बेटियों से जुतवाए खेत, सोनू सूद ने घर भिजवा दिया इतना बड़ा तोहफा

      बॉलीवुड एक्टर  सोनू सूद  जरूरतमंदों की लगातार मदद कर रहे हैं। अब उन्होंने आंध्रप्रदेश के चित्तूर के उस परिवार की मदद की है जिस किसान परिवार की दो लड़कियां खेत में बैलों की जगह खुद हल खींचकर बोवनी करती हुई दिखाई दी थीं। चित्तूर के मदनापल्ले गांव के नागेश्वर राव के पास न तो बैल हैं और न ही किराये पर बैल लेने के लिए पैसा है।

  • undefined

    BollywoodJul 22, 2020, 1:42 PM IST

    अब इस ऐप के जरिए सोनू सूद प्रवासियों को दिलाएंगे काम, नहीं देना होगा कोई चार्ज

    कोरोना महामारी और लॉकडाउन में प्रवासियों को तमाम समस्याओं का सामना करना पड़ा था। उनकी मदद के लिए सोनू सूद ने हाथ आगे बढ़ाया था। उन्होंने हजारों मजदूरों को उनके घर फ्री में बस से भेजा था। साथ ही उनके लिए खाने पीने की भी व्यवस्था की थी।

  • undefined
    Video Icon

    BollywoodJul 7, 2020, 6:07 PM IST

    प्रवासी मजदूरों की मदद करने वाले सोनू सूद को एक फैन ने दिया खास अंदाज में ट्रिब्यूट

     बॉलीवुड एक्टर सोनू सूद  इन दिनों काफी सुर्खियों में हैं। एक्टर लगातार लॉकडाउन  में प्रवासी मजदूरों और छात्रों की मदद कर रहे हैं। कोरोना वायरस और लॉकडाउन के बीच एक्टर सोनू सूद लोगों के मसीहा बनकर सामने आए हैं। एक्टर ने अब तक हजारों मजदूरों और छात्रों को उनके घर पहुंचाने में काफी मदद की है।