Nag Panchami 2021 Date  

(Search results - 10)
  • Nag Panchami, to avoid rahu ketu dosha effects dont do these things on this dayNag Panchami, to avoid rahu ketu dosha effects dont do these things on this day

    Aisa KyunAug 13, 2021, 8:55 AM IST

    आज Nagpanchami पर भूलकर भी न करें ये काम, नहीं तो राहु-केतु के दोष कर सकते हैं आपको परेशान

    सावन (Sawan) माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि पर शिव जी और नाग देवता की विशेष पूजा की जाती है। इस पर्व को नागपंचमी (Nagpanchami) कहा जाता है, इस बार ये पर्व 13 अगस्त, शुक्रवार को है। धर्म ग्रंथों के अनुसार, इस दिन नागदेवता की पूजा करने से कई तरह के दोषों का शमन हो जाता है और सर्प भय से मुक्ति मिलती है।

  • Nag Pamchami, chanting these mantras may solve your problems and get you successNag Pamchami, chanting these mantras may solve your problems and get you success

    UpayAug 13, 2021, 8:48 AM IST

    आज Nagpanchami पर करें सर्प सूक्त और नवनाग स्त्रोत का पाठ, दूर होगीं परेशानियां और हर काम में मिलेगी सफलता

    आज (13 अगस्त, शुक्रवार) नागपंचमी (Nagpanchami) है। इस दिन नागदेवता को प्रसन्न करने के लिए पूजा, मंत्र जाप व उपाय आदि किए जाते हैं। मान्यता है कि इस दिन ऐसा करने से ग्रहों से संबंधित अशुभ फलों में तथा काल सर्प दोष (Kaal Sarp Dosh) के अशुभ फल में भी कमी आती है।

  • Nag panchami 2021,  Nagchandreshwar Mandir in Ujjain doors are opened once in a year, do online darshan of itNag panchami 2021,  Nagchandreshwar Mandir in Ujjain doors are opened once in a year, do online darshan of it

    Aisa KyunAug 13, 2021, 2:00 AM IST

    Nagpanchami: साल में एक बार खुलता है ये नाग मंदिर, इस लिंक पर क्लिक कर घर बैठे करें ऑनलाइन दर्शन

    उज्जैन (Ujjain), मध्य प्रदेश में नागदेवता का एक ऐसा मंदिर है जो साल में सिर्फ एक बार नागपंचमी (Nagpanchami 2021) पर दर्शनों के लिए खोला जाता है। ये मंदिर महाकाल (Mahakaal temple Ujjain) गर्भगृह के ऊपर दूसरी मंजिल पर स्थित है। कोरोना महामारी के चलते इस बार इस मंदिर में आम श्रृद्धालुओं का प्रवेश निषेध रहेगा, केवल ऑनलाइन दर्शन होंगे। इस मंदिर में स्थापित भगवान नागचंद्रेश्वर की प्रतिमा परमार काल की बताई जाती है।

  • Nag Panchami 2021, do these remedies as per zodiac sign to get rid of problemsNag Panchami 2021, do these remedies as per zodiac sign to get rid of problems

    UpayAug 12, 2021, 12:46 PM IST

    Nagpanchami पर राशि अनुसार उपाय करने से दूर हो सकते हैं ग्रहों के दोष व अन्य परेशानियां

    उज्जैन. इस बार 13 अगस्त, शुक्रवार को नागपंचमी (Nagpanchami 2021) का पर्व मनाया जाएगा। इस दिन मुख्य रूप से नागदेव की पूजा की जाती है। ऐसी मान्यता है कि सावन (Sawan 2021) मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी को नागदेवता की पूजा करने से सर्प भय से मुक्ति मिलती है। इस दिन नाग मंदिरों में भी दर्शन के लिए भक्तों की कतारें लगती है। महिलाएं नाग स्थानों (बांबी) की पूजा करती हैं और घर की खुशहाली के लिए नागदेवता से प्रार्थना करती हैं। 

  • Nag Panchami, do these remedies to avoid inauspicious effects of Kal Sarp DoshNag Panchami, do these remedies to avoid inauspicious effects of Kal Sarp Dosh

    UpayAug 12, 2021, 10:14 AM IST

    बचना चाहते हैं कालसर्प दोष के अशुभ प्रभाव से तो नागपंचमी पर करें ये आसान उपाय

    कल (13 अगस्त, शुक्रवार) नागपंचमी (Nag Panchami) है। ज्योतिषियों के अनुसार, जिन लोगों की कुंडली में कालसर्प दोष है, वे यदि इस दिन कुछ खास उपाय करें तो इस दोष का असर कुछ कम हो सकता है। इस दिन उज्जैन व नासिक में कालसर्प दोष (Kaal Sarp Dosh) मुक्ति के लिए विशेष अनुष्ठान भी किए जाते हैं।

  • Nag Panchami on 13th August, know the shubh muhurat, puja vidhi and kathaNag Panchami on 13th August, know the shubh muhurat, puja vidhi and katha

    Aisa KyunAug 12, 2021, 8:30 AM IST

    नागपंचमी पर नागदेवता की पूजा करने से नहीं रहता सर्प भय, ये है विधि, शुभ मुहूर्त और कथा

    सावन मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नागपंचमी (Nagpanchami 2021) का पर्व मनाया जाता है। इस पर्व से जुड़ी कई परंपराएं और मान्यताएं हमारे समाज में प्रचलित हैं। इस बार ये पर्व 13 अगस्त, शुक्रवार को है। इस दिन नाग मंदिरों में विशेष पूजा-अर्चना की जाती है। ऐसी मान्यता है कि ऐसा करने से सर्प भय से मुक्ति मिलती है।

  • Nag Panchami 2021, this snake temple in Bengaluru is 600 years old, know about itNag Panchami 2021, this snake temple in Bengaluru is 600 years old, know about it

    Aisa KyunAug 11, 2021, 9:00 AM IST

    Nag Panchami: 600 साल पुराना है बेंगलुरु का ये नाग मंदिर, भगवान कार्तिकेय ने यहां सर्प रूप में की थी तपस्या

    हिंदू धर्म में सर्पों की पूजा का विशेष महत्व है। नागपंचमी (Nag Panchami 2021) (13 अगस्त, शुक्रवार) के अवसर पर देशभर के नाग मंदिरों में विशेष पूजा की जाती है। इनमें से हर मंदिर से कोई न कोई मान्यता और परंपरा जुड़ी हुई है। ऐसा ही एक मंदिर बेंगलुरु (Bengaluru) शहर से 60 किमी की दूरी पर डोड्डाबल्लापुरा (Doddaballapura) तालुका के पास स्थित है, जिसे घाटी सुब्रमण्या मंदिर (Subramanya Temple) के नाम से जाना जाता है। इस मंदिर से एक मान्यता जुड़ी हुई है।

  • Nag Panchami 2021 on 13th August, know the effect of shubh yog of this day on your zodiac signsNag Panchami 2021 on 13th August, know the effect of shubh yog of this day on your zodiac signs

    JyotishAug 11, 2021, 8:30 AM IST

    Nag Panchami 13 अगस्त को: इस दिन बन रहे शुभ योगों का किस राशि पर क्या असर होगा, जानिए

    उज्जैन. सावन (Sawan 2021) मास भगवान शिव को समर्पित है। इस महीने में नागपंचमी (Nag Panchami 2021 ) का पर्व भी मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 13 अगस्त, शुक्रवार को है। इस दिन नागों की पूजा विशेष रूप से की जाती है। इस दिन कार्य में सफलता देने वाले रवि योग के साथ मंगलकारी हस्त व चित्रा नक्षत्र का त्रिवेणी संयोग बनेगा। इस शुभ संयोग में कालसर्प दोष (Kaal Sarp Dosh) से मुक्ति के साथ सुख-समृद्धि की कामना से नाग देवता का दूध से अभिषेक और पूजन करना शुभकारी रहेगा। इन शुभ योगों का असर सभी राशियों पर होगा। आगे जानिए राशिफल...

  • Nag Panchami 2021, it is believed taking this rishi name may save you from snake biteNag Panchami 2021, it is believed taking this rishi name may save you from snake bite

    Aisa KyunAug 10, 2021, 9:41 AM IST

    Nagpanchami मान्यता: इन ऋषि का नाम लेने से नहीं काटते नाग, इन्होंने ही रुकवाया था राजा जनमेजय का सर्प यज्ञ

    सावन (Sawan) के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नागपंचमी (Nag Panchami) का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 13 अगस्त, शुक्रवार को है। हमारे धर्म ग्रंथों में नागों (Snakes) की उत्पत्ति से लेकर अन्य कई सारी बातें विस्तार पूर्वक बताई गई हैं। महाभारत के प्रथम अध्याय में ही सर्प यज्ञ का वर्णन आता है। उसके अनुसार जब राजा जनमेजय ने सर्प यज्ञ किया तो दूर-दूर से बलशाली सर्प आकर अग्निकुंड में गिरने लगे। तब एक मुनि पुत्र ने वहां आकर राजा जनमेजय को प्रसन्न उस यज्ञ को रुकवा दिया। वे मुनि थे नागों की बहन जरत्कारू (मनसा) के पुत्र आस्तिक।

  • Nag Panchami 2021 on 13th August, know about shubh yoga forming on this dayNag Panchami 2021 on 13th August, know about shubh yoga forming on this day

    JyotishAug 6, 2021, 10:50 AM IST

    Nag Panchami 2021: 13 अगस्त को 3 शुभ योगों में मनाई जाएगी नागपंचमी, क्यों मनाया जाता है ये पर्व?

    नागपंचमी (Nagpanchami) 13 अगस्त, शुक्रवार को है। इस दिन कार्य में सफलता देने वाले रवि योग के साथ मंगलकारी हस्त व चित्रा नक्षत्र का त्रिवेणी संयोग बनेगा।