Narayanpur  

(Search results - 11)
  • Two soldiers martyred in naxal attack near ITBP Camp Kademeta in NarayanpurTwo soldiers martyred in naxal attack near ITBP Camp Kademeta in Narayanpur

    ChhattisgarhAug 20, 2021, 5:07 PM IST

    पुलिस-नक्सलियों के बीच मुठभेड़: ITBP के असिस्टेंट कमांडेंट और ASI शहीद, एके-47 लेकर फरार हुए नक्सली

    छोटे डोंगर थाना क्षेत्र के करियामेटा कैंप से महज 600 मीटर की ही दूरी पर फिलहाल मुठभेड़ जारी है। जवान भी नक्सलियों का डट कर सामना कर रहे हैं। 

  • chhattisgarh news narayanpur naxalites attacked mine and fire vehicles kprchhattisgarh news narayanpur naxalites attacked mine and fire vehicles kpr

    ChhattisgarhJul 3, 2021, 1:32 PM IST

    छत्तीसगढ़ के नारायणपुर में नक्सलियों ने किया हमला, गाड़ियों में लगाई आग और कर्मचारियों को बनाया बंधक

    नक्सलियों ने हमला शनिवार सुबह 10 बजे किया है। जहां खदान की सुरक्षा बल के जवानों के साथ नक्सलियों की मुठभेड़ हुई। हालांकि 12 कर्मचारियों को बंधक बनाने के बाद 10 कर्मचारियों को छोड़ दिया है, लेकिन दो का अभी भी पता नहीं है।

  • Union home minister amit shah In  Chhattisgarh kpvUnion home minister amit shah In  Chhattisgarh kpv
    Video Icon

    ChhattisgarhApr 5, 2021, 6:24 PM IST

    Chhattisgarh में बोले गृह मंत्री Amit Shah,जवानों की शहादत देश कभी नहीं भूलेगा, जड़ से खत्म करेंगे नक्सलवाद

    वीडियो डेस्क। छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए नक्सली हमले में 22 जवान शहीद हो गए हैं। नक्सलियों के इस कायरना हरकत के बाद गृह मंत्रालय अलर्ट मोड में आ गया है और नक्सलियों के खिलाफ बड़े ऑपरेशन की तैयारी की जा रही है। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह आज छत्तीसगढ़ के जगदलपुर पहुंच गए हैं. उन्होंने शहीद जवानों को श्रद्धांजलि दी। इसके साथ गृह मंत्री अमित शाह ने अस्पताल में घायल जवानों से मुलाकात की। सुबह ही अमित शाह दिल्ली से जगदलपुर के लिए रवाना हुए।  जगदलपुर में ही गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सल पर एक बड़ी बैठक भी की। 
     

  • Know who is the mastermind of chhattisgarh naxali attack kpvKnow who is the mastermind of chhattisgarh naxali attack kpv
    Video Icon

    ChhattisgarhApr 5, 2021, 2:24 PM IST

    छत्तीसगढ़ नक्सली हमले का कौन है मास्टरमाइंड? इस वीडियो में जानिए उसकी पूरी कुंडली..

    छत्तीसगढ़ के बीजापुर में हुए जबर्दस्त नक्सली हमले में 24 जवानों की शहादत ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया हैं। इस हमले में 31 जवान घायल भी हुए हैं. वहीं नक्सलियों का यह तांडव अब भी जारी है। इस हमले में शहीद जवानों की संख्‍या बढ़ने की आशंका अभी बरकरार है. देश एक बार फिर से हुए इस नक्सली हमले से  दुखी है और उसके मन ये सवाल है कि आखिर इतनी बड़ी मुठभेड़ के पीछे किसकी साजिश है? और कौन है इसका मास्टरमाइंड? आपको बता दें  इसका मास्टरमाइंड नक्सलियों की पिपुल्स लिब्रेशन गोरिल्ला आर्मी (PLGA) बटालियन 1 का कमांडर हिडमा है।  हिड़मा का पूरा नाम मांडवी हिडमा उर्फ इदमुल पोडियाम भीमा है। वह सुकमा जिले के जगरगुंडा इलाके के पुड़अती गांव का निवासी है। हिडमा दंडकारण्य स्पेशल जोनल कमेटी का बड़ा नक्सल लीडर है।  अनपढ़ होने को बावजूद वह न सिर्फ फर्राटेदार अंग्रेजी बोलता है, बल्कि कंप्यूटर का भी जानकार है। उसे गुरिल्ला वार में महारत हासिल है। उसने दो शादियां की हैं। इसकी पत्नियां भी नक्सल गतिविधियों में शामिल हैं। हिडमा के तीन भाई हैं। इनमें से मांडवी देवा और मांडवी दुल्ला गांव में खेती करते हैं। तीसरा मांडवी नंदा गांव में नक्सलियों को पढ़ाता है। हिडमा की बहन भीमे दोरनापाल में रहती है। चार साल पहले सुकमा में चलाए गए ऑपरेशन प्रहार में उसे गोली लगी थी, लेकिन बताया जाता है कि वह बच गया। उस पर 25 लाख रुपए का इनाम है। हिडमा बस्तर का रहने वाला इकलौता ऐसा आदिवासी है जो नक्सलियों की सबसे खूंखार बटालियन को लीड करता है
     

  • Amit Shah cuts short campaign, returns to Delhi after Naxal attack in Chhattisgarh KPVAmit Shah cuts short campaign, returns to Delhi after Naxal attack in Chhattisgarh KPV
    Video Icon

    NationalApr 4, 2021, 6:50 PM IST

    VIDEO : असम दौरे को बीच में छोड़ दिल्ली लौटे Amit Shah, कहा नक्सलियों को मुंह तोड़ जवाब देंगे

    वीडियो डेस्क।  केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह ने नक्सलियों  के साथ मुठभेड़ में 24 जवानों के शहीद होने के मद्देनजर रविवार को असम में चुनाव प्रचार के लिए अपना दौरा बीच में ही रोककर दिल्ली लौटे। अमित शाह ने सभी शहीदों को श्रद्धांजलि देते हुए कहा कि शहीदों ने जो देश के लिए अपने प्राण गंवाए हैं वो व्यर्थ नहीं जाएगा। ये खून खराबा बिल्कुल बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। समय आने पर उचित जवाब दिया जाएगा।

    रक्तपात बर्दाश्त नहीं होगा, जवाब देंगे- शाह
    अमित शाह ने सुलालकुची में कहा कि नक्सली हमलों में सुरक्षाकर्मियों की जान जाने जैसी घटना को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा, उचित समय पर मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। छत्तीसगढ़ में नक्सल हमलों में हताहत हुए लोगों का पता लगाया जाना अभी बाकी है, तलाश अभियान जारी है। शाह ने कहा, ‘जहां तक संख्या का सवाल है, तो दोनों ओर नुकसान हुआ है और हताहत होने वालों की सटीक संख्या तुरंत पता नहीं लग सकती है।
     

  • Naxalite attack in Naranpur of Chhattisgarh, 5 soldiers martyred asaNaxalite attack in Naranpur of Chhattisgarh, 5 soldiers martyred asa

    ChhattisgarhMar 24, 2021, 10:43 AM IST

    नारायणपुर में नक्सलियों ने बम से बस को उड़ाया, 33 फीट ऊपर तार से लगा करंट, फिर नीचे गिरे, अब तक 5 जवान शहीद

    नारायणपुर ( Chhattisgarh) । नक्सलीय हमले में अब तक पांच जवान शहीद हो गए हैं। वहीं, घायल जवानों को इलाज के लिए रायपुर भेजा गया है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक विस्फोट से बस करीब 33 फीट ऊपर हाईटेंशन वायर से भी टकराई थी, जिससे जवानों को करंट का झटका भी लगा था। बता दें कि धौड़ाई के पास कड़ेनार में मंगलवार की शाम 4.15 बजे नक्सलियों ने जवानों से भरी बस को विस्फोट से उड़ा दिया था।

  • Three soldiers martyred in Naxal attack, Naxals blasted the bus of the soldiers asaThree soldiers martyred in Naxal attack, Naxals blasted the bus of the soldiers asa

    ChhattisgarhMar 23, 2021, 5:55 PM IST

    छत्तीसगढ़: नारायणपुर में नक्सलियों ने जवानों से भरी बस को बम से उड़ाया, 5 जवान शहीद

    मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कहा जा रहा है कि बस में करीब 25 जवान सवार थे। धौड़ाई और पल्लीनार के बीच यह विस्फोट हुआ है। जवानों की बस कड़ेनार से कन्हार गांव बस लौट रही थी। घायल जवानों को नारायणपुर अस्पताल में इलाज के लिए लाया गया है, वहां से प्राथमिक उपचार के बाद रायपुर रेफर किया गया।

  • Narayanpur News, Chhattisgarh Armed Force jawan shot two, including senior kpaNarayanpur News, Chhattisgarh Armed Force jawan shot two, including senior kpa

    ChhattisgarhMay 30, 2020, 12:31 PM IST

    मामूली झगड़े के बाद आगबबूला हुआ CAF का जवान, कैम्प में एके-47 से कर दी ताबड़तोड़ फायरिंग, 2 की मौत, एक घायल

    आपसी विवाद के बाद बौखलाए छत्तीसगढ़ आर्म्ड फोर्स(CAF) के सहायक कमांडर ने अपने साथी दो जवानों की एके-47 राइफल से गोली मारकर हत्या कर दी। आरोपी ने ताबड़तोड़ फायरिंग की। घटना में सीनियर घायल हुआ है। उसे रायपुर रेफर किया गया है। घटना शुक्रवार देर रात आमदई घाटी कैंप में हुई। यह नक्सल प्रभावित इलाका है। घटना के बाद पुलिस ने आरोपी जवान को पकड़ लिया गया। उसके खिलाफ FIR दर्ज करके मामले की जांच की जा रही है। एसपी मोहित गर्ग ने घटना की पुष्टि करते हुए इस दुर्भाग्यपूर्ण बताया।

  • Police picked up 6, including former state minister, for firing in two factions of SP-BSP side, death of siblings asaPolice picked up 6, including former state minister, for firing in two factions of SP-BSP side, death of siblings asa

    Uttar PradeshMar 15, 2020, 6:51 PM IST

    सपा-बसपा पक्ष के दो गुटों में ताबड़तोड़ फायरिंग, भाई-बहन की मौत, पूर्व राज्यमंत्री समेत 6 को पुलिस ने उठाया


    पुलिस ने विरोधी पक्ष के सपा एमएलसी कमलेश पाठक और उनके दो भाइयों समेत 6 लोगों को हिरासत में लिया है। बता दें कि घटना के दौरान मौके पर मौजूद लोगों ने भाग कर किसी तरह अपनी जान बचाई। एसपी ने बताया कि गोली एमएलसी कमलेश पाठक के भाई संतोष पाठक की ओर से चलाई गई।

  • Emotional story related to Shaheed Moolchandra Kanwar and his innocent daughter in Narayanpur, Chhattisgarh kpaEmotional story related to Shaheed Moolchandra Kanwar and his innocent daughter in Narayanpur, Chhattisgarh kpa
    Video Icon

    ChhattisgarhDec 16, 2019, 5:25 PM IST

    पिता की मूर्ति को देखकर चहक उठी मासूम बेटी, कहा पापा लड्डू खा लो और चूमा गाल

    प्यार हमेशा हिंसा से बढ़कर होता है। यह वीडियो इसी का भावुक करने वाला उदाहरण है। नक्सली हिंसा में शहीद हुए अपने पिता की मूर्ति से जब 2 साल की बेटी रूबरू हुई, तो उसका प्यार देखकर कठोर दिल वाले भी रो पड़े।

  • 2 year old daughter falls in love with the idol of martyr father in Narayanpur kpa2 year old daughter falls in love with the idol of martyr father in Narayanpur kpa

    ChhattisgarhDec 14, 2019, 5:51 PM IST

    निशब्द करती तस्वीर, जब शहीद पापा की मूर्ति से लिपटकर यूं प्यार करने लगी मासूम

    यह फोटो निशब्द करता है। 2 साल की उम्र के बच्चे भले ठीक से बोल नहीं सकते। दुनियादारी समझ नहीं सकते, लेकिन दिल तो उनका भी धड़कता है। अपनों को खोने का दर्द उनको भी होता होगा।