Ndrf Team  

(Search results - 8)
  • undefined

    MaharashtraJul 26, 2021, 7:40 PM IST

    बारिश की तबाही की मार्मिक तस्वीर, जवानों ने मलबे से निकला 7 माह के मासूम का शव तो आ गए आंसू

    रायगढ़. महाराष्ट्र में पिछले एक सप्ताह से भारी बारिश का कहर जारी है। प्रदश के करीब 21 जिलों में हाहाकार मचा हुआ है। लेकिन सबसे बुरी हालत रायगढ़ जिले के तलीये गांव की है। जहां लैंडस्लाइड में दर्जनों घर जमींदोज हो गए, चार दिन से यहां मलबे के नीचे लाशों के निकालने का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा। अब तक रेस्क्यू टीम इस गांव के 53 लोगों के शव निकाल चुकी है। लेकिन शनिवार को जैसे ही एनडीआरएफ टीम के जवानों ने एक सात माह के बच्चे का शव एक चट्टान के नीचे से निकाला तो उनकी आंखों में भी आंसू आ गए। जिसने अभी ठीक से दुनिया देखी भी नहीं थी कि वह कुदरत के कहर का शिकार हो गया। शायद इसिलए लोग कहते हैं कि छोटे शव सबसे ज्यादा भारी होते हैं, क्योंकि उनको उठाते वक्त आंखों से आंसू छलक जाते हैं। पढ़िए कैसे-अपनों को खोने के बाद पांच दिन से बिलख रहे हैं परिजन...

  • undefined

    BiharJun 17, 2021, 10:32 AM IST

    जल प्रलय की इन तस्वीरों से बिहार में तबाही का खतरा, कई जिलों में बाढ़ जैसे हालात..NDRF टीमें तैनात

    पटना (बिहार). नेपाल में मूसलाधार बारिश ने तांडव मचाया हुआ है, जल प्रलय के इस सैलाब में अब तक 7 लोगों की मौत की हो गई और कई लोग लापता हैं। पिछले 24 घंटे से हो रही भारी बारिश से भारत की सीमा से लगी नदियां उफान पर चल रही हैं। बाढ़ के पानी से कई पुल टूट गए हैं। नेपाल से आ रही तबाही की इन तस्वाीरों ने अब बिहार की भी चिंता बढ़ा दी है। प्रदेश में बाढ़ का खतरा मडंराने लगा है, जिसे देखते हुए राज्य सरकार ने नेपाल बॉर्डर से लगे जिलों में एनडीआरएफ की टीमों की तैनाती कर दी है। तस्वीरों में देखिए बारिश का सैलाब...

  • undefined

    StateFeb 7, 2021, 2:51 PM IST

    अमित शाह ने शेयर की ग्लेशियर तबाही की जानकारी, लोगों को बचाने पहुंचे हेलीकॉप्टर और सेना के 600 जवान

    गृह मंत्री ने कहा कि चमोली में रेस्क्यू ऑपरेशन के लिए वायुसेना और आर्मी के हेलीकॉप्टरों और जवानों को लगाया गया है। ऋषिकेश में राइवाला के नजदीक मिलिट्री स्टेशन के जवान स्थानीय प्रशासन के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन में जुटे हुए हैं। आर्मी मुख्यालय से स्थिति पर नजर रखी जा रही है। 

  • undefined

    NationalJun 2, 2020, 10:09 AM IST

    अब निसर्ग तूफान की दस्तक, 100 किमी की रफ्तार से चलेगी हवा; 3 जून को महाराष्ट्र के तट से टकराएगा, अलर्ट

    भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक निसर्ग तूफान 3 जून को महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में हरिहरेश्वर और दमन के बीच उत्तर महाराष्ट्र और दक्षिण गुजरात के तटों से टकरा सकता है। इस दौरान करीब 100 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। जिसको लेकर महाराष्ट्र और गुजरात में अलर्ट जारी कर दिया गया है। इसके साथ ही NDRF की टीमों की तैनाती की गई है। 

  • <p>ndrf</p>

    NationalMay 20, 2020, 4:49 PM IST

    अम्फान तूफान से 2 की मौत, NDRF ने कहा, ग्राउंड पर 20 टीमें तैयार, सभी सैटेलाइट सिस्टम से लैस

    पश्चिम बंगाल के तट से चक्रवात अम्फान टकरा चुका है। एनडीआरएफ के डीजी एसएन प्रधान ने कहा, लैंडफॉल का सिलसिला शुरू हो चुका है। चक्रवात के बाद असल में  NDRF का काम शुरू होगा। काम और बढ़ने वाला है। ओडिशा और बंगाल में हमारी बटालियनें हैं।  

  • undefined
    Video Icon

    NationalOct 3, 2019, 7:10 PM IST

    डूबते-डूबते बचे पूर्व केंद्रीय मंत्री, देखें 5 वायरल खबरें

    बिहार के पाटलिपुत्रा से सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री रामकृपाल यादव की नाव पलट गई और वे पानी में छपाक से गिर गए। हालांकि उन्हें समय रहते बचा लिया गया। दरअसल पूर्व केंद्रीय मंत्री यादव बाढ़ग्रस्त क्षेत्र का जायजा लेने पहुंचे थे उसी वक्त जुगाड़ से बनी नाव का बैलेंस बिगड़ गया और वे पानी में जा गिरे। देखें 5 वायरल खबरें

  • undefined

    MaharashtraSep 4, 2019, 6:42 PM IST

    बादलों ने दुहराई फिर से वही कहानी, हर तरफ पानी ही पानी


    मुंबई. कुदरत ने मुंबई में बीती रात से आसमानी तबाही का ऐसा कहर बरपाया कि लोग सिर्फ लाचार होकर देख रहे हैं। मंगलवार शाम से शुरू हुई तेज बारिश बुधवार को भी जारी है। इसके चलते शहर के कई इलाकों में पानी भर गया है। 24 घंटे से जारी बारिश की रफतार कम होने का नाम ही नहीं ले रही है।
     

  • undefined

    JharkhandAug 28, 2019, 4:39 PM IST

    इस IPS अफसर ने KBC में जीते 25 लाख, इनको भारत के राष्ट्रपति से लेकर यूके सरकार भी कर चुकी है सम्मानित

    झारखंड कैडर के 1988 बैच के आईपीएस व एनडीआरएफ के डीजी सत्‍य नारायण प्रधान ने कौन बनेगा करोड़पति (KBC)में 25 लाख रुपए जीते। उन्होंने जीती हुई यह राशि शहीदों के आश्रितों के लिए बने खाता ‘भारत के वीर’ में जमा कर दी।