Nehru  

(Search results - 86)
  • undefined

    Madhya PradeshJul 7, 2021, 3:21 PM IST

    नेहरू से लेकर मनमोहन और अटल बिहारी तक...देखिए दिलीप कुमार का दिग्गज नेताओं के साथ अंदाज

    लखनऊ (उत्तर प्रदेश). अभिनेता दिलीप कुमार दुनिया को अलविदा कह गए। उन्होंने 98 साल की उम्र में मुंबई के पीडी हिंदुजा अस्पताल में अंतिम सांस ली। यह खबर सामने आते ही बॉलीवुड से लेकर राजनीतिक गलियारों में शोक की लहर दौड़ गई। नेता-अभिनेता से लेकर आम आदमी तक अपने हीरो के जाने से दुखी हैं। दिलीप कुमार इतने बड़े स्टार थे कि देश के बड़े और दिग्गज नेता भी गुजरे जमाने में उनके साथ नजर आए हैं। भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू से लेकर इंदिरा गांधी, अटल बिहारी वायपेयी, मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी और राजनाथ सिंह के अलावा कई अन्य नेताओं के साथ उनकी तस्वीरें हैं। आइए देखते हैं कुछ ऐसी ही खास तस्वीरें...

  • <p><strong>प्रयागराज (Uttar Pradesh ) ।</strong> मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के एसआरएन अस्पताल से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां भर्ती मिर्जापुर की एक युवती से गैंगरेप करने का आरोप लगा था। हालांकि मेडिकल रिपोर्ट्स में इसकी पुष्टि नहीं हुई। वहीं, मंगलवार सुबह पीड़िता की मौत हो गई। बता दें कि युवती को यहां 31 मई की रात गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। उसी रात उसकी आंत का ऑपरेशन हुआ था। 2 जून को होश में आने के बाद युवती ने आरोप लगाया था कि उसके साथ गैंगरेप हुआ है। युवती ने अपने भाई को लिखकर कहा था, 'डॉक्टर अच्छे नहीं हैं। उन्होंने मेरे साथ गंदा काम किया।'<br />
&nbsp;</p>

    Uttar PradeshJun 8, 2021, 2:24 PM IST

    अस्पताल में भर्ती लड़की ने भाई से कहा-डॉक्टर अच्छे नहीं..मेरे साथ किया गंदा काम, 8 दिन बाद हो गई मौत

    प्रयागराज (Uttar Pradesh ) । मोतीलाल नेहरू मेडिकल कॉलेज के एसआरएन अस्पताल से एक बड़ी खबर सामने आ रही है। यहां भर्ती मिर्जापुर की एक युवती से गैंगरेप करने का आरोप लगा था। हालांकि मेडिकल रिपोर्ट्स में इसकी पुष्टि नहीं हुई। वहीं, मंगलवार सुबह पीड़िता की मौत हो गई। बता दें कि युवती को यहां 31 मई की रात गंभीर हालत में भर्ती कराया गया था। उसी रात उसकी आंत का ऑपरेशन हुआ था। 2 जून को होश में आने के बाद युवती ने आरोप लगाया था कि उसके साथ गैंगरेप हुआ है। युवती ने अपने भाई को लिखकर कहा था, 'डॉक्टर अच्छे नहीं हैं। उन्होंने मेरे साथ गंदा काम किया।'
     

  • undefined

    Uttar PradeshJun 3, 2021, 12:18 PM IST

    ऑपरेशन कराने गई युवती का गैंगरेप, भाई को कागज पर लिखकर बताया दर्द, जांच के लिए 2 कमेटियां गठित

    सीओ कोतवाली सत्येन्द्र तिवारी भी मौके पर पहुंचे थे। वहीं, पुलिस इस मामले में एक नई कहानी भी बता रही है। पुलिस के मुताबिक युवती को प्यास लगी थी डॉक्टर ने पानी देने के लिए मना किया था जिससे वह परेशान थी और उसकी हालत गंभीर बनी थी। शायद इसी मानसिक परेशानी की वजह से उसने ऐसा लिखा है।
     

  • undefined

    Madhya PradeshMay 27, 2021, 8:23 PM IST

    दिग्विजय सिंह ने शेयर की ऐसी एक फोटो जो चर्चा में, लिखा-कुछ कहने की आवश्यकता नहीं है..यह चित्र ही काफी

    आज देश के पूर्व प्रधानमंत्री पं. जवाहरलाल नेहरु पुण्यतिथि है। इस मौके पर दिग्विजय सिंह ने उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए पीएम मोदी और पंडित जवाहरलाल नेहरू की एक-एक फोटो शेयर कर दोनों के बीच अंतर बता दिए।

  • undefined

    NationalMay 27, 2021, 11:24 AM IST

    पूर्व प्रधानमंत्री नेहरू की पुण्यतिथि पर राहुल गांधी सहित देश के कई नेताओं ने दी श्रद्धांजलि

    देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू की 27 मई को 57वीं पुण्यतिथि पर उन्हें देश ने नमन करते हुए श्रद्धांजलि दी। कांग्रेस सांसद राहुल गांधी और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल सहित कई नेताओं ने उन्हें याद किया। राहुल गांधी ने शांतिवन जाकर पंडित नेहरू को श्रद्धांजलि दी।

  • undefined

    NationalApr 15, 2021, 4:58 PM IST

    जब Dr.Ambedkar की हार पर नेहरु ने लेडी माउंटबेटन को लिखा था पत्र

    ‘इस चुनाव की सबसे चौकाने वाली व दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति यह रही कि विरोधी विचारधारा वाले दलों का गठबंधन बना। सोशलिस्टों का गठबंधन अंबेडकर की पार्टी से हुआ। इसका नतीजा यह हुआ कि ये लोग जनता में अपना विश्वास खो दिये। अंबेडकर ने हिंदू सांप्रदायिक दलों के साथ समझौता किया। कृपलानी की पार्टी ने भी अजीब गठबंधन किया है। उनकी पार्टी राइटविंग के साथ हो ली। उन्होंने लिखा है कि आम चुनाव में वह सभी प्रकार के गठबंधन हुए जो विचारधाराओं के आधार पर एक दूसरे के करीब नहीं आ सकते थे लेकिन कांग्रेस को हराने के लिए सभी एक साथ आए।'

  • <p>आवेदन करने वाले उम्मीदवारों की आयु 18 वर्ष से 37 वर्ष के बीच हो, आयु सीमा की गणना 1 जनवरी 2021 से की जाएगी।&nbsp; सिलेक्शन उनके आईटीआई में पाए गए अंकों के आधार पर बने मेरिस्ट लिस्ट के अनुसार किया जाएगा। भर्ती के लिए उम्मीदवार को कोई भी लिखित परीक्षा या इंटरव्यू नहीं देना होगा। कैंडिडेट्स ऑफिशियल वेबसाइट, pstcl.org पर आवेदन कर सकते हैं।</p>

<p>&nbsp;</p>

<p>नोटिफिकेशन जारी होने की तारीख: 1 मार्च 2021<br />
आवेदन शुरू होने की तारीख 5 मार्च 2021<br />
आवेदन करने की अंतिम तारीख: 26 मार्च 2021<br />
फीस जमा करने की अंतिम तिथि: 30 मार्च 2021</p>

    CareersMar 14, 2021, 3:24 PM IST

    Sarkari Naukari: ग्रेजुएट्स डिस्ट्रिक्ट प्रोजेक्ट ऑफिसर के लिए करें अप्लाई, हर महीने पाएं 33,000 सैलरी

    आवेदन करने वाले उम्मीदवार के पास किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से ग्रेजुएशन की डिग्री होनी चाहिए। ये शानदार मौका है जब आप हर महीने 30 हजार से ज्यादा पैकेज वाली नौकरी पा सकते हैं।

  • undefined

    NationalFeb 28, 2021, 11:29 PM IST

    किस्सा: राजभवन में नहीं थी नेहरू की पसंदीदा सिगरेट, मंगवाने के लिए भोपाल से विमान भेजा गया था इंदौर

    देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू की आलीशान जीवनशैली के किस्से हम अकसर सुनते आए हैं। ऐसा ही एक किस्सा हाल ही में सामने आया है। बताया जाता है कि एक बार जवाहर लाल नेहरू मध्यप्रदेश के दौरे पर भोपाल में राजभवन में ठहरे हुए थे। तब उनके लिए उनकी पसंदीदा सिगरेट मंगाने के लिए विमान को इंदौर भेजा गया था। 

  • undefined

    NationalFeb 5, 2021, 11:59 PM IST

    इतिहास में 6 फरवरी: भारत के 'रईसों' में गिने जाते थे पंडितजी के पिता मोतीलाल, ऐसे जन्मा 'नेहरू' शब्द

    6 फरवरी, 1931 इतिहास के पन्नों में खास अहमियत रखती है। इस दिन भारत के प्रथम प्रधानमंत्री पंडित जवाहरलाल नेहरू के पिता और इंदिरा गांधी के दादा मोतीलाल नेहरू का निधन हुआ था। मोतीलाल नेहरू स्वतंत्रता संग्राम के शुरुआती कार्यकर्ताओं में से एक थे। 'जलियांवाला बाग कांड' के बाद 1919 में अमृतसर में हुई बैठक में वे पहली बार कांग्रेस के अध्यक्ष बने। इसके बाद 1928 में कोलकाता बैठक में उन्हें दुबारा अध्यक्ष चुना गया। मोतीलाल नेहरू 1920 में महात्मा गांधी को सुनकर इतने प्रभावित हुए कि वकालात छोड़कर आजादी की लड़ाई में कूद गए। जब भी कांग्रेस पर संकट आता, मोतीलाल नेहरू उसे आर्थिक सहायता देते थे। मोतीलाल के बारे में कहा जाता है कि वे अपने समय के रईस थे। महंगे वकील थे और महंगी चीजों के शौकीन भी। आइए पढ़ते हैं कुछ किस्से...

  • undefined

    NationalJan 30, 2021, 2:27 PM IST

    भारत में तीन मौकों पर प्रधानमंत्री ने पेश किया बजट, नेहरू ऐसा करने वाले पहले पीएम थे

    1 फरवरी को वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बजट पेश करेंगी। देश में हमेशा वित्तमंत्री ही बजट पेश करते आए हैं। लेकिन तीन बार भारत के इतिहास में ऐसा हुआ कि प्रधानमंत्री को बजट पेश करना पड़ा। ये तीन प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और राजीव गांधी थे।

  • undefined

    BollywoodJan 25, 2021, 9:26 PM IST

    इंडियन आइडल के जज बोले- लता जी ने नेहरू के लिए गाया था 'ऐ मेरे वतन..', उड़ा मजाक तो मांगी माफी

    सिंगिंग रियलिटी शो 'इंडियन आइडल 12' (Indian Idol) में जज विशाल ददलानी (Vishal Dadlani) एक गलती कर बैठे, जिसके बाद उन्हें सोशल मीडिया पर जमकर ट्रोल किया जा रहा है। हालांकि ट्रोल होने के बाद विशाल को जब अपनी गलती का अहसास हुआ तो उन्होंने इसके लिए एक पोस्ट शेयर कर माफी मांग ली है। 

  • <p>modi jnu</p>

    NationalNov 12, 2020, 7:00 PM IST

    JNU में PM मोदी ने स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया, प. नेहरू की प्रतिमा से ऊंची है यह प्रतिमा

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) ने गुरुवार को जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (JNU) के परिसर में स्वामी विवेकानंद की प्रतिमा का अनावरण किया। बता दें कि प्रधानमंत्री ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से स्वामी विवेकानंद की प्रतीमा का अनावरण किया। इस कार्यक्रम में केंद्रीय शिक्षा मंत्री रमेश पोखरियाल निशंक भी उपस्थित रहे।

  • undefined

    NationalNov 2, 2020, 8:04 PM IST

    UP: नेहरू एजुकेशनल सोसाइटी फर्ज़ीवाड़े मामले में कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने आर्थिक अपराध शाखा को लिखा पत्र

    राहुल गांधी की करीबी और उत्तर प्रदेश में रायबरेली सदर से कांग्रेस विधायक अदिति सिंह ने सोमवार को नेहरू एजुकेशनल सोसाइटी फर्ज़ीवाड़े के मामले में आर्थिक अपराध शाखा को पत्र लिखा है। बता दें कि इस मामले में वे सीएम योगी से भी मदद मांग चुकीं हैं और सीएम की तारिफ भी कर चुकीं हैं। लेकिन वर्तमान में स्थिति पर कुछ कार्यवाही ना होती देख उन्होंने इसके लिए अपराध शाखा को पत्र लिखा है। 

  • undefined

    CelebsOct 31, 2020, 12:56 PM IST

    कंगना ने साधा गांधी-नेहरू पर निशाना, बताया आखिर क्यों प्रधानमंत्री नहीं बन पाए सरदार वल्लभ भाई पटेल

    लौहपुरुष सरदार वल्लभभाई पटेल की शनिवार को 145वीं जयंती है। इस अवसर पर कंगना रनोट ने उन्हें श्रद्धांजलि दी। इसके साथ ही कंगना ने महात्मा गांधी और पंडित जवाहरलाल नेहरू की आलोचना भी की। कंगना ने सरदार पटेल के समझौतों के लिए गांधीजी को जिम्मेदार ठहराया। कंगना रनोट ने एक के बाद एक तीन ट्वीट किए, जिनमें उन्होंने गांधीजी और नेहरू पर जमकर निशाना साधा।

  • undefined

    NationalOct 26, 2020, 12:13 PM IST

    पंजाब में पीएम का पुतला जलाने पर भड़के जेपी नड्डा, बोले- गांधी परिवार ने कभी पीएम दफ्तर का सम्मान नहीं किया

     बिहार विधानसभा चुनाव से पहले पंजाब में पीएम नरेंद्र मोदी का पुतला जलाए जाने को लेकर भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस और गांधी परिवार पर निशाना साधा। जेपी नड्डा ने कहा, राहुल गांधी द्वारा निर्देशित पंजाब में पीएम का पुतला जलाने का नाटक शर्मनाक है। लेकिन यह अप्रत्याशित नहीं है। क्योंकि नेहरू-गांधी राजवंश ने कभी भी प्रधानमंत्री कार्यालय का सम्मान ही नहीं किया।