Newborn Died  

(Search results - 3)
  • ambulance did not arrive mother and newborn died in bullock cart kplambulance did not arrive mother and newborn died in bullock cart kpl

    Uttar PradeshJun 1, 2020, 8:44 AM IST

    एम्बुलेंस नहीं आई तो बैलगाड़ी से गर्भवती को ले गए अस्पताल, इलाज करने से इंकार; मां-नवजात की मौत

    सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने लोगों को बेहतर स्वास्थ्य सुविधाएं देने के लिए रोजाना अधिकारियों को निर्देश दे रहे हैं। सीएम योगी टीम 11 के साथ रोजाना बैठक करते हैं और कड़े निर्देश देते हैं। लेकिन इन सब के इतर सरकारी महकमा अपने ही तरह से लोगों की जान से खिलवाड़ करने में जुटा हुआ है। यूपी के मेरठ मेडिकल कॉलेज में ऐसा ही एक मामला देखने को मिला। यहां प्रसव पीड़ा से कराहती गर्भवती महिला को एम्बुलेंस से अस्पताल ले जाने के लिए परिजन निकले। लेकिन महिला ने एम्बुलेंस में ही बच्चे को जन्म दे दिया। घर वाले उसे लेकर पास में रहने वाली अस्पताल में काम करने वाली एक आया के पास ले गए। लेकिन बच्चे की मौत हो गई। एम्बुलेंस के जाते ही मां की भी हालत खराब हो गई। उसके बाद परिजन बैलगाड़ी से महिला को लेकर मेडिकल कालेज गए जहां उसे भर्ती करने से इंकार करते हुए जिला अस्पताल ले जाने को कहा गया। लेकिन रास्ते में ही उसकी भी मौत हो गई।

  • Sensational allegations at government hospital, pregnant woman did not get admitted due to being Muslim kpuSensational allegations at government hospital, pregnant woman did not get admitted due to being Muslim kpu

    RajasthanApr 5, 2020, 7:03 PM IST

    दर्द से चीख रही थी गर्भवती, मुस्लिम नाम सुनते ही डॉक्टर ने नहीं किया भर्ती..जन्म के बाद बच्चे की मौत

    राजस्थान के भरतपुर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है।  जहां इरफान नाम के एक युवक ने अस्पताल पर मुसलमान होने की वजह से गर्भवती पत्नी का इलाज नहीं करने का आरोप लगाया है। इरफान ने कहा कि डॉक्टर ने मेरा नाम पूछते ही इलाज इंकार कर दिया और कहा की आप जयपुर जाएं। अस्पताल से निकलने के बाद महिला ने एंबुलेंस के अंदर बच्चे को जन्म दिया, लेकिन कुछ ही देर में नवजात की मौत हो गई। जब यह मामला लोगों के सामने आया तो पुरे महकमें में हड़कंप मच गया।

  • Three month old innocent newborn died rajasthan dungarpurThree month old innocent newborn died rajasthan dungarpur

    RajasthanNov 2, 2019, 11:32 AM IST

    भगवान किसी को न दे ऐसे मां-बाप, जिन्होंने जीते-जी अपने ही बच्चे को रोते-बिलखते मार डाला

    डॉक्टरों ने मासूम के ऑपरेशन के लिए दिवाली के बाद का समय तय किया था। लेकिन इससे पहले ही नवजात की तबीयत इतनी ज्यादा बिगड़ गई की उसने शुक्रवार को दम तोड़ दिया। जो लोग मासूम की देखभाल कर रहे थे, वह रोते-रोते यही कह रहे थे। भगवान ऐसे लोगों को संतान ही न दे जो मासूमों का दर्द ना समझ सकें।