Nirbhaya Case Latest News  

(Search results - 48)
  • asha devi told about nirbhaya when she met her after incident KPPasha devi told about nirbhaya when she met her after incident KPP

    NationalMar 21, 2020, 10:42 AM IST

    मां तुम्हारी बिंदी कहां है...दरिंदगी के 3 दिन बाद होश में आने पर निर्भया ने पूछा था यही सवाल

    2651 दिन के लंबे इंतजार के बाद भले ही निर्भया को न्याय मिल गया। लेकिन उस हैवानियत या दर्द को नहीं भुलाया जा सकता, जिसे निर्भया ने उस रात के बाद झेला था। 16 दिसंबर 2012 की रात निर्भया से गैंगरेप हुआ। उसे सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

  • nirbhaya mother asha devi letter to his daughter after death of convicts KPPnirbhaya mother asha devi letter to his daughter after death of convicts KPP

    NationalMar 21, 2020, 9:00 AM IST

    निर्भया, तुम्हारे साथ दरिंदगी करने वालों का एक एक पल नर्क जैसा था, वे मौत से पहले गिड़गिड़ा रहे थे

    आखिरकार 7 साल के लंबे इंतजार के बाद निर्भया को न्याय मिल गया। चारों दोषियों को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे तिहाड़ जेल में फांसी दी गई। यह फांसी 7 साल की लंबी कानूनी लड़ाई के बाद हुई। 16 दिसंबर 2012 को निर्भया के साथ दरिंदगी करने वाले चारों दोषी पवन, विनय, अक्षय और मुकेश फांसी से पहले गिड़गिड़ रहे थे। वे जिंदगी के लिए रहम मांग रहे थे।

  • know how much money spent on nirbhaya victom KPZknow how much money spent on nirbhaya victom KPZ

    NationalMar 20, 2020, 4:47 PM IST

    32 गार्ड, CCTV से पल पल की निगरानी...निर्भया के दरिंदों की सुरक्षा में हर रोज खर्च होते थे 50 हजार

    नई दिल्ली। निर्भया के चारों दोषियों को तिहाड़ जेल में शुक्रवार सुबह 5:30 बजे फांसी दे दी गई। दोषियों को फांसी पर तब तक लटकाया गया जब तक उनके प्राण ना निकल गए। लेकिन क्या आप जानते हैं चारों दोषियों की सुरक्षा में हर दिन 50 हजार रुपये खर्च हो रहे थे। और ये खर्च उसी दिन से शुरू हो गया था जिस दिन दोषियों का डेथ वॉरंट जारी हुआ था। आपको बता दें कि इन दोषियों की सुरक्षा में 32 गार्ड तैनात रहते थे। जिनकी शिफ्ट हर दो घंटे में बदली जाती थी। 

  • Know where and how the 6th convict was living, who first boarded Nirbhaya in the bus, then raped kpsKnow where and how the 6th convict was living, who first boarded Nirbhaya in the bus, then raped kps

    NationalMar 20, 2020, 4:33 PM IST

    जानिए कहां और कैसे जी रहा 6वां दोषी, जिसने पहले निर्भया को बस में चढ़ाया, फिर रेप किया और घुसा दी रॉड

    नई दिल्ली. 16 दिसंबर 2012 की रात को चलती बस में निर्भया से दरिंदगी करने वाले दोषियों को उनके किए की सजा दे दी गई। कोर्ट द्वारा जारी किए गए डेथ वारंट के बाद 20 मार्च शुक्रवार की सुबह 5.30 बजे फांसी पर लटका दिया गया। जिसके बाद से पूरे देश में खुशी का माहौल है। हालांकि निर्भया के साथ खौफनाक वारदात को अंजाम देने वाले छह दरिंदों में एक नाबालिग भी शामिल था। एक ओर जहां निर्भया के 4 दोषियों को फांसी पर लटकाया दिया गया है। वहीं, दूसरी तरफ देश के किसी न किसी कोने में रह रहा छठवा दोषी इस वक्त अपने साथियों की मौत को देखकर सिहर गया होगा। ऐसे में हम बताते है आपको निर्भया के छठे नाबालिग आरोपी के बारे में जो इस समय कहां रह रहा है और कैसे जी रहा है। 

  • know about 6 victim of nirbhya KPZknow about 6 victim of nirbhya KPZ

    NationalMar 20, 2020, 3:52 PM IST

    जिसने निर्भया के शरीर में डाली थी लोह की रॉड...वो आज लोगों को खाना खिलाकर ऐसे जी रहा जिंदगी

    नई दिल्ली। निर्भया के चारों दोषियों को शुक्रवार 20 मार्च को फांसी के फंदे पर चढ़ा दिया गया। और इसी के साथ 16 दिसंबर की उस काली रात का भी अंत हो गया जिसका जिक्र करने से ही रोंगटे खड़े हो जाते हैं। 6 लोगों ने एक चलती बस में 23 साल की महिला की साथ सामूहिक दुष्कर्म कांड को अंजाम दिया

  • pawan jallad broke the record of his ancestors by hanging four men kplpawan jallad broke the record of his ancestors by hanging four men kpl

    Uttar PradeshMar 20, 2020, 12:54 PM IST

    पवन जल्लाद ने चार फांसी देकर तोड़ा अपने पूर्वजों का रिकार्ड, परिवार में किसी ने नहीं किया था ये काम

    निर्भया के गुनहगारों को शुक्रवार तड़के फांसी पर लटका दिया गया। चारों को यूपी के मेरठ के रहने वाले पवन जल्लाद ने फांसी पर लटकाया। पवन जल्लाद ने एक साथ चार लोगों को फांसी देकर अपने ही पूर्वजों का रिकार्ड तोड़ दिया। पवन के परदादा से लेकर उसके पिता तक किसी ने एक साथ चार लोगों को फांसी नहीं दी थी। पवन के परदादा के समय से यह उसका पुश्तैनी काम है। उसके परदादा के बाद ये काम उसके दादा और फिर उसके पिता ने ये काम संभाला। हांलाकि पवन ने पहली बार किसी को फांसी दी है। पवन इस फांसी को लेकर काफी उत्साहित था और प्रशासनिक आदेश के बाद वह खुद को इसके लिए तैयार चुका था। 
     

  • leader give reaction on nirbhaya verdict KPZleader give reaction on nirbhaya verdict KPZ

    NationalMar 20, 2020, 11:54 AM IST

    फांसी के बाद पीएम मोदी ने किया ट्वीट 'महिलाओं की गरिमा की जीत'...स्मृति ईरानी ने दिया ये रिएक्शन

     निर्भया के चारों दोषियों को फांसी पर झूलने के साथ ही लोग जश्न मना रहे हैं। 7 साल बाद मिले निर्भया के इंसाफ पर लोग प्रतिक्रियाएं दे रहे हैं। दोषियों के फांसी के साथ ही लोगों ने इस फैसले पर खुशी जताई है। 

  • Nirbhaya accused hanging celebrating in his village kplNirbhaya accused hanging celebrating in his village kpl

    Uttar PradeshMar 20, 2020, 10:55 AM IST

    निर्भया के गुनहगारों की फांसी पर उसके गांव में जश्न, दादा बोले- अब देश से दो तिहाई कोरोना वायरस हो जाएगा खत्म

    निर्भया के गुनहगारों को शुक्रवार तड़के दिल्ली के तिहाड़ जेल में फांसी पर लटका दिया गया। इस फांसी के साथ ही सात साल से निर्भया को न्याय दिलाने के लिए उसके परिवार का संघर्ष जीता गया। दोषियों को फांसी के बाद निर्भया के गांव यूपी के बलिया जिले के नरही में जश्न का माहौल है। लोगों ने इस बार होली नहीं मनाई थी जो अब मनाई जा रही है। फांसी के बाद  निर्भया के दादा ने कहा कि दोषी करना वायरस से भी ज्यादा खतरनाक थे। कानून ने उन्हें सजा दी है। अब देश में फैले खतरनाक कोरोना वायरस का दो तिहाई प्रकोप खुद खत्म हो जाएगा। 

  • Traces ranging from tooth biting to nail to nail,The death of the poor was decided based on these evidences  kpsTraces ranging from tooth biting to nail to nail,The death of the poor was decided based on these evidences  kps

    NationalMar 20, 2020, 10:22 AM IST

    दांत से काटने से लेकर नाखून से नोचने तक के निशान... इन सबूतों के आधार पर तय हुई थी दरिंदों की मौत

    नई दिल्ली. निर्भया को 7 साल 3 महीने बाद आखिर न्याय मिल ही गया। यानी तिहाड़ जेल में बंद चारों दोषियों अक्षय, विनय, मुकेश और पवन को शुक्रवार की सुबह 5.30 बजे फांसी के फंदे पर लटका दिया गया। यह पहला मौका है जब तिहाड़ में एक साथ चार दोषियों को फांसी दी गई। दुष्कर्म के मामले में इससे पहले 2004 में कोलकाता के अलीपुर जेल में धनंजय चटर्जी को फांसी दी गई थी। इससे पहले निर्भया के दोषियों ने फांसी से बचने के लिए गुरुवार की सुबह से लेकर फांसी से 2 घंटे पहले यानी 3.30 बजे तक कानूनी दांव पेंच चले, लेकिन उनकी कोई चाल सफल नहीं हुई। दोषियों को फांसी दिए जाने के बाद एक बार फिर दिसंबर 2012 की याद ताजा हो गई जब निर्भया के साथ दरिंदगी की घटना को अंजाम दिया गया था। ऐसे में हम आपको बताते हैं कि पुलिस ने दोषियों किन सबूतों के आधार पर पकड़ा था। 

  • today celebrating holi in nirbhaya village in up kpltoday celebrating holi in nirbhaya village in up kpl

    Uttar PradeshMar 20, 2020, 9:43 AM IST

    निर्भया के गांव में आज मनाई जा रही है होली, दादा बोले - सात साल बाद आया है त्यौहार मनाने का अवसर

    निर्भया के के दादा ने एशियानेट न्यूज़ हिंदी से बात चीत में बताया कि आज पूरा गांव होली का जश्न मनाएगा। आज लम्बे संघर्ष के बाद निर्भया को ही नहीं बल्कि हमारे पूरे गांव को इंसाफ मिला है। 

  • know about the whole story of nirabhaya case KPZknow about the whole story of nirabhaya case KPZ
    Video Icon

    NationalMar 20, 2020, 9:28 AM IST

    नोच डाला था शरीर...खून से सन गई थी बस, सड़क और निर्भया की मां, जानें 7 साल के संघर्ष का कैसे हुआ अंत

    वीडियो डेस्क। 16 दिसंबर 2012 एक ऐसी खौफनाक रात जिसकी सुबह कभी नहीं हुई। जब एक पैरामेडिकल की छात्रा के साथ 6 लोगों ने चलती बस में सामूहिक दु्ष्कर्म किया। ये घटना इतनी भयावह थी कि जिक्र करने से ही रोंगटे खड़े हो जाते हैं और शरीर सिहिर जाता है। इतना वीभत्स दुष्कर्म कांड जिसने पूरे देश को हिला दिया। 23 साल की युवती के शरीर का शायद ही कोई हिस्सा बचा हो जिसको दरिंदों 

  • Nirbhaya convicts hanged know the timeline of case KPPNirbhaya convicts hanged know the timeline of case KPP

    NationalMar 20, 2020, 8:29 AM IST

    आंत आ गई थी बाहर, एक बूंद पानी भी नहीं पी पाई थी निर्भया; दरिंदगी से फांसी तक, जानें अब तक क्या क्या हुआ

    निर्भया को आखिरकार 7 साल बाद न्याय मिल ही गया। चारों दोषियों को सुबह 5.30 बजे तिहाड़ जेल में फांसी दे दी गई। इससे पहले गुरुवार को तमाम कानूनी दांव पेंच चल फांसी को फिर से टालने की काफी कोशिश की, लेकिन उनकी सभी चालें विफल रहीं। सुप्रीम कोर्ट ने रात 3.30 बजे आखिरी याचिका भी रद्द कर दी।

  • nirbhaya case, seema and friend avanindra pandey plays important role in convicts execution kppnirbhaya case, seema and friend avanindra pandey plays important role in convicts execution kpp

    NationalMar 20, 2020, 7:42 AM IST

    दरिंदों को मिली किए की सजा, दोषियों को मौत तक पहुंचाने में अहम रहे ये 2 किरदार

    निर्भया केस में चारों दोषियों विनय, मुकेश, पवन और अक्षय को शुक्रवार सुबह 5 बजे फांसी दे दी गई। 7 साल के बाद आखिरकार न्याय की जीत हुई। दोषियों को फांसी देने के बाद निर्भया की मां ने कहा, आज हमको इंसाफ मिला। यह दिन देश की बच्चियों को समर्पित है। 

  • who was nirbhaya, Which took whole country on streets KPPwho was nirbhaya, Which took whole country on streets KPP

    NationalMar 20, 2020, 6:45 AM IST

    कौन थी निर्भया, जिसने पूरे देश को सड़कों पर उतरने के लिए मजबूर कर दिया

    निर्भया गैंगरेप ने पूरे देश को झकझोर कर रख दिया था। आज करीब 7 साल बाद निर्भया के दोषियों को फांसी मिलने के बाद पूरे देश ने इस न्याय को महसूस किया है। निर्भया के साथ 16 दिसंबर 2012 को राजधानी में यह घटना हुई थी।  

  • Nirbhaya's culprit hanged, mother said- I put her photo and said kpvNirbhaya's culprit hanged, mother said- I put her photo and said kpv
    Video Icon

    NationalMar 20, 2020, 6:34 AM IST

    फांसी पर लटके निर्भया के गुनहगार, मां बोली-मैंने उसकी फोटो को गले लगाया और कहा..


    वीडियो डेस्क। आखिरकार देश की बेटी निर्भया को न्याय मिल गया। निर्भया के दोषियों को शुक्रवार सुबह 5.30 बजे तिहाड़ जेल में फांसी दी गई। पवन जल्लाद लीवर खींचकर चारों दोषियों को एक एक कर फांसी दी। यह पहला मौका है जब तिहाड़ में एक साथ चार दोषियों को फांसी दी गई। निर्भया की मां ने कहा-मैंने उसकी फोटो को लगे लगाया और कहा बेटा आपको न्याय मिल गया। 20 मार्च के दिन निर्भया सुरक्षा के रूप में मनाया जाएगा।