Oxygen News Meter  

(Search results - 10)
  • undefined

    NationalMay 19, 2021, 10:32 AM IST

    Oxygen का News मीटर : इजरायल से 3 टन ऑक्सीजन उपकरण और चिकित्सा आपूर्ति की एक और खेप भारत पहुंची

    कोरोना महामारी के खिलाफ जारी लड़ाई में भारत के साथ दुनियाभर के मित्र देश कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं। दुनियाभर से मिल रही मेडिकल हेल्प के बाद से भारत की स्वास्थ्य सेवाओं में सुधार हुआ है। ऑक्सीजन और वेंटिलेटर की कमी दूर हुई है, वहीं अन्य सुविधाओं में भी सुधार हुआ है। आइए जानते हैं विदेशों और स्थानीयस्तर पर मिल रही मदद से कैसे बदलती जा रही भारत की स्वास्थ्य सेवाएं...
     

  • undefined

    NationalMay 14, 2021, 8:53 AM IST

    Oxygen का News मीटर: असम में आर्मी ने बनाया 5 आईसीयू और 45 ऑक्सीजन बेड का अस्पताल

    कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर का सामना कर रहे भारत को दुनियाभर से लगातार मदद पहुंच रही हैं। छोटे-बड़े हर तरह के मित्र देश ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाएं और अन्य मेडिकल इक्विपमेंट्स से लेकर अन्य तरह की मदद लगातार पहुंचा रहे हैं। इस महामारी ने दुनिया को एकजुट कर दिया है। संकट की इस घड़ी में दुनिया के कई देश जिस तरह से भारत की मदद के लिए आगे आए, उसने मानवता की एक मिसाल पेश की है। आइए जानते हैं देश और दुनिया से भारत को कहां से और क्या-क्या मदद मिल रही है...

  • undefined

    NationalMay 13, 2021, 8:12 AM IST

    Oxygen का news मीटर: महाराष्ट्र व हरियाणा बुला रहा वैक्सीन के ग्लोबल टेंडर, कल पहुंचेगी स्पुतनिक-V की खेप

    कोरोना संघर्ष के खिलाफ सारी दुनिया एकजुट होकर लड़ाई लड़ रही है। जिन देशों को चिकित्सकीय सहायता की जरूरत है, वहां तमाम देश सामग्री पहुंचा रहे हैं। भारत इस समय कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर से जूझ रहा है। ऐसे में दुनिया के कई छोटे-बड़े देश उसे मदद पहुंचा रहे हैं। स्थानीयस्तर पर सरकारें लगातार अस्पतालों में व्यवस्थाएं बेहतर करने में लगी हैं। नए अस्पताल खोले जा रहे हैं। इस काम में औद्योगिक घराने और स्वयंसेवी संगठनों के अलावा व्यक्तिगत तौर पर भी लोग सरकार के साथ कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हैं। आइए जानते हैं देश और दुनिया से कैसे मिल रही भारत को मदद...

  • undefined

    NationalMay 10, 2021, 10:01 AM IST

    Oxygen का News मीटर: गुजरात से ऑक्सीजन एक्सप्रेस 224.67 टन लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन लेकर दिल्ली पहुंची

    कोरोन संक्रमण की दूसरी लहर से जूझते भारत को दुनियाभर से मेडिकल हेल्प मिल रही है। छोटे-बड़े सभी मित्र देश भारत के साथ इस महामारी में कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हुए हैं। यह वजह है कि कुछ दिन पहले तक ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाओं और अन्य मेडिकल इक्विपमेंट्स की कमी से परेशान भारत में स्वास्थ्य सेवाएं निरंतर बेहतर हो रही हैं। दुनियाभर से रोज मदद पहुंच रही है। वहीं, स्थानीयस्तर पर भी सरकारें, औद्योगिक घराने और स्वयंसेवी संगठन अपने-अपने स्तर पर स्वास्थ्य सेवाओं के सुधार में मदद कर रहे हैं। आइए जानते हैं भारत को कहां से क्या मदद मिल रही है...

  • undefined

    NationalMay 8, 2021, 9:55 AM IST

    Oxygen का News मीटर: यूपी के 61 जिलों में लगेंगे ऑक्सीजन प्लांट, श्रीनगर में हज हाउस को बनाया कोविड अस्पताल

    कोरोना संक्रमण के खिलाफ भारत में छेड़े गए 'महायुद्ध' को देश-दुनिया से बहुत मदद मिल रही है। स्थानीयस्तर पर जहां औद्योगिक घराने अपने स्तर पर ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाएं और मेडिकल इक्विपमेंट्स को लेकर मदद कर रहे हैं, वहीं भारत के पड़ोसी मित्र भी लगातार मदद पहुंचा रहे हैं। शुरुआत में संक्रमण के कारण देश की स्वास्थ्य सेवाओं पर बुरा असर पड़ा था, लेकिन अब लगातार स्थितियों में सुधार हो रहा है। आइए जानते हैं कि महामारी के खिलाफ चल रहे महाअभियान में भारत को कहां-कहां से मदद मिल रही है...

  • undefined

    NationalMay 7, 2021, 8:51 AM IST

    Oxygen का Newsमीटर: मशहूर शेफ विकास खन्ना ने अमेरिका से भेजे 10000 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और 50000 पीपीई किट्स

    कोरोना संक्रमण ने देश में युद्ध जैसे हालात बना दिए हैं, लेकिन इसे हराने सारा देश पूरी ताकत झोंक रहा है। भारत को इस संकट से निकालने सिर्फ केंद्र और राज्य सरकारें ही नहीं, देश की तीनों सेनाएं, रेलवे भी लगातार मदद कर रही हैं। भारत के इस संघर्ष में दूसरे देश भी कंधे से कंधा मिलाकर सहयोग कर रहे हैं। वहीं, स्थानीयस्तर पर औद्योगिक घराने और स्वयंसेवी संगठन भी जी-जान से जुटे हुए हैं। आइए जानते हैं महामारी के खिलाफ चल रहे इस महाअभियान में कौन-क्या मदद कर रहा है...

  • undefined

    NationalMay 6, 2021, 8:40 AM IST

    Oxygen का News मीटर: इटली की मदद से ग्रेटर नोएडा के ITBP रेफरल हॉस्पिटल में लगा ऑक्सीजन प्लांट

    कोरोना संक्रमण को रोकने भारत में युद्ध जैसे हालात हैं। केंद्र से लेकर राज्य सरकारों तक कोरोना की चेन तोड़ने और मरीजों को असुविधाओं से बचाने युद्धस्तर ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाइयां और अन्य मेडिकल इंतजाम किए जा रहे हैं। इस कोशिश में भारत के साथ दुनियाभर के देश मदद कर रहे हैं। छोटे-बड़े हर तरह के देश मित्रता निभाते हुए भारत को अस्पतालों के लिए आवश्यक सामग्री उपलब्ध करा रहे हैं। औद्योगिक घरानों से लेकर स्वयंसेवी संस्थाएं तक अपने-अपने स्तर पर मदद कर रही हैं। जानते हैं ताजा अपडेट कि देश-दुनिया से क्या-क्या मदद मिल रही है...

  • undefined

    NationalMay 1, 2021, 11:46 AM IST

    Oxygen का News मीटर: रायपुर में 'ऑक्सीजन ऑन व्हील' से होम आइसोलेशन वाले मरीजों को कंसेंट्रेटर सुविधा

    भारत में कोरोना संक्रमण की स्पीड पर काबू नहीं होने से स्वास्थ्य सेवाओं पर बुरा असर पड़ा है। हालांकि ऑक्सीजन, वेंटिलेटर, दवाओं और अन्य मेडिकल जरूरतों की पूर्ति के लिए दुनिया के छोटे-बड़े कई देश भारत की मदद को आगे आए हैं। थाइलैंड, अमेरिका, जर्मनी, यूके, सिंगापुर, बैंकॉक, हांगकांग, दुबई, आयरलैंड से लेकर दूसरे अन्य देशों से भारत के पास लगातार ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और अन्य मेडिकल इक्विपमेंट की मदद पहुंच रही है। जानिए कहां से क्या मदद मिल रही है...

  • undefined

    NationalApr 30, 2021, 8:09 AM IST

    oxygen news meter: अमेरिका में भारतीयों की संस्था पहुंचाएंगी 250 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और वेंटिलेटर्स

    कोरोना संक्रमण से लड़ाई लड़ रहे भारत के साथ दुनियाभर के छोटे-बड़े देश कंधे से कंधा मिलाकर खड़े हो गए हैं। भारत इन देशों की समय-समय पर मदद करता रहा है, ऐसे में संकट की खड़ी में ये देश भी ऑक्सीजन कंसंट्रेटर, वेंटिलेटर, दवाइयां और अन्य मेडिकल सामग्री भारत भेज रहे हैं। अमेरिका, जर्मनी, यूके आदि के अलावा सिंगापुर, बैंकॉक, हांगकांग, दुबई, आयरलैंड से ऑक्सीजन कंसंट्रेटर और अन्य मेडिकल इक्विपमेंट की मदद मिल रही है। जानिए कहां से क्या आ रहा है...

  • undefined

    NationalApr 29, 2021, 9:32 AM IST

    Oxygen का News मीटर: 40 देश भेज रहे 500 ऑक्सीजन जेनरेटिंग प्लांट, 4000 कंसंट्रेटर, 10000 सिलेंडर और दवाएं

    दुनिया का दूसरा सबसे संक्रमित देश बना भारत कोरोना को हराने युद्धस्तर पर जुटा हुआ है। इसमें दुनियाभर के मित्र देश मदद को आगे आए हैं। चाहे ऑक्सीजन कमी हो या दवाइयों, वेंटिलेटर या अन्य मेडिकल इक्विपमेंट्स की बात; दुनियाभर से भारत को मदद पहुंचने लगी है। उम्मीद जताई जा रही है कि कुछ दिनों मे देशभर से ऑक्सीजन और मेडिकल से जुड़ीं अन्य दिक्कतें दूर हो जाएंगी। बता दे कि पिछले 24 घंटे में एक बार फिर रिकॉर्ड 3,79,164 नए केस आए। इनमें अब तक कि सबसे अधिक 3,646 मौतें हुईं। यह अच्छी बात है कि संक्रमण की स्पीड के साथ ही रिकवरी रेट भी बढ़ती जा रही है।