Peepal  

(Search results - 30)
  • Video of woman been punished for talking to her maternal family  kpv
    Video Icon

    Madhya PradeshJul 6, 2021, 11:58 AM IST

    VIDEO: महिला के साथ जानवर जैसा सलूक, मामा परिवार से बात करने पर मिली खौफनाक सजा


    वीडियो डेस्क।  मध्य प्रदेश के आदिवासी अंचलों में महिलाओं और युवतियों पर होने वाली बर्बरता थमने का नाम नहीं ले रही है। अब धार जिले से हैवानित का वीडियो सामने आया है।  परिजनों ने दो महिला को सिर्फ इसलिए बुरी  तरह पीटा क्योंकि वो अपने मामा के परिवार के लड़कों से फोन पर बात करती थीं। अलीराजपुर में युवती के साथ हुई बर्बरता का मामला अभी शांत भी नहीं हुआ था कि धार जिले के पीपलवा गांव में पिटाई का वीडियो सामने आया।  महिला को जमकर लाठी-डंडों से पीटा जा रहा है और उनके साथ जानवरों जैसा सलूक किया जा रहा है। 
     

  • Yogini Ekadashi on 5th July, know the rules of it KPI

    Aisa KyunJul 5, 2021, 8:11 AM IST

    आज एकादशी पर करें भगवान विष्णु के साथ पीपल की भी पूजा, मिलेगा 88 हजार ब्राह्मणों को भोजन करवाने का पुण्य

    आषाढ़ महीने के कृष्णपक्ष की एकादशी को योगिनी एकादशी कहते हैं। इस बार यह तिथि 5 जुलाई, सोमवार को है। मान्यता है कि ये व्रत करने से जाने-अनजाने में हुए पाप खत्म हो जाते हैं।

  • Achala Ekadashi today: Peepal worship has special significance on this day, you get the auspicious results of planets KPI

    Aisa KyunJun 6, 2021, 9:04 AM IST

    अचला एकादशी आज: इस दिन पीपल की पूजा का है विशेष महत्व, मिलते हैं ग्रहों के शुभ फल

    6 जून, रविवार को ज्येष्ठ महीने के कृष्णपक्ष की एकादशी है। इसे अपरा और अचला एकादशी कहा जाता है। इस तिथि पर भगवान विष्णु-लक्ष्मीजी के साथ पीपल की पूजा का भी खास महत्व है।

  • By placing a lamp in front of these trees and plants, the defects and troubles of the planets can be removed KPI

    UpayMay 30, 2021, 11:10 AM IST

    उपाय: इन पेड़-पौधों के सामने दीपक लगाने से दूर हो सकते हैं ग्रहों के दोष और परेशानियां

    उज्जैन. हिंदू धर्म में हर शुभ कार्य और दैनिक पूजा-पाठ और धार्मिक अनुष्ठान में दीपक अवश्य जलाया जाता है। हमारे धर्म ग्रंथों में पेड़-पौधे के नीचे दीपक लगाने की परंपरा भी है। इसका धार्मिक महत्व भी है और ज्योतिषीय भी। कुछ खास पेड़-पौधे के सामने दीपक जलाने से ग्रहों के दोष दूर होते हैं और जीवन में सफलता मिलने की संभावना भी बढ़ जाती है। आज हम आपको कुछ ऐसे ही पेड़-पौधों के बारे में बता रहे हैं, जो इस प्रकार है…

  • Do these easy remedies of Peepal on 26th May, Vaishakh Purnima, grah and pitra dosha may be removed KPI

    JyotishMay 23, 2021, 11:55 AM IST

    26 मई को वैशाख पूर्णिमा पर करें पीपल के ये आसान उपाय, दूर हो सकते हैं ग्रह और पितृ दोष

    इस बार 26 मई, बुधवार को वैशाख मास की पूर्णिमा है। इस तिथि पर सूर्य अपनी उच्च राशि मेष में और चंद्रमा भी अपनी उच्च राशि तुला में होता है। इसे बुद्ध पूर्णिमा और पीपल पूर्णिमा भी कहा जाता है।

  • Paras Peepal is very special, do these easy remedies of it for monitory benefits and early marriage KPI

    UpayMar 12, 2021, 11:30 AM IST

    बहुत खास होता है पारस पीपल, धन लाभ और शीघ्र विवाह के लिए करें ये आसान उपाय

    हिंदू धर्म में पीपल को बहुत ही पूजनीय वृक्ष माना गया है। पीपल की ही एक और प्रजाति है पारस पीपल। ये सामान्य पीपल से थोड़ा अलग दिखाई देता है। यह आमतौर पर जंगलों में पाया जाता है।

  • Despite these 4 things being unholy, they have been considered as the most sacred in the religious texts, know the reason behind it KPI

    Aisa KyunOct 6, 2020, 12:06 PM IST

    ये 4 चीजें अपवित्र होने पर भी धर्म ग्रंथों में इन्हें परम पवित्र माना गया है, जानें इसका कारण

    उज्जैन. विष्णु स्मृति के अनुसार हिन्दू धर्म में कुछ अपवित्र चीजों को भी पवित्र माना गया है। जो हमें जानवर, पक्षी और कीड़ों के मल, उल्टी और उनके मरने से मिलती है। जैसे गाय का दूध पहले बझड़ा उसे जूठा कर देता है फिर हमें दूध मिलता है, लेकिन गाय के दूध को पांच अमृतों में एक माना गया है। साथ ही इसका उपयोग देवी-देवताओं के अभिषेक के लिए किया जाता है और दूध से खीर और घी बनाते हैं जिनको नैवेद्य के रुप में भगवान को चढ़ाया जाता है। इसके अलावा और भी चीजें हैं जो अपवित्र होकर मिलती हैं, लेकिन भगवान की पूजा में उन्हें पवित्र माना गया है। जानिए कौन-सी हैं वो चीजें…

    श्लोक –
    उच्छिष्टं शिवनिर्माल्यं वमनं शवकर्पटम् ।
    काकविष्टा ते पञ्चैते पवित्राति मनोहरा॥

    अर्थ – उच्छिष्ट, शिव निर्माल्यं, वमनम्, शव कर्पटम्, काकविष्टा, ये पांचो चीजें अपवित्र होते हुए भी पवित्र है।
     

  • Doing plantation in Adhik Maas give result of doing Ashwamegh Yagya, know which plants should be planted KPI

    UpaySep 27, 2020, 2:25 PM IST

    अधिक मास में पौधे लगाने से मिलता है अश्वमेध यज्ञ का फल, जानिए कौन-कौन से पौधे लगाने चाहिए

    उज्जैन. धर्म ग्रंथों में पेड़-पौधे लगाना पुण्य का काम माना गया है। ऐसा करने से कई तरह के दोषों से छुटकारा मिल जाता है। विष्णुधर्मोत्तर पुराण के मुताबिक पुरुषोत्तम महीने में पेड़-पौधे लगाने से अश्वमेध यज्ञ का फल मिलता है। वहीं मनु स्मृति में भी कहा गया है कि पेड़-पौधे लगाने से बड़ा यज्ञ करने जितना फल मिलता है। इसलिए पुरुषोत्तम महीने के दौरान पेड़-पौधे लगाना महत्वपूर्ण माना गया है।
    काशी के ज्योतिषाचार्य और धर्म ग्रंथों के जानकार पं. गणेश मिश्र का कहना है कि भगवान विष्णु के इस महीने में पीपल, वट, और गूलर के पेड़ लगाने चाहिए। इन पेड़-पौधों को भगवान विष्णु का ही रूप माना गया है। इनके अलावा तुलसी, दूब, अशोक, आंवला, एरंड, मदार, केला, नीम, कदंब और बेल का पेड़ लगाने से भगवान विष्णु और लक्ष्मी के साथ ही अन्य देवी-देवता भी प्रसन्न होते हैं।
     

  • Lucky month has started from September 18, do any 1 of these 7 remedies for good luck and prosperity KPI

    UpaySep 19, 2020, 11:05 AM IST

    18 सितंबर से शुरू हो चुका है किस्मत चमकाने वाला महीना, करें इन 7 में कोई 1 उपाय

    उज्जैन. 18 सितंबर, शुक्रवार से आश्विन का अधिक मास शुरू हो चुका है, जो 16 अक्टूबर, शुक्रवार तक रहेगा। धर्म ग्रंथों में अधिक मास का विशेष महत्व बताया गया है। इसे पुरुषोत्तम मास भी कहा गया है यानी भगवान विष्णु का महीना। इस महीने में भगवान विष्णु की पूजा का 10 गुना फल मिलता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्‌ट के अनुसार, इस महीने में अगर भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के कुछ खास उपाय किए जाएं तो किसी की भी किस्मत चमक सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं…

  • Planting trees in Shradh Paksha also pleases our demised ancestors, know which trees should be planted KPI

    UpaySep 12, 2020, 3:32 PM IST

    श्राद्ध पक्ष में पौधे लगाने से भी प्रसन्न होते हैं पितृ, जानिए कौन-कौन से पौधे लगाए जा सकते हैं

    उज्जैन. श्राद्ध पक्ष में सभी लोग तर्पण, पिंडदान आदि के माध्यम से अपने पितरों को प्रसन्न करते हैं। धर्म ग्रंथों के अनुसार, श्राद्ध पक्ष में यदि पौधे लगाएं तो भी पितरों की कृपा हम पर बनी रहती है। कुछ पेड़-पौधे सकारात्मक उर्जा देते हैं। इसलिए ग्रंथों में बताए गए शुभ पेड़-पौधे पितृपक्ष में लगाए जाए तो पितरों का आशीर्वाद मिलता है। काशी के ज्योतिषाचार्य और धर्म शास्त्रों के जानकार पं. गणेश मिश्र के मुताबिक पीपल में देवताओं के साथ ही पितरों का भी वास होता है। इसलिए श्राद्ध पक्ष में पीपल का पेड़ खासतौर से लगाना चाहिए। इसके साथ बरगद, नीम, अशोक, बिल्वपत्र, तुलसी, आंवला और शमी का पेड़ लगाने से पर्यावरण को साफ रखने में तो मदद होगी ही, पितरों के साथ देवता भी प्रसन्न होंगे।

  • Do this remedy on Shravan Purnima on August 3, you may have monitory benefits KPI

    UpayAug 1, 2020, 1:49 PM IST

    3 अगस्त को श्रावण पूर्णिमा पर करें ये उपाय, हो सकता है धन लाभ और दूर हो सकते हैं बुरे दिन

    इस बार 3 अगस्त, सोमवार को श्रावण मास की पूर्णिमा तिथि है। इस दिन रक्षाबंधन का पर्व मनाया जाता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रवीण द्विवेदी के अनुसार, पूर्णिमा तिथि पर पवित्र नदी में स्नान करने और दान करने का विशेष महत्व है।

  • Last Tuesday of Sawan on 28th July, do these remedies to solve your problems KPI

    UpayJul 28, 2020, 10:45 AM IST

    सावन का आंतिम मंगलवार आज, करें इन 5 में से कोई 1 उपाय, दूर हो सकती हैं परेशानियां

    सावन भगवान शिव की उपासना का महीना है। इस मंदिर में भगवान शिव के विभिन्न अवतारों की पूजा भी करनी चाहिए। हनुमानजी भी शिवजी के ही अवतार हैं।

  • Do any of these 6 remedies on Nagpanchami to reduce the inauspicious effects of Kal Sarp Dosh KPI

    UpayJul 24, 2020, 2:41 PM IST

    नागपंचमी पर करें इन 6 में से कोई भी 1 उपाय, कम हो सकता है कालसर्प दोष का अशुभ असर

    उज्जैन. श्रावण मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को नागपंचमी का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 25 जुलाई, शनिवार को है। इस दिन नागों की पूजा का विधान है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्‌ट के अनुसार, जिन लोगों की कुंडली में कालसर्प दोष है, वे यदि इस दिन कुछ आसान उपाय करें तो इस दोष का प्रभाव कुछ कम हो सकता है। ये उपाय इस प्रकार हैं-

  • Hariyali Amavasya: Know the benefits of worshiping different trees and plants KPI

    UpayJul 18, 2020, 12:29 PM IST

    हरियाली अमावस्या: पीपल की पूजा करने से दूर होता है शनि दोष, जानें किस वृक्ष की पूजा से क्या लाभ मिलता है

    उज्जैन. श्रावण मास की अमावस्या को हरियाली अमावस्या का पर्व मनाया जाता है। इस बार ये पर्व 20 जुलाई, सोमवार को है। इस दिन वृक्षों की पूजा का विशेष महत्व माना जाता है। ज्योतिष शास्त्र के अनुसार कुछ विशेष पेड़-पौधों की पूजा करने से हमारी कुंडली के दोष तो दूर होते ही हैं साथ ही जीवन की अनेक परेशानियों से छुटकारा भी मिल सकता है। जानिए हरियाली अमावस्या पर किन पेड़-पौधों की पूजा से हमें क्या फायदा हो सकता है-
     

  • Do these 5 remedies on Shani Pradosh to get rid of Shani Dosh KPI

    UpayJul 17, 2020, 2:21 PM IST

    शनि प्रदोष 18 जुलाई को, इस दिन शनि दोष से मुक्ति पाने के लिए करें ये 5 उपाय

    हिंदू पंचांग के अनुसार हर महीने में दो बार त्रयोदशी तिथि आती है। इस तिथि पर भगवान शिव को प्रसन्न करने के लिए व्रत किया जाता है। इस बार 18 जुलाई, शनिवार को शनि प्रदोष का योग बन रहा है।