Purshottam Maas  

(Search results - 13)
  • Donate different things on different dates of Khar month, your troubles can be overcome KPI

    UpayMar 18, 2021, 11:44 AM IST

    खर मास में तिथि अनुसार करें अलग-अलग चीजों का दान, दूर हो सकती हैं आपकी परेशानियां

    इस बार 14 मार्च से खर मास शुरू हो चुका है, जो 14 अप्रैल तक रहेगा। धर्म ग्रंथों में इस मास का विशेष महत्व बताया गया है। इस महीने के स्वामी भगवान पुरुषोत्तम यानी विष्णु है, इसलिए इसे पुरुषोत्तम मास भी कहते हैं।

  • Khar month will begin on December 16, worshiping Lord Vishnu in this month is of special importance KPI

    Aisa KyunDec 14, 2020, 12:21 PM IST

    16 दिसंबर से शुरू होगा खर मास, इस महीने में भगवान विष्णु की पूजा का विशेष महत्व

    ज्योतिष शास्त्र के अनुसार, सूर्य जब मीन राशि में होता है तो उस समय को खर और मल मास कहते हैं। इस बार 16 दिसंबर को सूर्य के धनु राशि में जाते ही मल मास शुरू हो जाएगा, जो 14 जनवरी तक रहेगा।

  • Doing plantation in Adhik Maas give result of doing Ashwamegh Yagya, know which plants should be planted KPI

    UpaySep 27, 2020, 2:25 PM IST

    अधिक मास में पौधे लगाने से मिलता है अश्वमेध यज्ञ का फल, जानिए कौन-कौन से पौधे लगाने चाहिए

    उज्जैन. धर्म ग्रंथों में पेड़-पौधे लगाना पुण्य का काम माना गया है। ऐसा करने से कई तरह के दोषों से छुटकारा मिल जाता है। विष्णुधर्मोत्तर पुराण के मुताबिक पुरुषोत्तम महीने में पेड़-पौधे लगाने से अश्वमेध यज्ञ का फल मिलता है। वहीं मनु स्मृति में भी कहा गया है कि पेड़-पौधे लगाने से बड़ा यज्ञ करने जितना फल मिलता है। इसलिए पुरुषोत्तम महीने के दौरान पेड़-पौधे लगाना महत्वपूर्ण माना गया है।
    काशी के ज्योतिषाचार्य और धर्म ग्रंथों के जानकार पं. गणेश मिश्र का कहना है कि भगवान विष्णु के इस महीने में पीपल, वट, और गूलर के पेड़ लगाने चाहिए। इन पेड़-पौधों को भगवान विष्णु का ही रूप माना गया है। इनके अलावा तुलसी, दूब, अशोक, आंवला, एरंड, मदार, केला, नीम, कदंब और बेल का पेड़ लगाने से भगवान विष्णु और लक्ष्मी के साथ ही अन्य देवी-देवता भी प्रसन्न होते हैं।
     

  • Kamala Ekadashi on 27th September, chantinh this 1 mantra can get you rid of troubles KPI

    UpaySep 27, 2020, 9:59 AM IST

    कमला एकादशी पर करें इस 1 मंत्र का जाप, बचे रहेंगे परेशानियों से

    इन दिनों अधिक मास चल रहा है। 27 सितंबर, रविवार को अधिक मास की एकादशी है। इसे कमला एकादशी कहते हैं। ये एकादशी 3 साल में आती है।

  • Which flowers should be offered to Lord Vishnu ? Keep these things in mind too while worshiping Vishnu KPI

    Aisa KyunSep 26, 2020, 10:16 AM IST

    भगवान विष्णु की पूजा में कौन-से फूल चढ़ाना चाहिए और कौन-से नहीं? इन बातों का भी रखें खास ध्यान

    उज्जैन. विष्णु धर्मोत्तर पुराण और पद्म पुराण का कहना है कि पुरुषोत्तम महीने में भगवान विष्णु की पूजा स्वर्ण पुष्प से करने का विधान है। अधिक मास में भगवान विष्णु को चंपा के फूल चढ़ाने से ही हर तरह के पाप खत्म हो जाते हैं और मनोकामनाएं पूरी होती हैं। काशी के ज्योतिषाचार्य और धर्म शास्त्रों के जानकार पं. गणेश मिश्र का कहना है कि आश्विन महीने में जूही और चमेली के फूल से भगवान विष्णु की पूजा करने से सौभाग्य और समृद्धि बढ़ती है। इनके साथ ही तुलसी पत्र भी भगवान पर चढ़ाने चाहिए। इससे हर तरह के दोष भी खत्म हो जाते हैं।

  • Chanting these 4 mantras in Adhik Maas gives the result of reading the entire Shrimad Bhagwat KPI

    Aisa KyunSep 24, 2020, 12:33 PM IST

    अधिक मास में इन 4 मंत्रों का जाप करने से मिलता है संपूर्ण श्रीमद्भागवत पढ़ने का फल

    पुरुषोत्तम यानी अधिक मास में भागवत कथा सुनने का विशेष महत्व धर्म ग्रंथों में बताया गया है। इसके साथ ही श्रीमद्भागवत का पाठ किया जाए तो उसका अनंत पुण्य फल मिलता है।

  • In Adhik Maas donate these things according to your zodiac sign, this may resolve grah dosh and bring happiness and prosperity KPI

    UpaySep 23, 2020, 11:16 AM IST

    अधिक मास में राशि अनुसार करें इन चीजों का दान, दूर हो सकते हैं ग्रहों को दोष और घर में बनी रहेगी सुख-समृद्धि

    उज्जैन, इन दिनों अधिक मास चल रहा है, जो 16 अक्टूबर तक रहेगा। इसे पुरुषोत्तम मास और मलमास भी कहते हैं। इस माह में जरूरतमंद लोगों को धन और अनाज का दान करने की परंपरा है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. मनीष शर्मा के अनुसार अधिक मास में किए गए दान का पुण्य दानी व्यक्ति के पूरे परिवार को मिलता है।

    कल्याण के व्रतपर्वोत्सव अंक में लिखा है कि-
    विधिवत सेवते यस्तु पुरुषोत्तममादरात्।
    कुलं स्वकीयमुद्धृत्य मामेवैष्यत्यसंशयम।।

    अर्थ- पुरुषोत्तम मास में जो व्यक्ति व्रत, उपवास, पूजा, दान आदि शुभ कर्म करता है। वह अपने पूरे परिवार के साथ भगवान श्रीकृष्ण की कृपा प्राप्त करता है।
     

  • Offer these 5 things to Lord Vishnu in Adhik Maas for good luck KPI

    UpaySep 22, 2020, 12:02 PM IST

    दुर्भाग्य दूर करने के लिए अधिक मास में भगवान विष्णु को चढ़ाएं ये 5 चीजें

    उज्जैन. इन दिनों आश्विन का अधिक मास चल रहा है, जो 16 अक्टूबर तक रहेगा। धर्म ग्रंथों में इस समय का विशेष महत्व बताया गया है। मान्यता है कि यदि अधिक मास में भगवान विष्णु को कुछ खास चीजें अर्पित की जाएं तो उनकी कृपा से हर इच्छा पूरी हो सकती है और दुर्भाग्य दूर होता है। जानिए अधिक मास में भगवान श्रीकृष्ण को क्या अर्पण करें…

  • Chant any of these 8 mantras in Adhik Maas, these may solve your problems KPI

    UpaySep 21, 2020, 10:08 AM IST

    अधिक मास में करें इन 8 में से किसी 1 मंत्र का जाप, दूर हो सकती हैं आपकी परेशानियां

    अधिक मास 18 सितंबर से शुरू हो चुका है, जो 16 अक्टूबर तक रहेगा। इस महीने में भगवान विष्णु और श्रीकृष्ण की भक्ति का विशेष महत्व है, इसलिए इसे पुरुषोत्तम मास भी कहते हैं। इस महीने में अगर कुछ खास उपाय किए जाएं तो भगवान श्रीकृष्ण अपने भक्तों पर प्रसन्न होते हैं।

  • Auspicious coincidence of 5 Fridays in Adhik Maas, Guru and Shani will be in their own Zodiac this month, know it's effect KPI

    Aisa KyunSep 21, 2020, 10:02 AM IST

    अधिक मास में 5 शुक्रवार का शुभ संयोग, इस महीने स्वराशि में रहेंगे गुरु और शनि, जानिए इसका असर

    18 सितंबर को शुरू हुआ अधिक मास 16 अक्टूबर तक चलेगा। शुक्रवार और उत्तराफाल्गुनी नक्षत्र के संयोग में शुरू होने वाला ये अधिक मास सुख और समृद्धि बढ़ाने वाला रहेगा।

  • Adhik Maas has begin in auspicious yog, know what will be beneficial to purchase as per your zodiac sign KPI

    JyotishSep 20, 2020, 11:02 AM IST

    शुभ योग में हुई है अधिक मास की शुरुआत, राशि अनुसार क्या खरीदना रहेगा आपके लिए फायदेमंद

    उज्जैन. 18 सितंबर, शुक्रवार से अधिक मास शुरू हो चुका है। इस महीने में भगवान विष्णु और कृष्ण की आराधना होती है। ग्रंथों का कहना है, पुरुषोत्तम मास में जो कुछ भी करें, उसे भगवान कृष्ण को समर्पित करके करें। जाप, पूजन, व्रत, दान से लेकर कोई वस्तु खरीदने तक आप सभी कुछ कृष्ण को समर्पित करते हैं, तो ये हमारे वैभव में बढ़ोतरी करने वाला होता है। इस महीने में राशि अनुसार खरीदी भी की जा सकती है। जानिए राशि अनुसार आपके लिए क्या खरीदना रहेगा शुभ…

  • Lucky month has started from September 18, do any 1 of these 7 remedies for good luck and prosperity KPI

    UpaySep 19, 2020, 11:05 AM IST

    18 सितंबर से शुरू हो चुका है किस्मत चमकाने वाला महीना, करें इन 7 में कोई 1 उपाय

    उज्जैन. 18 सितंबर, शुक्रवार से आश्विन का अधिक मास शुरू हो चुका है, जो 16 अक्टूबर, शुक्रवार तक रहेगा। धर्म ग्रंथों में अधिक मास का विशेष महत्व बताया गया है। इसे पुरुषोत्तम मास भी कहा गया है यानी भगवान विष्णु का महीना। इस महीने में भगवान विष्णु की पूजा का 10 गुना फल मिलता है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्‌ट के अनुसार, इस महीने में अगर भगवान विष्णु को प्रसन्न करने के कुछ खास उपाय किए जाएं तो किसी की भी किस्मत चमक सकती है। ये उपाय इस प्रकार हैं…

  • Khar month from 14 March, keep in mind these 7 things in this month, what to do and what to avoid doing? KPI

    Aisa KyunMar 13, 2020, 11:53 AM IST

    खरमास 14 मार्च से, इस महीने में रखें इन 7 बातों का ध्यान, क्या करें और क्या करने से बचें?

    इस बार 14 मार्च, शनिवार से खर मास शुरू होगा, जो 14 अप्रैल, मंगलवार तक रहेगा। धर्म ग्रंथों में इसे मल मास और पुरुषोत्तम मास भी कहा गया है।