Shelter Home  

(Search results - 22)
  • <p><strong>पटना (Bihar) ।</strong> मुजफ्फरपुर के शेल्टर होम में नाबालिग बच्चियों और युवतियों से दुष्कर्म मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे ब्रजेश ठाकुर ने कोर्ट में अर्जी दी है। जिसमें कहा कि उसकी आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वह इस बड़े जुर्माने को भर सके। दिल्ली की साकेत कोर्ट ने ब्रजेश ठाकुर को उम्र कैद की सजा सुनाते वक्त अलग-अलग धाराओं में उस पर करीब 32 लाख का जुर्माना भी लगाया था। जांच एजेंसी सीबीआई की तरफ से कभी बिहार सरकार के करीब रहे ब्रजेश ठाकुर को इस मामले में मुख्य आरोपी बनाया गया था। साथ ही इस मामले के सामने आने के बाद सीबीआई और ईडी की तरफ से ब्रजेश ठाकुर के सभी बैंक अकाउंट सील कर दिया गया था।</p>

    BiharJul 23, 2020, 9:51 AM IST

    उम्र कैद की सजा काट रहे ब्रजेश ठाकुर के पास नहीं रहा जुर्माना भरने के लिए पैसा, कभी सरकार के था बेहद करीब

    पटना (Bihar) । मुजफ्फरपुर के शेल्टर होम में नाबालिग बच्चियों और युवतियों से दुष्कर्म मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे ब्रजेश ठाकुर ने कोर्ट में अर्जी दी है। जिसमें कहा कि उसकी आर्थिक स्थिति ऐसी नहीं है कि वह इस बड़े जुर्माने को भर सके। दिल्ली की साकेत कोर्ट ने ब्रजेश ठाकुर को उम्र कैद की सजा सुनाते वक्त अलग-अलग धाराओं में उस पर करीब 32 लाख का जुर्माना भी लगाया था। जांच एजेंसी सीबीआई की तरफ से कभी बिहार सरकार के करीब रहे ब्रजेश ठाकुर को इस मामले में मुख्य आरोपी बनाया गया था। साथ ही इस मामले के सामने आने के बाद सीबीआई और ईडी की तरफ से ब्रजेश ठाकुर के सभी बैंक अकाउंट सील कर दिया गया था।

  • <p>बिहार के बहुचर्चित मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने सीबीआई को नोटिस जारी किया है। जस्टिस विपिन संघी और जस्टिस रजनीश भटनागर की बेंच ने मामले में सुनवाई के बाद सीबीआई को नोटिस दिया है।</p>

    BiharJul 22, 2020, 2:16 PM IST

    मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामला: दिल्ली हाईकोर्ट ने CBI को दी नोटिस, ब्रजेश ठाकुर की याचिका पर सुनवाई

    बिहार के बहुचर्चित मुजफ्फरपुर बालिका गृह मामले में दिल्ली हाई कोर्ट ने सीबीआई को नोटिस जारी किया है। जस्टिस विपिन संघी और जस्टिस रजनीश भटनागर की बेंच ने मामले में सुनवाई के बाद सीबीआई को नोटिस दिया है।

  • <p>kanpur case</p>
    Video Icon

    Uttar PradeshJun 24, 2020, 11:18 AM IST

    किसी को मां बाप ने ठुकराया किसी को किस्मत ने, बच्चियों को जिसने दिया आसरा उसने छीना बचपन

    वीडियो डेस्क। स्वरूप नगर स्थित राजकीय बालिका संरक्षण गृह (Girls Shelter Home) में 7 लड़कियों के प्रेग्नेंट होने के मामले ने तूल पकड़ लिया है। प्रशासन की तरफ से की गई जांच में कई खुलासे हुए हैं। एसपी (पश्चिम) के मुताबिक 7 गर्भवती लड़कियों में से 5 ने घर जाने से मना कर दिया था, जबकि दो को उनके घरवालों ने ही ठुकरा दिया था। जिसके बाद उन्हें यहां लाया गया।

  • <p>कानपुर के स्वरूप नगर स्थित राजकीय बालिका संरक्षण गृह में 7 लड़कियों के प्रेग्नेंट होने के मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सियासी हमलों के बाद अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी यूपी के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस भेजकर मामले में जवाब तलब किया है। वहीं दूसरी ओर प्रशासन की तरफ से की गई जांच में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। पुलिस अफसरों के मुताबिक 7 गर्भवती लड़कियों में से 5 ने घर जाने से मना कर दिया था, जबकि दो को उनके घरवालों ने ही ठुकरा दिया था। जिसके बाद उन्हें यहां लाया गया।<br />
&nbsp;</p>

    Uttar PradeshJun 23, 2020, 11:02 AM IST

    2 को परिवार वालों ने ठुकराया, 5 खुद नहीं गईं घर, कुछ ऐसी है शेल्टर होम में प्रेग्नेंट मिली किशोरियों की कहानी

    कानपुर के स्वरूप नगर स्थित राजकीय बालिका संरक्षण गृह में 7 लड़कियों के प्रेग्नेंट होने के मामला तूल पकड़ता जा रहा है। सियासी हमलों के बाद अब राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग ने भी यूपी के मुख्य सचिव और डीजीपी को नोटिस भेजकर मामले में जवाब तलब किया है। वहीं दूसरी ओर प्रशासन की तरफ से की गई जांच में कई चौंकाने वाले खुलासे हुए हैं। पुलिस अफसरों के मुताबिक 7 गर्भवती लड़कियों में से 5 ने घर जाने से मना कर दिया था, जबकि दो को उनके घरवालों ने ही ठुकरा दिया था। जिसके बाद उन्हें यहां लाया गया।
     

  • <p>स्वरूप नगर स्थित महिला संवासिनी गृह में एक के बाद एक 7 युवतियों के गर्भवती पाए जाने और 57 के कोरोना संक्रमित होने का मामला सामने आने के बाद यूपी के सियासी गलियारे में भी हलचल है। कानपुर शेल्टर होम मामले में परत दर परत लापरवाहियां उजागर होती दिख रही हैं</p>

    Uttar PradeshJun 22, 2020, 7:24 PM IST

    कानपुर DM बोले- शेल्टर होम में किशोरियों के प्रेग्नेंट होने की बात निराधार, DPO ने कहा- हुई चूक

    कानपुर के स्वरूप नगर स्थित महिला संवासिनी गृह में एक के बाद एक 7 युवतियों के गर्भवती पाए जाने और 57 के कोरोना संक्रमित होने का मामला सामने आने के बाद यूपी के सियासी गलियारे में भी हलचल है। कानपुर शेल्टर होम मामले में परत दर परत लापरवाहियां उजागर होती दिख रही हैं।

  • <p>राजकीय बालिका संवासिनी गृह में 57 लड़कियां कोरोना संक्रमित और 7 लड़कियों के गर्भवती मिलने के मामला तूल पकड़ता जा रहा है। विपक्ष ने सरकार को इस मुद्दे पर घेरने की कोशिश की है। दूसरी ओर मामला सीएम योगी आदित्यनाथ के संज्ञान में आने के बाद कानपुर जिला प्रशासन में भी हडकंप मचा हुआ है। हांलाकि जिला प्रशासन ने एक बार फिर स्पष्ट किया है कि शेल्टर होम में आने वाली लड़कियां पहले से गर्भवती थीं। ये सभी यूपी के आगरा, फिरोजाबाद, एटा, कानपुर और कन्नौज से यहां लाई गईं थीं। इनकी बैक हिस्ट्री के दस्तावेज शेल्टर होम के रिकॉर्ड रूम में सुरक्षित हैं। अभी शेल्टर होम सील है। मेडिकल प्रोटोकॉल के तहत रिकॉर्ड रूम से दस्तावेज निकाले जाएंगे। तब सभी बिंदुओं पर जांच होगी।</p>

    Uttar PradeshJun 22, 2020, 4:16 PM IST

    बच्ची को हुए बुखार से सामने आया शेल्टर होम का सच, प्रशासन ने कहा- रिकार्ड रूम में है सभी की बैक हिस्ट्री

    राजकीय बालिका संवासिनी गृह में 57 लड़कियां कोरोना संक्रमित और 7 लड़कियों के गर्भवती मिलने के मामला तूल पकड़ता जा रहा है। विपक्ष ने सरकार को इस मुद्दे पर घेरने की कोशिश की है। दूसरी ओर मामला सीएम योगी आदित्यनाथ के संज्ञान में आने के बाद कानपुर जिला प्रशासन में भी हडकंप मचा हुआ है। हांलाकि जिला प्रशासन ने एक बार फिर स्पष्ट किया है कि शेल्टर होम में आने वाली लड़कियां पहले से गर्भवती थीं। ये सभी यूपी के आगरा, फिरोजाबाद, एटा, कानपुर और कन्नौज से यहां लाई गईं थीं। इनकी बैक हिस्ट्री के दस्तावेज शेल्टर होम के रिकॉर्ड रूम में सुरक्षित हैं। अभी शेल्टर होम सील है। मेडिकल प्रोटोकॉल के तहत रिकॉर्ड रूम से दस्तावेज निकाले जाएंगे। तब सभी बिंदुओं पर जांच होगी।

  • <p>कानपुर के शेल्टर होम में 7 लड़कियों के गर्भवती और 57 के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के मामले में विपक्ष यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरने में लगी है। मामले में सियासत तेज हो गई है और विभिन्न राजनैतिक दलों के दिग्गज नेता सूबे की योगी सरकार पर निशाना साध रहे हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, पूर्व यूपी कांग्रेस अध्यक्ष व फिल्म स्टार राज बब्बर समेत कई नेताओं ने इस मामले में शासन और प्रशासन पर निशाना साधा है। प्रियंका गांधी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के देवरिया से भी ऐसा मामला सामने आ चुका है। ऐसे में फिर से इस तरह की घटना सामने आना दिखाता है कि जांच के नाम पर सब कुछ दबा दिया जाता है, लेकिन सरकारी बाल संरक्षण गृहों में बहुत ही अमानवीय घटनाएं घट रही हैं।<br />
&nbsp;</p>

    Uttar PradeshJun 22, 2020, 1:45 PM IST

    कानपुर शेल्टर होम मामले में सियासत तेज, प्रियंका बोलीं- जांच के नाम पर सब कुछ दबा दिया जाता है

    कानपुर के शेल्टर होम में 7 लड़कियों के गर्भवती और 57 के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के मामले में विपक्ष यूपी की योगी आदित्यनाथ सरकार को घेरने में लगी है। मामले में सियासत तेज हो गई है और विभिन्न राजनैतिक दलों के दिग्गज नेता सूबे की योगी सरकार पर निशाना साध रहे हैं। कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी, सपा प्रमुख अखिलेश यादव, पूर्व यूपी कांग्रेस अध्यक्ष व फिल्म स्टार राज बब्बर समेत कई नेताओं ने इस मामले में शासन और प्रशासन पर निशाना साधा है। प्रियंका गांधी ने कहा है कि उत्तर प्रदेश के देवरिया से भी ऐसा मामला सामने आ चुका है। ऐसे में फिर से इस तरह की घटना सामने आना दिखाता है कि जांच के नाम पर सब कुछ दबा दिया जाता है, लेकिन सरकारी बाल संरक्षण गृहों में बहुत ही अमानवीय घटनाएं घट रही हैं।
     

  • <p>यूपी के कानपुर राजकीय संवासिनी गृह में 57 लड़कियों के कोरोना पॉजिटिव और 7 के गर्भवती पाए जाने के मामले में कानपुर के डीएम और एसएसपी का बयान सामने आया है। उसमे कहा गया है कि शेल्टर होम लाने से पहले ही ये सातों लड़कियां गर्भवती थीं। इन सात गर्भवती लड़कियों में 5 कोरोना पॉजिटिव और दो निगेटिव हैं। ये नाबालिग हैं या बालिग, इसके लिए उम्र निर्धारण की जांच की जा रही है। जल्द ही इसका भी पता चल जाएगा।&nbsp;<br />
&nbsp;</p>

    Uttar PradeshJun 22, 2020, 12:33 PM IST

    कानपुर डीएम और एसएसपी का दावा, शेल्टर होम लाने के पहले ही गर्भवती थीं लड़कियां

    यूपी के कानपुर राजकीय संवासिनी गृह में 57 लड़कियों के कोरोना पॉजिटिव और 7 के गर्भवती पाए जाने के मामले में कानपुर के डीएम और एसएसपी का बयान सामने आया है। उसमे कहा गया है कि शेल्टर होम लाने से पहले ही ये सातों लड़कियां गर्भवती थीं। इन सात गर्भवती लड़कियों में 5 कोरोना पॉजिटिव और दो निगेटिव हैं। ये नाबालिग हैं या बालिग, इसके लिए उम्र निर्धारण की जांच की जा रही है। जल्द ही इसका भी पता चल जाएगा। 
     

  • undefined

    HaryanaApr 17, 2020, 12:26 PM IST

    22 दिन पहले मायूस होकर पैदल ही घर के लिए निकली थी गर्भवती, रास्ते में देखिए कैसे खिल उठी जिंदगी

    जिंदगी में सुख-दु:ख लगे रहते हैं। इस समय सब लोग कोरोना संकट से जूझ रहे हैं। खासकर गरीब और मजदूर परिवारों को अधिक दिक्कतें हो रही हैं। लेकिन खुशियां अमीरी-गरीबी नहीं देखतीं। कल तक यह महिला मायूस थी, अब गोद में बेटा आने पर खुश है। यह महिला 700 किमी दूर अपने घर के लिए पैदल ही निकली थी, लेकिन रास्ते में पुलिस ने रोककर शेल्टर होम में पहुंचा दिया था।

  • undefined

    Uttar PradeshApr 13, 2020, 9:32 AM IST

    शेल्टर होम में फंसे लोगों को उनके घर पहुंचाएगी सरकार, घर में रहना होगा 14 दिन

    लखनऊ (Uttar Pradesh) । 21 दिनों का लॉकडाउन 14 अप्रैल को खत्म हो रहा है। इस बीच लगातार बढ़ रही संक्रमित मरीजों की संख्या को देखते हुए सरकार कुछ रियायतों के साथ लॉकडाउन को बढ़ा सकती है। खबर है कि इसपर आज ऐलान कर सकती है। हालांकि इसके पहले लॉकडाउन के दौरान प्रदेश के अलग-अलग जिलों के शेल्टर होम में फंसे सैकड़ों लोगों को उनके घर पहुंचाने की तैयारी कर ली है। इसके लिए सीएम योगी आदित्यनाथ ने एक बड़ी बैठक की, जिसमें कोरोना वायरस की रोकथाम के साथ ही अन्य विषयों पर चर्चा की। बैठक के बाद मीडिया को संबोधित करते हुए सीएम ने कहा कि शेल्टर होम में फंसे लोगों को उनके घर पहुंचाने का निर्णय लिया गया है। सभी लोगों की स्क्रीनिंग होगी। उसके बाद उन्हें घर पहुंचाया जाएगा। घर में भी सभी लोगों को 14 दिन की क्वारंटाइन अवधि को पूरा करना होगा। सरकार इन लोगों को घर पहुंचाने के साथ ही राशन भी मुहैया करवाएगी।

  • undefined

    BiharFeb 12, 2020, 11:21 AM IST

    मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को आजीवन कारावास, 11 अन्य को उम्रकैद

    दिल्ली की साकेत कोर्ट ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस के मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को आजीवन कारावास की सजा सुनाई है। बता दें कि टिस की रिपोर्ट के बाद इस मामले का खुलासा हुआ था। 

  • undefined

    NationalFeb 11, 2020, 4:27 PM IST

    मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस: ब्रजेश ठाकुर को उम्रकैद की सजा, मासूम लड़कियों के साथ की थी दरिंदगी

    दिल्ली की एक अदालत ने बिहार के मुजफ्फरपुर जिले में एक आश्रयगृह में कई लड़कियों के यौन शोषण और शारीरिक उत्पीड़न के मामले में ब्रजेश ठाकुर को मंगलवार को आजीवन कारावास की सजा सुनाई। 

  • undefined

    BiharJan 29, 2020, 11:41 AM IST

    मुजफ्फरपुर आश्रयगृह मामला: सजा की अवधि पर सुनवाई 4 फरवरी तक टली

    दिल्ली की एक अदालत ने मुजफ्फरपुर आश्रयगृह मामले में अनेक नाबालिग लड़कियों के यौन उत्पीड़न और उनपर शारीरिक हमले के दोषी ब्रजेश ठाकुर तथा 18 अन्य दोषियों की सजा की अवधि पर सुनवाई मंगलवार को एक सप्ताह के लिए टाल दी।

  • Muzaffarpur Case, Shelter Home Case, Brajesh Thakur, Bihar, Patna, Muzaffarpur Shelter

    NationalJan 20, 2020, 3:27 PM IST

    मालिक, गेटकीपर, कुक सहित 19 लोगों ने किया लड़कियों से यौन शोषण, 28 जनवरी को सजा पर बहस होगी

    दिल्ली की साकेत कोर्ट ने मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर को दोषी ठहराया है। यौन शोषण के मामले में कोर्ट ने 20 आरोपियों में से 19 को दोषी पाया है। 28 जनवरी को सजा पर बहस होगी।

  • undefined

    BiharJan 20, 2020, 3:25 PM IST

    मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केसः ब्रजेश ठाकुर समेत 19 अन्य यौन शोषण के दोषी करार, 28 को मिलेगी पापों की सजा

    मुजफ्फरपुर शेल्टर होम केस में सोमवार को दिल्ली की साकेत कोर्ट ने अहम फैसला सुनाया। लंबी सुनवाई के बाद कोर्ट ने मुख्य आरोपी ब्रजेश ठाकुर समेत 19 अन्य को दोषी करार दिया। अब 28 जनवरी को दोषियों के सजा पर बहस होगी।