Social Activist  

(Search results - 5)
  • undefined

    BiharMay 12, 2021, 1:28 PM IST

    जेल में रहते दोस्त की बहन को दे बैठे थे दिल, CBI दे चुकी है उम्रकैद की सजा, जानिए कैसे बचे पप्पू यादव?

    पटना (Bihar) । जन अधिकार पार्टी के संरक्षक पप्पू यादव एक बार फिर चर्चाओं में आ गए हैं। हालांकि बिहार समेत देश की राजनीति के लिए उनका नाम अपरिचित नहीं हैं। क्योंकि, दिल्ली की राजनीतिक गलियारे में वो एक जाना पहचाना नाम हैं। हालांकि पप्पू के परिवार के बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं है। पप्पू माता-पिता की इकलौती संतान हैं। उनकी एक छोटी बहन भी है, जो डॉक्टर है। जबकि उनकी पत्नी रंजीता पूर्व सांसद रह चुकी हैं और हार्ले चलाती हैं। वहीं, बेटा क्रिकेटर है। यूं कहें कि पप्पू यादव का पूरा जीवन फिल्मी है। उन्होंने अपने जीवन में कई सारे उतार चढ़ाव देखे हैं। अपराध में नाम, जेल की सजा से विधानसभा और लोकसभा तक की उनकी यात्रा बेहद दिलचस्प है। ठीक इसी तरह उनकी लव स्टोरी भी है, जिसका खुलासा खुद उन्होंने द्रोहकाल का पथिक में किया है। 

  • <p>Social Activist, Swami Agnivesh<br />
&nbsp;</p>

    NationalSep 11, 2020, 8:04 PM IST

    सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश नहीं रहे, हार्ट अटैक से निधन, शनिवार शाम 4 बजे होगा अंतिम संस्कार

    सामाजिक कार्यकर्ता स्वामी अग्निवेश का दिल्ली में निधन हो गया। डॉक्टरों के मुताबिक, शाम 6 बजे दिल का दौरा पड़ने से उनका देहांत हो गया। स्वामी अग्निवेश (swami agnivesh) की तबीयत बिगड़ने के बाद उन्हें दिल्ली के इंस्टिट्यूट ऑफ लिवर एंड बायिलरी साइंसेज (आईएलबीएस) में भर्ती कराया गया था।  

  • undefined

    Other StatesJul 21, 2020, 12:07 PM IST

    इस क्राइम रिपोर्टर ने देखा कुछ ऐसा शॉकिंग कि छोड़ दी अपनी जॉब, अब कर रहीं इस फील्ड में काम

    अहमदबाद, गुजरात. लॉकडाउन ने लोगों की जिंदगी पर बुरा असर डाला है। काम-धंधा बंद होने से लोगों के भूखों मरने की नौबत आ गई है। लेकिन इस संकट के बीच लोग अब रोजी-रोटी के नये अवसर भी तलाश रहे हैं। गुजरात का एक NGO रेड लाइट एरिया की यौनकर्मियों के लिए रोजगार के नये मौके लेकर सामने आया है। NGO की मदद से इन महिलाओं को मास्क बनाने की ट्रेनिंग दी जा रही है। NGO की प्रमुख सोनल रोचानी कहती हैं कि इससे दो फायदे हैं। पहला-महिलाओं को रोजगार मिलेगा और दूसरा-उन्हें नारकीय जिंदगी से बाहर निकलने का मौका भी मिलेगा। आपको बता दें कि सोनल पहले एक क्राइम रिपोर्टर थीं। रिपोर्टिंग के दौरान उन्होंने कुछ ऐसा देखा कि जॉब छोड़कर महिलाओं के लिए काम करने की ठानी। जानिए सोनल की कहानी....

  • undefined

    Uttar PradeshMay 18, 2020, 7:55 PM IST

    डिलीवरी के दौरान गर्भ में मरा बच्चा, बंदरियां का ये हुआ ऐसा हाल, पति-पत्नी ने बचाई जान

    दंपति जब बंदरिया के मरे हुए बच्चे को शरीर से अलग रखकर किनारे रखने लगे तब अचानक बंदरिया को होश आ गया। बंदरिया ने होश आते ही  दंपति पर ही हमला कर दिया, जिससे दोनों घायल हो गए। मौके पर मौजूद लोगों ने दोनों को बचाया और उनका इलाज भी कराया।

  • undefined

    NationalSep 16, 2019, 6:02 PM IST

    जम्मू-कश्मीर हाई कोर्ट पर लगे गंभीर आरोप, सुप्रीम कोर्ट ने मांगा जवाब

    अगर लोग उच्च न्यायालय से अपनी बात नहीं कह पा रहे हैं तो ये बहुत बहुत गंभीर बात है। दो बाल अधिकार कार्यकर्ताओं के अधिवक्ता ने न्यायालय में आरोप लगाया कि लोगों को उच्च न्यायालय से अपनी बात कहने में कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है।