Subhash Chandra Bose  

(Search results - 16)
  • undefined
    Video Icon

    NationalJan 25, 2021, 4:08 PM IST

    जब भरी सभा में ममता ने कहा- ला इलाहा इल्लल्लाह, BJP ने शेयर किया वही वीडियो, पूछा- जय श्री राम से दिक्कत क्यों

    वीडियो डेस्क।  पश्चिम बंगाल  ( West Bengal) में अब 'जय श्री राम' (Jai Shri Ram) के नारे को लेकर सियासी घमासान छिड़ गया है। शनिवार को नेताजी सुभाष चंद्र बोस (Subhash Chandra Bose) की 125वीं जयंती मनाने के लिए आयोजित विक्टोरिया मेमोरियल कार्यक्रम में 'जय श्री राम' के नारे लगाए जाने के बाद मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने भाषण देने से इनकार कर दिया। ममता बनर्जी के इस व्यहार पर जहां भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने नाराजगी जताई।   बीजेपी ने दावा किया है कि सीएम ममता ने नेताजी का अपमान किया है और पूछा है कि वह 'जय श्री राम' से क्यों नाराज हैं। पश्चिम बंगाल की बीजेपी इकाई ने हाली ही में ट्विटर पर सीएम ममता बनर्जी की एक वीडियो क्लिप रिलीज किया है।  जिसमें वह एक रैली दौरान मंच से मुस्लिम समुदाय के लोगों द्वारा की जाने वाली 'प्रार्थना' का पाठ करती नजर आ रही हैं। पोस्ट के साथ बीजेपी ने पूछा कि अगर ममता भाषण के दौरान प्रार्थना कर सकती हैं, तो उन्हें 'जय श्री राम' का जाप करने में समस्या क्यों है।

  • undefined

    NationalJan 25, 2021, 3:53 PM IST

    क्या राष्ट्रपति भवन में सुभाष चंद्र बोस की जगह लगाई गई अभिनेता की तस्वीर; जानिए कैसे फैलाया जा रहा झूठ

    नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के मौके पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में उनकी एक तस्वीर का अनावरण किया। अब इसे लेकर सोशल मीडिया पर बहस शुरू हो गई है। कुछ लोग इस तस्वीर को सुभाष चंद्र बोस की जगह एक अभिनेता की बता रहे हैं। वहीं सरकार का कहना है कि जो तस्वीर राष्ट्रपति भवन में लगाई गई है, वह ऑरिजनल फोटो से बनाई गई है। 

  • undefined

    Uttar PradeshJan 24, 2021, 10:29 AM IST

    BJP सांसद साक्षी महाराज बोले-कांग्रेस के ही एक नेता ने कराई थी सुभाष चंद्र बोस की हत्या, ये थी वजह

    साक्षी महाराज ने कहा कि कांग्रेस ने ही सुभाष चंद्र बोस को समय से पहले ही मौत के काल में भेज दिया था। केवल इसलिए की उनकी लोकप्रियता के आगे पंडित नेहरू और महात्मा गांधी जी भी नहीं ठहरते थे।

  • undefined

    NationalJan 23, 2021, 5:47 PM IST

    PM के सामने लगे जय श्रीराम के नारे, यह सुनकर नाराज ममता ने कहा- बुलाकर बेज्जत करना अच्छी बात नहीं

    नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती के मौके पर प बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मंच से नाराज हो गईं। उन्होंने भाषण तक नहीं दिया। दरअसल, ममता जय श्री राम के नारे सुनकर नाराज हुईं। इसके बाद ममता ने कहा, यह राजनीतिक कार्यक्रम नहीं है। यह केंद्र सरकार का कार्यक्रम है। किसी को निमंत्रण देकर बेइज्जत करना अच्छी बात नहीं है। मैं अब कुछ नहीं बोलूंगी। जय भारत, जय बांग्ला।

  • undefined
    Video Icon

    NationalJan 23, 2021, 3:01 PM IST

    यहां राजभवन का घेराव करते किसानों और पुलिस के बीच हुई झड़प, सामने आया VIDEO


    वीडियो डेस्क। उत्तराखंड में कृषि कानूनों के विरोध में राजभवन में मार्च करने से रोकने पर किसानों और पुलिस के बीच झड़प हुई। केंद्र के तीन कृषि कानूनों ( New Farm Law) के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों आंदोलन (farmers protest) को करीब दो महीने होने वाले हैं। वहीं किसान संगठन 26 जनवरी को राजधानी दिल्ली ट्रैक्टर रैली निकालने के अपने मांग पर अड़े हुए हैं। 
     

  • undefined

    NationalJan 23, 2021, 1:09 PM IST

    ममता बनर्जी की केंद्र से अपील- नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर नेशनल हॉलिडे घोषित करे सरकार

    सुभाष चंद्र बोस की आज यानी की 23 जनवरी को 125वीं जयंती है। इस मौके पर पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने नेताजी को श्रद्धांजलि दी। उन्होंने 9 किमी का रोड शो भी निकाला। ममता बनर्जी ने केंद्र सरकार से अपील की कि 23 जनवरी को नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर नेशनल हॉलिडे घोषित किया जाए।

  • undefined

    NationalJan 23, 2021, 7:24 AM IST

    पीएम मोदी बोले- नेताजी ने जिस सशक्त भारत की कल्पना की थी, आज दुनिया LAC से LoC तक वही अवतार देख रही

    नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 125 वीं जयंती पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पश्चिम बंगाल में हैं। पीएम ने सबसे पहले कोलकाता में नेताजी भवन का दौरा किया। करीब 15 मिनट तक नेताजी भवन में बिताने के बाद पीएम मोदी विक्टोरिया मेमोरियल में आयोजित ‘पराक्रम दिवस’ समारोह को संबोधित करेंगे।

  • undefined

    NationalJan 22, 2021, 11:59 PM IST

    जिसे नेताजी की 'प्रेमिका' समझकर श्रद्धांजलि मिलती रही है, आखिर वो कौन थी?

    स्वतंत्रता संग्राम के दौरान 'तुम मुझे खून दो मैं तुम्हें आाजादी दूंगा' जैसा जोशीला नारा देने वाले नेताजी सुभाष चंद्र बोस की 23 जनवरी को जयंती है। नेताजी का जन्म 1897 को उड़ीसा राज्य के कटक में हुआ था। 18 अगस्त, 1945 के बाद से नेताजी की जिंदगी और मौत को लेकर रहस्य बना हुआ है। माना जाता है कि इसी दिन  जापान के ताइवान में हुई एक विमान दुर्घटना में उनका निधन हो गया। लेकिन प्रचारित हुआ कि वे इस हादसे में बच गए। लेकिन फिर गुमनामी का जीवन गुजारते रहे। उनकी मौत से रहस्य हटाने भारत सरकार ने तीन बार आयोग गठित किया। इनमें से दो ने माना कि बोस की दुर्घटना में मृत्यु हो गई। लेकिन तीसरी जांच रिपोर्ट में कहा गया कि बोस ने नकली मौत दी। यानी वे जीवित बच गए थे। हालांकि इस रिपोर्ट को खारिज कर दिया गया। बोस के साथ ऐसे और भी कई रहस्यमयी प्रसंग जुड़े रहे। बोस ने अपनी प्राइवेट सेक्रेटरी एमिली शेंकल से लव मैरिज की थी। 1996 में उनकी मृत्यु हो गई। पिछले साल सोशल मीडिया पर एक तस्वीर वायरल हुई थी। इसे एमिली की बताकर श्रद्धांजलि दी जा रही थी, लेकिन हकीकत में वो कोई और महिला थी। 

  • undefined

    NationalJan 15, 2021, 8:00 PM IST

    23 जनवरी को बंगाल जाएंगे पीएम मोदी, सुभाष चंद्र बोस की जयंती कार्यक्रम में होंगे शामिल

    प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 23 जनवरी को प बंगाल जाएंगे। इस दौरान वे कोलकाता में नेताजी सुभाष चंद्र बोस की जयंती पर आयोजित एक कार्यक्रम में शामिल होंगे। यहां पीएम मोदी नेताजी सुभाष मेमोरियल संग्रहालय का उद्घाटन करेंगे। 

  • undefined

    Fake CheckerFeb 18, 2020, 2:26 PM IST

    Fact Check: नेताजी सुभाषचंद्र बोस की गुमनाम पत्नी को देख भावुक हुए लोग, जानिए कौन है ये महिला?

    नई दिल्ली. नेताजी सुभाष चंद्र बोस के जीवन को लेकर हमेशा बहुत से राज रहे हैं। उनकी मौत पर काफी लंबे समय तक संदेह बना रहा है। उनके परिवारिक जीवन को लेकर भी ज्यादा जानकारियां मौजूद नहीं है। ऐसे में सोशल मीडिया पर एक तस्वीर तेजी से वायरल हो रही है। दावा किया जा रहा है कि तस्वीर में मौजूद महिला नेताजी की धर्मपत्नी हैं जो हमेशा गुमनाम रही और उनको कभी पहचान नहीं मिली। फेसबुक, ट्विटर पर ये फोटो बहुत तेजी से वायरल हो रही है। आइए जानते हैं कि क्या वाकई ये तस्वीर नेताजी की पत्नी की है? 

  • undefined

    NationalJan 24, 2020, 5:08 PM IST

    मोदी सरकार के अड़ियल रवैये पर भड़के नेताजी सुभाष के परिजन, कहा, 'गृह युद्ध की तरफ जा रहा है देश'

    बोस ने दावा किया कि सीएए को लागू करना आरएसएस के हिंदू राष्ट्र के सपने को सच करने का प्रयास है।

  • undefined

    NationalJan 23, 2020, 11:16 PM IST

    उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने पाठ्यक्रम पर उठाए सवाल, बोले इतिहास का पुनरावलोकन जरूरी

    उपराष्ट्रपति एम वेंकैया नायडू ने गुरुवार को कहा कि अब समय आ गया है कि इतिहास का पुनरावलोकन किया जाए और देश के स्वतंत्रता संग्राम में भाग लेने वाले सरदार पटेल और नेताजी सुभाष चंद्र बोस जैसे नजरअंदाज कर दिए गए महापुरुषों के बलिदान को सामने लाया जाए। 
     

  • undefined

    NationalJan 23, 2020, 2:55 PM IST

    ममता बनर्जी का बयान, 'नेताजी ने हिंदू महासभा की सांप्रदायिक राजनीति का किया था विरोध'

    ममता बनर्जी ने कहा कि नेताजी सुभाष चंद्र बोस ने हिंदू महासभा की 'विभाजनकारी राजनीति' का विरोध किया था और वह धर्मनिरपेक्ष तथा एकजुट भारत की खातिर लड़े थे।

  • undefined

    Uttar PradeshJan 23, 2020, 11:24 AM IST

    तो क्या गुमनामी बाबा ही थे सुभाष चंद्र बोस, बक्से से निकले सामान तो यही दावा करते हैं...

    लखनऊ (Uttar Pradesh). अंग्रेजों के खिलाफ आजाद हिंद फौज बनाने वाले सुभाष चंद्र बोस जी की 23 जनवरी को 123वीं जयंती है। इनका जन्म 23 जनवरी 1897 को उड़ीसा के कटक में हुआ था। लेकिन उनकी मौत आज भी एक रहस्य है। ऐसा माना जाता है कि यूपी कि अयोध्या में रहने वाले गुमनामी बाबा ही नेताजी थी, जो भेष बदलकर वहां सालों तक रहे। बाबा के बक्से से कुछ ऐसे सामान मिले थे, जोकि गुमनामी बाबा ही नेताजी थे। इसका सबूत देते हैं। आज हम आपको बक्से से मिले उन सामानों के बारे में बताने जा रहे हैं।

  • undefined

    Uttar PradeshJan 22, 2020, 10:06 AM IST

    यहां बना सुभाष चंद्र बोस का पहला मंदिर, दलित महिला करेगी नेताजी की पूजा आरती

    नेताजी की जयंती पर यूपी के वाराणसी में बने बोस के मंदिर आम जनता के लिए खोला जाएगा। इस मंदिर की पुजारी दलित महिला होगी।