Symptoms  

(Search results - 467)
  • <p>cold agglutinin disease symptoms, cold agglutinin disease cases, cold agglutinin disease, what is cold agglutinin disease</p>

    Health CapsuleJul 25, 2021, 2:10 PM IST

    कोरोना के बीच ये कौन सी बीमारी सामने आई, जीभ का रंग हो गया पीला, 12 साल का बच्चा तेजी से होने लगा कमजोर

    द न्यू इंग्लैंड जर्नल ऑफ मेडिसिन में पब्लिस एक रिपोर्ट के मुताबिक, जीभ का रंग पीला होने वाले लड़के को कोल्ड एग्लूटीनिन रोग है। ये एक दुर्लभ बीमारी है, जिसमें शरीर का इम्युनिटी सिस्टम कमजोर होने लगता है। 

  • <p>monkeypox, monkeypox symptoms, monkeypox danger, monkeypox death, where monkeypox spread, monkeypox India, monkeypox update, monkeypox rescue, Texas monkeypox, monkeypox Nigeria, monkeypox research, monkeypox first case, मंकीपॉक्स, मंकीपॉक्स लक्षण, मंकीपॉक्स खतरा</p>

    TrendingJul 21, 2021, 10:59 AM IST

    मुंह पर दाने और शरीर का बुरा हाल...कोरोना के बाद अमेरिका में Monkeypox का खतरा? जानें कितना डेंजर है

    कोरोना महामारी के बीच अमेरिका में मंकीपॉक्स का खतरा मंडरा रहा है। अमेरिका के सेंटर ऑफ डिजीज कंट्रोल (सीडीसी) ने 27 राज्यों में 200 से अधिक लोगों में मंकीपॉक्स के संभावित खतरे को देखने के लिए निगरानी करने का फैसला किया है। वे सभी 200 से अधिक लोग उस व्यक्ति के संपर्क में थे, जिसमें मंकीपॉक्स पाया गया। वह हाल ही मं नाइजीरिया से टेक्सास लौटा था, जिसमें बाद वो बीमार हुआ। जांच हुई तो पता चला कि वो मंकीपॉक्स से संक्रमित है। हालांकि अभी एक मरीज के अलावा कोई और केस सामने नई आया है लेकिन एक्सपर्ट पूरी सावधानी बरत रहे हैं। जानें क्या हैं मंकीपॉक्स के लक्षण...

  • undefined
    Video Icon

    Madhya PradeshJul 13, 2021, 8:38 AM IST

    चलने में असमर्थ शख्स को एएनएम ने टीकाकरण केंद्र से बाहर आकर लगाई वैक्सीन

    वीडियो डेस्क। कोरोना वायरस तेजी से फैल रहा है।  इसकी दूसरी लहर में हम देख चुके कितने लोगों ने जान गवाई हैं। कोरोना से बचना है तो हमें वैक्सीन जल्द से जल्द लगवाना होगा। कुछ लोग गलत अफवाह में पड़ कर वैक्सीन नहीं लगवा रहे हैं ये कोरोना से बचाव के लिए बहुत जरूरी है।  कोरोना की तीसरी लहर की आशंका के बीच यह वैक्सीन काफी अहम साबित हो सकती है। मध्य प्रदेश के छतरपुर चलने में असमर्थ  75 साल के जाहिद हुसैन ने वैक्सीन लगवाई। एएनएम ने टीकाकरण केंद्र से बाहर आकर उन्हें सुरक्षा का टीका लगाया। 

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJul 9, 2021, 1:32 PM IST

    'डॉक्टर स्पीक' : कोरोना का डेल्टा प्लस वेरिएंट को यूं दी जा सकती है शिकस्त


    वीडियो डेस्क। देश में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट के मामले धीरे-धीरे बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना वायरस के नए खतरनाक वैरियंट डेल्टा प्लस ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है।  डेल्टा प्लस वेरिएंट की गंभीरता को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों को सावधान रहने के निर्देश दिए हैं साथ ही जरूरी सुविधाएं बढ़ाने की सलाह दी है।  डेल्टा प्लस वेरिएंट के लक्षण क्या हैं, डेल्टा प्लस वेरिएंट किन लोगों के लिए ज्यादा खतरनाक है, डेल्टा प्लस वेरिएंट की जांच कैसे की जाती है। इस जानलेवा वेरिएंट से बचने के क्या काम करना है। बता रही हैं मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की डॉक्टर अंजु गुप्ता। 

     

  • <p>study on corona, corona epidemic, corona, corona</p>

    TrendingJul 9, 2021, 10:42 AM IST

    कोई 3 तो कोई 6 महीने तक कोरोना से परेशान रहा, स्टडी में खुलासा- 40% मरीजों में लंबे वक्त तक रहा लक्षण

    नई दिल्ली. कोरोना महामारी की दूसरी लहर खत्म हो चुकी है। तीसरी लहर का डर बना हुआ है। इस बीच एक स्टडी में पता चला है कि 40% रोगी लंबे समय तक कोरोना से पीड़ित थे। स्टडी में पूरे भारत के मैक्स के 3 हॉस्पिटल में भर्ती किए गए 1000 कोरोना पॉजिटिव मरीजों को शामिल किया गया था। 

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJul 6, 2021, 2:19 PM IST

    ये लोग ना खाएं बादाम, फायदे की जगह कर सकता है नुकसान

    वीडियो डेस्क। बादाम खाने से शरीर को वायरल संक्रमण जैसे जुकाम और फ्लू से लडने में मदद मिलती है। बादाम के छिलके में प्राकृतिक रूप से ऐसे रसायन पाए जाते हैं, जो रोग प्रतिरोधक क्षमता को बढाते हैं।  ऐसे में जो पोषक तत्व आपको खाने से भरपूर मात्रा में नहीं मिलते उनकी कमी को ड्राई फ्रूट्स पूरा कर देते हैं। इन्हीं ड्राई फ्रूट्स में से एक बादाम है। बादाम में प्रुचर मात्रा में प्रोटीन, फैट, विटामिन और मिनरल्स होते हैं। ये शरीर की ना केवल विकास करने में मदद करते हैं बल्कि शरीर को मजबूती भी देते हैं। लेकिन कई लोग ऐसे हैं जिनका बादाम का सेवन करना भारी पड़ सकता है। जानिए किन लोगों को बादाम का सेवन करने से परहेज करना चाहिए। देखिए वीडियो
     

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJul 4, 2021, 1:16 PM IST

    किन लोगों के लिए खतरनाक है कोरोना का नया वेरिएंट? जानें श्वास रोग विशेषज्ञ डॉ पीएन अग्रवाल से

    वीडियो डेस्क। देश में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट के मामले धीरे-धीरे बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना वायरस के नए खतरनाक वैरियंट डेल्टा प्लस ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है।  डेल्टा प्लस वेरिएंट की गंभीरता को देखते हुए केंद्र सरकार ने राज्यों को सावधान रहने के निर्देश दिए हैं साथ ही जरूरी सुविधाएं बढ़ाने की सलाह दी है।  सबसे ज्यादा मामले महाराष्ट्र, मध्यप्रदेश, तमिलनाडु आदि राज्यों में सामने आए हैं. कोरोना वायरस का डेल्टा प्लस वेरिएंट क्या है, डेल्टा प्लस वेरिएंट के लक्षण क्या हैं, डेल्टा प्लस वेरिएंट किन लोगों के लिए ज्यादा खतरनाक है, डेल्टा प्लस वेरिएंट की जांच कैसे की जाती है, क्या जो लोग वैक्सीन की डोज ले चुके हैं वे डेल्टा प्लस वेरिएंट से सुरक्षित हैं।  ऐसे कई सवालों के जवाब जानने के लिए एशियानेट न्यूज हिन्दी के संवाददाता श्रीकांत सोनी  ने बात की मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल के अग्रवाल हॉस्पिटल के  एम.डी., डी.एम.श्वास रोग विशेषज्ञ डॉक्टर पीएन अग्रवाल जी से। देखिए इंटरव्यू और जानें इससे बचने के टिप्स। 

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJul 1, 2021, 6:50 PM IST

    ALERT: इन 4 आदतों के कारण आपकी हड्डियां हो सकती हैं कमजोर

    वीडियो डेस्क।  आजकल के खानपान और खराब लाइफस्टाइल की वजह से युवाओं की भी हड्डियां कमजोर हो रही हैं। हड्डियों के कमजोर होने पर शरीर में दर्द, अकड़न महसूस होती है। शरीर को हेल्दी तभी होगा जब आप अंदर से मजबूत होंगे। शरीर को मजबूती देने में हड्डियां भी अहम भूमिका निभाती हैं। बढ़ती उम्र के साथ हड्डियों का कमजोर होना स्वाभाविक है।  लेकिन क्या आप  जानते हैं कि आपकी कुछ ऐसी आदतें होती हैं जो आपकी हड्डियों को अंदर से कमजोर बना रही हैं। वीडियो में  जानिए उन 4 आदतों के बारे में...
     

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJun 27, 2021, 4:10 PM IST

    विकराल हो रहा है Covid19 Delta Plus Variant, 3 दिन में करता है फेफड़ों पर अटैक

    वीडियो डेस्क। देश में कोरोना वायरस के डेल्टा प्लस वैरिएंट के मामले धीरे-धीरे बढ़ते जा रहे हैं। कोरोना वायरस का डेल्‍टा प्‍लस वेरिएंट देश के कई राज्‍यों में पहुंच चुका है। देशभर में डेल्टा प्लस वैरिएंट के 51 मामले सामने आए हैं। लेकिन इस वैरिएंट के बारे में ज्यादा जानकारी नहीं होने से संक्रमण को लेकर आशंका बनी हुई है। लिहाजा राज्‍यों की सरकारें इसके प्रसार को रोकने की कोशिश कर रही हैं। साथ ही संक्रमण के प्रसार को रोकने के लिए विभिन्‍न उपाय भी कर रही हैं। राज्‍य सरकारें एक बार फिर से प्रतिबंधात्‍मक कदम उठाने पर मजबूर हो गईं हैं। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की डॉक्टर अंजु गुप्ता ने बताया कि कितना खतरनाक है ये नया वेरिएंट इससे कैसे बचे और किन बातों की रखें सावधानी। 

  • <p>corona delta plus</p>
    Video Icon

    Health CapsuleJun 27, 2021, 3:06 PM IST

    बुखार और सूखी खांसी नहीं बल्कि ये हैं डेल्टा प्लस वैरिएंट के गंभीर लक्षण, न करें नजरअंदाज

    वीडियो डेस्क। कोरोना के नए वैरिएंट ने फिर चिंता बढ़ा दी है। WHO भी मान चुका है कि कोरोना का यह रूप बेहद खतरनाक है। इसको लेकर सरकार भी अलर्ट हो गई है। जहां भी इसके केस मिलेंग उस इलाके को क्वारंटाइन जो बनाया जाएगा। कोरोना के नए वेरिएंट कुछ गंभीर लक्षण बताए गए हैं जैसे- सांस फूलना, सीने में दर्द, सांस लेने में तकलीफ, बोलने में परेशानी । 

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJun 25, 2021, 8:02 PM IST

    कोरोना पीड़ितों को हो रहा है डिप्रेशन, एक्सपर्ट से बताया कैसे करें इसका इलाज

    कोरोना वायरस का डर दिलो दिमाग पर इस कदर बैठ गया है कि कोरोना संक्रमण से ठीके होने के बाद भी कई लोगों में इसका असर दिमाग में नहीं निकल रहा। 

  • undefined
    Video Icon

    Health CapsuleJun 20, 2021, 6:13 PM IST

    एक्सपर्ट ने बताया फेफड़ों को हेल्दी रखने लिए न खाएं ये चीजें, हो सकती है शरीर में कई प्रॉब्लम

    वीडियो डेस्क। फेफड़ों के खराब होने का कारण बढ़ता हुआ प्रदूषण है। इससे अस्थमा जैसी बीमारी के चांस बढ़ जाते हैं और सांस फूलने लगती है। फेफड़ो को स्वस्थ रखने के लिए तंबाकू जैसे नशे से दूर रहना चाहिए। फेफड़ों के खराब होने की वजह एलर्जी भी हो सकती है।  शरीर को हमेशा हेल्दी रहने के लिए जरूरत है कि आपके फेफडे अच्छी ढंग काम  करते रहे, क्योंकि फेफड़ों से फिल्टर होने के बाद ही ऑक्सीजन आपके पूरे शरीर में पहुंचती हैं। अपने खानपान और लाइफस्टाइल का ठीक ढंग से ख्याल रखने के कारण लंग्स संबंधी कईसमस्या का सामना करना पड़ता है। जानिए कुछ ऐसी चीजों के बारे में जिनसे आपके लंग्स डैमेज हो सकते हैं। मध्य प्रदेश की राजधानी भोपाल की सिटी हॉस्पिटल की डॉक्टर अंजु गुप्ता ने बताया कि खाने में ऐसी चीजों के सेवन से बचे जिससे फेफड़ों को नुकसान होता है। 

  • <p>Green Fungus, Green Fungus Complete Information, Green Fungus Symptoms, What is Green Fungus, Danger from Green Fungus, Green Fungus Colors, Colors of Fungus, Green Fungus in Corona</p>

    TrendingJun 17, 2021, 3:15 PM IST

    ब्लैक व्हाइट येलो के बाद ग्रीन फंगस का खतरा, कैसे तय होते हैं फंगस के रंग, क्या है इसके पीछे का विज्ञान?

    कोरोना की दूसरी लहर में ब्लैक फंगस के बाद व्हाइट फंगस आया। अब एमपी के इंदौर में रहने वाले एक शख्स को ग्रीन फंगस होने की खबर है। डॉक्टर ने बताया कि 34 साल का व्यक्ति ग्रीन फंगस से संक्रमित पाया गया है। उसे इलाज के लिए एयर एंबुलेंस के जरिए मुंबई ले जाया गया है।
     

  • undefined

    TrendingJun 16, 2021, 10:54 AM IST

    क्या है पोस्ट कोविड-19 सिंड्रोम, रिकवरी के 6 महीने बाद भी होते हैं ये लक्षण

     कोरोना वायरस न केवल हमारे फेफड़ों को प्रभावित करता है, बल्कि लीवर, मस्तिष्क और किडनी सहित सभी अंगों को प्रभावित कर सकता है। इसलिए, हमारे शरीर को संक्रमण से उबरने में समय लगता है।

  • Coronavirus has gifted Kerala a National Virology Institute in Alappuzha. Earlier, the state used to depend on the National Institute of Virology in Pune to test samples.

    TrendingJun 8, 2021, 12:24 PM IST

    पुणे में मिला कोरोना का नया स्ट्रेन, खतरनाक है वायरस का ये वैरिएंट, जानें क्या हैं इसके लक्षण

    पुणे. पुणे की नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी (national Institute of Virology) ने कोरोना वायरस का नया  वैरिएंट B.1.1.28.2 मिला है। यह वैरिएंट ब्रिटेन और ब्राजील की यात्रा करके भारत आए लोगों में पाया गया है। टाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, वैरिएंट की स्टडी के बाद पाया गया कि इसके गंभीर लक्षण हैं। आइए जानते हैं इन नए वैरिएंट के बारे में।