Tata Sons  

(Search results - 17)
  • undefined

    BusinessFeb 6, 2021, 4:33 PM IST

    रतन टाटा ने लोगों का जीता दिल, 'भारत रत्न' दिए जाने की मांग पर जानें क्या कहा

    देश के प्रमुख उद्योगपति और टाटा ग्रुप (Tata Group) के प्रमुख रतन टाटा (Ratan Tata) को देश का सबसे बड़ा सम्मान 'भारत रत्न' दिए जाने की मांग हो रही है। रतन टाटा के प्रशंसक सोशल मीडिया पर इसके लिए कैम्पेन कर रहे हैं। 

  • बिजनेस डेस्क। टाटा ग्रुप (Tata Group) के चेयरमैन रतन टाटा (Ratan Tata) देश के सबसे बड़े और सम्मानित उद्योगपतियों में से एक हैं। उन्होंने टाटा ग्रुप को दुनिया में एक खास पहचान दिलाई है। आज भी टाटा सन्स (Tata Sons) देश का सबसे बड़ा औद्योगिक समूह है। टाटा सन्स के तहत कई कंपनियां हैं। टाटा सन्स देश में लिस्टेड कंपनियों का सबसे बड़ा प्रमोटर है। टाटा ग्रुप की सभी कंपनियों का कुल मार्केट कैप करीब 15.6 लाख करोड़ रुपए है। टाटा ग्रुप को नई उंचाइयों तक पहुंचाने और दुनिया भर में उसकी साख बनाने में रतन टाटा का बहुत बड़ा योगदान है। रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर, 1937 को मुंबई में हुआ था। टाटा ग्रुप के संस्थापक जमशेद जी टाटा ने उन्हें गोद लिया था। रतन टाटा उनके गोद लिए पोते हैं। जेआरडी टाटा (JRD Tata) उनके चाचा थे। जेआरडी टाटा ने 1991 में रतन टाटा को टाटा ग्रुप की कमान सौंपी। रतन टाटा अविवाहित हैं। देश के अमीरों में उनका खास स्थान हैं। जानते हैं उनकी लाइफ स्टाइल के बारे में।

    BusinessJan 2, 2021, 3:56 PM IST

    जेट से लेकर लग्जीरियस कारों के शौकीन हैं रतन टाटा, जानें उनकी लाइफस्टाइल

    बिजनेस डेस्क। टाटा ग्रुप (Tata Group) के चेयरमैन रतन टाटा (Ratan Tata) देश के सबसे बड़े और सम्मानित उद्योगपतियों में से एक हैं। उन्होंने टाटा ग्रुप को दुनिया में एक खास पहचान दिलाई है। आज भी टाटा सन्स (Tata Sons) देश का सबसे बड़ा औद्योगिक समूह है। टाटा सन्स के तहत कई कंपनियां हैं। टाटा सन्स देश में लिस्टेड कंपनियों का सबसे बड़ा प्रमोटर है। टाटा ग्रुप की सभी कंपनियों का कुल मार्केट कैप करीब 15.6 लाख करोड़ रुपए है। टाटा ग्रुप को नई उंचाइयों तक पहुंचाने और दुनिया भर में उसकी साख बनाने में रतन टाटा का बहुत बड़ा योगदान है। रतन टाटा का जन्म 28 दिसंबर, 1937 को मुंबई में हुआ था। टाटा ग्रुप के संस्थापक जमशेद जी टाटा ने उन्हें गोद लिया था। रतन टाटा उनके गोद लिए पोते हैं। जेआरडी टाटा (JRD Tata) उनके चाचा थे। जेआरडी टाटा ने 1991 में रतन टाटा को टाटा ग्रुप की कमान सौंपी। रतन टाटा अविवाहित हैं। देश के अमीरों में उनका खास स्थान हैं। जानते हैं उनकी लाइफ स्टाइल के बारे में।
     

  • undefined

    BusinessJan 2, 2021, 11:28 AM IST

    लिस्टेड कंपनियों में टाटा ग्रुप की हिस्सेदारी की वैल्यू सरकार से ज्यादा, टाटा सन्स है सबसे बड़ा प्रमोटर

    देश के सबसे बड़े औद्योगिक समूह टाटा सन्स (Tata Sons) की लिस्टेड कंपनियों में हिस्सेदारी की वैल्यू सरकार की हिस्सेदारी की वैल्यू से ज्यादा हो गई है। इस तरह, टाटा सन्स अब देश में लिस्टेड कंपनियों का सबसे बड़ा प्रमोटर बन गया है।

  • बिजनेस डेस्क। देश के दिग्गज कारोबारी और टाटा ग्रुप  (Tata Group) के  चेयरमैन रतन टाटा  (Ratan Tata) प्लेन उड़ाने के शौकीन हैं। रतन टाटा बहुत कम उम्र से ही प्लेन उड़ा रहे हैं। उन्होंने महज 17 साल की उम्र में ही एक ऐसे प्लेन की सुरक्षित लैंडिंग करवाई थी, जिसका इंजन उड़ान के दौरान काम करना बंद कर चुका था। बता दें कि देश में पहली एयरलाइन्स की स्थापना जेआरडी टाटा (JRD Tata) ने ही की थी। जेआरडी टाटा ने पहली बार कराची से बंबई तक हवाई जहाज उड़ाया था। उन्होंने टाटा एयरलाइन्स (Tata Airlines) की शुरुआत की थी, जिसका नाम बाद में एयर इंडिया (Air India) हो गया। भारत सरकार ने इसकी बड़ी हिस्सेदारी खरीद ली और यह सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी हो गई। अब सरकार एयर इंडिया को नीलाम करने जा रही है। टाटा ग्रुप भी इस नीलामी प्रक्रिया में भाग लेगा और बोली लगाएगा। बता दें कि रतन टाटा के नेतृत्व में टाटा ग्रुप विस्तारा (Vistara) और एयरएशिया (AirAsia) एयर लाइन्स का संचालन करता है। अगर टाटा ग्रुप एयर इंडिया को खरीद लेता है, तो फिर से उस कंपनी पर उसका स्वामित्व हो जाएगा, जिसकी शुरुआत जेआरडी टाटा ने की थी। रतन टाटा सिर्फ सामान्य विमान ही नहीं उड़ाते, बल्कि वे F-16 जैसे फाइटर जेट भी उड़ा चुके हैं। देखें कुछ तस्वीरें।

    BusinessDec 24, 2020, 2:10 PM IST

    प्लेन उड़ाने के शौकीन हैं रतन टाटा, 17 साल की उम्र में खतरनाक हालत में कराई थी विमान की सुरक्षित लैंडिंग

    बिजनेस डेस्क। देश के दिग्गज कारोबारी और टाटा ग्रुप  (Tata Group) के  चेयरमैन रतन टाटा  (Ratan Tata) प्लेन उड़ाने के शौकीन हैं। रतन टाटा बहुत कम उम्र से ही प्लेन उड़ा रहे हैं। उन्होंने महज 17 साल की उम्र में ही एक ऐसे प्लेन की सुरक्षित लैंडिंग करवाई थी, जिसका इंजन उड़ान के दौरान काम करना बंद कर चुका था। बता दें कि देश में पहली एयरलाइन्स की स्थापना जेआरडी टाटा (JRD Tata) ने ही की थी। जेआरडी टाटा ने पहली बार कराची से बंबई तक हवाई जहाज उड़ाया था। उन्होंने टाटा एयरलाइन्स (Tata Airlines) की शुरुआत की थी, जिसका नाम बाद में एयर इंडिया (Air India) हो गया। भारत सरकार ने इसकी बड़ी हिस्सेदारी खरीद ली और यह सार्वजनिक क्षेत्र की विमानन कंपनी हो गई। अब सरकार एयर इंडिया को नीलाम करने जा रही है। टाटा ग्रुप भी इस नीलामी प्रक्रिया में भाग लेगा और बोली लगाएगा। बता दें कि रतन टाटा के नेतृत्व में टाटा ग्रुप विस्तारा (Vistara) और एयरएशिया (AirAsia) एयर लाइन्स का संचालन करता है। अगर टाटा ग्रुप एयर इंडिया को खरीद लेता है, तो फिर से उस कंपनी पर उसका स्वामित्व हो जाएगा, जिसकी शुरुआत जेआरडी टाटा ने की थी। रतन टाटा सिर्फ सामान्य विमान ही नहीं उड़ाते, बल्कि वे F-16 जैसे फाइटर जेट भी उड़ा चुके हैं। देखें कुछ तस्वीरें।  
     

  • undefined

    BusinessDec 16, 2020, 12:14 PM IST

    मिस्त्री परिवार ने किया दावा, Tata Sons टाटा फैमिली की बपौती नहीं

    मिस्त्री परिवार की अगुआई वाले शापूरजी पलौंजी ग्रुप (SP Group) ने मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में कहा कि टाटा सन्स (Tata Sons) किसी परिवार की बपौती नहीं है, जिसकी अगुआई केवल कोई टाटा ही कर सकता है। उल्लेखनीय है कि साइरस मिस्त्री (Cyrus Mistry) को साल 2016 में टाटा सन्स के चेयरमैन पद से हटा दिया गया था।

  • बिजनेस डेस्क। रतन टाटा (Ratan Tata) भारत के ऐसे उद्योगपति हैं, जिनका नाम पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। वे टाटा सन्स (Tata Sons) के अध्यक्ष रह चुके हैं और फिलहाल टाटा ग्रुप (Tata Group) के अध्यक्ष हैं। वे रिटायर होने के बाद खास परिस्थितियों में दोबारा टाटा ग्रुप के अध्यक्ष बने। रतन टाटा जेआरडी टाटा (JRD Tata) के उत्तराधिकारी हैं। भारत के सबसे प्रतिष्ठित उद्योगपतियों में से एक रतन टाटा को उनके समाजसेवा के कामों के लिए खास तौर पर जाना जाता है। उन्हें भारत के दो सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण (2000) और पद्म विभूषण (2008) से भी नवाजा  जा चुका है। कोरोनावायरस महमारी से निपटने के लिए टाटा ग्रुप ने 1500 करोड़ रुपए दिए। वहीं, टाटा सन्स ने 1000 करोड़ रुपए का अलग से योगदान दिया। रतन टाटा की लाइफस्टाइल सिंपल है, लेकिन वे हवाई जहाज उड़ाने के शौकीन हैं। रतन टाटा युद्धक विमान भी उड़ा चुके हैं। बता दें कि जेआरडी टाटा ने ही एयर इंडिया (Air India) की नींव रखी थी। तब इसका नाम टाटा एयरलाइन्स (Tata Airlines) था। वे भारत में विमान सेवा शुरू करने वाले पहले उद्योगपति होने के साथ लाइसेंसशुदा पायलट थे। अब सरकार एयर इंडिया को बेचने जा रही है। इसकी नीलामी में टाटा ग्रुप भी बोली लगाएगा। माना जा रहा है कि टाटा ग्रुप एयर इंडिया को खरीदने में कामयाब हो सकता है। रतन टाटा ने बेहद खतरनाक परिस्थतियों में भी विमान उड़ाया है। उनके विमान उड़ाने के कई किस्से प्रचलित हैं।

    BusinessDec 15, 2020, 1:46 PM IST

    PHOTOS : प्लेन उड़ाना पसंद करने वाले रतन टाटा कारों के भी हैं शौकीन, देखें उनका कार कलेक्शन

    बिजनेस डेस्क। रतन टाटा (Ratan Tata) भारत के ऐसे उद्योगपति हैं, जिनका नाम पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। वे टाटा सन्स (Tata Sons) के अध्यक्ष रह चुके हैं और फिलहाल टाटा ग्रुप (Tata Group) के अध्यक्ष हैं। वे रिटायर होने के बाद खास परिस्थितियों में दोबारा टाटा ग्रुप के अध्यक्ष बने। रतन टाटा जेआरडी टाटा (JRD Tata) के उत्तराधिकारी हैं। भारत के सबसे प्रतिष्ठित उद्योगपतियों में से एक रतन टाटा को उनके समाजसेवा के कामों के लिए खास तौर पर जाना जाता है। उन्हें भारत के दो सर्वोच्च नागरिक सम्मान पद्म भूषण (2000) और पद्म विभूषण (2008) से भी नवाजा  जा चुका है। कोरोनावायरस महमारी से निपटने के लिए टाटा ग्रुप ने 1500 करोड़ रुपए दिए। वहीं, टाटा सन्स ने 1000 करोड़ रुपए का अलग से योगदान दिया। रतन टाटा की लाइफस्टाइल सिंपल है, लेकिन वे हवाई जहाज उड़ाने के शौकीन हैं। रतन टाटा युद्धक विमान भी उड़ा चुके हैं। बता दें कि जेआरडी टाटा ने ही एयर इंडिया (Air India) की नींव रखी थी। तब इसका नाम टाटा एयरलाइन्स (Tata Airlines) था। वे भारत में विमान सेवा शुरू करने वाले पहले उद्योगपति होने के साथ लाइसेंसशुदा पायलट थे। अब सरकार एयर इंडिया को बेचने जा रही है। इसकी नीलामी में टाटा ग्रुप भी बोली लगाएगा। माना जा रहा है कि टाटा ग्रुप एयर इंडिया को खरीदने में कामयाब हो सकता है। रतन टाटा ने बेहद खतरनाक परिस्थतियों में भी विमान उड़ाया है। उनके विमान उड़ाने के कई किस्से प्रचलित हैं। 

  • बिजनेस डेस्क। खबर है कि सार्वजनिक क्षेत्र (Public Sector) की विमानन कंपनी एयर इंडिया (Air India) के लिए टाटा ग्रुप (Tata Group) बोली लगाने जा रहा है। इस बात की पूरी संभावना है कि नीलामी प्रक्रिया पूरा होने के बाद एयर इंडिया पर टाटा ग्रुप का अधिकार हो सकता है। बता दें कि देश में पहली विमान सेवा की शुरुआत जेआरडी टाटा (JRD Tata) ने की थी। वे देश के पहले लाइसेंसशुदा पायलट थे। आज से 87 साल पहले उन्होंने टाटा एयरलाइन्स (Tata Airlines) की शुरुआत की थी और कराची से बंबई तक खुद हवाई जहाज उड़ाया था। 1946 में इसका नाम एयर इंडिया कर दिया गया और 1953 में भारत सरकार ने इसे खरीद लिया। हालांकि, आजादी मिलने के बाद 1947 में ही भारत सरकार ने एयर इंडिया में 49 फीसदी हिस्सेदारी खरीद ली थी। जेआरडी टाटा 1978 तक एयर इंडिया से जुड़े रहे। एयर इंडिया की 30वीं वर्षगांठ 15 अक्टूबर 1966 को जेआरडी टाटा ने  कराची से मुंबई की उड़ान भरी थी। जेआरडी टाटा ने एयर इंडिया की 50वीं वर्षगांठ 15 अक्टूबर 1982 को जेआरडी टाटा ने फिर कराची से मुंबई की उड़ान भरी। बता दें कि टाटा ग्रुप के प्रमुख रतन टाटा भी विमान उड़ाने का शौक रखते हैं। रतन टाटा लड़ाकू विमान भी उड़ाते हैं। उन्हें विमान उड़ाने का खास शौक है। देखें जेआरडी टाटा और रतन टाटा की विमान उड़ाते कुछ खास तस्वीरें।

    BusinessDec 14, 2020, 2:57 PM IST

    PHOTOS : देश में पहली विमान सेवा शुरू करने वाले जेआरडी टाटा की कंपनी थी एयर इंडिया, ऐतिहासिक है इसका सफर

    बिजनेस डेस्क। खबर है कि सार्वजनिक क्षेत्र (Public Sector) की विमानन कंपनी एयर इंडिया (Air India) के लिए टाटा ग्रुप (Tata Group) बोली लगाने जा रहा है। इस बात की पूरी संभावना है कि नीलामी प्रक्रिया पूरा होने के बाद एयर इंडिया पर टाटा ग्रुप का अधिकार हो सकता है। बता दें कि देश में पहली विमान सेवा की शुरुआत जेआरडी टाटा (JRD Tata) ने की थी। वे देश के पहले लाइसेंसशुदा पायलट थे। आज से 87 साल पहले उन्होंने टाटा एयरलाइन्स (Tata Airlines) की शुरुआत की थी और कराची से बंबई तक खुद हवाई जहाज उड़ाया था। 1946 में इसका नाम एयर इंडिया कर दिया गया और 1953 में भारत सरकार ने इसे खरीद लिया। हालांकि, आजादी मिलने के बाद 1947 में ही भारत सरकार ने एयर इंडिया में 49 फीसदी हिस्सेदारी खरीद ली थी। जेआरडी टाटा 1978 तक एयर इंडिया से जुड़े रहे। एयर इंडिया की 30वीं वर्षगांठ 15 अक्टूबर 1966 को जेआरडी टाटा ने  कराची से मुंबई की उड़ान भरी थी। जेआरडी टाटा ने एयर इंडिया की 50वीं वर्षगांठ 15 अक्टूबर 1982 को जेआरडी टाटा ने फिर कराची से मुंबई की उड़ान भरी। बता दें कि टाटा ग्रुप के प्रमुख रतन टाटा भी विमान उड़ाने का शौक रखते हैं। रतन टाटा लड़ाकू विमान भी उड़ाते हैं। उन्हें विमान उड़ाने का खास शौक है। देखें जेआरडी टाटा और रतन टाटा की विमान उड़ाते कुछ खास तस्वीरें।    

  • undefined

    BusinessDec 14, 2020, 8:40 AM IST

    एयर इंडिया के लिए टाटा ग्रुप लगाएगा बोली, 87 साल पहले रखी थी इसकी नींव

    टाटा ग्रुप ( Tata group) एयर इंडिया (Air India) के लिए बोली लगाएगा। माना जा रहा है कि टाटा ग्रुप ने एयर इंडिया का मूल्याकंन करना शुरू कर दिया है और इस महीने के अंत तक वह नीलामी प्रक्रिया के दौरान अपनी बोली लगा देगा। बता दें कि टाटा ने ही एयर इंडिया की नींव 87 साल पहले रखी थी। 

  • undefined

    NationalAug 18, 2020, 7:46 AM IST

    IPL 2020: टाटा-जियो को पछाड़ Dream-11 बनी आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सर, इतने करोड़ में खरीदी स्पॉन्सरशिप

    इंडियन प्रीमियर लीग (IPL) के चेयरमैन बृजेश पटेल ने इस आईपीएल के टाइटल स्पॉन्सर का ऐलान कर दिया। ड्रीम -11 कंपनी ने 222 करोड़ रुपए में आईपीएल की टाइटल स्पॉन्सर जीती है। हालांकि, बीसीसीआई ने नई कंपनी के साथ 18 अगस्त से 31 दिसंबर 2020 तक ही कॉन्ट्रैक्ट किया है।

  • undefined

    NationalJul 5, 2020, 3:34 PM IST

    दिल्ली में दुनिया का सबसे बड़ा COVID सेंटर शुरू; DRDO ने सिर्फ 12 दिन में बनाया 1000 बेड का अस्पताल

    कोरोना वायरस के लगातार बढ़ रहे मामलों को देखते हुए भारत सरकार ने भी तैयारियां तेज कर दी हैं। दिल्ली में रविवार को 10 हजार बेड वाला अस्थाई कोविड सेंटर शुरू किया गया।

  • undefined

    BusinessMar 1, 2020, 2:08 PM IST

    1 घंटे में इतने करोड़ कमाते हैं मुकेश अंबानी, भारत के No.1 और दुनिया के 9वें सबसे अमीर बिजनेसमैन

    बिजनेस डेस्क: Hurun Global Rich List 2020 की ताजा रिपोर्ट के अनुसार मुकेश अंबानी का नेट वर्थ 4,80,700 करोड़ रुपए यानी 67 बिलियन अमेरिकी डॉलर है और 2019 में हर घंटे में मुकेश अंबानी ने 7 करोड़ रुपए कमाए हैं। इस लिस्ट के हिसाब से मुकेश अंबानी दुनिया के नौवें सबसे अमीर इंसान हैं। इस लिस्ट में सबसे ऊपर नाम है Amazon के सीईओ जेफ बेजोस का है। रिपोर्ट के मुताबिक भारत ने पिछले साल लिस्ट में 34 नए अरबपति जोड़े है। जिससे भारत पूरी दुनिया का तीसरे सबसे ज्यादा अरबपतियों वाला देश बन गया। आज हम आपको इस रिपोर्ट के मुताबिक भारत के टॉप 10 अरबपतियों के नाम बताएंगे-

  • undefined

    BusinessFeb 26, 2020, 12:22 PM IST

    टाटा संस के प्रमुख चंद्रशेखरन ने दूरसंचार मंत्री से की मुलाकात, AGR पर होगी चर्चा

    समायोजित सकल राजस्व (एजीआर) संकट के बीच टाटा संस के चेयरमैन एन चंद्रशेखरन ने मंगलवार को संचार मंत्री रवि शंकर प्रसाद से मुलाकात की

  • undefined

    BusinessFeb 21, 2020, 12:14 PM IST

    फिर चर्चा में विवाद; पालोंजी मिस्त्री को लिखी रतन टाटा की चिट्ठी 29 साल बाद वायरल

    चेयरमैन के रूप में कार्यालय संभालने के तीसरे दिन बाद टाटा ने पल्लोनजी को लिखा, वे खत में उन्हें "पल्लोन" के रूप में संबोधित करते हैं। इस चिट्ठी में वे अपने करियर के शुरुआती सालों में पल्लोनजी के समर्थन और प्रोत्साहन का शुक्रिया करते हैं।

  • undefined

    BusinessJan 9, 2020, 9:56 PM IST

    NCLT के फैसले को शुक्रवार को अदालत में चुनौती देगी TSPL, मिस्त्री ने छोड़ा डायरेक्टर पद से दावा

    साइरस मिस्त्री को टाटा समूह के कार्यकारी चेयरमैन पद पर बहाल करने वाले एनसीएलएटी के फैसले को चुनौती देने वाली टाटा संस प्राइवेट लिमिटेड (टीएसपीएल) की याचिका पर उच्चतम न्यायालय शुक्रवार को सुनवाई करेगा। 

  • undefined

    BusinessJan 3, 2020, 10:15 PM IST

    सुप्रीम कोर्ट में बोले रतन टाटा, ब्रांड की छवि खराब कर रहे थे मिस्त्री

    रतन टाटा ने कहा, "मिस्त्री के नेतृत्व में खामियां थीं। वह टाटा संस का चेयरमैन बन जाने के बाद भी समय से खुद को अपने पारिवारिक कारोबार से अलग करने तथा पारिवारिक कारोबार से संबंधित हितों के संभावित टकराव की स्थितियों को दूर करने को तैयार नहीं थे जबकि यह इस पद पर उनकी नियुक्ति की पूर्व शर्त थी।