Tihar Jail  

(Search results - 132)
  • undefined

    NationalJun 25, 2021, 3:55 PM IST

    तिहाड़ जेल में WELCOME: पुलिसवालों संग सेल्फी लेते समय मुस्कुराता रहा मर्डर का आरोपी सुशील कुमार

    साथी पहलवान सागर की हत्या के आरोपी अंतरराष्ट्रीय पहलवान सुशील कुमार को शुक्रवार को मंडोली जेल से तिहाड़ शिफ्ट कर दिया गया। इस दौरान पुलिसवाले उसके संग सेल्फी लेते देखे गए। सुशील कुमार भी मुस्कराते हुए फोटो खिंचवाता रहा। ये फोटो सोशल मीडिया पर वायरल होते ही पुलिस डिपार्टमेंट की किरकिरी होने लगी है।

  • undefined

    NationalMay 11, 2021, 8:28 PM IST

    डाॅन ने कोविड को दी मात, एम्स से हुआ डिस्चार्ज, तिहाड़ में काट रहा है सजा

    छोटा राजन तिहाड़ जेल में पत्रकार ज्योतिर्मय डे की हत्या में उम्र कैद की सजा काट रहा। उस पर देश में 65 से अधिक क्रिमिनल केस हैं जिसमें अवैध वसूली, हत्या, धमकी के केस शामिल हैं। 
     

  • undefined

    NationalMay 7, 2021, 4:46 PM IST

    कोविड से जूझ रहा छोटा राजन, एम्स ने बताया-अभी जिंदा है Don

    एम्स में भर्ती गैंगेस्टर छोटा राजन की मौत कोरोना से हो गई है। तिहाड़ के हाई सिक्योरिटी बैरक में रखे गए छोटा राजन पिछले दिनों कोरोना से संक्रमित हो गया था। हालत बिगड़ने पर 25 अप्रैल को उसे एम्स में शिफ्ट कर दिया गया था। 

  • undefined

    NationalMar 12, 2021, 9:46 AM IST

    एंटीलिया केस : तिहाड़ में आतंकी के बैरक से मिला फोन, इसी से विस्फोटक रखने का मैसेज किया गया था

    रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन मुकेश अंबानी के घर के बाहर स्कोर्पियो में जिलेटिन की छड़ें बरामद होने के केस में दिल्ली के तिहाड़ जेल में छापेमारी हुई। बताया जा रहा है कि इस दौरान सुरक्षा एजेंसियों को तिहाड़ में बंद इंडिया मुजाहिद्दीन के आतंकी के बैरक से मोबाइल फोन मिला है।

  • <p><strong>पटना (Bihar) । </strong>तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन (Mohammad Shahabuddin) कस्टडी पैरोल पर बाहर आ रहा है। दिल्ली हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति एजे भंभानी की पीठ ने किसी भी तीन दिन में छह-छह घंटे की कस्टडी पैरोल की अनुमति देते हुए पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम के निर्देश दिए हैं। वो अपनी मां, पत्नी और अन्य रिश्तेदारों के अलावा किसी से भी मुलाकात नहीं कर सकेगा। साथ कोर्ट ने यह भी स्पष्ट किया है कि कस्टडी पैरोल के लिए शहाबुद्​दीन को मुलाकात के लिए दिल्ली में ही एक स्थान की जानकारी पहले ही जेल अधीक्षक को देनी होगी। बता दें कि शहाबुद्दीन बिहार के सीवान में दो भाइयों की तेजाब से नहला कर हत्‍या के मामले में तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद है।<br />
&nbsp;</p>

    BiharDec 3, 2020, 9:26 AM IST

    जेल से पैरोल पर बाहर आएगा बाहुबली शहाबुद्दीन, 3 दिन तक 6-6 घंटे ले सकेगा खुली सांस,कभी था ऐसा खौफ

    पटना (Bihar) । तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन (Mohammad Shahabuddin) कस्टडी पैरोल पर बाहर आ रहा है। दिल्ली हाईकोर्ट के न्यायमूर्ति एजे भंभानी की पीठ ने किसी भी तीन दिन में छह-छह घंटे की कस्टडी पैरोल की अनुमति देते हुए पर्याप्त सुरक्षा इंतजाम के निर्देश दिए हैं। वो अपनी मां, पत्नी और अन्य रिश्तेदारों के अलावा किसी से भी मुलाकात नहीं कर सकेगा। साथ कोर्ट ने यह भी स्पष्ट किया है कि कस्टडी पैरोल के लिए शहाबुद्​दीन को मुलाकात के लिए दिल्ली में ही एक स्थान की जानकारी पहले ही जेल अधीक्षक को देनी होगी। बता दें कि शहाबुद्दीन बिहार के सीवान में दो भाइयों की तेजाब से नहला कर हत्‍या के मामले में तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद है।
     

  • <p>(फाइल फोटो)</p>

    Bihar ElectionNov 4, 2020, 8:58 AM IST

    कस्टडी पैरोल पर बाहर आना चाहता है शहाबुद्दीन, पिता की मौत के बाद बीमार मां के साथ बिताना चाहता है वक्त

    पटना (Bihar) । तिहाड़ जेल दिल्ली में बंद पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन (Mohammad Shahabuddin) कस्टडी पैरोल पर बाहर आना चाहता है। वो अपने पिता की मौत के बाद अपनी बीमार मां के साथ समय बिताना चाहता है। इसके लिए हत्या के एक मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे शहाबुद्दीन ने सीवान जाने के लिए इस आधार पर ‘कस्टडी पैरोल’ (Custody Parole) मांगी थी कि उनके पिता का 19 सितंबर को निधन हो गया और वह अपनी मां के साथ समय बिताना चाहता है। उसने अपनी मां के अस्वस्थ होने का हवाला दिया है। हालांकि दिल्ली उच्च न्यायालय ने मंगलवार को सुझाव दिया है कि वह अपने परिवार को बुलाकर भेंट कर सकता है।

  • undefined

    Bihar ElectionOct 26, 2020, 5:54 PM IST

    बिहार में इस वजह से प्रत्याशी की हुई थी 2 दिन पहले हत्या, तिहाड़ जेल में कालिया ने ऐसे तैयार किया था प्लान

    एसपी संतोष कुमार ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर मामले का खुलासा किया। वहीं, पुलिस के मुताबिक कालिया को गैंगस्टर संतोष झा की हत्या में श्रीनारायण सिंह के शामिल होने का विश्वास था। गिरफ्तार शूटर नीरज पाठक ने इसका खुलासा किया है। इस तरह आपराधिक वर्चस्व को लेकर श्रीनारायण सिंह की हत्या की गई है
     

  • <p><strong>पटना (Bihar)&nbsp;। </strong>पिछले 3 साल से दिल्ली की तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद बिहार के बाहुबली पूर्व सांसद मोहम्मद&nbsp;शहाबुद्दीन (Mohammad habuddin) पैरोल पर बाहर आ सकता है। शहाबुद्दीन ने यह अर्जी अपने पिता शेख मोहमद हसीबुल्लाह (Mohammad hasallah)&nbsp;के इंतकाल के बाद अंतिम क्रिया कर्म के मद्देनजर एक बेटे का फर्ज निभाने के लिए दी है। फिलहाल तिहाड़ जेल के डीजी के पास शहाबुद्दीन की यह अपील लंबित है। इस अर्जी में शहाबुद्दीन ने दो सप्ताह के लिए पेरोल पर बाहर जाने की इजाजत मांगी है। बता दें कि चार बार सांसद और दो बार विधायक बना यह बाहुबली इस समय तेजाब कांड में उम्र कैद की सजा काट रहा है। लेकिन, उसके खौफनाक अपराधों की वजह से सीवान के लोग उसे आज भी याद करते हैं, क्योंकि एक समय ऐसा भी था जब वह लालू-राबड़ी राज के दौरान सीवान में भारत के संविधान और कानून से ऊपर हो गया था।&nbsp;</p>

    Bihar ElectionSep 20, 2020, 2:41 PM IST

    पैरोल पर बाहर आ सकता है शहाबुद्दीन, खुद को मानता था सरकार, कुछ ऐसा था लोगों में खौफ

    पटना (Bihar) । पिछले 3 साल से दिल्ली की तिहाड़ जेल (Tihar Jail) में बंद बिहार के बाहुबली पूर्व सांसद मोहम्मद शहाबुद्दीन (Mohammad habuddin) पैरोल पर बाहर आ सकता है। शहाबुद्दीन ने यह अर्जी अपने पिता शेख मोहमद हसीबुल्लाह (Mohammad hasallah) के इंतकाल के बाद अंतिम क्रिया कर्म के मद्देनजर एक बेटे का फर्ज निभाने के लिए दी है। फिलहाल तिहाड़ जेल के डीजी के पास शहाबुद्दीन की यह अपील लंबित है। इस अर्जी में शहाबुद्दीन ने दो सप्ताह के लिए पेरोल पर बाहर जाने की इजाजत मांगी है। बता दें कि चार बार सांसद और दो बार विधायक बना यह बाहुबली इस समय तेजाब कांड में उम्र कैद की सजा काट रहा है। लेकिन, उसके खौफनाक अपराधों की वजह से सीवान के लोग उसे आज भी याद करते हैं, क्योंकि एक समय ऐसा भी था जब वह लालू-राबड़ी राज के दौरान सीवान में भारत के संविधान और कानून से ऊपर हो गया था। 

  • undefined

    PunjabJul 18, 2020, 5:32 PM IST

    पूरी फिल्मी है लेडी डॉन सोनू पंजाबन की कहानी, यूं लड़कियों की जिंदगी करती थी बर्बाद..अब चली मरने

    जालंधर, (पंजाब). लेडी डॉन और सेक्स रैकेट क्वीन सोनू पंजाबन के नाम से फेमस गीता अरोड़ा एक बार फिर फिर सुर्खियों में है। 17 साल की लड़की से देह व्यापार करवाने के मामले में  सोनू को दिल्ली द्वारका कोर्ट ने दोषी पाया है। सोनू को अब क्या सजा मिलेगा इसका ऐलान होना बाकी है। बता दें कि सोनू पंजाबन की कहानी पूरी फिल्मी है। उसके नाम से बॉलीवुड में फिल्में भी बनी हैं, फुकरे फिल्म में भोली पंजाबन का किरदार सोनू पंजाबन का ही असल किरदार है। फिलहाल सोनू पंजाबन ने तिहाड़ जेल में कोई जहरीला पदार्थ खा लिया है, जिससे उसकी हालत खराब हो गई। इसके बाद उसे दीनदयाल अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां उसकी हालत खतरे से बाहर है।

  • delhi

    NationalMar 21, 2020, 4:50 PM IST

    निर्भया से 2651 दिन पहले इसी बस में दरिंदगी हुई थी, अब कहां और किस हाल में खड़ी है, देखें Photos

    20 मार्च की तारीख इतिहास में दर्ज हो गई। निर्भया के दोषियों को 7 साल 4 महीने बाद तिहाड़ जेल में फांसी दी गई। पोस्टमार्टम के बाद दोषियों के शव परिजनों को सौप दिए गए। इस बीच बताते हैं कि आखिर वह बस कहां है, जिसमें निर्भया से गैंगरेप किया गया था। बता दें कि पुलिस ने वारदात के अगले दिन यानी 17 दिसंबर 2012 को दिल्ली के संत रविदास कैंप से बरामद किया था। 6 में से 4 दोषी दिल्ली के इसी इलाके में रहते थे। 

  • Nirbhaya case, Nirbhaya convict, Nirbhaya convict hanging, Tihar jail hanging, Tihar jail, Nirbhaya minor convict, Nirbhaya gang rape, Delhi gangrape, 16 December 2012, निर्भया गैंगरेप, निर्भया दोषी, तिहाड़ जेल

    NationalMar 21, 2020, 11:14 AM IST

    गांव में भी घुसने नहीं देंगे...निर्भया के नाबालिग दोषी पर गुस्साए लोग, मां का ऐसा था रिएक्शन

    निर्भया के चारों दोषियों को 20 मार्च की सुबह 5.30 बजे फांसी दे दी गई। इस केस में कुल 6 दोषी थे। 5 की मौत हो चुकी है। एक नाबालिग था, जिसे 3 साल बाद रिहा कर दिया गया।

  • Tihar Jail, Nirbhaya gangrape, Nirbhaya Case, Delhi Gang Rape, 16 December 2012, Delhi Nirbhaya Case, Delhi Tihar Jail, तिहाड़ जेल, निर्भया गैंगरेप, निर्भया केस, दिल्ली गैंगरेप, 16 दिसंबर 2012, दिल्ली निर्भया केस, दिल्ली तिहाड़ जेल

    NationalMar 20, 2020, 3:51 PM IST

    मौत से पहले निर्भया के दोषियों की आखिरी इच्छा क्या थी? फांसी से आधे घंटे पहले इस IAS को बताया

    नई दिल्ली. निर्भया के चारों दोषियों को फांसी दे दी गई है। फांसी से आधे घंटे पहले दोषियों ने डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेज नेहा बंसल के सामने अपनी आखिरी इच्छा जाहिर  की। डेथ वॉरंट के मुताबिक, 5.30 बजे फांसी दी जानी थी, उससे आधे घंटे पहले करीब 4.45 से 5 बजे के बीच दोषियों और नेहा बंसल की मुलाकात हुई। बता दें कि दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट ने चारों दोषियों को फांसी देने के लिए चौथी बार डेथ वॉरंट जारी किया था, जिसके मुताबिक, उन्हें 5.30 बजे फांसी दी गई।

  • undefined

    BiharMar 20, 2020, 2:25 PM IST

    निर्भया केस; चारों दोषियों में अक्षय ठाकुर ने तिहाड़ जेल में कमाए सबसे ज्यादा रुपए

    तिहाड़ जेल में सात साल तीन महीने बंद रहने के दौरान निर्भया के चारों दोषियों में से बिहार के औरंगाबाद जिले के रहने वाले अक्षय ठाकुर ने सबसे अधिक कमाई की। जेल प्रशासन ने सभी दोषियों की कमाई का ब्योरा जारी करते हुए यह जानकारी दी। 
     

  • undefined

    Other StatesMar 20, 2020, 1:52 PM IST

    फांसी से पहले हर सेकेंड पर थी 15 लोगों की नजर, निर्भया के दरिंदों की आखिरी रात भी बेचैनी में गुजरी

    नई दिल्ली। निर्भया के चार दरिंदों अक्षय ठाकुर, पावन गुप्ता, विनय शर्मा और मुकेश सिंह को सात साल की लंबी कानूनी लड़ाई के बाद आखिरकार शुक्रवार को सुबह 5.30 बजे फांसी पर लटका दिया गया। तिहाड़ जेल में फांसी पर लटकाने की  प्रक्रिया सुबह 3.30 बजे शुरू हुई। फांसी से पहले समूचे जेल को लॉकडाउन कर दिया गया था। 
     

  • undefined

    BiharMar 20, 2020, 11:59 AM IST

    सुबह से ही अक्षय ठाकुर के घरवालों ने खुद को बंद कर लिया घर के अंदर, ऐसा है दोषी के गांव का हाल

    पटना/औरंगाबाद। 2012 के चर्चित निर्भया केस के चारों दोषियों पवन गुप्ता, अक्षय ठाकुर, मुकेश और विनय को सुबह 5:30 बजे तिहाड़ जेल में फांसी पर लटकाया गया। निर्भया गैंगरेप का एक दोषी बिहार के औरंगाबाद जिले के एक गांव का रहने वाला था। उसका नाम अक्षय ठाकुर है।