Asianet News HindiAsianet News Hindi

13 अप्रैलः अंग्रेज का एक आदेश और 10 मिनट में बिछ गईं हजारों लाशें, हमने बदला भी खतरनाक लिया

जलियावाला बाग हत्याकांड। इतिहास के पन्नों के वो 10 मिनट जहां से शुरूआत हुई ब्रिटिश साम्राज्य के अंत की। उस दिन बैसाखी थी, मेला लगा था लोग चहक रहे थे, खुश थे। तभी ब्रिटिश आर्मी का ब्रिगेडियर जनरल रेजिनैल्‍ड डायर 90 सैनिकों को लेकर जलियांवाल बाग पहुंचा और बिना किसी चेतावनी के निहत्थे हिंदुस्तानियों पर गोलियां बरसाना शरू कर दिया। जानिए 13 अप्रैल 1919 के दिन हुए इस नरसंहार की 10 बातें। 

जलियावाला बाग हत्याकांड। इतिहास के पन्नों के वो 10 मिनट जहां से शुरूआत हुई ब्रिटिश साम्राज्य के अंत की। उस दिन बैसाखी थी, मेला लगा था लोग चहक रहे थे, खुश थे। तभी ब्रिटिश आर्मी का ब्रिगेडियर जनरल रेजिनैल्‍ड डायर 90 सैनिकों को लेकर जलियांवाल बाग पहुंचा और बिना किसी चेतावनी के निहत्थे हिंदुस्तानियों पर गोलियां बरसाना शरू कर दिया। जानिए 13 अप्रैल 1919 के दिन हुए इस नरसंहार की 10 बातें। 

Video Top Stories